क्यों हार्दिक पटेल ने कहा की बीजेपी धर्म के नाम से डरे हुए हैं?...


play
user

Neha S

UPSC कोच

0:59

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी जगदीश सबसे पहले तो आपको जो कुछ ना कुछ आप थोड़ा तो टाइप कर रहा है अगर मैं गलत नहीं हूं DJ आपने लिखा है कि हार्दिक पटेल ने कहा कि बीजेपी धर्म के नाम से डरे हुए हैं जबकि यह है कि हार्दिक पटेल जी ने यह कहा है कि bjp धर्म के नाम से डरा रहे हैं तो इसका यह है कि अभी जो रेशम सी न्यूज़ पेपर में आया है और जो न्यूज़ आई है कल बोला है आज बोला है जो टीवी चेनल नियो न्यूज आदित्यनाथ योगी जी ने कंपनी सेट करिए जो है पूरा के पूरा हो गया है राम मंदिर के ऊपर तो इसलिए ही उन्होंने यह बात बोल दी है अपने आप सुसु करके बोल दिया है कि bjp जो है धर्म के नाम से डरा रही है कंपनी करने का तरीका है इसलिए वह कर रहे हैं देखते हैं क्या होता है

vicky jagdish sabse pehle toh aapko jo kuch na kuch aap thoda toh type kar raha hai agar main galat nahi hoon DJ aapne likha hai ki hardik patel ne kaha ki bjp dharam ke naam se dare hue hain jabki yah hai ki hardik patel ji ne yah kaha hai ki bjp dharam ke naam se dara rahe hain toh iska yah hai ki abhi jo resham si news paper mein aaya hai aur jo news I hai kal bola hai aaj bola hai jo TV chenal niyo news adityanath yogi ji ne company set kariye jo hai pura ke pura ho gaya hai ram mandir ke upar toh isliye hi unhone yah baat bol di hai apne aap susu karke bol diya hai ki bjp jo hai dharam ke naam se dara rahi hai company karne ka tarika hai isliye vaah kar rahe hain dekhte hain kya hota hai

विकी जगदीश सबसे पहले तो आपको जो कुछ ना कुछ आप थोड़ा तो टाइप कर रहा है अगर मैं गलत नहीं हूं

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  45
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shubham

Software Engineer in IBM

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जगदीश जी जैसा आपने यह क्वेश्चन पूछा है कि क्यों हार्दिक पटेल ने कहा कि बीजेपी धर्म के नाम से डरे हुए हैं जहां तक मुझे याद है की हार्दिक पटेल ने यह बोला की BJP धर्म के नाम से डराने की कोशिश कर रही है आपका एक क्वेश्चन गलत है और आपको तो पता ही है कि अपने भारतीय इलेक्शंस मेल लोग धर्म को सबसे ज्यादा इस्तेमाल करते हैं अपने वोट को लेने के लिए ऐसा ही कुछ अभी गुजरात इलेक्शन में भी चल रहा है और कुछ ऐसा ही देखा जा रहा है अभी रे बरेली के टाइम कुछ ऐसे ही बयान हार्दिक पटेल ने कांग्रेस ने देते हुए बुलाया भी तो मेन मुद्दा अभी जो राम मंदिर के पीछे हो रखा है उसी को लेकर भी हार्दिक पटेल ने अपना बयान दिया था

jagdish ji jaisa aapne yah question poocha hai ki kyon hardik patel ne kaha ki bjp dharam ke naam se dare hue hain jahan tak mujhe yaad hai ki hardik patel ne yah bola ki BJP dharam ke naam se darane ki koshish kar rahi hai aapka ek question galat hai aur aapko toh pata hi hai ki apne bharatiya elections male log dharam ko sabse zyada istemal karte hain apne vote ko lene ke liye aisa hi kuch abhi gujarat election mein bhi chal raha hai aur kuch aisa hi dekha ja raha hai abhi ray bareilly ke time kuch aise hi bayan hardik patel ne congress ne dete hue bulaya bhi toh main mudda abhi jo ram mandir ke peeche ho rakha hai usi ko lekar bhi hardik patel ne apna bayan diya tha

जगदीश जी जैसा आपने यह क्वेश्चन पूछा है कि क्यों हार्दिक पटेल ने कहा कि बीजेपी धर्म के नाम

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  14
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो जगन जगदीश मनाया जाता है क्या जो बीजेपी है वह एक कमजोर पार्टी है ऐसे लोगों का कहना है ठीक है और जो पार्टी से वह सेकुलर पार्टियां सुकुल सेकुलर गर्मियों में बात करूं तो कैप्सूल साइकिल है वह भी नहीं है ठीक है दूसरी चीज क्या है क्या अगर पार्टी को लगता है कि bjp जो एक हिंदू रिलिजन कोई लोगों को डरा धमकाकर कि अगर इस पार्टी गवर्मेंट आ जाएगी तुम्हारे लिए प्रॉब्लम क्रिएट करेगी इस तरह से वोट लेती है और हो सकता है कि उनके लोग इंटर की वजह से बीजेपी को वोट भी देते हैं देते हो के कोई और पार्टी जीतेगी तो उनके ऊपर ट्रस्टी करेगी तो मुझे लगता है कि अगर हार्दिक पटेल ने इस तरह का कुछ कहा है तो उन्हें यही लिखा होगा कि बीजेपी को डरा कर लेना चाहती है क्योंकि मुझे ऐसा लग रहा है कि गुजरात के अंदर BJP ने अभी तक जो भी पूछ लिया है वह डरा कर दिया है काम के नाम पर वहां कुछ भी नहीं किया है लेकिन मुझे मिलता कुछ तो काम किया होगा क्योंकि हमेशा गुजरात मॉडल कैसे बात की जाती है इस तरह से बात करने में प्रत्यक्ष की बात करूं तो बहुत ही अच्छा देश के लिए टाइटल है ठीक है तो काम तो हुआ है लेकिन अगर उन्होंने कुछ न कुछ तो बात जरुर ही होगी

dekho jagan jagdish manaya jata hai kya jo bjp hai vaah ek kamjor party hai aise logon ka kehna hai theek hai aur jo party se vaah secular partyian sukul secular garmiyon mein baat karun toh capsule cycle hai vaah bhi nahi hai theek hai dusri cheez kya hai kya agar party ko lagta hai ki bjp jo ek hindu religion koi logon ko dara dhamakakar ki agar is party government aa jayegi tumhare liye problem create karegi is tarah se vote leti hai aur ho sakta hai ki unke log inter ki wajah se bjp ko vote bhi dete hain dete ho ke koi aur party jitegi toh unke upar trustee karegi toh mujhe lagta hai ki agar hardik patel ne is tarah ka kuch kaha hai toh unhe yahi likha hoga ki bjp ko dara kar lena chahti hai kyonki mujhe aisa lag raha hai ki gujarat ke andar BJP ne abhi tak jo bhi poochh liya hai vaah dara kar diya hai kaam ke naam par wahan kuch bhi nahi kiya hai lekin mujhe milta kuch toh kaam kiya hoga kyonki hamesha gujarat model kaise baat ki jaati hai is tarah se baat karne mein pratyaksh ki baat karun toh bahut hi accha desh ke liye title hai theek hai toh kaam toh hua hai lekin agar unhone kuch na kuch toh baat zaroor hi hogi

देखो जगन जगदीश मनाया जाता है क्या जो बीजेपी है वह एक कमजोर पार्टी है ऐसे लोगों का कहना है

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  10
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हार्दिक पटेल ने यह नहीं कहा कि bjp धर्म के नाम से डरी हुई है बल्कि यह कहा कि bjp धर्म के नाम से डराने की कोशिश कर रही है सबको और पटेल ने यह यह इसलिए कहा कि हमारे देश में इलेक्शन में धर्म के इस्तेमाल होते हैं वोट के लिए गुजरात में भी ऐसा ही कुछ लिखने में आ रहा है

hardik patel ne yah nahi kaha ki bjp dharam ke naam se dari hui hai balki yah kaha ki bjp dharam ke naam se darane ki koshish kar rahi hai sabko aur patel ne yah yah isliye kaha ki hamare desh mein election mein dharam ke istemal hote hain vote ke liye gujarat mein bhi aisa hi kuch likhne mein aa raha hai

हार्दिक पटेल ने यह नहीं कहा कि bjp धर्म के नाम से डरी हुई है बल्कि यह कहा कि bjp धर्म के न

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  11
WhatsApp_icon
user

Bari khan

Practicing journalist

1:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी यह पहली बात तो सवाल ऑफ कर रहे मेरे ख्याल से गलती से गलत टाइप हो गया है इसका जवाब पहली बात तो सवाल जो है देखा जाए हार्दिक पटेल जी ने कहा कि बीजेपी धर्म के नाम से डरा रही है और कई हद तक यह बात सही भी है आप इसमें कुछ ज्यादा टिप्पणी नहीं करना चाहूंगा लेकिन देखना होगा कि जब भी कभी इलेक्शन का वक्त आता है जब भी चुनाव नजदीक आते हैं अब BJP की तरफ से यह मुद्दा अक्सर उठा दिया जाता है यह धर्म की राजनीति जिस तरह से की जा रही है उसमें तो बिल्कुल अब हमें खुद जिम्मेदार होना होगा मैं हर एक जितने भी हमारे नागरिक हैं जितने भी मतदाता हैं उन सब से यह मेरी गुजारिश है कि जब आप किसी भी इंसान को वोट दें तो उसकी पार्टी को ना देखें मेरा कहना यह है कि आप अपने कैंडिडेट को देखें उसके पीछे वह किस पार्टी से खड़ा है किस तरह की सोच को को सपोर्ट करता है किस तरह की आप द ग्राउंड है उसकी इमेज कैसी है पार्टी की उस को ना देखें अगर आप किसी को वोट दे रहे हैं तो आप अपने कैंडिडेट को देखें क्योंकि आपका कैंडिडेट ही आपके इलाके में काम करेगा और कोई अब यहां से जाकर किसी प्रधानमंत्री के चुनाव में तो आपका वोट नहीं दिया जाएगा जब आप सही कैंडिडेट का सिलेक्शन करते हैं अगर पार्टी ने उसको सही तरीके से यूज किया है तो बिल्कुल लिए आपके लिए फायदेमंद रहेगा मेरी गुजारिश है कि जब भी हम वोट देने जा रहे हैं तो अपने कैंडिडेट को देखें ना कि उसकी पार्टी को

vicky yah pehli baat toh sawaal of kar rahe mere khayal se galti se galat type ho gaya hai iska jawab pehli baat toh sawaal jo hai dekha jaaye hardik patel ji ne kaha ki bjp dharam ke naam se dara rahi hai aur kai had tak yah baat sahi bhi hai aap isme kuch zyada tippani nahi karna chahunga lekin dekhna hoga ki jab bhi kabhi election ka waqt aata hai jab bhi chunav nazdeek aate hain ab BJP ki taraf se yah mudda aksar utha diya jata hai yah dharam ki raajneeti jis tarah se ki ja rahi hai usmein toh bilkul ab hamein khud zimmedar hona hoga main har ek jitne bhi hamare nagarik hain jitne bhi matdata hain un sab se yah meri gujarish hai ki jab aap kisi bhi insaan ko vote dein toh uski party ko na dekhen mera kehna yah hai ki aap apne candidate ko dekhen uske peeche vaah kis party se khada hai kis tarah ki soch ko ko support karta hai kis tarah ki aap the ground hai uski image kaisi hai party ki us ko na dekhen agar aap kisi ko vote de rahe hain toh aap apne candidate ko dekhen kyonki aapka candidate hi aapke ilaake mein kaam karega aur koi ab yahan se jaakar kisi pradhanmantri ke chunav mein toh aapka vote nahi diya jaega jab aap sahi candidate ka selection karte hain agar party ne usko sahi tarike se use kiya hai toh bilkul liye aapke liye faydemand rahega meri gujarish hai ki jab bhi hum vote dene ja rahe hain toh apne candidate ko dekhen na ki uski party ko

विकी यह पहली बात तो सवाल ऑफ कर रहे मेरे ख्याल से गलती से गलत टाइप हो गया है इसका जवाब पहली

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  9
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!