मैं एक लड़की को सपने में मिला था क्या कोई वास्तविक मौका है कि वह वास्तविक जीवन में मौजूद है?...


play
user

Abhishek Kumar

मनोविज्ञान

4:10

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो गुड इवनिंग मैं अभिषेक आप सभी को मेरा प्यारा नमस्कार आप का क्वेश्चन है मैं एक लड़की को सपने में मिला था क्या कोई वास्तविक मौका है कि वह बांसुरी वाले मौजूद है तो मैं आपको बताना चाहूंगा जो सपना होता है वो कहीं ना कहीं मारे वास्तविक जीवन से मिलता-जुलता रहता है लेकिन इसके कई सेट है साइकोलॉजिकल फैक्ट अलग है और साइंस को अलग तरीके से देखता है तो सबसे पहले मैं यह बताना चाहूंगा आपको कि सपने में आदमी किसी बात को देखता है या सुनता है तो उसके आपके जीवन में संबंध होता है और संबंध कैसे होता है वह मैं आपको बताऊंगा किसी गलतफहमी में मत रहिएगा क्योंकि गलतफहमी और कन्फ्यूजन आपको कहीं और आप ही किसी दिशा में और मोड़ सकती है इसके ध्यान से सुनिए गा और कंफ्यूज मत रहिएगा सपना व्यक्ति उसी पर शंका देखता है उसी आवाज को सुनता है जो कभी ना कभी सुना हो या देखा आप सपने में उस व्यक्ति को कभी नहीं देख सकते हैं जिसको आप कभी नहीं देखे होंगे टीवी में डायरेक्ट इनडायरेक्ट व्हाट्सएप पर फेसबुक पर मैसेज में या किसी न किसी प्रकार से आप उस व्यक्ति को देखे होंगे तभी वह व्यक्ति आपके सपने में आया होगा अगर उस व्यक्ति को आप नहीं देखे हैं तो उसकी व्यक्ति के बारे में सुने होंगे व्यक्ति पतला दुबला है लंबा चौड़ा है या गोरा है या सावला है उसकी पर्सनैलिटी ऐसी है या बहुत होशियार बहुत सुंदर दिखता है किसी ना किसी के मुंह से तब उसके बारे में आप सुने होंगे या किसी भी प्रकार सुने होंगे फेसबुक व्हाट्सएप यूट्यूब किसी भी वीडियो में आपने उसके बारे में सुना होगा तभी इस तरह की कल्पना मन में आती है वह कल्पना सपने का रूप रख लेता है ध्यान दीजिएगा मैं एक बार और दोहराना चाहूंगा अपनी बात को आप उसको डायरेक्ट किसी प्रकार से देखे हो या इनडायरेक्ट तिथियों या उसके बारे में कभी सुने हो तभी उस यह कल्पना आपके मस्तिक नहीं बैठती है और फिर वह एक सपने का रूप रख लेती है यह जो है यह सच है और मनोवैज्ञानिक तथ्य है कि जिस चीज के बारे में आप रात में सोते हैं और सोचते हुए सोते हैं वह चीज आप सपने में आने की संभावना होती है हर चीज आपके सपने में नहीं आएगी अगर आप हर रोज किस कोई ना कोई चीज सोच रहे हैं और सोचते हुए सो रहे हैं तो वह आपके सपने में नहीं आएगी लेकिन कभी-कभी ऐसा चीज होता है कि आप किसी चीज के बारे में या किसी व्यक्ति के बारे में सोच रहे हैं तो वह आपके सपने में आने की संभावना होती है तो यह कल्पना मात्र है इसका वास्तविक जीवन से कोई संबंध नहीं है मैं आपको एक चीज और बताऊंगा आपके सदियों साल पहले एक और उल्टा जनजाति होती थी एक अनूठा जनजाति होती थी वह और उनका जो जनजाति थी वह इंडिया की नहीं थी बाहर की थी और इस जनजाति की खासियत यह है कि जिस बच्चे को सपने में देखते थे वह व्यक्ति भी उस सपने को देखता था लेकिन आज के आधुनिक युग में इस चीज को बिल्कुल तथ्य को अस्वीकार कर दिया गया लेकिन जब आदिवासी परिवार के लोग तुलसी को बिल्कुल स्वीकार करते थे कि जिस व्यक्ति को हम सपने में देख रहे हैं और जो बातचीत हो रही है तो उस समय भी वह व्यक्ति मुझे भी सपने में देख रहा होगा और वही बातचीत हो रहा हो तो यह कंप्यूटर का माध्यम होता था उस समय सिर्फ पर उनका जनजाति के लिए लेकिन जब धीरे-धीरे लोग आधुनिकरण की तरफ गए और वैज्ञानिक तथ्यों को रखा इस बात को बिल्कुल नकार दिया गया कि यह संभव नहीं है तो मैं आपसे बस इतना कहना चाहूंगा कि सपने जो होते हैं वह कल्पनात्मक होते हैं जो आपकी मासिक में चलते रहते हैं और फिर कहीं ना कहीं आपके सामने उभर कर आ जाते हैं तो आप का वास्तविक जीवन से उसका सहयोग होना मात्र एक कल्पना कही जाएगी अगर आप मेरी बात से सहमत है तो लाइक और फॉरवर्ड और फॉलो जरूर करें

hello good evening main abhishek aap sabhi ko mera pyara namaskar aap ka question hai main ek ladki ko sapne me mila tha kya koi vastavik mauka hai ki vaah bansuri waale maujud hai toh main aapko batana chahunga jo sapna hota hai vo kahin na kahin maare vastavik jeevan se milta julataa rehta hai lekin iske kai set hai saikolajikal fact alag hai aur science ko alag tarike se dekhta hai toh sabse pehle main yah batana chahunga aapko ki sapne me aadmi kisi baat ko dekhta hai ya sunta hai toh uske aapke jeevan me sambandh hota hai aur sambandh kaise hota hai vaah main aapko bataunga kisi galatfahamee me mat rahiega kyonki galatfahamee aur confusion aapko kahin aur aap hi kisi disha me aur mod sakti hai iske dhyan se suniye jaayega aur confuse mat rahiega sapna vyakti usi par shanka dekhta hai usi awaaz ko sunta hai jo kabhi na kabhi suna ho ya dekha aap sapne me us vyakti ko kabhi nahi dekh sakte hain jisko aap kabhi nahi dekhe honge TV me direct indirect whatsapp par facebook par massage me ya kisi na kisi prakar se aap us vyakti ko dekhe honge tabhi vaah vyakti aapke sapne me aaya hoga agar us vyakti ko aap nahi dekhe hain toh uski vyakti ke bare me sune honge vyakti patla dubla hai lamba chauda hai ya gora hai ya saavala hai uski personality aisi hai ya bahut hoshiyar bahut sundar dikhta hai kisi na kisi ke mooh se tab uske bare me aap sune honge ya kisi bhi prakar sune honge facebook whatsapp youtube kisi bhi video me aapne uske bare me suna hoga tabhi is tarah ki kalpana man me aati hai vaah kalpana sapne ka roop rakh leta hai dhyan dijiyega main ek baar aur doharana chahunga apni baat ko aap usko direct kisi prakar se dekhe ho ya indirect tithiyon ya uske bare me kabhi sune ho tabhi us yah kalpana aapke mastisk nahi baithati hai aur phir vaah ek sapne ka roop rakh leti hai yah jo hai yah sach hai aur manovaigyanik tathya hai ki jis cheez ke bare me aap raat me sote hain aur sochte hue sote hain vaah cheez aap sapne me aane ki sambhavna hoti hai har cheez aapke sapne me nahi aayegi agar aap har roj kis koi na koi cheez soch rahe hain aur sochte hue so rahe hain toh vaah aapke sapne me nahi aayegi lekin kabhi kabhi aisa cheez hota hai ki aap kisi cheez ke bare me ya kisi vyakti ke bare me soch rahe hain toh vaah aapke sapne me aane ki sambhavna hoti hai toh yah kalpana matra hai iska vastavik jeevan se koi sambandh nahi hai main aapko ek cheez aur bataunga aapke sadiyon saal pehle ek aur ulta janjaati hoti thi ek anutha janjaati hoti thi vaah aur unka jo janjaati thi vaah india ki nahi thi bahar ki thi aur is janjaati ki khasiyat yah hai ki jis bacche ko sapne me dekhte the vaah vyakti bhi us sapne ko dekhta tha lekin aaj ke aadhunik yug me is cheez ko bilkul tathya ko aswikar kar diya gaya lekin jab adiwasi parivar ke log tulsi ko bilkul sweekar karte the ki jis vyakti ko hum sapne me dekh rahe hain aur jo batchit ho rahi hai toh us samay bhi vaah vyakti mujhe bhi sapne me dekh raha hoga aur wahi batchit ho raha ho toh yah computer ka madhyam hota tha us samay sirf par unka janjaati ke liye lekin jab dhire dhire log aadhunikaran ki taraf gaye aur vaigyanik tathyon ko rakha is baat ko bilkul nakar diya gaya ki yah sambhav nahi hai toh main aapse bus itna kehna chahunga ki sapne jo hote hain vaah kalpanatmak hote hain jo aapki maasik me chalte rehte hain aur phir kahin na kahin aapke saamne ubhar kar aa jaate hain toh aap ka vastavik jeevan se uska sahyog hona matra ek kalpana kahi jayegi agar aap meri baat se sahmat hai toh like aur forward aur follow zaroor kare

हेलो गुड इवनिंग मैं अभिषेक आप सभी को मेरा प्यारा नमस्कार आप का क्वेश्चन है मैं एक लड़की को

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  346
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pramodan swami (PK.VERMAN)

Prem Hi Dharm Hai Premi Karm Hi Prem Hi Safar

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी पूजा है मैं एक लड़की को सपने में मिला था क्या कोई वास्तविक मौका है कि वह वास्तविक जीवन में मौजूद है वास्तविक जीवन में मौजूद है या नहीं इसका तो पता नहीं है लेकिन आपको वह सपने में मिली इसका कारण है कि आप दिनभर लड़कियों के बारे में सोचते हैं और आपकी मानसिक गति उनके ही आसपास होती रहती है आपका मन लड़कियों के आसपास ही घूमता रहता है इस कारण आप जब सो जाते हैं तो आपका अचेतन मन जब एक्टिव होता है तो वही सूचनाएं वह दोहराता है जिससे सूचनाएं उसी दिन में मिली थी तो वह फिर सपने में आती है हकीकत में तो नहीं आ सकती लेकिन आपके अवचेतन मन के द्वारा स्मृति दौरान के कारण आपको भाई सपने में दिखाई देती है

apni puja hai main ek ladki ko sapne me mila tha kya koi vastavik mauka hai ki vaah vastavik jeevan me maujud hai vastavik jeevan me maujud hai ya nahi iska toh pata nahi hai lekin aapko vaah sapne me mili iska karan hai ki aap dinbhar ladkiyon ke bare me sochte hain aur aapki mansik gati unke hi aaspass hoti rehti hai aapka man ladkiyon ke aaspass hi ghoomta rehta hai is karan aap jab so jaate hain toh aapka achetan man jab active hota hai toh wahi suchnaen vaah dohrata hai jisse suchnaen usi din me mili thi toh vaah phir sapne me aati hai haqiqat me toh nahi aa sakti lekin aapke avachetan man ke dwara smriti dauran ke karan aapko bhai sapne me dikhai deti hai

अपनी पूजा है मैं एक लड़की को सपने में मिला था क्या कोई वास्तविक मौका है कि वह वास्तविक जीव

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  289
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!