राजस्थान में सबसे ज़्यादा भ्रष्टाचार किस ज़िले में है?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:09

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजस्थान में यदि सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार आप वाला चला पूछते हैं तो मैं मेरी राय के अनुसार करौली जिले कोई कह सकता है करौली जिला राजस्थान के 33 जिलों में सबसे भ्रष्ट गया विधारा चला है क्योंकि यहां आप बिना कोई कार्य ईमानदारी से टकराई नहीं सकते हैं चेकिंग चेकिंग बहुत स्थिति बदतर है बिना चेक एंड जैकी तो आपको ही कार्य कर ही नहीं सकते हैं और शराफत से या मेल मिलाए जिससे यह ईमानदारी से काम की कल्पना भी यह संभव है मेरा उदाहरण देता हूं अब मैं वरिष्ठ अध्यापक से रिटायर हुआ मैंने सन 2002 में एक लोन लिया था कलेक्ट्रेट से ₹27000 का और वह विधि व्यास जंबल मतलब मार्च 3:00 से लेकर के जनवरी 13 तक 120 किस्तों में मैं ब्याज के उन्नयन झारखंड के चुका दिया मैं आज उनकी रसीदें प्रस्तुत कर चुका हूं सब कुछ कर चुका हूं लेकिन मुझे आज 3 महीने हुए रिटायरमेंट हुए टेंशन में हो रही है मुझे एनओसी जारी नहीं की जाती है सब जगह के लिए सारे अधिकारियों से रोता हूं लेकिन उसके पश्चात भी आज तक कोई कार्यवाही नहीं होती है और मैं बार-बार जाता हूं तो कहते हैं वह इन दिनों मिलान हमारे प्यारे से नहीं हो रहा है इसलिए अब मेरी सन में यह नहीं आता क्या के मुटियारे जबकि स्कूलों में एक संदेश पहुंचा दे रहे हैं इस बात की प्रमाणिकता है इस बात की कि मैंने पैसा मैं व्यास के जमा कराया है लेकिन जज कोष कार्यालय वाले हैं इस बात को स्वीकार ही नहीं करते अब बताइए मैं किससे कहूं मैं सब से कह चुका है लेकिन मैं भी चुपचाप बैठा हूं क्या करें रिश्ता का दौर है कोई सुनने वाला नहीं है ना कोई रो जनता है ना कोई सुनता है

rajasthan mein yadi sabse zyada bhrashtachar aap vala chala poochhte hain toh main meri rai ke anusaar karauli jile koi keh sakta hai karauli jila rajasthan ke 33 jilon mein sabse bhrasht gaya vidhara chala hai kyonki yahan aap bina koi karya imaandaari se takrai nahi sakte hain checking checking bahut sthiti badataar hai bina check and Jackie toh aapko hi karya kar hi nahi sakte hain aur sharafat se ya male milae jisse yah imaandaari se kaam ki kalpana bhi yah sambhav hai mera udaharan deta hoon ab main varishtha adhyapak se retire hua maine san 2002 mein ek loan liya tha kalektret se Rs ka aur vaah vidhi vyas jumble matlab march 3 00 se lekar ke january 13 tak 120 kiston mein main byaj ke unnayan jharkhand ke chuka diya main aaj unki rasiden prastut kar chuka hoon sab kuch kar chuka hoon lekin mujhe aaj 3 mahine hue retirement hue tension mein ho rahi hai mujhe NOC jaari nahi ki jaati hai sab jagah ke liye saare adhikaariyo se rota hoon lekin uske pashchat bhi aaj tak koi karyavahi nahi hoti hai aur main baar baar jata hoon toh kehte hain vaah in dino milaan hamare pyare se nahi ho raha hai isliye ab meri san mein yah nahi aata kya ke mutiyare jabki schoolon mein ek sandesh pohcha de rahe hain is baat ki pramanikata hai is baat ki ki maine paisa main vyas ke jama karaya hai lekin judge kosh karyalay waale hain is baat ko sweekar hi nahi karte ab bataye main kisse kahun main sab se keh chuka hai lekin main bhi chupchap baitha hoon kya kare rishta ka daur hai koi sunne vala nahi hai na koi ro janta hai na koi sunta hai

राजस्थान में यदि सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार आप वाला चला पूछते हैं तो मैं मेरी राय के अनुसार कर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  16
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!