गुजरात का चुनाव हारने के बाद क्या अब राहुल ग़ांधी कर्नाटक की तैयारी में जुट गए है?...


play
user

Raj Shah

Aspiring engineer

0:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी जी की हम बात ना करें तो ही ठीक है क्योंकि जिस तरह वह किसी भी स्टेट में जाते हैं उस डेट में पार्टी से जिस से जुड़ते हैं उन्हें भी सपरिवार आकर आते हैं जैसे पहले हमने देखा कि यूपी में गए थे यूपी में मुलायम सिंह और अखिलेश सरकार को गिरा कर आए और अब जब जाकर गुजरात में पाटीदार समाज वालों से प्राप्त संगठन बनाया तो उन्हें भी गिरा कर आए हैं तो पता नहीं पर नाटक आ जा रहे हैं कि नहीं पर कर्नाटका में भी जिसके साथ जाएगी पीना उनको भी हराकर आएगी तो वह जाते हैं कि नहीं कर्नाटक में जुटने चुपके चुपके तो नहीं आएगी तू टके जरुर आएंगे

rahul gandhi ji ki hum baat na kare toh hi theek hai kyonki jis tarah vaah kisi bhi state mein jaate hain us date mein party se jis se judte hain unhe bhi saparivar aakar aate hain jaise pehle humne dekha ki up mein gaye the up mein mulayam Singh aur akhilesh sarkar ko gira kar aaye aur ab jab jaakar gujarat mein patidaar samaj walon se prapt sangathan banaya toh unhe bhi gira kar aaye hain toh pata nahi par natak aa ja rahe hain ki nahi par karnataka mein bhi jiske saath jayegi peena unko bhi harakar aayegi toh vaah jaate hain ki nahi karnataka mein jutane chupake chupake toh nahi aayegi tu tke zaroor aayenge

राहुल गांधी जी की हम बात ना करें तो ही ठीक है क्योंकि जिस तरह वह किसी भी स्टेट में जाते है

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  7
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कपड़ा सैया गुजरात चुनाव हारने के बाद क्या राहुल गांधी कर्नाटक की तैयारी में जुट गए हैं इसका आंसर हां बिल्कुल गुजरात चुनाव हारने के बाद राहुल गांधी का नाटक सुनाओ तुम्हें जमके जुट गए हैं जोर से प्रचार कर रहे हैं

kapda saiya gujarat chunav haarne ke baad kya rahul gandhi karnataka ki taiyari me jut gaye hain iska answer haan bilkul gujarat chunav haarne ke baad rahul gandhi ka natak sunao tumhe jamake jut gaye hain jor se prachar kar rahe hain

कपड़ा सैया गुजरात चुनाव हारने के बाद क्या राहुल गांधी कर्नाटक की तैयारी में जुट गए हैं इसक

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  965
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी अभी हाल ही में अध्यक्ष बने कांग्रेस पार्टी के ठीक है और उन्होंने बहुत ही अच्छा प्रदर्शन किया कांग्रेस में कांग्रेस का जहां पर सफाया हो गया था पूरे देश से झांसी तो बिल्कुल धीमा कर के बराबर मिल रही थी वाव गुजरात में सफाई देती है ऐसी पार्टी को जिस का गाना है 22 साल से जो राज कर रही थी जिसके प्रथम प्रधानमंत्री और जो अध्यक्ष है जिस पार्टी की गुजरात से आते हैं तो ऐसी पार्टी को उसी के घर में यदि आप इतनी कड़ी टक्कर दे रहे हैं कि उसकी सोच से भी कम सीट नहीं आ रहा तो बहुत अच्छा है हिसाब है मेहनत की है राहुल गांधी ने मनोबल का फ्यूचर हुआ है उसके बाद से 2जी स्कैम इन सब चीजों के बाद से तो bjp की बहुत गिरावट आई है कांग्रेस मोटा मनोगत करके कर्नाटक की तैयारी और और राज्य में चुनाव जो राजस्थान मध्यप्रदेश में होंगे उन की तैयारी में जुट गए और और मेहनत से करने का प्रयास करेंगे जिससे बीजेपी का वहां पर हर है जान सके

rahul gandhi abhi haal hi mein adhyaksh bane congress party ke theek hai aur unhone bahut hi accha pradarshan kiya congress mein congress ka jaha par safaya ho gaya tha poore desh se jhansi toh bilkul dheema kar ke barabar mil rahi thi vav gujarat mein safaai deti hai aisi party ko jis ka gaana hai 22 saal se jo raj kar rahi thi jiske pratham pradhanmantri aur jo adhyaksh hai jis party ki gujarat se aate hain toh aisi party ko usi ke ghar mein yadi aap itni kadi takkar de rahe hain ki uski soch se bhi kam seat nahi aa raha toh bahut accha hai hisab hai mehnat ki hai rahul gandhi ne manobal ka future hua hai uske baad se ji scam in sab chijon ke baad se toh bjp ki bahut giraavat I hai congress mota manogat karke karnataka ki taiyari aur aur rajya mein chunav jo rajasthan madhya pradesh mein honge un ki taiyari mein jut gaye aur aur mehnat se karne ka prayas karenge jisse bjp ka wahan par har hai jaan sake

राहुल गांधी अभी हाल ही में अध्यक्ष बने कांग्रेस पार्टी के ठीक है और उन्होंने बहुत ही अच्छा

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुजरात हिमाचल प्रदेश में हार के बाद नए नए बनाए गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी कर्नाटक चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं 2 दिन के कर्नाटक दौरे पर भी गए थे और वहां उन्होंने कर्नाटक के चीफ मिनिस्टर सिद्धारमैया और बाकी सब ठीक लीडर्स के साथ अगले साल होने वाले चुनावों के लिए रणनीति सूची कैसे पार्टी को इलेक्शन फेस करना चाहिए कि क्या उनकी रणनीतियां होनी चाहिए यह सब राहुल गांधी में उन स्टेट लीडर्स और चीफ मिनिस्टर के साथ मिलकर किया द हिंदू अखबार में प्रकाशित चीफ मिनिस्टर से दरमियां के एक इंटरव्यू के मुताबिक राहुल भारत के भविष्य के नेतृत्व करने वाले व्यक्ति होंगे तो जब वहां की CM ऐसे बड़े-बड़े वादे और बड़े-बड़े वह कंपनियां कर रहे हैं तो कुछ तो राहुल गांधी ने सोचा ही होगा कुछ तो राहुल गांधी की प्लानिंग उनकी सारी रणनीति होगी कभी भी ऐसा बोल पा रहे हैं दूसरों में करना अब जब वह हार चुके हैं दोस्त इसमें तो उन्होंने इस्टेट में नहाने के लिए जरूर ऐसे फूलप्रूफ प्लांस यह सारी चीजें जो नीतियां बनाई होंगी जो उन्हें यहां जीतने में मदद करें लेकिन अभी मोदी लहर चल रही है तो हम यह नहीं कह सकते कि कर्नाटका में उनकी यह सारी रणनीतियां इतना सारा परिश्रम इतना सारा हार्ड वर्क कोई रिजल्ट देगा कि नहीं देगा पठा वह तैयारियां जोरों शोरों से जरूर कर रहे हैं

gujarat himachal pradesh mein haar ke baad naye naye banaye gaye congress adhyaksh rahul gandhi ji karnataka chunav ki taiyari mein jut gaye hain 2 din ke karnataka daure par bhi gaye the aur wahan unhone karnataka ke chief minister siddaramaiah aur baki sab theek leaders ke saath agle saal hone waale chunavon ke liye rananiti suchi kaise party ko election face karna chahiye ki kya unki rananitiyan honi chahiye yah sab rahul gandhi mein un state leaders aur chief minister ke saath milkar kiya the hindu akhbaar mein prakashit chief minister se darmiyan ke ek interview ke mutabik rahul bharat ke bhavishya ke netritva karne waale vyakti honge toh jab wahan ki CM aise bade bade waade aur bade bade vaah companiya kar rahe hain toh kuch toh rahul gandhi ne socha hi hoga kuch toh rahul gandhi ki planning unki saree rananiti hogi kabhi bhi aisa bol paa rahe hain dusro mein karna ab jab vaah haar chuke hain dost isme toh unhone estate mein nahane ke liye zaroor aise fulapruf plans yah saree cheezen jo nitiyan banai hongi jo unhe yahan jitne mein madad kare lekin abhi modi lahar chal rahi hai toh hum yah nahi keh sakte ki karnataka mein unki yah saree rananitiyan itna saara parishram itna saara hard work koi result dega ki nahi dega pattha vaah taiyariya joron shoron se zaroor kar rahe hain

गुजरात हिमाचल प्रदेश में हार के बाद नए नए बनाए गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी कर्नाटक

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
user

Sefali

Media-Ad Sales

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अवश्य ही गुजरात इलेक्शन के बाद अब, राहुल गांधीजी ही नहीं,मोदी जी भी जोकि कर्नाटका इलेक्शन की तैयारी में लेगंये होंगे| क्योंकि अभी वह ज्यादा दूर नहीं २०१८ ,बस कुछ ही दिन दूर है|और येह माना आ जा रहा है, यह अप्रैल या जून में, कर्नाटक इलेक्शन से वह होने वाली है| तो समय बहुत कम है| तैयारी की बहुत जरूरत है| और यह बहुत महत्वपूर्ण इलेक्शंस माना जा रहा है, आने वाले समय में|

avashya hi gujarat election ke baad ab rahul gandhiji hi nahi modi ji bhi joki karnataka election ki taiyari mein leganye honge kyonki abhi vaah zyada dur nahi 2018 bus kuch hi din dur hai aur yeh mana aa ja raha hai yah april ya june mein karnataka election se vaah hone wali hai toh samay bahut kam hai taiyari ki bahut zarurat hai aur yah bahut mahatvapurna elections mana ja raha hai aane waale samay mein

अवश्य ही गुजरात इलेक्शन के बाद अब, राहुल गांधीजी ही नहीं,मोदी जी भी जोकि कर्नाटका इलेक्शन

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
user

Janak

An Enthusiastic Entrepreneur.

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुजरात के चुनाव हारने के बाद आज जब प्रेसिडेंट ऑफ द प्रेसिडेंट ऑफ द कांग्रेस पार्टी आवेदन मुखिया ऑफ द कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी को हार नहीं माननी चाहिए और कर्नाटक का चुनाव के लिए तैयारी जुट नहीं तो चाहिए और शायद वह झूठ भी गए हो क्योंकि बाकी देशों के एक बाकी जो लोग हैं जो देश में उनको न्यूज़पेपर और मीडिया के अलावा तो पता नहीं चलेगा शायद उन्होंने कैंपेनिंग स्टार्ट की हो या फिर कोई इंटरनल यूज़्ड इंटरनल कांटेक्ट यूज़ करके शायद काम कर सकते हैं हम बता नहीं सकते हैं बट 1 वर्ष कौन सी बिल प्रेसिडेंट अगर उन्हें साबित करना है कि रिस्पॉन्सिबल प्रेसिडेंट ऑफ द कांग्रेस पार्टी अगर खुद को साबित करना है तो लगता है कि उन्होंने काम चालू करना ही चाहिए और मेहनत काफी मेहनत करके काफी कैंपेनिंग करके अपनी अपने आप को साबित करना चाहिए

gujarat ke chunav haarne ke baad aaj jab president of the president of the congress party avedan mukhiya of the congress party rahul gandhi ko haar nahi maanani chahiye aur karnataka ka chunav ke liye taiyari jut nahi toh chahiye aur shayad vaah jhuth bhi gaye ho kyonki baki deshon ke ek baki jo log hain jo desh mein unko Newspaper aur media ke alava toh pata nahi chalega shayad unhone campaigning start ki ho ya phir koi internal used internal Contact use karke shayad kaam kar sakte hain hum bata nahi sakte hain but 1 varsh kaun si bill president agar unhe saabit karna hai ki responsible president of the congress party agar khud ko saabit karna hai toh lagta hai ki unhone kaam chaalu karna hi chahiye aur mehnat kaafi mehnat karke kaafi campaigning karke apni apne aap ko saabit karna chahiye

गुजरात के चुनाव हारने के बाद आज जब प्रेसिडेंट ऑफ द प्रेसिडेंट ऑफ द कांग्रेस पार्टी आवेदन म

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
user

Apurva D

Optimistic Coder

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुजरात के चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के दोनों पार्टियों में टक्कर की चुनौती हुई है बीजेपी तो अभी अपने जीत की खुशी मना रहा है मगर लगता है राहुल गांधी जी तो सिर्फ पिछले बार से ज्यादा सीटें हासिल करने पर ही संतुष्ट है क्योंकि एक न्यूज़ के तहत में नहीं है पड़ा है कि गुजरात चुनाव हारने के बाद वह कांग्रेस के लोग के बारे में डिस्कस करने के बजाए स्टार वॉर्स मूवी देखने गए थे हालांकि उनका अभी तक ऐसा मुंह दिखाई नहीं दिया गया जिसे हम कह सके कि वह कर्नाटक की तैयारी में जुट गए हैं शायद अभी तक कर्नाटक पर कांग्रेस राज होने के कारण वह धीरे से तैयारी करेंगे

gujarat ke chunav mein bjp aur congress ke dono partiyon mein takkar ki chunauti hui hai bjp toh abhi apne jeet ki khushi mana raha hai magar lagta hai rahul gandhi ji toh sirf pichle baar se zyada seaten hasil karne par hi santusht hai kyonki ek news ke tahat mein nahi hai pada hai ki gujarat chunav haarne ke baad vaah congress ke log ke bare mein discs karne ke bajaye star wares movie dekhne gaye the halaki unka abhi tak aisa mooh dikhai nahi diya gaya jise hum keh sake ki vaah karnataka ki taiyari mein jut gaye hain shayad abhi tak karnataka par congress raj hone ke karan vaah dhire se taiyari karenge

गुजरात के चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के दोनों पार्टियों में टक्कर की चुनौती हुई है बीजेप

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  8
WhatsApp_icon
user

Anukrati

Journalism Graduate

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुजरात के चुनाव हारने के बाद क्या राहुल गांधी कर्नाटक चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं यह सवाल वर्तमान हालात में बिल्कुल सही है जो नतीजे गुजरात में दोनों पार्टियों के रहे हैं उन्होंने दोनों को ही सोचने पर मजबूर कर दिया होगा कि हम कहां गलत हैं मोदी जी ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह गुजरात और हिमाचल की जीत से ज्यादा प्रभावित ना हो उन्होंने अपने सभी कार्यों को तेज गति से किया कर्नाटक का दौरा भी जहां उन्होंने अपने लोगों को जीतने पर बधाई दी वहीं चेतावनी भी थी इसके विपरीत राहुल गांधी गुजरात के दावों की दीपों की जीत से आत्मा मुक्त हो गए हैं उन्हें उन्हें लगता है उनके प्यार भरे भाषण जनता को लुभा रहे हैं और निश्चित हो गए हैं कि और राज्यों के चुनावों में भी बीजेपी को पछाड़ सकते हैं

gujarat ke chunav haarne ke baad kya rahul gandhi karnataka chunav ki taiyari mein jut gaye hai yah sawaal vartaman haalaat mein bilkul sahi hai jo natije gujarat mein dono partiyon ke rahe hai unhone dono ko hi sochne par majboor kar diya hoga ki hum kahaan galat hai modi ji ne apne karyakartaon se kaha hai ki vaah gujarat aur himachal ki jeet se zyada prabhavit na ho unhone apne sabhi karyo ko tez gati se kiya karnataka ka daura bhi jaha unhone apne logo ko jitne par badhai di wahi chetavani bhi thi iske viprit rahul gandhi gujarat ke davon ki dipon ki jeet se aatma mukt ho gaye hai unhe unhe lagta hai unke pyar bhare bhashan janta ko lubha rahe hai aur nishchit ho gaye hai ki aur rajyo ke chunavon mein bhi bjp ko pachhaad sakte hain

गुजरात के चुनाव हारने के बाद क्या राहुल गांधी कर्नाटक चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं यह सव

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  14
WhatsApp_icon
user

amitkul

CA student,pursuing bcom too

1:58
Play

Likes  9  Dislikes    views  69
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे लगता है कि जिस तरह से इस थे इलेक्शन में पिछली गुजरात इलेक्शन में कांग्रेस ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया तो उनको एक बहुत बड़ी उम्मीद है कर्नाटक से दूसरे इस बार इलेक्शन में गुजरात इलेक्शन में कांग्रेस का जो परफॉर्मेंस अब लास्ट टाइम से बहुत अच्छा था हालांकि वह कुछ सीटों से सरकार बनाने से चूके तो मुझे लगता है कांग्रेस के जो मेंबर उस इलेक्शन में ही जाम से लगे हुए तो डेफिनेटली उनको कर्नाटक में भी लगना चाहिए कुत्ता कर्नाटक इलेक्शन नज़दीक आ रहा है और कर्नाटक में अब अपने एग्जिट फैंस को बचाने के लिए कोई और कांग्रेस को लाना है क्योंकि मूसली इलेक्शंस कांग्रेस हारी चुकी है हिमाचल भी उस से चलाई गया है तो जो बड़े-बड़े प्रदेश रह गए थे उसके हाथ में एक तो पंजाबी दूसरा कर्नाटक कर्नाटक भी निकल जाता है तो बहुत बड़ी दिक्कत हो जाएगी 2019 के इलेक्शन में कांग्रेस को तो मुझे लगता है कि कांग्रेस को बहुत अच्छे से इलेक्शन लड़ना चाहिए ताकि वह अपनी गवर्मेंट को बनाए रखें करना के अंदर

lekin mujhe lagta hai ki jis tarah se is the election mein pichali gujarat election mein congress ne bahut accha pradarshan kiya toh unko ek bahut badi ummid hai karnataka se dusre is baar election mein gujarat election mein congress ka jo performance ab last time se bahut accha tha halaki vaah kuch seaton se sarkar banane se chuke toh mujhe lagta hai congress ke jo member us election mein hi jam se lage hue toh definetli unko karnataka mein bhi lagna chahiye kutta karnataka election nazdeek aa raha hai aur karnataka mein ab apne exit fans ko bachane ke liye koi aur congress ko lana hai kyonki muesli elections congress haari chuki hai himachal bhi us se chalai gaya hai toh jo bade bade pradesh reh gaye the uske hath mein ek toh punjabi doosra karnataka karnataka bhi nikal jata hai toh bahut badi dikkat ho jayegi 2019 ke election mein congress ko toh mujhe lagta hai ki congress ko bahut acche se election ladna chahiye taki vaah apni government ko banaye rakhen karna ke andar

लेकिन मुझे लगता है कि जिस तरह से इस थे इलेक्शन में पिछली गुजरात इलेक्शन में कांग्रेस ने बह

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  167
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!