सेंसर बोर्ड 'पद्मावती' को सर्टिफाइ करने के लिए तैयार है अगर वे फिल्म का नाम बदल दे, क्या यह सही है?...


play
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:11

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भीगी मुझे लगता है कि जिस तरह से शायद सेंसर बोर्ड ने डिसाइड किया है कि पद्मावती का नाम बदलकर पद्मावत कर देना चाहिए तो मुझे नहीं लगता कि इस से कोई ज्यादा फर्क पड़ेगा उसके बहुत सारे जीजा ने जिस तरह से नासिक कुछ महीनों में हमने देखा कि के इतिहास में कुछ तथ्यों से छेड़छाड़ करके मूवी को बनाया गया था जिस वजह से राजपूत समुदाय ने सूची राजस्थान गुजरात उत्तर प्रदेश के राजपूत संविधान इसका विरोध किया था जिस तरह से रानी पद्मिनी की है जो इमेज है उस को दिखाया गया है तो मुझे लगता है कि अगर उसका नाम चेंज करते तो ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा हालांकि 3309 नेकड किया है सेंसर बोर्ड ने वद मैं यह जरुर कहना चाहूंगा जिस तरह से हमारे बॉलीवुड में जो मूवीस बनती हैं अगर वह किसी का शुक्रिया किसी रिलेशन विथ मूवी हूं और इसमें अगर यदि ऐसा लगे कि किसी रिलीजन के सेंटीमेंट हर्ट हो रहे हो तो मुझे लगता है बॉलीवुड को उसके बारे में सोच और मूवी बनाने से पहले डिस्कस जरूर करना चाहिए ताकि किसी समाज के किसी जाति-धर्म के सेंटीमेंट्स हर्ट ना हो

bheegi mujhe lagta hai ki jis tarah se shayad censor board ne decide kiya hai ki padmavati ka naam badalkar padmavat kar dena chahiye toh mujhe nahi lagta ki is se koi zyada fark padega uske bahut saare jija ne jis tarah se nashik kuch mahinon mein humne dekha ki ke itihas mein kuch tathyon se chedchad karke movie ko banaya gaya tha jis wajah se rajput samuday ne suchi rajasthan gujarat uttar pradesh ke rajput samvidhan iska virodh kiya tha jis tarah se rani padmini ki hai jo image hai us ko dikhaya gaya hai toh mujhe lagta hai ki agar uska naam change karte toh zyada fark nahi padega halaki 3309 nekad kiya hai censor board ne wad main yah zaroor kehna chahunga jis tarah se hamare bollywood mein jo Movies banti hain agar vaah kisi ka shukriya kisi relation with movie hoon aur isme agar yadi aisa lage ki kisi religion ke sentiment heart ho rahe ho toh mujhe lagta hai bollywood ko uske bare mein soch aur movie banane se pehle discs zaroor karna chahiye taki kisi samaj ke kisi jati dharm ke sentiments heart na ho

भीगी मुझे लगता है कि जिस तरह से शायद सेंसर बोर्ड ने डिसाइड किया है कि पद्मावती का नाम बदलक

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

.

Hhhgnbhh

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो सेंसर बोर्ड है, उसने यह न्यूज़ निकाली है| कि वह पद्मावती जो मूवी आ रही है, उसको सेंसर कर देगा| अगर वे अपना नाम बदलते हैं| तो पद्मावत नाम वह रखने की सोच रहे हैं तो मेरे हिसाब से इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा मूवी को| क्यूंकि पद्मावती पद्मावत बहुत जादा सिमिलर एक तरह के ही नाम है| और जो मूवी बनाने वाले थे| उन लोगों को थोड़ा यह ध्यान पहले से रखना चाहिए था| कि वह ऐसी कोई गलती ना करें, जिसकी वजह सेंसर बोर्ड को उनके सीन काटने पड़ जाए या नाम बदलने का रखना चाहिए क्योंकि हम हिंदुस्तान में रहते हैं| जंहा अलग-अलग प्रजाति के लोग रहते है| तो हमें किसी के भी सेंटीमेंट को किसी की भी भावनाओं को दुख नहीं पहुंचाना चाहते हैं| तो इसीलिए यह उनको थोड़ा सा पहले से दिमाग में रख कर चलना चाहिए था अगर वह यह गलती ना करते तो आज मूवी का नाम चेंज होने की नौबत ना आती| पर हाँ अगर मूवी का नाम भी चेंज हो जाता है| तो उससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा| ना मूवी पे ना मूवी के फैन्स पे और ना किसी और चीज़ पर | तो मेरे हिसाब हां यह मूवी का नाम बदलना सही है| इससे जो प्रजाति के लोग हैं, उनको भी दुख नहीं पहुंचेगा और जो मूवी भी है| वह भी अच्छा काम कर पाएगी मूवी भी लॉन्च हो जाएगी तो नुकसान भी नहीं होगा|

jo censor board hai usne yah news nikali hai ki vaah padmavati jo movie aa rahi hai usko censor kar dega agar ve apna naam badalte hain toh padmavat naam vaah rakhne ki soch rahe hain toh mere hisab se isse zyada fark nahi padega movie ko kyunki padmavati padmavat bahut zyada similar ek tarah ke hi naam hai aur jo movie banane waale the un logo ko thoda yah dhyan pehle se rakhna chahiye tha ki vaah aisi koi galti na kare jiski wajah censor board ko unke seen katne pad jaaye ya naam badalne ka rakhna chahiye kyonki hum Hindustan mein rehte hain jahaan alag alag prajati ke log rehte hai toh hamein kisi ke bhi sentiment ko kisi ki bhi bhavnao ko dukh nahi pahunchana chahte hain toh isliye yah unko thoda sa pehle se dimag mein rakh kar chalna chahiye tha agar vaah yah galti na karte toh aaj movie ka naam change hone ki naubat na aati par haan agar movie ka naam bhi change ho jata hai toh usse zyada fark nahi padega na movie pe na movie ke fans pe aur na kisi aur cheez par toh mere hisab haan yah movie ka naam badalna sahi hai isse jo prajati ke log hain unko bhi dukh nahi pahunchaega aur jo movie bhi hai vaah bhi accha kaam kar payegi movie bhi launch ho jayegi toh nuksan bhi nahi hoga

जो सेंसर बोर्ड है, उसने यह न्यूज़ निकाली है| कि वह पद्मावती जो मूवी आ रही है, उसको सेंसर क

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देसी सेंसर बोर्ड हमारे देश में कठोर होती है जो जिसके पास होने के बाद ही कोई फिल्म हमारे देश में रिलीज होती है तो अगर सेंसर बोर्ड हमारे पद्मावती फिल्म को नाम बदलने की सलाह दे रहा है और फिर उसको पास करने के लिए बोल रहा है तो जरूर है इसके पीछे बहुत ही जरुरी कारण है उनकी और सेंसर बोर्ड हर किसी की भावना और उनकी और कल्चर को ध्यान में रखे की चीजों को करता है तो जैसा कि हम जानते हैं कि पद्मावती मूवी में कहा जा रहा था कि कुछ ऐसे सीन से जिन से जयपुर के कुछ लोग बहुत ज्यादा बुरा महसूस कर रहे थे उनको वह चीज पसंद नहीं आ रही थी तो ठीक है अगर सेंसर बोर्ड ने कहा है क्या आप मुझे इसमें कुछ बदलाव की जो उसका नाम बदलकर उसको रिलीज कीजिए तो भी वही बात है और हमारे देश में इतनी तो डायरेक्टर स्कोर छूट मिली हुई है कि वह अपना काम जो भी करते हैं वह उस को दर्शा सकते हैं लेकिन अगर सेंसर बोर्ड कोई चीज कह रहा है तो उनको उसकी भी बात का पालन कर

desi censor board hamare desh mein kathor hoti hai jo jiske paas hone ke baad hi koi film hamare desh mein release hoti hai toh agar censor board hamare padmavati film ko naam badalne ki salah de raha hai aur phir usko paas karne ke liye bol raha hai toh zaroor hai iske peeche bahut hi zaroori karan hai unki aur censor board har kisi ki bhavna aur unki aur culture ko dhyan mein rakhe ki chijon ko karta hai toh jaisa ki hum jante hain ki padmavati movie mein kaha ja raha tha ki kuch aise seen se jin se jaipur ke kuch log bahut zyada bura mehsus kar rahe the unko vaah cheez pasand nahi aa rahi thi toh theek hai agar censor board ne kaha hai kya aap mujhe isme kuch badlav ki jo uska naam badalkar usko release kijiye toh bhi wahi baat hai aur hamare desh mein itni toh director score chhut mili hui hai ki vaah apna kaam jo bhi karte hain vaah us ko darsha sakte hain lekin agar censor board koi cheez keh raha hai toh unko uski bhi baat ka palan kar

देसी सेंसर बोर्ड हमारे देश में कठोर होती है जो जिसके पास होने के बाद ही कोई फिल्म हमारे दे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  180
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
hum sath sath hai full movie filmywap ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!