भारत में भ्रस्टाचार को कम करने के सुझाव?...


user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जय श्री गोविंद गोयल जी ने अपनी एक या प्लीज क्वेश्चन पूछा है कि भारत में भ्रष्टाचार को कम करने का सुझाव मेरे ख्याल से भ्रष्टाचार यानी भ्रष्ट आचरण भ्रष्ट मतलब गंदा गंदा का व्यवहार टीका गंदगी कल किसी न किसी तरीके से गंदगी फैलाना भ्रष्टाचार फैलाने का मेन कारण यह होता है कि हमारे हमारे जिसके हाथ में सत्ता है कहीं ना कहीं वह ध्यान नहीं दे रही है और हमारे सत्ता किसके हाथ में नेताओं के हाथ में नेताओं से पुलिस जुड़ी हुई है क्योंकि नेता पुलिस को कमांड से आर्डर देते हैं ठीक है और पुलिस चोर पुलिस होता है वह क्रीम रस को पकड़ते हैं ठीक है तो मेरे ख्याल से यह है कि अगर नेता अगर पुलिस को सही कमांड दे कि वह अपने तरीके से काम करें तो कहीं ना कहीं क्राइम रुकेगा अगर पुलिस किसी क्रिमिनल को पकड़ते हैं तो क्या होता है कि नेता उनको बोलते हैं कि उनको छोड़ दें ठीक है तो कहीं ना कहीं वह उनके हाथ में सत्ता है भ्रष्टाचार के कारण फैलता है अगर वह सही से ध्यान देने लगे और हिंदुस्तान के एक-एक नागरिक अगर सही से ध्यान देने लगे तो भ्रष्टाचार अपने आप कम हो जाएगा थैंक यू

haan jai shri govind goyal ji ne apni ek ya please question poocha hai ki bharat mein bhrashtachar ko kam karne ka sujhaav mere khayal se bhrashtachar yani bhrasht aacharan bhrasht matlab ganda ganda ka vyavhar tika gandagi kal kisi na kisi tarike se gandagi faillana bhrashtachar felane ka main karan yah hota hai ki hamare hamare jiske hath mein satta hai kahin na kahin vaah dhyan nahi de rahi hai aur hamare satta kiske hath mein netaon ke hath mein netaon se police judi hui hai kyonki neta police ko command se order dete hain theek hai aur police chor police hota hai vaah cream ras ko pakadten hain theek hai toh mere khayal se yah hai ki agar neta agar police ko sahi command de ki vaah apne tarike se kaam kare toh kahin na kahin crime rukega agar police kisi criminal ko pakadten hain toh kya hota hai ki neta unko bolte hain ki unko chod de theek hai toh kahin na kahin vaah unke hath mein satta hai bhrashtachar ke karan failata hai agar vaah sahi se dhyan dene lage aur Hindustan ke ek ek nagarik agar sahi se dhyan dene lage toh bhrashtachar apne aap kam ho jaega thank you

हां जय श्री गोविंद गोयल जी ने अपनी एक या प्लीज क्वेश्चन पूछा है कि भारत में भ्रष्टाचार को

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  145
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Govind Goyal

Process Executive at Infosys

1:32

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

थैंक्स ऑल ऑफ यू भ्रष्टाचार भ्रष्टाचार भ्रष्टाचार का मतलब होता है वह टेस्ट का अचार यह कोई एक व्यक्तिगत समस्या नहीं है पूर्व राष्ट्रव्यापी विश्वव्यापी समस्या है कई दिनों में बहुत हद तक भ्रष्टाचार है कई देशों में कम भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए विभिन्न तत्व होता एजुकेशन शिक्षा भारत में 29 राज्य की साक्षरता पर बात करने से कहीं अधिक है इसलिए वहां पर जो करप्शन रेट है वो अंदाज उसने काम है वहां के लोगों को जागरुक है वह पढ़े लिखे हो समझ सकते हैं और दूसरा हे मीडियम मीडियम होता मध्य प्रदेश की गवर्नमेंट हमारे बीच में कई सारी सारी करिए जोड़िए नहीं करना चाहते सिस्टम स्टार्ट होता है मतलब बीच की कड़ी हो कभी चांद जाना पसंद करके डाइट कहां तक जाएगी भ्रष्टाचार बहुत हद तक कम हो सकता है बीच की कड़ी होती है तो कोई प्रोडक्ट ₹10 का था वह आते आते देवी से 25 हो जाता है क्या करे तो एक टांग पर निबंध एक टांग पर राशि बनती है और एक मीडियम लोग खत्म हो जाते हैं जिससे भ्रष्टाचार बहुत हद तक कम हो जाता है और लास्ट दो फर्स्ट नवीन बताता है जो किसने दी एजुकेशन कॉम पहला खिलाड़ी एजुकेशन कॉम और भी इनक्रीस कर दे को कैसे करके कौन उनके हेल्प यदि हम कैसे भी करके भ्रष्टाचार काफी हद तक कम हो सकता है

thanks all of you bhrashtachar bhrashtachar bhrashtachar ka matlab hota hai vaah test ka achaar yah koi ek vyaktigat samasya nahi hai purv rashtravyapi vishvavyapi samasya hai kai dino mein bahut had tak bhrashtachar hai kai deshon mein kam bhrashtachar ko khatam karne ke liye vibhinn tatva hota education shiksha bharat mein 29 rajya ki saksharta par baat karne se kahin adhik hai isliye wahan par jo corruption rate hai vo andaaz usne kaam hai wahan ke logo ko jagruk hai vaah padhe likhe ho samajh sakte hain aur doosra hai medium medium hota madhya pradesh ki government hamare beech mein kai saree saree kariye joodiye nahi karna chahte system start hota hai matlab beech ki kadi ho kabhi chand jana pasand karke diet kahaan tak jayegi bhrashtachar bahut had tak kam ho sakta hai beech ki kadi hoti hai toh koi product Rs ka tha vaah aate aate devi se 25 ho jata hai kya kare toh ek taang par nibandh ek taang par rashi banti hai aur ek medium log khatam ho jaate hain jisse bhrashtachar bahut had tak kam ho jata hai aur last do first naveen batata hai jo kisne di education com pehla khiladi education com aur bhi increase kar de ko kaise karke kaun unke help yadi hum kaise bhi karke bhrashtachar kaafi had tak kam ho sakta hai

थैंक्स ऑल ऑफ यू भ्रष्टाचार भ्रष्टाचार भ्रष्टाचार का मतलब होता है वह टेस्ट का अचार यह कोई ए

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देहाती आपको भारत में करप्शन भ्रष्टाचार कम करना है तो उसके सबसे पहला स्टेप है कि हमारे जैसा संसद भवन में पार्लिमेंट में जितने भी इलेक्टेड होकर जाते हैं लोग उन सबको एक सिस्टम से करना काम यानी कि जितना भी इलेक्शन हो रहा है उसमें कोई भी कंडीडेट ऐसा खड़ा ना होने से कोई आरोप लगे हैं कोई दागी उम्मीदवार जितने भी अभी मौजूदा सांसद हैं उन सब पर तुरंत कोर्ट में जितने भी केस हैं वह सब प्रोसिडिंग जाओ और जिस से भी भ्रष्टाचार साबित हो रहा है उसे हटा दें इससे क्या होगा जितने भी ईमानदार लोगों के वह हमारे संसद भवन में पहुंचेंगे

dehati aapko bharat mein corruption bhrashtachar kam karna hai toh uske sabse pehla step hai ki hamare jaisa sansad bhawan mein Parliament mein jitne bhi elected hokar jaate hain log un sabko ek system se karna kaam yani ki jitna bhi election ho raha hai usme koi bhi kandidet aisa khada na hone se koi aarop lage hain koi daagi ummidvar jitne bhi abhi maujuda saansad hain un sab par turant court mein jitne bhi case hain vaah sab proceeding jao aur jis se bhi bhrashtachar saabit ho raha hai use hata de isse kya hoga jitne bhi imaandaar logo ke vaah hamare sansad bhawan mein pahunchenge

देहाती आपको भारत में करप्शन भ्रष्टाचार कम करना है तो उसके सबसे पहला स्टेप है कि हमारे जैसा

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
user
1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिस दिन इलेक्शन में पैसे बांटने वाले नेताओं से सचेत हो जाएंगे हम उनकी बातों में नहीं आएंगे और अगर हमें जो नेता पैसे देता है हम उस नेताओं को लाइक नहीं करेंगे उसे वोट नहीं देंगे तुझे ऐसी बातें जो भारत एक लोकतांत्रिक देश है और भारत भ्रष्टाचार के रास्ते कम हो जाएंगे भारत में भ्रष्टाचार जो हो रहा है वह कम हो जाएंगे खाना यही है कि हम जो भी लीडर चुनते हैं वह कैसे बढ़ता है वह हर एक वोट का ₹1000 देता है तो वह जाहिर सी बात है जो बोल सकता मैं आएगा तो हम आपके जेब से ही वह पैसे के लिए जाएंगे इसलिए हमें ऐसे नेता को चुनना चाहिए जो पैसे ना बांटता हूं विकास की बात करता हूं और भ्रष्टाचार कम करने का वादा करता हूं ऐसे जब नहीं सुनना चाहिए ऐसे बर्ताव अगर जिस दिन हम अच्छे नेता को चुन लिया तो भारत में भ्रष्टाचार खत्म हो जाएंगे धंयवाद

jis din election mein paise baantne waale netaon se sachet ho jaenge hum unki baaton mein nahi aayenge aur agar hamein jo neta paise deta hai hum us netaon ko like nahi karenge use vote nahi denge tujhe aisi batein jo bharat ek loktantrik desh hai aur bharat bhrashtachar ke raste kam ho jaenge bharat mein bhrashtachar jo ho raha hai vaah kam ho jaenge khana yahi hai ki hum jo bhi leader chunte hai vaah kaise badhta hai vaah har ek vote ka Rs deta hai toh vaah jaahir si baat hai jo bol sakta main aayega toh hum aapke jeb se hi vaah paise ke liye jaenge isliye hamein aise neta ko chunana chahiye jo paise na bantata hoon vikas ki baat karta hoon aur bhrashtachar kam karne ka vada karta hoon aise jab nahi sunana chahiye aise bartaav agar jis din hum acche neta ko chun liya toh bharat mein bhrashtachar khatam ho jaenge dhanyvad

जिस दिन इलेक्शन में पैसे बांटने वाले नेताओं से सचेत हो जाएंगे हम उनकी बातों में नहीं आएंगे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  132
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
dehati xxxhd ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!