हमारे देश की अर्थव्यवस्था क्या है?...


user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश की अर्थव्यवस्था को हम मिक्स्ड इकोनॉमी बोलते हैं मैच देखना हमें जो है वह कैपिटलिज्म भी नहीं है और सोशलिज्म भी नहीं है बीच का एक तरीका है जिससे देश का विकास हो रहा है जिसमें हमारे पास दोनों ही तरीके के मिक्स्ड इकोनॉमी के फीचर से यानी कि कैपिटलिज्म मतलब जिसमें उद्योगपति बिजनेस करते हैं और सोशलिज्म जिसमें सरकार खर्चा करती है देश के विकास के लिए तो हम दोनों ही तरीके के प्रयोग करते हैं और हमारे देश की एक नामी पहले एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट रही है बहुत ज्यादा लेकिन आज एग्रीकल्चर का कृषि का देश की जीडीपी में योगदान घर के करीब 15% हो गया जो आजादी के टाइम पर करीब 50% था लेकिन आज भी कृषि क्षेत्र में करीब 55 से 7% लोग रोजगार पा रहे हैं तो वह अभी भी महत्वपूर्ण बना हुआ है सबसे ज्यादा कॉन्ट्रिब्यूशन इकोनॉमिक्स में सर्विस सेक्टर का है और उसके बाद मैंने 37 सेक्टर का है

hamare desh ki arthavyavastha ko hum mixed economy bolte hain match dekhna hamein jo hai vaah capitalism bhi nahi hai aur socialism bhi nahi hai beech ka ek tarika hai jisse desh ka vikas ho raha hai jisme hamare paas dono hi tarike ke mixed economy ke feature se yani ki capitalism matlab jisme udyogpati business karte hain aur socialism jisme sarkar kharcha karti hai desh ke vikas ke liye toh hum dono hi tarike ke prayog karte hain aur hamare desh ki ek nami pehle agriculture department rahi hai bahut zyada lekin aaj agriculture ka krishi ka desh ki gdp mein yogdan ghar ke kareeb 15 ho gaya jo azadi ke time par kareeb 50 tha lekin aaj bhi krishi kshetra mein kareeb 55 se 7 log rojgar paa rahe hain toh vaah abhi bhi mahatvapurna bana hua hai sabse zyada contribution economics mein service sector ka hai aur uske baad maine 37 sector ka hai

हमारे देश की अर्थव्यवस्था को हम मिक्स्ड इकोनॉमी बोलते हैं मैच देखना हमें जो है वह कैपिटलिज

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  530
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:28

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे भारत देश की अर्थव्यवस्था बहुत अच्छी है और तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत देश हमारा सातवें स्थान पर है और जनसंख्या क्या स्थान पर इसका दूसरा स्थान है

hamare bharat desh ki arthavyavastha bahut acchi hai aur teesri sabse badi arthavyavastha hai aur kshetrafal ki drishti se bharat desh hamara satve sthan par hai aur jansankhya kya sthan par iska doosra sthan hai

हमारे भारत देश की अर्थव्यवस्था बहुत अच्छी है और तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और क्षेत्र

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  383
WhatsApp_icon
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश की अर्थव्यवस्था अलीगढ ब्यूटी चेयरमैन का कहना यह है कि भारत इस साल जो है वापस इंडियास वर्ल्ड लार्जेस्ट इकॉनमी के लिए और जदयू के आसमान से आगे निकल जाएगी और वर्तमान में यह जो है करंट लार्जेस्ट इकॉनमी है और एक अन्य स्थान पर है और यह भी कहना है कि और 2032 तक इंडिया तीसरे स्थान पर आ जाएगी तो जून 2017 में समाप्त होने वाले तीन महीनों में उसकी विधि जो है 5.74 संस्था तो सितंबर में जो है 5 अक्टूबर के अंक में 63% आ गई थी तो अभी डिजिटल रिवोल्यूशन का विश्वास सर पर है अधिक विकास आ ही जाएगा

hamare desh ki arthavyavastha aligadh beauty chairman ka kehna yah hai ki bharat is saal jo hai wapas indiayas world largest economy ke liye aur jadayu ke aasman se aage nikal jayegi aur vartaman mein yah jo hai current largest economy hai aur ek anya sthan par hai aur yah bhi kehna hai ki aur 2032 tak india teesre sthan par aa jayegi toh june 2017 mein samapt hone waale teen mahinon mein uski vidhi jo hai 5 74 sanstha toh september mein jo hai 5 october ke ank mein 63 aa gayi thi toh abhi digital revolution ka vishwas sir par hai adhik vikas aa hi jaega

हमारे देश की अर्थव्यवस्था अलीगढ ब्यूटी चेयरमैन का कहना यह है कि भारत इस साल जो है वापस इंड

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  153
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विक्रम भारत की अर्थव्यवस्था की बात करें तो अभी फिलहाल कुछ नेक्स्ट इलेक्शन चल रहा है कुछ स्तर के लोग ऐसा बोल रहा है कि भारत की अर्थव्यवस्था है वह भी तक दी मोनेटाइजेशन से जो है जो कि नोटबंदी चुकी 2016 में हुई थी उससे रिकवर नहीं हो पाई है और कुछ लोग ऐसे बोल रहे हैं कि भारत की जो अर्थव्यवस्था है वह नोटबंदी से पूरी तरीके से रिकवर हो चुकी है पर अगर हम 2017 की बात करें तो हम 2017 की जो भारत में अर्थव्यवस्था थी वह हम कह सकते कि वह डिमांड है जिसे रिकॉर्ड होने में चली गई और से महीने अंत में अगर हम देखें तो भारत की जीडीपी जो 1% बढ़ चुकी थी और जिस प्रकार से आज TVS ने कहा है कि भारत की खेलों में जो है या भारतीय अर्थव्यवस्था जो है वह 7% बढ़ेगी ऐसा अनुमान उन्होंने लगाया है कि कि जिस प्रकार से क्वेश्चन 24 तारीख को है बहुत सारे बिजनेसमैन को या फिर व्यापारी को बेनिफिट कर रहे हैं और इस प्रकार से उनको फॉरेन इन्वेस्टमेंट भारत को मिल रहा है क्या अलग-अलग देशों से दूध जैसा लग रहा है कि भारत की अर्थव्यवस्था 2018 में बहुत अच्छी सही नहीं खुद वर्ल्ड बैंक ने भी कहा है कि भारत की जीडीपी जो है वक्त हाथ को 3% तक होगी 2018 2019 तक जो की बहुत अच्छी बात है और ऐसा भी अनुमान लगाया जा रहा है कि भारत की अर्थव्यवस्था जो है वह चीन फ़्रांस आर यू कैसे भी अच्छी होगी तो यह भारत की अर्थव्यवस्था है और भारतीय व्यवस्था और भी अच्छी हो सकते आने वाले समय में अगर हम बहुत सारे फॉरेन इन्वेस्टमेंट करें बेरोजगारी निकाले करेक्शन कम करें कि नहीं क्या लाए तो ऐसी भर्ती अभी भर्ती होता है

vikram bharat ki arthavyavastha ki baat kare toh abhi filhal kuch next election chal raha hai kuch sthar ke log aisa bol raha hai ki bharat ki arthavyavastha hai vaah bhi tak di monetaijeshan se jo hai jo ki notebandi chuki 2016 mein hui thi usse recover nahi ho payi hai aur kuch log aise bol rahe hain ki bharat ki jo arthavyavastha hai vaah notebandi se puri tarike se recover ho chuki hai par agar hum 2017 ki baat kare toh hum 2017 ki jo bharat mein arthavyavastha thi vaah hum keh sakte ki vaah demand hai jise record hone mein chali gayi aur se mahine ant mein agar hum dekhen toh bharat ki gdp jo 1 badh chuki thi aur jis prakar se aaj TVS ne kaha hai ki bharat ki khelo mein jo hai ya bharatiya arthavyavastha jo hai vaah 7 badhegi aisa anumaan unhone lagaya hai ki ki jis prakar se question 24 tarikh ko hai bahut saare bussinessmen ko ya phir vyapaari ko benefit kar rahe hain aur is prakar se unko foreign investment bharat ko mil raha hai kya alag alag deshon se doodh jaisa lag raha hai ki bharat ki arthavyavastha 2018 mein bahut achi sahi nahi khud world bank ne bhi kaha hai ki bharat ki gdp jo hai waqt hath ko 3 tak hogi 2018 2019 tak jo ki bahut achi baat hai aur aisa bhi anumaan lagaya ja raha hai ki bharat ki arthavyavastha jo hai vaah china frans R you kaise bhi achi hogi toh yah bharat ki arthavyavastha hai aur bharatiya vyavastha aur bhi achi ho sakte aane waale samay mein agar hum bahut saare foreign investment kare berojgari nikale correction kam kare ki nahi kya laye toh aisi bharti abhi bharti hota hai

विक्रम भारत की अर्थव्यवस्था की बात करें तो अभी फिलहाल कुछ नेक्स्ट इलेक्शन चल रहा है कुछ स्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  191
WhatsApp_icon
user

amitkul

CA student,pursuing bcom too

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत की अर्थव्यवस्था है उसे जो है मिक्स्ड इकोनॉमी कहा जाता है इसका अर्थ है कि भारत की अर्थव्यवस्था है वह कैपिटलिज्म भी नहीं है ना कि कम्युनिज्म कैपिटलिज्म का अर्थ होता है जो इकॉनॉमी गवर्नमेंट से कमर बिजनेसमैन और प्राइवेट पार्टी के सहारे जो ज्यादा चलती है और कम्युनिज्म का अर्थ होता है जो पूरी कर हमें पूरी तरह से गवर्नमेंट के सहारे चलती है भारत जो है एक मिक्स्ड इकोनॉमी इसमें जो है प्राइवेट पार्टी और प्राइवेट पार्टी यानी की मशहूर बिजनेसमैन जो भी जैसे अंबानी है टाटा है बिरला है वह भी और कमीने शनि आने का भारत सरकार की ओर से जो कंपनी इन सब दोनों मिलकर जो है भारत की अर्थव्यवस्था में अपना योगदान देते हैं कंट्री में जो है कैपिटलिज्म इकनॉमी है यानी कि या प्राइवेट सेक्टर ही इकनोमिक की डिसिशन केले और इकनोमिक ग्रोथ के लिए जो है पूरी तरह से रिस्पॉन्सिबल होता है और चाइना रसिया जैसी कंट्री में जो है कमी नहीं चमकी इकॉनॉमी है जो इस यानी की गवर्नमेंट ही पूरी तरह से जो अर्थव्यवस्था की डेवलपमेंट के लिए जो रिस्पॉन्सिबल होता है भारत में ऐसा नहीं है दोनों प्राइवेट पार्टी और गवर्नमेंट मिलकर जो है अर्थव्यवस्था चलाते हैं

bharat ki arthavyavastha hai use jo hai mixed economy kaha jata hai iska arth hai ki bharat ki arthavyavastha hai vaah capitalism bhi nahi hai na ki Communism capitalism ka arth hota hai jo ikanami government se kamar bussinessmen aur private party ke sahare jo zyada chalti hai aur Communism ka arth hota hai jo puri kar hamein puri tarah se government ke sahare chalti hai bharat jo hai ek mixed economy isme jo hai private party aur private party yani ki mashoor bussinessmen jo bhi jaise ambani hai tata hai birala hai vaah bhi aur kamine shani aane ka bharat sarkar ki aur se jo company in sab dono milkar jo hai bharat ki arthavyavastha mein apna yogdan dete hain country mein jo hai capitalism ikanami hai yani ki ya private sector hi economic ki decision kele aur economic growth ke liye jo hai puri tarah se responsible hota hai aur china rasiya jaisi country mein jo hai kami nahi chumki ikanami hai jo is yani ki government hi puri tarah se jo arthavyavastha ki development ke liye jo responsible hota hai bharat mein aisa nahi hai dono private party aur government milkar jo hai arthavyavastha chalte hain

भारत की अर्थव्यवस्था है उसे जो है मिक्स्ड इकोनॉमी कहा जाता है इसका अर्थ है कि भारत की अर्थ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  169
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!