पहली बार "हिंदू" शब्द कहाँ और किस संदर्भ में उपयोग किया गया था?...


user

Suraj Kumar Gupta

Educator, Speaker, Spiritual

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस संदर्भ में काफी किताब है आपको काफी सारी चीजे बताती है लेकिन अगर आप देखे हैं तो आज भी जो सिंधी लोग हैं या फिर जो राजस्थान के आस-पास के लोग रहते हैं वह सब को हां बोलते हैं ठीक है तो जैसे मेरा नाम है सूरज तो सूरज को सूरज भी काफी लोग बोलते हैं ठीक है तो हमारे यहां अगर आप देखो सिंध प्रांत है या फिर उसके अलावा जो राजस्थान के जो थार डेजर्ट के आसपास के जो एरिया है ठीक है जो पाकिस्तान में जाते हैं तो वहां से प्रमुख नदी होकर गुजरती जिसका नाम है सिद्धू ठीक है सिंधु नदी का पानी ग्रहण करने वाले सिंधु नदी का जल ग्रहण करने वाले और उसके जल से या फिर उसकी रिवर ट्रिब्यूटरीज है उसके पानी से अपना जीवन निर्वाह करने वाले लोग कहलाए हिंदू पीके और हिंदुओं का जो स्थान था ठीक है जिस स्थान पर वह लोग रहते थे जिस स्थान पर वह लोग अपना व्यवसाय करते थे जहां पर वह लोग विचरण करते थे स्वच्छंद रूप से वह जगह क्या लाईहिंदुस्तान 11 फिर धीरे-धीरे उन लोगों की एक के जैसी सोच हुई एक जैसी विचारधारा और एक जैसे धार्मिक मान्यताएं हुई तो उनको कलेक्टिवली एक नाम दिया हिंदू कहा जाता है तो काफी लोग जैसे अभी हम लोग मिसइंटरप्रेट करते हैं कि हिंदू एक धर्म है सनातन धर्म एक धर्म है वैष्णव धर्म एक धर्म एक धर्म एक धर्म है लेकिन हिंदू धर्म नहीं है हिंदू काशी धर्मों का एक मिश्रण है ऐसे ही जो संघ के लोगों की भाषा हुआ करती थी उस समय जिसको हम लोग हिंदी बोलते हैं जो अरबी लोगों ने नाम दिया था ठीक है फिर भी लोगों की भाषा हिंदी है कि वह भी एक ऐसी भाषा है जो काफी भाषाओं को अपने अंदर सम्मिलित किए हुए तो हिंदुस्तान की बात करें चाय हिंदी की बात करें तो पाएंगे भिन्न-भिन्न भाषाओं का विभिन्न संस्कृतियों का मिश्रण जिसमें हो तो वह हिंदुस्तान है वह हिंदी है धन्यवाद

is sandarbh mein kaafi kitab hai aapko kaafi saree chije batati hai lekin agar aap dekhe hain toh aaj bhi jo sindhi log hain ya phir jo rajasthan ke aas paas ke log rehte hain vaah sab ko haan bolte hain theek hai toh jaise mera naam hai suraj toh suraj ko suraj bhi kaafi log bolte hain theek hai toh hamare yahan agar aap dekho sindh prant hai ya phir uske alava jo rajasthan ke jo thar desert ke aaspass ke jo area hai theek hai jo pakistan mein jaate hain toh wahan se pramukh nadi hokar gujarati jiska naam hai sidhu theek hai sindhu nadi ka paani grahan karne waale sindhu nadi ka jal grahan karne waale aur uske jal se ya phir uski river tribyutarij hai uske paani se apna jeevan nirvah karne waale log kahalae hindu pk aur hinduon ka jo sthan tha theek hai jis sthan par vaah log rehte the jis sthan par vaah log apna vyavasaya karte the jaha par vaah log vichran karte the swacchand roop se vaah jagah kya laihindustan 11 phir dhire dhire un logo ki ek ke jaisi soch hui ek jaisi vichardhara aur ek jaise dharmik manyatae hui toh unko collectively ek naam diya hindu kaha jata hai toh kaafi log jaise abhi hum log misaintarapret karte hain ki hindu ek dharm hai sanatan dharm ek dharm hai vaisnav dharm ek dharm ek dharm ek dharm hai lekin hindu dharm nahi hai hindu kashi dharmon ka ek mishran hai aise hi jo sangh ke logo ki bhasha hua karti thi us samay jisko hum log hindi bolte hain jo rb logo ne naam diya tha theek hai phir bhi logo ki bhasha hindi hai ki vaah bhi ek aisi bhasha hai jo kaafi bhashaon ko apne andar sammilit kiye hue toh Hindustan ki baat kare chai hindi ki baat kare toh payenge bhinn bhinn bhashaon ka vibhinn sanskritiyon ka mishran jisme ho toh vaah Hindustan hai vaah hindi hai dhanyavad

इस संदर्भ में काफी किताब है आपको काफी सारी चीजे बताती है लेकिन अगर आप देखे हैं तो आज भी जो

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  543
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहली बार जो हिंदू शब्द है वह गरीब लोगों ने इस्तेमाल किया था उन्होंने हिंदू शब्द का इस्तेमाल इस संदर्भ में किया था कि जो इंडस नदी है इंडस नदी के उस पार जो लोग रहते थे अगर हम पहले हिंदुस्तान का नक्शा देखें इंडिया का मैप देखें तो फिर उसमें हम सांस आके देख सकते हैं कि इन 10 नदी के पास सारा जितने भी लोग रहते थे उन लोगों के संदर्भ में हिंदू जो वार्ड है वह यूज़ किया गया नागरिक लोगों

pehli baar jo hindu shabd hai vaah garib logo ne istemal kiya tha unhone hindu shabd ka istemal is sandarbh mein kiya tha ki jo indus nadi hai indus nadi ke us par jo log rehte the agar hum pehle Hindustan ka naksha dekhen india ka map dekhen toh phir usme hum saans aake dekh sakte hain ki in 10 nadi ke paas saara jitne bhi log rehte the un logo ke sandarbh mein hindu jo ward hai vaah use kiya gaya nagarik logon

पहली बार जो हिंदू शब्द है वह गरीब लोगों ने इस्तेमाल किया था उन्होंने हिंदू शब्द का इस्तेमा

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  265
WhatsApp_icon
play
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:18

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हिंदू जो है हिंदू शब्द का सबसे पहली बार जो है वह गरीब लोगों ने इसका इस्तेमाल किया था और यह किस अंदर के उपयोग किया था यह उन लोगों को पहचानने के लिए उपयोग किया था यह उन देशों को पहचानने के लिए उपयोग किया था जो कि इन 10 नदी के बाद रहता है अगर हम भारत का हिंदुस्तान का नक्शा देखें तो उस समय जो इंडस नदी के बाद जो है और हिंदुस्तान था तो खाना खा पर मैं जिस दिन उसने जो है उन्होंने Indica जो कि इंडिया वर्ल्ड है तो उसे चौथी सेंचुरी में से यूज किया गया था और यह जो बोर्ड जो हिंदू हमेशा जो है शुरुआती समय में भारत ने जो है गलती से उन्हें खुद के लिए समझ लिया था और जो भाई नहीं कई सारे अभी भी मॉडर्न हिस्टोरियन से जो कि हमेशा हिंदू को जो अरब से को डिलीट कर लेते तो मेरे हिसाब से पहली बार जो हिंदू शब्द जो है वह ग्रीक में ग्रीस में यूज हुआ गया था चौथी सदी में और किस संदर्भ में उपयोग किया था वह उपयोग किया था कि ताकि लोग जो है इंडस नदी के बाद का जो भी देश और जो लोग हैं उन्हें हिंदू कहने के लिए गया क्या था

dekhiye hindu jo hai hindu shabd ka sabse pehli baar jo hai vaah garib logo ne iska istemal kiya tha aur yah kis andar ke upyog kiya tha yah un logo ko pahachanne ke liye upyog kiya tha yah un deshon ko pahachanne ke liye upyog kiya tha jo ki in 10 nadi ke baad rehta hai agar hum bharat ka Hindustan ka naksha dekhen toh us samay jo indus nadi ke baad jo hai aur Hindustan tha toh khana kha par main jis din usne jo hai unhone Indica jo ki india world hai toh use chauthi century mein se use kiya gaya tha aur yah jo board jo hindu hamesha jo hai shuruati samay mein bharat ne jo hai galti se unhe khud ke liye samajh liya tha aur jo bhai nahi kai saare abhi bhi modern historian se jo ki hamesha hindu ko jo arab se ko delete kar lete toh mere hisab se pehli baar jo hindu shabd jo hai vaah greek mein grease mein use hua gaya tha chauthi sadi mein aur kis sandarbh mein upyog kiya tha vaah upyog kiya tha ki taki log jo hai indus nadi ke baad ka jo bhi desh aur jo log hain unhe hindu kehne ke liye gaya kya tha

देखिए हिंदू जो है हिंदू शब्द का सबसे पहली बार जो है वह गरीब लोगों ने इसका इस्तेमाल किया था

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  211
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदू शब्द बहुत पहले से ही प्राचीन समय से ही सनातन धर्म में प्रयोग होता था और हिंदू शब्द हमारे पुराणों में भी प्रयोग में होता था यह अभी की खोजों से ही पता चला है ऐसा नहीं है कि हिंदू शब्द को हमें फारसी होने दिया या ऐसा भी नहीं है कि हिंदू शब्द हमें मुस्लिम से मिला हिंदू शब्द बहुत प्राचीन शब्द है और यह हमारी हिंदू सभ्यता प्राचीन सभ्यता और संस्कृति है हमारी इसलिए हिंदू शब्द हमारा ही है और हमारे सनातन धर्म में इसका प्रयोग किया गया है हमारी ऋग्वेद में भी एक ऋषि का नाम था सेंधव जो बाद में हैंडल और हिंदू के नाम से प्रचलित हुए ऋग्वेद में ही बृहस्पति यज्ञ में भी हिंदू शब्द का प्रयोग हुआ है हिमालय से इंदु सरोवर तक देव निर्मित देश को हिंदुस्तान कहते थे जो अज्ञानता वहीं तक का त्याग करें उसे हिंदू कहते थे मैं तंत्र में भी हिंदू शब्द का उल्लेख मिलता है और उल्लेख हमारे प्रिय पुराणों में भी है तो हिंदू शब्द हमारा ही सभ्यता और संस्कृति का पुराना शब्द है यह हमें किसी और संस्कृति या किसी और से नहीं मिला है

hindu shabd bahut pehle se hi prachin samay se hi sanatan dharm mein prayog hota tha aur hindu shabd hamare purano mein bhi prayog mein hota tha yah abhi ki khojon se hi pata chala hai aisa nahi hai ki hindu shabd ko hamein farsi hone diya ya aisa bhi nahi hai ki hindu shabd hamein muslim se mila hindu shabd bahut prachin shabd hai aur yah hamari hindu sabhyata prachin sabhyata aur sanskriti hai hamari isliye hindu shabd hamara hi hai aur hamare sanatan dharm mein iska prayog kiya gaya hai hamari rigved mein bhi ek rishi ka naam tha sendhav jo baad mein handle aur hindu ke naam se prachalit hue rigved mein hi brihaspati yagya mein bhi hindu shabd ka prayog hua hai himalaya se indu sarovar tak dev nirmit desh ko Hindustan kehte the jo agyanata wahi tak ka tyag kare use hindu kehte the main tantra mein bhi hindu shabd ka ullekh milta hai aur ullekh hamare priya purano mein bhi hai toh hindu shabd hamara hi sabhyata aur sanskriti ka purana shabd hai yah hamein kisi aur sanskriti ya kisi aur se nahi mila hai

हिंदू शब्द बहुत पहले से ही प्राचीन समय से ही सनातन धर्म में प्रयोग होता था और हिंदू शब्द ह

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  151
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!