भारतीय इतिहास के बारे में कुछ आश्चर्यजनक तथ्य क्या हैं?...


user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए भारत के इतिहास के बारे में अगर कुछ आश्चर्यजनक तथ्य देना हो तो सबसे पहले यह होगा कि भारत में कोई भी दूसरे देश को उन्होंने कब्जा नहीं किया है इस प्रकार से ब्रिटिश सरकार ने हम को कब्जा किया था ब्रिटिश लोगों ने हम पर कविता बनाए रखा था तो उसका किसी भी देश का कब्जा नहीं बना कर रखा है उसे कोई नहीं अगर हम सबसे पहले रॉकेट की बात करें तो सबसे पहले भारत में जो लॉकेट बना था उसे जो है प्लेन से ट्रेन से लेकर नहीं गए थे बल्कि उसे रॉकेट कैसे भारत में सदियों से जो है पता चलता है कि वह अपने पास रखते हैं लेकिन हम केरल में बात करें तो कह रहे हैं पिछले 16 साल से हमने देखा है कि हाथियों के लिए पास और भी ऐसे कई सारी चीज है अगर हम बात करें तो सबसे बड़ा अगर जनरल रखा हो तो भारत में रखा गया था जो कि एक आना दो आना था मूवी का था जो कि 1961 में रह चुके थे और भारतीय इतिहास के बारे में आश्चर्यजनक चीजें हुए की हिंदी जो है सिर्फ एकमात्र नेशनल लैंग्वेज नहीं है हिंदी कि अगर हम देखें तो हिंदी और इंग्लिश दोनों ही जो है नेशनल लैंग्वेज है हिंदी के कि की इंग्लिश जो है बहुत ज्यादा बोली जाती है दक्षिण भारतीय में तो यह सारे भारतीय इतिहास के बारे में कुछ आश्चर्यजनक तथ्य

dekhiye bharat ke itihas ke bare mein agar kuch aashcharyajanak tathya dena ho toh sabse pehle yah hoga ki bharat mein koi bhi dusre desh ko unhone kabza nahi kiya hai is prakar se british sarkar ne hum ko kabza kiya tha british logo ne hum par kavita banaye rakha tha toh uska kisi bhi desh ka kabza nahi bana kar rakha hai use koi nahi agar hum sabse pehle rocket ki baat kare toh sabse pehle bharat mein jo locate bana tha use jo hai plane se train se lekar nahi gaye the balki use rocket kaise bharat mein sadiyon se jo hai pata chalta hai ki vaah apne paas rakhte hain lekin hum kerala mein baat kare toh keh rahe hain pichle 16 saal se humne dekha hai ki haathiyo ke liye paas aur bhi aise kai saree cheez hai agar hum baat kare toh sabse bada agar general rakha ho toh bharat mein rakha gaya tha jo ki ek aana do aana tha movie ka tha jo ki 1961 mein reh chuke the aur bharatiya itihas ke bare mein aashcharyajanak cheezen hue ki hindi jo hai sirf ekmatra national language nahi hai hindi ki agar hum dekhen toh hindi aur english dono hi jo hai national language hai hindi ke ki ki english jo hai bahut zyada boli jaati hai dakshin bharatiya mein toh yah saare bharatiya itihas ke bare mein kuch aashcharyajanak tathya

देखिए भारत के इतिहास के बारे में अगर कुछ आश्चर्यजनक तथ्य देना हो तो सबसे पहले यह होगा कि भ

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  178
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:33

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत के इतिहास में इतने सारे आश्चर्य हैं जिनके बारे में हमें कुछ पता ही नहीं है भारत दुनिया की सबसे प्राचीन और विकसित सभ्यताओं वाला देश है तकरीबन 70 वी शताब्दी तक भारत दुनिया का सबसे अमीर देश वेटिकन सिटी व मक्का को देखने जितने लोग आते हैं उतने लोग तिरुपति बालाजी और काशी विश्वनाथ मंदिर के दर्शन करने आते भारत में ही विश्व को जीरो दिया था भारत का नाम इंडस नदी से लिया गया है इसी लोग को दुनिया की पहली यूनिवर्सिटी माना जाता है जिसे 720 ई में शुरू किया गया था भारत का पहला रॉकेट साइकिल और पहली सैटेलाइट बैलगाड़ी पर लाई गई थी भारत के शनि शिगनापुर में लोग बिना दरवाजे के घरों में रहते हैं भारत में ही मापक की खोज भी की थी इसका अविष्कार भी भारत में ही हुआ था चंद्रमा पर पानी सबसे पहले भारत ने पता लगाया था भारत में ही पाई कि वे UCO खोजा था कर्मनाशा नदी को भारत की शापित नदी कहा जाता है भारत में पिछले 100000 वर्षों में किसी भी देश पर आक्रमण नहीं किया है भारत में हर 12 साल में एक कुंभ का मेला आयोजित होता है उसमें इतने लोग शामिल होते हैं कि उसे अंतरिक्ष से भी देखा जा सकता है भारत में 1652 भाषाएं वह बोलियों का प्रयोग होता है सबसे बड़ा परिवार भी भारत में ही रहता है

bharat ke itihas mein itne saare aashcharya hain jinke bare mein hamein kuch pata hi nahi hai bharat duniya ki sabse prachin aur viksit sabhyatao vala desh hai takareeban 70 va shatabdi tak bharat duniya ka sabse amir desh Vatican city va makka ko dekhne jitne log aate hain utne log tirupati balaji aur kashi vishwanath mandir ke darshan karne aate bharat mein hi vishwa ko zero diya tha bharat ka naam indus nadi se liya gaya hai isi log ko duniya ki pehli university mana jata hai jise 720 ee mein shuru kiya gaya tha bharat ka pehla rocket cycle aur pehli satellite belgadi par lai gayi thi bharat ke shani singnapur mein log bina darwaze ke gharon mein rehte hain bharat mein hi maapak ki khoj bhi ki thi iska avishkar bhi bharat mein hi hua tha chandrama par paani sabse pehle bharat ne pata lagaya tha bharat mein hi payi ki ve UCO khoja tha karmanasha nadi ko bharat ki shaapit nadi kaha jata hai bharat mein pichle 100000 varshon mein kisi bhi desh par aakraman nahi kiya hai bharat mein har 12 saal mein ek kumbh ka mela ayojit hota hai usme itne log shaamil hote hain ki use antariksh se bhi dekha ja sakta hai bharat mein 1652 bhashayen vaah boliyon ka prayog hota hai sabse bada parivar bhi bharat mein hi rehta hai

भारत के इतिहास में इतने सारे आश्चर्य हैं जिनके बारे में हमें कुछ पता ही नहीं है भारत दुनिय

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  179
WhatsApp_icon
user

Apurva D

Optimistic Coder

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत का इतिहास अपने बारे में कुछ ना कुछ कहता है देखा जाए तो भारत प्राचीन काल से 100 वर्ग में बांग्लादेश है जो बहुत श्रीमंत था और भारत के मतलब लॉगइन पर कि प्राचीन काल से अगर हम अभी के भारत को देखे पहले तो भारत बहुत बड़ा करने के नुस्खे अभी विभाग हो गए हैं अभी के भारत को भी देखें गुजरात से लेकर शाम तक पूरी जहां पर प्राचीन काल की जो वस्तु है बहुत सारा कोई काम शिल्पकला करी हुई है पेंटिंग करे हुए बहुत ही सुंदर है हमें अपनी संस्कृति की छाप छोड़ी है तू एक आश्चर्यजनक तथ्य जरूर है भारत के इतिहास में लोगों को एकदम क्यों बन जाता है की अध्यापक हुआ क्या था कि भारत एक ऐसा देश है जहां पर लाइव कुछ ऐसी मतलब मिली है कि वह 200 साल भारत पर राज किया है तो जरूर ही भारत पहले बहुत सारा सर्व गुण संपन्न होगा हालांकि हमने श्रीमंत नहीं रहे अभी अमित फिर भी भारत के इतिहास के बारे में बहुत सुधार आश्चर्यजनक सकता है बहुत ज्यादा जगह ऐसी है कि जिनके बारे में अभी भी लोगों को मालूमात नहीं है क्योंकि यहां पर हुआ क्या है उसे बहुत प्राचीन वस्तु है और मतलब मुझे और भी एक भारत के इतिहास इतिहास इतिहास होता है वह कुछ भी हो तो मेरे हिसाब से भारत के इतिहास के बारे में आश्चर्य के पेट्रोल करने के बाद सभी नेताओं ने जिस तरह से भारत को स्वतंत्र करने की इच्छा जाहिर भाग में जो मतलब महात्मा गांधी जी को एक व्यक्ति ने राम गोडसे जी ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी तो यह बात भी मत रख आश्चर्यजनक है और ऐसा क्यों करा देगा उसके पीछे हमने ले जाना चाहिए तो बहुत सारे ऐसे हैं कि इतिहास

bharat ka itihas apne bare mein kuch na kuch kahata hai dekha jaaye toh bharat prachin kaal se 100 varg mein bangladesh hai jo bahut shrimant tha aur bharat ke matlab login par ki prachin kaal se agar hum abhi ke bharat ko dekhe pehle toh bharat bahut bada karne ke nuskhe abhi vibhag ho gaye hain abhi ke bharat ko bhi dekhen gujarat se lekar shaam tak puri jaha par prachin kaal ki jo vastu hai bahut saara koi kaam shilpakala kari hui hai painting kare hue bahut hi sundar hai hamein apni sanskriti ki chhaap chodi hai tu ek aashcharyajanak tathya zaroor hai bharat ke itihas mein logo ko ekdam kyon ban jata hai ki adhyapak hua kya tha ki bharat ek aisa desh hai jaha par live kuch aisi matlab mili hai ki vaah 200 saal bharat par raj kiya hai toh zaroor hi bharat pehle bahut saara surv gun sampann hoga halaki humne shrimant nahi rahe abhi amit phir bhi bharat ke itihas ke bare mein bahut sudhaar aashcharyajanak sakta hai bahut zyada jagah aisi hai ki jinke bare mein abhi bhi logo ko malumat nahi hai kyonki yahan par hua kya hai use bahut prachin vastu hai aur matlab mujhe aur bhi ek bharat ke itihas itihas itihas hota hai vaah kuch bhi ho toh mere hisab se bharat ke itihas ke bare mein aashcharya ke petrol karne ke baad sabhi netaon ne jis tarah se bharat ko swatantra karne ki iccha jaahir bhag mein jo matlab mahatma gandhi ji ko ek vyakti ne ram godse ji ne goli marakar unki hatya kar di toh yah baat bhi mat rakh aashcharyajanak hai aur aisa kyon kara dega uske peeche humne le jana chahiye toh bahut saare aise hain ki itihas

भारत का इतिहास अपने बारे में कुछ ना कुछ कहता है देखा जाए तो भारत प्राचीन काल से 100 वर्ग म

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!