उत्तर प्रदेश सरकार ने बी.आर अम्बेडकर की मृत्यु बरसी पर पब्लिक हॉलिडे को रद्द क्यों किए हैं?...


play
user

Neha S

UPSC कोच

0:59

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आदित्य योगी आदित्यनाथ जी जब तेज पर कमेंट में आई हे चीफ मिनिस्टर बंद कर सकते ऐसी को 15 छुट्टियों को कैंसिल कर चुके हैं जो कि एक गांव में समाजवादी पार्टी ने किया था उनके हिसाब से क्या होता है क्या मुझे योगी को क्या मानना है कि जो एकेडमी स्टेशन है वह यूज़ हो गया था इन छुट्टियों की वजह से उनके साथ सिलेबस पूरा करने में बहुत प्रॉब्लम होती थी और बच्चों को ऐसे ही ऐसे पासवर्ड इसके बारे में कुछ नहीं पता नहीं भीमराव अंबेडकर किस जाति क्या थी उन्होंने हमारे देश के लिए क्या काम किया लोगों को नहीं पता चलता है हमारे जंभेश्वर को नहीं पता चला इसलिए और उनकी जिंदगी का प्रोग्राम रखो उनके बारे में पता चले

aditya yogi adityanath ji jab tez par comment mein I hai chief minister band kar sakte aisi ko 15 chhuttiyon ko cancel kar chuke hain jo ki ek gaon mein samajwadi party ne kiya tha unke hisab se kya hota hai kya mujhe yogi ko kya manana hai ki jo academy station hai vaah use ho gaya tha in chhuttiyon ki wajah se unke saath syllabus pura karne mein bahut problem hoti thi aur baccho ko aise hi aise password iske bare mein kuch nahi pata nahi bhimrao ambedkar kis jati kya thi unhone hamare desh ke liye kya kaam kiya logo ko nahi pata chalta hai hamare jambheshwar ko nahi pata chala isliye aur unki zindagi ka program rakho unke bare mein pata chale

आदित्य योगी आदित्यनाथ जी जब तेज पर कमेंट में आई हे चीफ मिनिस्टर बंद कर सकते ऐसी को 15 छुट्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई भी राजनीतिक दल सत्ता में आने के बाद अपनी विचारधारा से जुड़े लोकप्रिय नेताओं के नाम पर सड़कों भवनों योजना व कार्यक्रम की शुरुआत करती है यह काम किसी रिवाज है जानी मानी शख्सियतों के जन्मदिन या पुण्यतिथि पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित करना भी इसी की एक कड़ी है ज्यादातर मामलों में इसके पीछे मंशा संबंधित शक्तियों शख्सियतों के प्रति सम्मान प्रकट करने से ज्यादा किसी खास सामाजिक वर्ग के बीच फैट बढ़ाने और चुनाव में इसका फायदा उठाने की अधिक होती है मायावती ने अंबेडकर की पुण्यतिथि पर अवकाश को समाप्त कर दिया था लेकिन दलित वर्गों के बीच अपनी पैठ बनाने के लिए अखिलेश यादव ने फिर से अवकाश घोषित कर दिया था पर अब जहां तक योगी जी का सवाल है तो उनकी छवि वैसे ही दलित विरोधी है और कसरत करने के मुद्दे पर हैरानी नहीं होनी चाहिए

koi bhi raajnitik dal satta mein aane ke baad apni vichardhara se jude lokpriya netaon ke naam par sadkon bhavano yojana va karyakram ki shuruat karti hai yah kaam kisi rivaaj hai jani maani shakhsiyaton ke janamdin ya punyatithi par rashtriya avkash ghoshit karna bhi isi ki ek kadi hai jyadatar mamlon mein iske peeche mansha sambandhit shaktiyon shakhsiyaton ke prati sammaan prakat karne se zyada kisi khaas samajik varg ke beech fat badhane aur chunav mein iska fayda uthane ki adhik hoti hai mayawati ne ambedkar ki punyatithi par avkash ko samapt kar diya tha lekin dalit vargon ke beech apni paith banane ke liye akhilesh yadav ne phir se avkash ghoshit kar diya tha par ab jaha tak yogi ji ka sawaal hai toh unki chhavi waise hi dalit virodhi hai aur kasrat karne ke mudde par hairani nahi honi chahiye

कोई भी राजनीतिक दल सत्ता में आने के बाद अपनी विचारधारा से जुड़े लोकप्रिय नेताओं के नाम पर

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  5
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बदली डर लगता है क्या रे सरदार कितने का फायदा रिपब्लिक डे हॉलीडे होटल दिखाएं तो कुछ ना कुछ

badli dar lagta hai kya ray sardar kitne ka fayda Republic day halide hotel dikhaen toh kuch na kuch

बदली डर लगता है क्या रे सरदार कितने का फायदा रिपब्लिक डे हॉलीडे होटल दिखाएं तो कुछ ना कुछ

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  14
WhatsApp_icon
user

S

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जी को ऐसा महसूस हुआ कि के बौद्ध एनिवर्सरी जो है या फिर डेथ एनिवर्सरी थी अंबेडकर साहब की इन दिनों में छुट्टियों की वजह से थैंक होता जा रहा था सिकुड़ता जा रहा था जो वह फैशन है एजुकेशन अल्सेशियन है वह तो उनके मन में ख्याल आया कि क्यों ना इन दिनों पर छुट्टियां जो है उन को रद्द कर के स्कूल और कॉलेज के बच्चों को उन दिनों इन महानुभावों के बारे में और ज्यादा बताया जाए उन से रूबरू करवाया जाए तो वह ख्याल था इसके पीछे कहीं ना कहीं और पूरी तरीके से इंग्लिश नहीं हुआ है अभी भी अगर आप एक गवर्नमेंट एंप्लोई है तो उन दिनों पर रिस्ट्रिक्टेड हॉलिडे ऑफ अपील कर सकते हैं ले सकते हैं तो पूरी तरीके से यह छुट्टियां खत्म नहीं होते अंबेडकर जयंती को ही खत्म करने की बात नहीं की गई है कर्पूरी ठाकुर का जो जन्म दिवस है उसको भी हटाया गया है उसके अलावा और भी हैं चौधरी चरण सिंह जयंती उसको हटा आ गया है आप महाराणा प्रताप जयंती उसको भी खत्म करने की बात कही गई तो यह इसके और भी पहलू हैं जिनको आप को ध्यान में रखना पड़ेगा

aisa isliye kiya gaya kyonki up ke mukhyamantri adityanath ji ko aisa mehsus hua ki ke Baudh enivarsari jo hai ya phir death enivarsari thi ambedkar saheb ki in dino mein chhuttiyon ki wajah se thank hota ja raha tha sikudata ja raha tha jo vaah fashion hai education alseshiyan hai vaah toh unke man mein khayal aaya ki kyon na in dino par chhutiyan jo hai un ko radd kar ke school aur college ke baccho ko un dino in mahanubhavon ke bare mein aur zyada bataya jaaye un se rubaru karvaya jaaye toh vaah khayal tha iske peeche kahin na kahin aur puri tarike se english nahi hua hai abhi bhi agar aap ek government employee hai toh un dino par registered holiday of appeal kar sakte hain le sakte hain toh puri tarike se yah chhutiyan khatam nahi hote ambedkar jayanti ko hi khatam karne ki baat nahi ki gayi hai karpuri thakur ka jo janam divas hai usko bhi hataya gaya hai uske alava aur bhi hain choudhary charan Singh jayanti usko hata aa gaya hai aap maharana pratap jayanti usko bhi khatam karne ki baat kahi gayi toh yah iske aur bhi pahaloo hain jinako aap ko dhyan mein rakhna padega

ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जी को ऐसा महसूस हुआ कि के बौद्ध ए

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  10
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!