सरकारी नौकरियों में आरक्षण अच्छा या बुरा है? इससे पिछड़े वर्ग के लोगों को क्या फ़ायदा या नुक़सान हो रहा है?...


user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

1:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गया के प्रश्न सरकारी नौकरी में आरक्षण अच्छा है या बुरा है इसमें पिछड़े वर्ग के लोगों को क्या फायदा या नुकसान हो रहा है तो यहां को बताना चाहेंगे कि आरक्षण की व्यवस्था है जो संविधान ने करी थी और द स्टार्टिंग से अभी तक चली आ रही है वैसे तो वह बहुत ही अच्छी चीज है और होनी भी चाहिए ताकि पिछड़े वर्ग के लोगों को फायदा मिल सके और वह आ गया सके लेकिन यहां पर क्या हो गया अब यहां पर इन्हीं की 2 लेयर बन गई है क्रीमी लेयर एक नॉन क्रीमी लेयर क्रीमी लेयर वह है जो बार-बार आरक्षण का फायदा लेती जा रही है पीढ़ियों द पीढ़ियों से उनके यहां आरक्षण का फायदा मिल रहा है पर दादाजी दादाजी पिताजी बेटा उनके बच्चे बेटियां सब आरक्षण का फायदा ले रहे हैं और वहीं दूसरी जगह ऐसे लोग भी हैं जो आज तक इससे वंचित हैं जिन्हें असली में इसका हकदार होना चाहिए था लेकिन क्योंकि जो वांछित लोग हैं जिनको मिलना चाहिए उनकी जगह जो क्रीमी लेयर है वही बार-बार फायदा लिए जा रही है और वही अपना आगे जितने बेनिफिट से होते हैं वह तेवर अपना जो आगे अनाउंसमेंट है वह करे जा रहे हैं जबकि जिनके लिए व्यवस्था शुरू की गई थी वह आज भी उसी दलदल में फंसे हुए हैं तो मेरे हिसाब से आरक्षण मिलना चाहिए लेकिन इसमें क्राइटेरियम चाहिए कि एक बार मिलेगा या इतनी बार मिलेगा यह से अब तक मिलेगा और उसके बाद आउट कर देना चाहिए उस लेवल से क्योंकि यहां पर हम देखते हैं कि कई सारे संपन्न परिवारों के लोग होते हैं और वह आरक्षण का फायदा लेते हैं अपने बच्चों के पैसे ऑफिस नहीं भरता है और क्या होता है उससे जो सही में गरीब है जिसका आरक्षण का फायदा मिलना चाहिए जो बहुत गरीबी से आ रहा है वह व्यक्ति आरक्षण से वंचित रह जाता है तो यहां पर ऐसा भी सरकार को करना चाहिए कि कौन उसके लायक है किसको मिलना चाहिए उसके रिकॉर्डिंग देखना चाहिए ना सिर्फ एक कास्ट का सर्टिफिकेट लेकर आ जाने से किसी को आरक्षण दे देनी चाहिए यह मेरा अपना पर्सनल ओपिनियन है धन्यवाद

gaya ke prashna sarkari naukri mein aarakshan accha hai ya bura hai isme pichade varg ke logo ko kya fayda ya nuksan ho raha hai toh yahan ko bataana chahenge ki aarakshan ki vyavastha hai jo samvidhan ne kari thi aur the starting se abhi tak chali aa rahi hai waise toh vaah bahut hi achi cheez hai aur honi bhi chahiye taki pichade varg ke logo ko fayda mil sake aur vaah aa gaya sake lekin yahan par kya ho gaya ab yahan par inhin ki 2 layer ban gayi hai creamy layer ek non creamy layer creamy layer vaah hai jo baar baar aarakshan ka fayda leti ja rahi hai peedhiyon the peedhiyon se unke yahan aarakshan ka fayda mil raha hai par dadaji dadaji pitaji beta unke bacche betiyan sab aarakshan ka fayda le rahe hai aur wahi dusri jagah aise log bhi hai jo aaj tak isse vanchit hai jinhen asli mein iska haqdaar hona chahiye tha lekin kyonki jo vanchit log hai jinako milna chahiye unki jagah jo creamy layer hai wahi baar baar fayda liye ja rahi hai aur wahi apna aage jitne benefit se hote hai vaah tewar apna jo aage announcement hai vaah kare ja rahe hai jabki jinke liye vyavastha shuru ki gayi thi vaah aaj bhi usi duldula mein fanse hue hai toh mere hisab se aarakshan milna chahiye lekin isme kraiteriyam chahiye ki ek baar milega ya itni baar milega yah se ab tak milega aur uske baad out kar dena chahiye us level se kyonki yahan par hum dekhte hai ki kai saare sampann parivaron ke log hote hai aur vaah aarakshan ka fayda lete hai apne baccho ke paise office nahi bharta hai aur kya hota hai usse jo sahi mein garib hai jiska aarakshan ka fayda milna chahiye jo bahut garibi se aa raha hai vaah vyakti aarakshan se vanchit reh jata hai toh yahan par aisa bhi sarkar ko karna chahiye ki kaun uske layak hai kisko milna chahiye uske recording dekhna chahiye na sirf ek caste ka certificate lekar aa jaane se kisi ko aarakshan de deni chahiye yah mera apna personal opinion hai dhanyavad

गया के प्रश्न सरकारी नौकरी में आरक्षण अच्छा है या बुरा है इसमें पिछड़े वर्ग के लोगों को क्

Romanized Version
Likes  384  Dislikes    views  6190
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Capt. Ashin Khan

Director - C3 Defence academy

0:45

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आरक्षण बहुत अच्छा है मैं भर्ती दफ्तर में 2 साल रहा हूं और 2 साल का मेरा एक्सप्रेस है आरक्षण छोटी जाति के लोगों को बहुत मदद मिलती है पता नहीं चल पाता के लिए विवादित पोस्ट होते हैं उन्हें पता होता तो 70% नंबर लेकिन होते थे क्योंकि जनरल बच्चे पंडितों के ठाकुरों के जाटों के ज्यादा पढ़ते हैं अप्लाई कम करते हैं तो बहुत कम बचे 40 पर्सन नंबर लेती जा

aarakshan bahut accha hai bharti daftaar mein 2 saal raha hoon aur 2 saal ka mera express hai aarakshan choti jati ke logo ko bahut madad milti hai pata nahi chal pata ke liye vivaadit post hote hain unhe pata hota toh 70 number lekin hote the kyonki general bacche pandito ke thakuron ke jaaton ke zyada padhte hain apply kam karte hain toh bahut kam bache 40 person number leti ja

आरक्षण बहुत अच्छा है मैं भर्ती दफ्तर में 2 साल रहा हूं और 2 साल का मेरा एक्सप्रेस है आरक्ष

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  231
WhatsApp_icon
user

Sefali

Media-Ad Sales

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है जो रिजर्वेशन सिस्टम होता है गवर्नमेंट जॉब्स के लिए| यह ठीक नहीं होता है| यह गलत है, क्योंकि, किसी भी इंसान को अगर जोब या फिर किसी भी कंपटीशन में जज करना हो, उसको उसकी काबिलियत, परफॉर्मेंस, एक्सपीरियंस के बलबूते पर जज करना चाहिए | ना कि, वह किस कास्ट से बिलोंग करता है? SC, ST या फिर OBC किसी भी रिजर्वेशन सिस्टम के हिसाब से उसको जज करना चाहिए | तो इसकी वजह से जो लोग क्वालिफाइड होते हैं| जिनके पास बेटर एक्सपीरियंस और जो बेटर परफॉर्मेंस स्किल्स होते हैं| इस रिजर्वेशन की वजह से वो कंही ना कंही अपना जो है चांस खो देते हैं | वह ओप्पोर्चुनिटी खो देते है | जो कि ठीक नहीं है | तो मेरे हिसाब से रिजर्वेशन गवर्मेंट जॉब में गलत है |

mujhe lagta hai jo reservation system hota hai government jobs ke liye yah theek nahi hota hai yah galat hai kyonki kisi bhi insaan ko agar job ya phir kisi bhi competition mein judge karna ho usko uski kabiliyat performance experience ke balbute par judge karna chahiye na ki vaah kis caste se belong karta hai SC ST ya phir OBC kisi bhi reservation system ke hisab se usko judge karna chahiye toh iski wajah se jo log qualified hote hain jinke paas better experience aur jo better performance skills hote hain is reservation ki wajah se vo kahin na kahin apna jo hai chance kho dete hain vaah opporchuniti kho dete hai jo ki theek nahi hai toh mere hisab se reservation government mein galat hai

मुझे लगता है जो रिजर्वेशन सिस्टम होता है गवर्नमेंट जॉब्स के लिए| यह ठीक नहीं होता है| यह ग

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  233
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रिजर्वेशन जो आरक्षण का मुद्दा है यह समय समय पड़ता है हमेशा से उठता है आरक्षण गवर्नमेंट जॉब में हूं चाहे कहीं पर भी हो आरक्षण कभी भी अच्छा साबित नहीं होता है वह केवल एक जाति विशेष के लिए धर्म विशेष के लिए जिसके लिए उसके लिए मलाई वह बहुत ही अच्छी अच्छी जो लेकर अन्य लोगों के लिए आरक्षण कभी भी एक बहुत ज्यादा डिग्री करें वह ऐसा विषय नहीं रहा है सभी को देखा गया है जितने भी अन्य लोग हैं वह जितने भी सामान्य लोग हैं वह आरक्षण के खिलाफ रहते हैं कि आरक्षण जो दिया था बाबा भीमराव अंबेडकर ने अपने भारत के कॉन्स्टिट्यूशन में वह कुछ सालों तक के लिए मान्य था लेकिन उसे जो भी सरकार थी उन्होंने हमेशा के लिए लागू कर दिया और इस पर कोई विचार नहीं हो रहा है और राजनीति यह मोड के समय इलेक्शन के समय वह इसकी द राजनीति करते हैं वोट बैंक लेते हैं और उसके कारण वह वह इसके खिलाफ कोई एक्शन नहीं ले पाते हैं और आरक्षण के विरुद्ध कदम नहीं उठा पाते हैं और के विपरीत आरक्षण में लोग और सादर डूबते जा रहे हैं अन्य जाति के लोग जो है वह आरक्षण की डिमांड करते हैं कि आरक्षण की बात बताऊं आरक्षण हमेशा से जो है वह हमेशा जो है वह आर्थिक स्थिति के हिसाब से मिलना चाहिए अभी मिल रहा है तो आर्थिक स्थिति के हिसाब से मिलना चाहिए बजाय की धर्म या जाति के आधार पर किस जातीय धर्म के आधार पर आरक्षण बिल्कुल कोई पैमाना नहीं बनता है क्योंकि सबके पास सारी सूट से काम करने के सब करने के तो उसका कोई फायदा नहीं मिलना चाहिए उनसे कोई अलग नहीं मिलना चाहिए जो दूसरे लोग हैं इस से वह अपने जो राइट्स है जो वो डिजाइन लेंगे हम उन्हें उपाधया पोजीशन वह चीज नहीं हासिल हो पा रही है उसे ढूंढ लेंगे केवल वह आरक्षण के नाम पर सारी चीजें मिली जा रही हैं आप को कट ऑफ देखिए कितने भी कंपटीशन एग्जाम होते हैं यह गवर्नमेंट जॉब्स कटऑफ हमेशा SC ST OBC की बहुत अच्छी होती हैं बहुत आसान होती है कम होती है बजाएं की जनरल तो जो डिजाइनिंग है वह कई बार ऐसे पीछे रह जाता है

reservation jo aarakshan ka mudda hai yah samay samay padta hai hamesha se uthata hai aarakshan government mein hoon chahen kahin par bhi ho aarakshan kabhi bhi accha saabit nahi hota hai vaah keval ek jati vishesh ke liye dharm vishesh ke liye jiske liye uske liye malai vaah bahut hi achi achi jo lekar anya logo ke liye aarakshan kabhi bhi ek bahut zyada degree kare vaah aisa vishay nahi raha hai sabhi ko dekha gaya hai jitne bhi anya log hain vaah jitne bhi samanya log hain vaah aarakshan ke khilaf rehte hain ki aarakshan jo diya tha baba bhimrao ambedkar ne apne bharat ke Constitution mein vaah kuch salon tak ke liye manya tha lekin use jo bhi sarkar thi unhone hamesha ke liye laagu kar diya aur is par koi vichar nahi ho raha hai aur raajneeti yah mode ke samay election ke samay vaah iski the raajneeti karte hain vote bank lete hain aur uske karan vaah vaah iske khilaf koi action nahi le paate hain aur aarakshan ke viruddh kadam nahi utha paate hain aur ke viprit aarakshan mein log aur sadar dubte ja rahe hain anya jati ke log jo hai vaah aarakshan ki demand karte hain ki aarakshan ki baat bataun aarakshan hamesha se jo hai vaah hamesha jo hai vaah aarthik sthiti ke hisab se milna chahiye abhi mil raha hai toh aarthik sthiti ke hisab se milna chahiye bajay ki dharm ya jati ke aadhaar par kis jatiye dharm ke aadhaar par aarakshan bilkul koi paimaana nahi banta hai kyonki sabke paas saree suit se kaam karne ke sab karne ke toh uska koi fayda nahi milna chahiye unse koi alag nahi milna chahiye jo dusre log hain is se vaah apne jo rights hai jo vo design lenge hum unhe upadhaya position vaah cheez nahi hasil ho paa rahi hai use dhundh lenge keval vaah aarakshan ke naam par saree cheezen mili ja rahi hain aap ko cut of dekhiye kitne bhi competition exam hote hain yah government jobs cutoff hamesha SC ST OBC ki bahut achi hoti hain bahut aasaan hoti hai kam hoti hai bajaye ki general toh jo designing hai vaah kai baar aise peeche reh jata hai

रिजर्वेशन जो आरक्षण का मुद्दा है यह समय समय पड़ता है हमेशा से उठता है आरक्षण गवर्नमेंट जॉब

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user

Apurva D

Optimistic Coder

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी मेरे ख्याल से सरकारी नौकरियों में रिजर्वेशन नहीं रखना चाहिए सरकारी नौकरियों में है क्यू एजुकेशन में भी रिजर्वेशन नहीं रखना चाहिए और जैसे कि आपका क्वेश्चन तो सरकारी नौकरियों के बारे में यह कहना चाहती हूं कि आप का मतलब आप क्या करते हो आप उस काम के लिए कितने एप्पल हो यह देखकर सरकारी नौकरियां देने चाहिए अगर आप वह एग्जाम पास होते हो और आप उसके साथ चलिए बल हो तो भी आपको सरकारी नौकरी मिलनी चाहिए क्योंकि कैसा होता है हम जिन लोगों को आरक्षण देते हैं वह लोग अभी गवर्नमेंट जॉब के लिए भी जो एग्जाम से होती है तो वह लोगों को क्राइटेरिया कमाल का होता है और वह झट से पास होकर गवर्नमेंट जॉब्स उनको मिल जाती है मेरे ख्याल से यह बिल्कुल अच्छा नहीं है क्योंकि देश में हर लोग 1 तरीके से मेहनत करता है तो यह रिजर्वेशन का क्राइटेरिया है आरक्षण का कुछ ना कुछ लोगों के प्रगति का आधा जाता है तो मेरे ख्याल से यह बिल्कुल अच्छा नहीं है और सरकारी नौकरियां तो मतलब अभी सरकार दे रहा है तो वह क्राइटेरिया सबके लिए समान होना चाहिए यह रिजर्वेशन देखकर लोग मतलब लोगों की जो क्वालिटी है गुणवत्ता जिसे हम कहते हैं वह उस पर आ जा रही है तो मेरे ख्याल से सरकारी नौकरी में आरक्षण नहीं रहना चाहिए

vicky mere khayal se sarkari naukriyon mein reservation nahi rakhna chahiye sarkari naukriyon mein hai kyu education mein bhi reservation nahi rakhna chahiye aur jaise ki aapka question toh sarkari naukriyon ke bare mein yah kehna chahti hoon ki aap ka matlab aap kya karte ho aap us kaam ke liye kitne apple ho yah dekhkar sarkari naukriyan dene chahiye agar aap vaah exam paas hote ho aur aap uske saath chaliye bal ho toh bhi aapko sarkari naukri milani chahiye kyonki kaisa hota hai hum jin logo ko aarakshan dete hain vaah log abhi government ke liye bhi jo exam se hoti hai toh vaah logo ko criteria kamaal ka hota hai aur vaah jhat se paas hokar government jobs unko mil jaati hai mere khayal se yah bilkul accha nahi hai kyonki desh mein har log 1 tarike se mehnat karta hai toh yah reservation ka criteria hai aarakshan ka kuch na kuch logo ke pragati ka aadha jata hai toh mere khayal se yah bilkul accha nahi hai aur sarkari naukriyan toh matlab abhi sarkar de raha hai toh vaah criteria sabke liye saman hona chahiye yah reservation dekhkar log matlab logo ki jo quality hai gunavatta jise hum kehte hain vaah us par aa ja rahi hai toh mere khayal se sarkari naukri mein aarakshan nahi rehna chahiye

विकी मेरे ख्याल से सरकारी नौकरियों में रिजर्वेशन नहीं रखना चाहिए सरकारी नौकरियों में है क्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  193
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
sarkari ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!