क्या मोदी सरकार का नोटबंदी का फैसला सही था, अगर था तो कैसे, और अगर गलत फैसला था तो क्यों?...


user

Vikas Singh

Political Analyst

2:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे जो नोट बंदी का फैसला था मोदी जी का वह बहुत ही सही फैसला था नोटबंदी के बाद पाकिस्तान के आतंकवादियों का जाली नोटों का कारोबार बंद हो गया हमारे देश के नेता जी लोग अपने घरों के दीवानों में करोड़ों अरबों रुपया रखे थे वह पैसा बैंक में जमा हुआ हालांकि हमारे देश के लोगों ने नोटबंदी में थोड़ा सा साथ नहीं दिया जो अमीर लोग के वह अपना ब्लैक मनी वाइट करने में सफल हुए लेकिन उससे गरीब का भला हुआ कोई ₹100000 गरीब को देता था तो उसमें से गरीब को भी ₹40000 मिलता था और गरीब के पास इतना पैसा कहां है कि वह बेचारा बैंक के लाइन में लगकर मरेगा उसके पास तो कुछ है नहीं उसके पास तो खाने के लिए भी नहीं है तो कांग्रेस पार्टी गलत आरोप लगाती थी कि गरीब लोग मरे हैं गरीब लोग कोई नहीं मरा है अमीर लोग मरे हैं जो भ्रष्टाचारी थे जिन्होंने लूट सपोर्ट किया है उनके जीवन में खतरा आया था लेकिन प्रधानमंत्री जी का कोई न कोई और बहुत बेहतरीन एक्शन होगा जिससे हमारे देश के जो कांग्रेस पार्टी और दूसरी पॉलिटिकल पार्टियों का ब्लैक मनी विदेशों में है वह पैसा वापस भारत आएगा लेकिन नोटबंदी होनी चाहिए अब नया नोट आ गया 20 का 50 का 200 का अब आदत पड़ गई है लोगों को और नोट ऐसे ही चेंज होना चाहिए और ऐसे ही नए नोट आने चाहिए जब नए नोट हमेशा 5 साल 10 साल पर चेंज होते रहेंगे आते रहेंगे तो तो आतंकवादियों की कमर टूटेगी जाली नोटों का कारोबार बंद होता रहेगा और ज्यादा से ज्यादा हम सभी भारतवासियों को डिजिटल पेमेंट पर ध्यान देना है क्योंकि सारा भ्रष्टाचार गैस के लेनदेन से है मोदी जी का टारगेट है कि वह अपने भारत की व्यवस्था को डिजिटल पेमेंट के माध्यम से ऐड कर दे सारी व्यवस्था ऑनलाइन कर दे अगर आपको ₹50 भी देना है किसी को तो आप पेटीएम से ट्रांसफर करिए इस तरीके से आपकी स्मार्टनेस में बढ़ेगी और देश में भ्रष्टाचार खत्म होगा तो मोदी जी का हर फैसला अच्छा था अच्छा है और हमेशा अच्छा रहेगा हम सभी भारतवासी मोदी जी के साथ हैं धन्यवाद

dekhe jo note bandi ka faisla tha modi ji ka vaah bahut hi sahi faisla tha notebandi ke baad pakistan ke aatankwadion ka jaali noton ka karobaar band ho gaya hamare desh ke neta ji log apne gharon ke diwanon me karodo araboon rupya rakhe the vaah paisa bank me jama hua halaki hamare desh ke logo ne notebandi me thoda sa saath nahi diya jo amir log ke vaah apna black money white karne me safal hue lekin usse garib ka bhala hua koi Rs garib ko deta tha toh usme se garib ko bhi Rs milta tha aur garib ke paas itna paisa kaha hai ki vaah bechaara bank ke line me lagkar marega uske paas toh kuch hai nahi uske paas toh khane ke liye bhi nahi hai toh congress party galat aarop lagati thi ki garib log mare hain garib log koi nahi mara hai amir log mare hain jo bhrashtachaari the jinhone loot support kiya hai unke jeevan me khatra aaya tha lekin pradhanmantri ji ka koi na koi aur bahut behtareen action hoga jisse hamare desh ke jo congress party aur dusri political partiyon ka black money videshon me hai vaah paisa wapas bharat aayega lekin notebandi honi chahiye ab naya note aa gaya 20 ka 50 ka 200 ka ab aadat pad gayi hai logo ko aur note aise hi change hona chahiye aur aise hi naye note aane chahiye jab naye note hamesha 5 saal 10 saal par change hote rahenge aate rahenge toh toh aatankwadion ki kamar tutegi jaali noton ka karobaar band hota rahega aur zyada se zyada hum sabhi bharatvasiyon ko digital payment par dhyan dena hai kyonki saara bhrashtachar gas ke lenden se hai modi ji ka target hai ki vaah apne bharat ki vyavastha ko digital payment ke madhyam se aid kar de saari vyavastha online kar de agar aapko Rs bhi dena hai kisi ko toh aap Paytm se transfer kariye is tarike se aapki smartness me badhegi aur desh me bhrashtachar khatam hoga toh modi ji ka har faisla accha tha accha hai aur hamesha accha rahega hum sabhi bharatvasi modi ji ke saath hain dhanyavad

देखे जो नोट बंदी का फैसला था मोदी जी का वह बहुत ही सही फैसला था नोटबंदी के बाद पाकिस्तान क

Romanized Version
Likes  310  Dislikes    views  3654
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!