आपको क्या लगता है कि RBI ने 2000 नोट्स छपाई को रोकने का सही निर्णय लिया है?...


user

Pradeep Solanki

Corporate Yoga Consultant

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आरबीआई ने 2000 का नोट बंद किया उसका पेपर चाहिए कि जो मनी लॉन्ड्रिंग है और और जोशी करंसी नोट है उसको बंद करने के लिए क्यों किए जैसे फेक करंसी बनती है तू बड़े ज्यादा संख्या में और ज्यादा उसकी जो वैल्यू है वह बहुत ज्यादा होगी इस कारण से 2000 का नोट बंद किया फिर भी लोग मानो स्टोर करते हैं उनके लिए इंस्टॉल करना थोड़ा सा आसान हो जाता है शुरू से यह सिर्फ जो नोट का प्रस्ताव था कि हजार के नोटों ने उस टाइम नहीं चाहते थे तो उसके लिए ताकि ट्रांजिशन केले की तरह 2400 पर धीरे-धीरे स्कोर 500 कर दोगे तो भी क्योंकि नकली नोट दोगे और मनी लॉन्ड्रिंग बड़ी आसान होगी कब नोट इस्तेमाल करना पड़ता है इसके लिए 2000 का नोट धीरे-धीरे मार्केट से बंद हो जाएगा या नहीं जवाब जमा कर देंगे तो डायरेक्ट कि उसको फिर वापस टैंक नहीं देगा आपको ठीक है तो जितने अकबर नाटक नहीं रखे हो तो धीरे-धीरे और नोटों को निकालने की कोशिश करें

RBI ne 2000 ka note band kiya uska paper chahiye ki jo money Laundering hai aur aur joshi currency note hai usko band karne ke liye kyon kiye jaise fake currency banti hai tu bade zyada sankhya me aur zyada uski jo value hai vaah bahut zyada hogi is karan se 2000 ka note band kiya phir bhi log maano store karte hain unke liye install karna thoda sa aasaan ho jata hai shuru se yah sirf jo note ka prastaav tha ki hazaar ke noton ne us time nahi chahte the toh uske liye taki transition kele ki tarah 2400 par dhire dhire score 500 kar doge toh bhi kyonki nakli note doge aur money Laundering badi aasaan hogi kab note istemal karna padta hai iske liye 2000 ka note dhire dhire market se band ho jaega ya nahi jawab jama kar denge toh direct ki usko phir wapas tank nahi dega aapko theek hai toh jitne akbar natak nahi rakhe ho toh dhire dhire aur noton ko nikalne ki koshish kare

आरबीआई ने 2000 का नोट बंद किया उसका पेपर चाहिए कि जो मनी लॉन्ड्रिंग है और और जोशी करंसी नो

Romanized Version
Likes  161  Dislikes    views  1774
WhatsApp_icon
13 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिये, जब से २००० रुपये का नोट छपा है तब से लगभग यह क्लियर है कि यह नोट बंद हो जाएगा क्योंकि २००० रुपये का नोट गवर्नमेंट ने इशू इसलिए किया कम टाइम में कम नोट प्रिंट कर के ही ज्यादा मनी ज्यादा करेंसी सप्लाई की जा सके मार्केट में जब डिमोनेटाइजेशन एनाउंस किया गवर्नमेंट ने| जब गवर्मेंट का अल्टीमेटम यह है कि लोग कॅश को ब्लैक मनी में यूज़ ना करें तो हाई diनॉमिनेशन करेंसी जो होती है बड़े डीनोमिनेशन की करेंसी वह तो ब्लैक मनी में हेल्प करती हैं| तो तभी से यह क्लियर है कि २००० का नोट तो बंद होगा ही| इसलिए आरबीआई का जो डिसीजन है कि इसकी प्रिंटिंग रोक दे| ठीक है और फ्यूचर में हो सकता है आरबीआई और गवर्नमेंट ऑफ इंडिया २००० के नोट को सरकुलेशन से विथड्रॉ ही कर ले| क्योंकि अल्टीमेटम डिमोनेटाइजेशन का ब्लैक मनी रोकना है तो २००० का नोट कहीं भी ब्लैक मनी रोकने में हेल्प नहीं करता है लेकिन लोगों को एक्चुअली सुविधा देता है कि वह हाई वैल्यू ट्रांजैक्शन कर सके हाई डीनोमिनेशन नोट से|

dekhiye jab se 2000 rupaye ka note chapa hai tab se lagbhag yah clear hai ki yah note band ho jaega kyonki 2000 rupaye ka note government ne issue isliye kiya kam time mein kam note print kar ke hi zyada money zyada currency supply ki ja sake market mein jab dimonetaijeshan enauns kiya government ne jab government ka ultimatum yah hai ki log cash ko black money mein use na kare toh high nomination currency jo hoti hai bade dinomineshan ki currency vaah toh black money mein help karti hain toh tabhi se yah clear hai ki 2000 ka note toh band hoga hi isliye RBI ka jo decision hai ki iski printing rok de theek hai aur future mein ho sakta hai RBI aur government of india 2000 ke note ko sarakuleshan se vithadra hi kar le kyonki ultimatum dimonetaijeshan ka black money rokna hai toh 2000 ka note kahin bhi black money rokne mein help nahi karta hai lekin logo ko actually suvidha deta hai ki vaah high value transaction kar sake high dinomineshan note se

देखिये, जब से २००० रुपये का नोट छपा है तब से लगभग यह क्लियर है कि यह नोट बंद हो जाएगा क्यो

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:28

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमको यह मालूम होना चाहिए कि हर बैंक के अंदर रेपो रेट के हिसाब से करेंसी रखनी पड़ती है अधूरा है कि बाइक मलेशियन करेंसी को अधिक बहाना है ऑनलाइन करेंसी का बहाना है इसलिए आरबीआई ने पहले डिमॉनेटाइजेशन ₹2000 निकाले थे किए थे वह अभी सरकुलेशन से विद्या कर लिए गए हैं बैंकों में और वह जो व्यापारी टैक्स ऑफिस इन मान्य दक्षिणा होता है वह ₹2000 के रूप में ली जा रही है इसमें कोई गलत बात नहीं है कोई डरा नहीं हुई है यह बैंक के अंदर रिपोर्ट के गाने बजा रही है जितनी कैसी जो है एटीएम से कम आएगी 200 से 500 कीजिएगा ही तो मनी सरकुलेशन करें करेंसी रेट में कम रहेगा सिटी आफ डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन पेमेंट बढ़ेगा भारत सरकार का आरबीआई का हमेशा फाइनेंस का उद्देश्य

hamko yah maloom hona chahiye ki har bank ke andar repo rate ke hisab se currency rakhni padti hai adhura hai ki bike malaysian currency ko adhik bahana hai online currency ka bahana hai isliye RBI ne pehle demonitization Rs nikale the kiye the vaah abhi sarakuleshan se vidya kar liye gaye hain bankon mein aur vaah jo vyapaari tax office in manya dakshina hota hai vaah Rs ke roop mein li ja rahi hai isme koi galat baat nahi hai koi dara nahi hui hai yah bank ke andar report ke gaane baja rahi hai jitni kaisi jo hai atm se kam aayegi 200 se 500 kijiega hi toh money sarakuleshan kare currency rate mein kam rahega city of debit card credit card online payment badhega bharat sarkar ka RBI ka hamesha finance ka uddeshya

हमको यह मालूम होना चाहिए कि हर बैंक के अंदर रेपो रेट के हिसाब से करेंसी रखनी पड़ती है अध

Romanized Version
Likes  271  Dislikes    views  6375
WhatsApp_icon
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह खबर ही गलत है कि आरबीआई ने ₹2000 के नोट की छपाई को बंद करने का निर्णय लिया है सोशल मीडिया पर इस तरह की अफवाह फैलाई जा रही है जाहिर है यह सवाल अपने आप में ही सीरियस ही गलत कुछ लोगों ने दहशत फैलाने यह शरारत करने के मकसद से इस खबर को चलाया था और लोग इस झांसे में आप ही के बड़े पैमाने पर चर्चा हो रही है मेरी गुजारिश है कि कोई भी खबर सोशल मीडिया पर देखने के बाद उसकी प्रमाणिकता की जांच अखबार के जरिए जरूर कर लें वराल मैया बता दो कि इस खबर में कोई दम नहीं है दूसरे वैसे यह सही है कि ₹2000 के रूप में नए सिरे से काला धन देश में और विदेश में जमा हो रहा है इस आधार पर कहा जा सकता है कि 8 नवंबर 2016 से पहले देश जहां खड़ा था आज 1 साल के बाद भी वही खड़ा है काला धन समाप्त करने के लिए मोदी जी ने जो कदम उठाया और देश की आम जनता को जिस तरह की परेशानी में डाला उसे कुछ हासिल नहीं हुआ बल्कि ₹2000 के नोट के रूप में पहले से कहीं ज्यादा काला धन जमा हो चुका है महज 1 साल में

yah khabar hi galat hai ki RBI ne Rs ke note ki chapai ko band karne ka nirnay liya hai social media par is tarah ki afavah failai ja rahi hai jaahir hai yah sawaal apne aap mein hi serious hi galat kuch logo ne dahashat felane yah shararat karne ke maksad se is khabar ko chalaya tha aur log is jhanse mein aap hi ke bade paimane par charcha ho rahi hai meri gujarish hai ki koi bhi khabar social media par dekhne ke baad uski pramanikata ki jaanch akhbaar ke jariye zaroor kar le varal maiya bata do ki is khabar mein koi dum nahi hai dusre waise yah sahi hai ki Rs ke roop mein naye sire se kaala dhan desh mein aur videsh mein jama ho raha hai is aadhaar par kaha ja sakta hai ki 8 november 2016 se pehle desh jaha khada tha aaj 1 saal ke baad bhi wahi khada hai kaala dhan samapt karne ke liye modi ji ne jo kadam uthaya aur desh ki aam janta ko jis tarah ki pareshani mein dala use kuch hasil nahi hua balki Rs ke note ke roop mein pehle se kahin zyada kaala dhan jama ho chuka hai mahaj 1 saal mein

यह खबर ही गलत है कि आरबीआई ने ₹2000 के नोट की छपाई को बंद करने का निर्णय लिया है सोशल मीडि

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  19
WhatsApp_icon
user

goyalkamal2

Writer freelance journalist.

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

2000कानोट पहले तो सपना ही गलत था क्योंकि भ्रष्टाचार को रोकने के लिए मोदी जी ने 2000 का नोट छपा था जैसे भ्रष्टाचार रोकने की वजह बढ़ने की उम्मीद ज्यादा हो गई थी और अब अब बंद करना इस गलती का पश्चाताप है जो ने पहले किया था 2000 नोट छापकर अब बंद करने से उसका फायदा तो होगा लेकिन उनकी वह मोदीजी रंग बॉक्स में खड़े होंगे से रिजर्व बैंक करवा दीजिए

kanot pehle toh sapna hi galat tha kyonki bhrashtachar ko rokne ke liye modi ji ne 2000 ka note chapa tha jaise bhrashtachar rokne ki wajah badhne ki ummid zyada ho gayi thi aur ab ab band karna is galti ka pashchaataap hai jo ne pehle kiya tha 2000 note chapkar ab band karne se uska fayda toh hoga lekin unki vaah modiji rang box mein khade honge se reserve bank karva dijiye

2000कानोट पहले तो सपना ही गलत था क्योंकि भ्रष्टाचार को रोकने के लिए मोदी जी ने 2000 का नोट

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  21
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से जो आरबीआई ने फैसला लिया है| 2000 के नोट का छपना बंद करना, यह सही है क्योंकि पहली बार 2000 के नोट का छुट्टा बहुत मुश्किल से होता था तो लोगों को इस चीज की बहुत ज्यादा दिक्कत होती थी| जिसका इससे काफी, उनको इससे काफी फायदा होगा| तो दूसरी चीज अगर नोट नहीं छप रहे हैं तो हमें यह अनुमान हमें लग रहा है, कि 2000 का नोट बंद हो जाएगा| तो एक तो यही छुट्टे मिलने की चीज़ हमारी इस से सोल्व हो जाएगी| और दूसरी चीज है, कि जितना छोटा नोट होगा उससे हमारी करेंसी वैल्यू बढ़ेगी| तो अगर सबसे ज्यादा बडा नोट 500 का होगा तो उससे इंडिया की करेंसी को काफी ज्यादा फायदा होगा| जैसे हम जानते हैं, कि $1 जो होता है, वह रु 64 का होता है| तो ऐसे ही अगर हम जितना छोटा नोट रखेंगे, अगर हम 500 का नोट रखते हैं तो उससे हमारी करंसी को बहुत फायदा होगा| और इसे इंडिया का जो करेंसी है उसका भाव बढ़ेगा| तो इसीलिए मेरे हिसाब से 2000 का नोट छापने का जो बंद करने का डिसीजन है, जो आरबीआई का वह बिल्कुल सही है|

mere hisab se jo RBI ne faisla liya hai 2000 ke note ka chapana band karna yah sahi hai kyonki pehli baar 2000 ke note ka chutta bahut mushkil se hota tha toh logo ko is cheez ki bahut zyada dikkat hoti thi jiska isse kaafi unko isse kaafi fayda hoga toh dusri cheez agar note nahi chhap rahe hai toh hamein yah anumaan hamein lag raha hai ki 2000 ka note band ho jaega toh ek toh yahi chutte milne ki cheez hamari is se solve ho jayegi aur dusri cheez hai ki jitna chota note hoga usse hamari currency value badhegi toh agar sabse zyada bada note 500 ka hoga toh usse india ki currency ko kaafi zyada fayda hoga jaise hum jante hai ki 1 jo hota hai vaah ru 64 ka hota hai toh aise hi agar hum jitna chota note rakhenge agar hum 500 ka note rakhte hai toh usse hamari currency ko bahut fayda hoga aur ise india ka jo currency hai uska bhav badhega toh isliye mere hisab se 2000 ka note chaapne ka jo band karne ka decision hai jo RBI ka vaah bilkul sahi hai

मेरे हिसाब से जो आरबीआई ने फैसला लिया है| 2000 के नोट का छपना बंद करना, यह सही है क्योंकि

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  482
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां यार बी आय का निर्णय सही है क्योंकि अगर हम देखें क्या मैं 2000 के छुट्टे नहीं मिलता है और यह बहुत ही बड़ी प्रॉब्लम है और अगर हम यह बात भी देखे कि सरकार कैसे 2000 नोट कब बंद करके 200 और 500 के नोट ईद आने वाली है तो इसे एक बात साफ है कि एग्जामिनेशन में बड़ी रकम को दान करके चोटी रखने से 2500 किलो खिलाएंगे जैसे फायदा ही फायदा होगा और इस से बैलेंस रहेगी करो कि जैसे कि युवाओं में एक ही डॉलर मिलता है जितनी छोटी नॉमिनेशन का कितना छोटा बड़ा जो रहेगा उतना ही अच्छा हॉस्पिटल मार्केट रहेगा तो मुझे प्यार प्यार के डिसीजन लिया है और इससे काला धन तो वैसे ही रुकेगा और 200 और 500 के नोट के सर्कुलेशन भी ज्यादा हो जाएंगे

haan yaar be aay ka nirnay sahi hai kyonki agar hum dekhen kya main 2000 ke chutte nahi milta hai aur yah bahut hi badi problem hai aur agar hum yah baat bhi dekhe ki sarkar kaise 2000 note kab band karke 200 aur 500 ke note eid aane wali hai toh ise ek baat saaf hai ki examination mein badi rakam ko daan karke choti rakhne se 2500 kilo khilaenge jaise fayda hi fayda hoga aur is se balance rahegi karo ki jaise ki yuvaon mein ek hi dollar milta hai jitni choti nomination ka kitna chota bada jo rahega utana hi accha hospital market rahega toh mujhe pyar pyar ke decision liya hai aur isse kaala dhan toh waise hi rukega aur 200 aur 500 ke note ke circulation bhi zyada ho jaenge

हां यार बी आय का निर्णय सही है क्योंकि अगर हम देखें क्या मैं 2000 के छुट्टे नहीं मिलता है

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  13
WhatsApp_icon
user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां सर बिलकुल जो आरबीआई ने जो डिसीजन लिया है वह अच्छा ही होगा 9 जून 2000 के नोट की छपाई को रोकने का डिसीजन लिया है वह अच्छा है और दूसरी चीज में बताओ जब डीमोनेटाइजेशन जब भारत में लगा था मोदी ने लगाया था उसके बाद जो लगभग करेंसी जो हजार हजार और 500 के नोट जबलपुर कलेक्टर 2000 के नोट से लगभग हजार क्षिक्षा रितिक रोशन 1000 के नोट्स थे वह 60 करोड अमाउंट कितना अमाउंट कितना अमाउंट होगा उतना हर पीने प्रिंट कर चुके हैं 2000 के नोटों से जो कि लगभग 74 लेकर रोड के आस पास टोटल रुपीस होता है और अभी डिमांड के साथ जैसे मार्केट के सबसे बिजी हो दूल्हा के नोट से वह सभी सेट है तो उन्होंने इसलिए ब्लॉक कर दिया है 2000 के नोट को छापने और दूसरों के नोट की प्रिंटिंग इन्होंने पोस्ट कर दिया ताकि मार्केट में 200 विनोद जल्दी से जल्दी है और दूसरी चीज मैं आपको बताऊं और अगर करंट ज्यादा प्रिंट होगी तो लोग डिजिटल की तरफ ज्यादा मुंह करेंगे वह पैसे बताओ डिजिटल पेमेंट करना ज्यादा पसंद करते हैं कोई हमारे भारत के लिए अच्छी चीज है और डिजिटल पेमेंट करने से कभी एक मनी की प्रॉब्लम नहीं आती और दूसरी जी थोड़ा मॉनिटर होता रहता कि पैसा किस के अकाउंट में कितना और कैसे जाना है तो मेरे साथ से जो भी आ गए ट्यूशन लेती है वह सही लेती है और कुछ सोच समझकर डिसीजन लिया यार बिना स्टेशन MMS का साथ देना चाहिए इसका अपना योगदान देना चाहिए

haan sir bilkul jo RBI ne jo decision liya hai vaah accha hi hoga 9 june 2000 ke note ki chapai ko rokne ka decision liya hai vaah accha hai aur dusri cheez mein batao jab dimonetaijeshan jab bharat mein laga tha modi ne lagaya tha uske baad jo lagbhag currency jo hazaar hazaar aur 500 ke note jabalpur collector 2000 ke note se lagbhag hazaar kshiksha hrithik roshan 1000 ke notes the vaah 60 crore amount kitna amount kitna amount hoga utana har peene print kar chuke hai 2000 ke noton se jo ki lagbhag 74 lekar road ke aas paas total rupees hota hai aur abhi demand ke saath jaise market ke sabse busy ho dulha ke note se vaah sabhi set hai toh unhone isliye block kar diya hai 2000 ke note ko chaapne aur dusro ke note ki printing inhone post kar diya taki market mein 200 vinod jaldi se jaldi hai aur dusri cheez main aapko bataun aur agar current zyada print hogi toh log digital ki taraf zyada mooh karenge vaah paise batao digital payment karna zyada pasand karte hai koi hamare bharat ke liye achi cheez hai aur digital payment karne se kabhi ek money ki problem nahi aati aur dusri ji thoda monitor hota rehta ki paisa kis ke account mein kitna aur kaise jana hai toh mere saath se jo bhi aa gaye tuition leti hai vaah sahi leti hai aur kuch soch samajhkar decision liya yaar bina station MMS ka saath dena chahiye iska apna yogdan dena chahiye

हां सर बिलकुल जो आरबीआई ने जो डिसीजन लिया है वह अच्छा ही होगा 9 जून 2000 के नोट की छपाई को

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  32
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यार भाई आरबीआई ने 2000के नोट छापने को रोकने का सही निर्णय नहीं लिया है कि उसकी इससे जुड़े जनता के अंदर परब्रह्म जाएगा कि 2000 के नोट बंद हो जाएंगे 2000 के नोट बंद हो जाएंगे फिर से पहन क्रिएट नोटबंदी हुई थी तो बहुत परेशानी हुई थी लाइन में लगना पड़ता उसके बाद बंद मतलब बंद हो जाए तो सरकार जानती है लेकिन अभी नोट छापने को बंद करने के जो बंद किया है उससे एक गलत एक सिग्नल जाएगा जिससे परेशानी हो सकती है

yaar bhai RBI ne ke note chaapne ko rokne ka sahi nirnay nahi liya hai ki uski isse jude janta ke andar parbrahm jaega ki 2000 ke note band ho jaenge 2000 ke note band ho jaenge phir se pahan create notebandi hui thi toh bahut pareshani hui thi line mein lagna padta uske baad band matlab band ho jaaye toh sarkar jaanti hai lekin abhi note chaapne ko band karne ke jo band kiya hai usse ek galat ek signal jaega jisse pareshani ho sakti hai

यार भाई आरबीआई ने 2000के नोट छापने को रोकने का सही निर्णय नहीं लिया है कि उसकी इससे जुड़े

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  21
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखा मोहन जी मुझे लगता है कि आरबीआई ने जो 2000 के नोट का छपाई पर रोक लगाई है वह सही निर्णय है क्योंकि ऐसा है कि 2000 का जो नोट है उसे प्रिंट करने में आरबीआई को होगा ₹33 लगता है तो छपाई रोकने का मतलब यह नहीं है कि जो और नोट है वह मार्केट में बंद हो जाए ऐसा जरूरी नहीं ऐसा कुछ ऑप्शन है उसमें नहीं है लेकिन यह जरूर रहा आरबीआई के बच्चे कैसे लिख चाहिए कि 2000केनोट दो पिंटो है वह बंद होने वाले हैं तो वह प्रिंट होने वाले इसका मतलब कुछ और भी प्लांस हो गया के पास अगर वह ₹30 का नोट जलाने वाली तो बहुत बढ़िया रहेगा क्योंकि उनका जो है वह मार्केट में चेंज में मिलना मुश्किल हो जाता है लोगों को चेंज करने में दिक्कत आती है तो अगर ऐसा है तो ठीक है क्योंकि 2000कानोट सरकुलेशन में बने रहे तो वह भी सही है क्योंकि जो नोट हमारी होल्ड करने का रहता है वह कम हो जाते हो नोट जैसे 10500 500 के नोट मिलेंगे तो वह 20 नोट आएगा और अगर 2,000 2000 के नोट में लगे तो खाली पास लौट आएगा तो ऐसे मतलब को कार्य करने में ही रहता है लेकिन फिर चेंज कराने में उसको दिक्कत आता है तो मैं समझता हूं कि अगर वह बना रहा है तो ठीक है और हजार रुपए का नोट नहीं तो उसके बदले में आ रहा है तो वह यह चीज और भी अच्छी होगी तो मैं समझ गया

dikha mohan ji mujhe lagta hai ki RBI ne jo 2000 ke note ka chapai par rok lagayi hai vaah sahi nirnay hai kyonki aisa hai ki 2000 ka jo note hai use print karne mein RBI ko hoga Rs lagta hai toh chapai rokne ka matlab yah nahi hai ki jo aur note hai vaah market mein band ho jaaye aisa zaroori nahi aisa kuch option hai usme nahi hai lekin yah zaroor raha RBI ke bacche kaise likh chahiye ki kenot do pinto hai vaah band hone waale hai toh vaah print hone waale iska matlab kuch aur bhi plans ho gaya ke paas agar vaah Rs ka note jalane wali toh bahut badhiya rahega kyonki unka jo hai vaah market mein change mein milna mushkil ho jata hai logo ko change karne mein dikkat aati hai toh agar aisa hai toh theek hai kyonki kanot sarakuleshan mein bane rahe toh vaah bhi sahi hai kyonki jo note hamari hold karne ka rehta hai vaah kam ho jaate ho note jaise 10500 500 ke note milenge toh vaah 20 note aayega aur agar 2 000 2000 ke note mein lage toh khaali paas lot aayega toh aise matlab ko karya karne mein hi rehta hai lekin phir change karane mein usko dikkat aata hai toh main samajhata hoon ki agar vaah bana raha hai toh theek hai aur hazaar rupaye ka note nahi toh uske badle mein aa raha hai toh vaah yah cheez aur bhi achi hogi toh main samajh gaya

दिखा मोहन जी मुझे लगता है कि आरबीआई ने जो 2000 के नोट का छपाई पर रोक लगाई है वह सही निर्णय

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  14
WhatsApp_icon
user

Sefali

Media-Ad Sales

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां आरबीआई ने जो फैसला किया है 2008 नोटों की प्रिंटिंग बंद करने का वह सही है क्योंकि जिस तरह से आज मार्केट में 2000 के नकली नोट फैल रही थी और उसे पहचाना कभी मुश्किल हो गया था कि कौन से ओरिजिनल है और कौन सा ऑफिस है तो इसीलिए आरबीआई ने डिसीजन दिया कि इसे रोक दिया जाए तो मेरे हिसाब से यह एक अच्छा कदम उठाया है उन्होंने

ji haan RBI ne jo faisla kiya hai 2008 noton ki printing band karne ka vaah sahi hai kyonki jis tarah se aaj market mein 2000 ke nakli note fail rahi thi aur use pehchana kabhi mushkil ho gaya tha ki kaun se original hai aur kaun sa office hai toh isliye RBI ne decision diya ki ise rok diya jaaye toh mere hisab se yah ek accha kadam uthaya hai unhone

जी हां आरबीआई ने जो फैसला किया है 2008 नोटों की प्रिंटिंग बंद करने का वह सही है क्योंकि जि

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  21
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स देखिए क्या आपको लगता है कि आरबीआई के 2000 के नोट की छपाई रोक दी है वह निर्णय कहिए क्या देखिए मैं बताना चाहूंगा आरबीआई ने जो 2000 के नोट की छपाई रॉकी है गुण निर्णय सही है या नहीं है तो देखिए कुछ महीने में वह सही है क्योंकि देखिए जितनी भी जो कालाबाजारी होती है भ्रष्टाचार होता है वह सब जितनी बड़ी करेंसी नोट होती हैं उन्हीं की वजह से होता है तू ही अच्छा फैसला है कि उन्होंने 2000 का नोट की छपाई जो है उसको रोक दी गई है देखिए बाकी आरबीआई है जो अपने से बहुत नॉलेज रखता है वहां पर बहुत अच्छे-अच्छे इकोनॉमिक हैं जो इन सब के काम करते हैं ठीक है तो उनका फैसला है रोकने का तो अच्छा ही है हमें उन पर भरोसा रखना चाहिए ठीक है थैंक यू सो मच

hello friends dekhiye kya aapko lagta hai ki RBI ke 2000 ke note ki chapai rok di hai vaah nirnay kahiye kya dekhiye main batana chahunga RBI ne jo 2000 ke note ki chapai rocky hai gun nirnay sahi hai ya nahi hai toh dekhiye kuch mahine me vaah sahi hai kyonki dekhiye jitni bhi jo kalabajari hoti hai bhrashtachar hota hai vaah sab jitni badi currency note hoti hain unhi ki wajah se hota hai tu hi accha faisla hai ki unhone 2000 ka note ki chapai jo hai usko rok di gayi hai dekhiye baki RBI hai jo apne se bahut knowledge rakhta hai wahan par bahut acche acche economic hain jo in sab ke kaam karte hain theek hai toh unka faisla hai rokne ka toh accha hi hai hamein un par bharosa rakhna chahiye theek hai thank you so match

हेलो फ्रेंड्स देखिए क्या आपको लगता है कि आरबीआई के 2000 के नोट की छपाई रोक दी है वह निर्णय

Romanized Version
Likes  102  Dislikes    views  1843
WhatsApp_icon
user

Ekta

Researcher and Writer

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां हां मेरे हिसाब से अभी आई नहीं यह बहुत ही सही निर्णय लिया है कि 2000 के नोट की छपाई को रोका जाए क्योंकि जिस शख्स 2000की नोट की छपाई चली आ रही है मार्च से लेकर अभी तक की सबसे रिपोर्ट से बताते हैं कि 8 दिसंबर को जो अभी रिपोर्ट आई है जो वित्त मंत्रालय ने लोकसभा में दिखाया है उसके हिसाब से ₹2000 की नोट की छपाई इतनी ज्यादा हो गई है कि बाकी जो कम पैसे उनकी वॉल्यूम कम हो गई है इतनी नोट छापने के बाद भी अभी तक आज मैंने उसे मार्केट में लॉन्च नहीं किया है और इतनी ज्यादा नोट उसने इंसां पर भी हैं तो उस उस गैप को पूरा करने के लिए आयुर्वेदिक मेडिसिन लाने की 2000 के नोटों की छपाई को कम किया जाए वह बहुत सही है इससे जो और छोटे छोटे रुपए उनकी वैल्यू ज्यादा बड़ी की और उनकी सफाई ज्यादा होने से मार्केट में वह इंश्योरेंस क्लेम कर सकते हैं और वित्त मंत्रालय के हिसाब से यह नहीं हो सकता है कि हमारी आर्थिक व्यवस्था पर बहुत अच्छा असर डालें

ji haan haan mere hisab se abhi I nahi yah bahut hi sahi nirnay liya hai ki 2000 ke note ki chapai ko roka jaaye kyonki jis sakhs ki note ki chapai chali aa rahi hai march se lekar abhi tak ki sabse report se batatey hai ki 8 december ko jo abhi report I hai jo vitt mantralay ne lok sabha mein dikhaya hai uske hisab se Rs ki note ki chapai itni zyada ho gayi hai ki baki jo kam paise unki volume kam ho gayi hai itni note chaapne ke baad bhi abhi tak aaj maine use market mein launch nahi kiya hai aur itni zyada note usne insan par bhi hai toh us us gap ko pura karne ke liye ayurvedic medicine lane ki 2000 ke noton ki chapai ko kam kiya jaaye vaah bahut sahi hai isse jo aur chote chhote rupaye unki value zyada baadi ki aur unki safaai zyada hone se market mein vaah insurance claim kar sakte hai aur vitt mantralay ke hisab se yah nahi ho sakta hai ki hamari aarthik vyavastha par bahut accha asar Daalein

जी हां हां मेरे हिसाब से अभी आई नहीं यह बहुत ही सही निर्णय लिया है कि 2000 के नोट की छपाई

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  17
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!