हर कोई "स्मार्ट शहरों" के बारे में बात कर रहा है, लेकिन वे वास्तव में क्या है?...


user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट था जो कि मोदी जी ने शुरू किया था शुरुआत में यह कम से कम 20 शहरों पर लागू किया गया था इस शहर में लुधियाना जैसे बड़े शहर इन टुडे थे और उस सिटी और स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट था उसका मेन एवं यह था कि वहां के लोग हैं और जो उस शहर में रहते हैं उन्हें हर एक आने से खाना बिजली और यह सब कुछ इंटरनेट और यह सब कुछ जो है और भेजो और जरूरत की चीजें हैं यह सब उन्हें मिले वहां के उस शहर में रहते हुए हर एक व्यक्ति को और वह जो यह सारी चीजें हैं जो नशे सी चीज है एक आम इंसान की जो होती है खाना पीना कुछ लोग तो इतने गरीब होते हैं खाना पीना भी नहीं मिल पाता डंका तो फिर इसलिए प्रोजेक्ट स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट शुरू किया गया था ताकि जो और लोग हैं जो इंडिया है वह थोड़ा और डेवलप हुए और इंडिया में जितने भी शहर है वह सारे स्मार्ट सिटी बन पाए

dekhiye smart city project tha jo ki modi ji ne shuru kiya tha shuruat mein yah kam se kam 20 shaharon par laagu kiya gaya tha is shehar mein ludhiyana jaise bade shehar in today the aur us city aur smart city project tha uska main evam yah tha ki wahan ke log hain aur jo us shehar mein rehte hain unhe har ek aane se khana bijli aur yah sab kuch internet aur yah sab kuch jo hai aur bhejo aur zarurat ki cheezen hain yah sab unhe mile wahan ke us shehar mein rehte hue har ek vyakti ko aur vaah jo yah saree cheezen hain jo nashe si cheez hai ek aam insaan ki jo hoti hai khana peena kuch log toh itne garib hote hain khana peena bhi nahi mil pata danka toh phir isliye project smart city project shuru kiya gaya tha taki jo aur log hain jo india hai vaah thoda aur develop hue aur india mein jitne bhi shehar hai vaah saare smart city ban paye

देखिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट था जो कि मोदी जी ने शुरू किया था शुरुआत में यह कम से कम 20 शह

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  159
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

.

Hhhgnbhh

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि हम जानते हैं कि आजकल हर कोई समाचार हो तो बना बात कर रहा है पर वह नहीं देख रहा है कि वह स्मार्ट है कैसे बनाएंगे अपने शहर को जब तक देश में सफाई अपनी जिम्मेदारी नहीं समझेंगे कि वह खुद कोई गलत ना लेने आज तक हमने देखा है कि जैसे मैं बात करूं फरीदाबाद की तो फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी डिक्लेयर कर आ गया है पर मैं आपको काफी जगह बता सकती हूं सारी रात में जमा इतना गम पड़ा होता है कि देखने से तो ऐसा लगता है कि वह बहुत ही गंदा एरिया है वह स्मार्ट सिटी दूर-दूर तक नहीं बनने के काबिल है तो ऐसी जगह को देख कर ऐसा लगता है कि लोग हाथ पैरों के बारे में बात तो कर रहे खुद की जिम्मेदारी नहीं समझ पा रहे हैं क्या करना चाहते हैं कि मैं स्मार्ट से बने तो वह देश की साफ-सफाई उन सब चीजों में योगदान दें अगर योगिता नहीं तो कम से कम उसको गंदा खून ना करें क्योंकि लोग खुद ही वहां पर कचरा पहनते हैं और फिर वहां से जा रहे होते तो कहते हैं कितना गंदा एरिया है यह सब योगदान दीजिए आप सरकार को पोस्ट करें केवल उस एरिया को साफ करें तो मुझे लगता है अगर हम खुद योगदान आएंगे तो जरुर तमाशे स्मार्ट शहर कहने के योग्य हो जाएंगे

jaisa ki hum jante hain ki aajkal har koi samachar ho toh bana baat kar raha hai par vaah nahi dekh raha hai ki vaah smart hai kaise banayenge apne shehar ko jab tak desh mein safaai apni jimmedari nahi samjhenge ki vaah khud koi galat na lene aaj tak humne dekha hai ki jaise main baat karu faridabad ki toh faridabad ko smart city declare kar aa gaya hai par main aapko kaafi jagah bata sakti hoon saree raat mein jama itna gum pada hota hai ki dekhne se toh aisa lagta hai ki vaah bahut hi ganda area hai vaah smart city dur dur tak nahi banne ke kaabil hai toh aisi jagah ko dekh kar aisa lagta hai ki log hath pairon ke bare mein baat toh kar rahe khud ki jimmedari nahi samajh paa rahe kya karna chahte hain ki main smart se bane toh vaah desh ki saaf safaai un sab chijon mein yogdan de agar yogita nahi toh kam se kam usko ganda khoon na kare kyonki log khud hi wahan par kachra pehente hain aur phir wahan se ja rahe hote toh kehte hain kitna ganda area hai yah sab yogdan dijiye aap sarkar ko post kare keval us area ko saaf kare toh mujhe lagta hai agar hum khud yogdan aayenge toh zaroor tamashe smart shehar kehne ke yogya ho jaenge

जैसा कि हम जानते हैं कि आजकल हर कोई समाचार हो तो बना बात कर रहा है पर वह नहीं देख रहा है क

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से खुद और पीएमओ या फिर कह सकता है भाजपा सरकार ने को निकाला है वह स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत जितने भी शहर है जो किंग को चुना गया था ना तो मेरे को जल्दी से से कुछ जगह है उनको भी शहरों के कुछ नाम होगा उसमें से कुछ शहरों के नाम हो तो वह पुणे है सूरत है अहमदाबाद है लखनऊ में ऐसे कई सारे शहर है आवाज को सरकार पैसा देगी और वह पंख जो है वह से वह सिटी को ज्यादा और डेवलप करने में लगा जाएंगे इसलिए उन शहरों को स्मार्ट शहर का दूध अगर उन चारों में नाम देखे तक कोई सच्चे मित्र नहीं है तू जो दिए गए फॉर्मेट रोक लगाएंगे या फिर हम कह सकते हैं साइकिल पास होंगे फिर कोई नहीं बॉडी Ready मूवीस के लेक दर्शन होंगे और पैसे की सारी तकलीफें होगी या फिर भी ऐसे करें सिटी को और भी ज्यादा खूबसूरत है फिर और डेवलपर बनना है तो का नाका पर यह जो है स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट है और इतनी स्मार्ट शहर है उस समय ऐसा होगा

dekhiye smart city project se khud aur pmo ya phir keh sakta hai bhajpa sarkar ne ko nikaala hai vaah smart city project ke tahat jitne bhi shehar hai jo king ko chuna gaya tha na toh mere ko jaldi se se kuch jagah hai unko bhi shaharon ke kuch naam hoga usme se kuch shaharon ke naam ho toh vaah pune hai surat hai ahmedabad hai lucknow mein aise kai saare shehar hai awaaz ko sarkar paisa degi aur vaah pankh jo hai vaah se vaah city ko zyada aur develop karne mein laga jaenge isliye un shaharon ko smart shehar ka doodh agar un charo mein naam dekhe tak koi sacche mitra nahi hai tu jo diye gaye format rok lagayenge ya phir hum keh sakte hain cycle paas honge phir koi nahi body Ready Movies ke lake darshan honge aur paise ki saree taklifen hogi ya phir bhi aise kare city ko aur bhi zyada khoobsurat hai phir aur Developer banna hai toh ka naka par yah jo hai smart city project hai aur itni smart shehar hai us samay aisa hoga

देखिए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से खुद और पीएमओ या फिर कह सकता है भाजपा सरकार ने को निकाला है

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
play
user

Anukrati

Journalism Graduate

1:08

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रधानमंत्री मोदी ने पुणे में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को लांच किया था पहले फेज में 20 शहरों को इस योजना में शामिल किया गया स्मार्ट सिटी की खास बात होगी अब आधार रहित जीवन इसमें इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी प्रमुख आधार पर होगी अर्थात इसके जरिए कार्यों में तेजी आएगी लोगों को जरूरत की वस्तुएं आसानी से मिल जाएंगी सरकार का कहना है कि स्मार्ट सिटी में डिमांड और सप्लाई पूरी तरह से मार्केट पर आधारित होगी इस से जनता सरकार व कारोबारियों सभी को लाभ होगा स्मार्ट सिटी का कंसेप्ट आर्थिक मंदी के वक्त आया 2001 में IBN पर काम करना शुरू किया 2009 में कई देशों ने इसे अपनाया यूएई साउथ कोरिया व चाइना ने इस पर काम शुरू कर दिया और रिसर्च पर बहुत पैसा खर्च किया मोदी सरकार ने अपने पहले बजट में स्मार्ट सिटी बनाने की घोषणा की थी जॉइन 2016 में सरकार पानी भी शहरों को ऐलान किया था यह प्रोजेक्ट मोदी जी की तीन महत्वकांक्षी योजना में से एक है

pradhanmantri modi ne pune mein smart city project ko launch kiya tha pehle phase mein 20 shaharon ko is yojana mein shaamil kiya gaya smart city ki khaas baat hogi ab aadhaar rahit jeevan isme information technology pramukh aadhaar par hogi arthat iske jariye karyo mein teji aayegi logo ko zarurat ki vastuyen aasani se mil jayegi sarkar ka kehna hai ki smart city mein demand aur supply puri tarah se market par aadharit hogi is se janta sarkar va karobariyon sabhi ko labh hoga smart city ka concept aarthik mandi ke waqt aaya 2001 mein IBN par kaam karna shuru kiya 2009 mein kai deshon ne ise apnaya UAE south korea va china ne is par kaam shuru kar diya aur research par bahut paisa kharch kiya modi sarkar ne apne pehle budget mein smart city banane ki ghoshana ki thi join 2016 mein sarkar paani bhi shaharon ko elaan kiya tha yah project modi ji ki teen mahatwakankshi yojana mein se ek hai

प्रधानमंत्री मोदी ने पुणे में स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को लांच किया था पहले फेज में 20 शहरों

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!