आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज़ कैसे उठा सकती है?...


user

Dinesh Yadav

Agriculturist

2:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे उठा सकते हैं तो इसके लिए मैं आपको बताना चाहूंगा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ हो आप मैक्सिमम लोगों को मिलाकर जो उस भ्रष्टाचार से प्रभावित लोग उन लोगों को एकजुट करके आप यह प्रखंड विकास पदाधिकारी यहां धरना दे सकते हैं धरना देकर आंदोलन कर सकते हैं आप रैली निकालकर आंदोलन कर सकते हैं आप प्रदर्शन कर सकते हैं आप अनशन कर सकते हैं बंधन कर सकते हैं खंड विकास पदाधिकारी के यहां कर सकते हैं आप जिला पदाधिकारी के यहां कर सकते हैं आप अनुमंडल पदाधिकारी के यहां कर सकते हैं सर आप लगाई ला सकते हैं आप आम जनता तो इसी प्रकार लड़ाई लड़ सकती है अपना विरोध प्रदर्शन कर सकती है न्याय की बात है व्यक्तिगत न्याय की बात है तो उसके लिए आप न्यायालय का भी सरल ले सकते हैं न्यायालय का सरल ले सकते हैं आप सीबीआई सीआईडी भ्रष्टाचार निरोधक विभाग को लिख सकते हैं आप उससे संपर्क करके उस पर मामला चला सकते हैं व्यक्तिगत मामला है आम जनता के मामला है तो आम जनता के लिए तो आपको धरना प्रदर्शन अनुसार ही कर सकते हैं धन्यवाद

aam janta bhrashtachar ke khilaf awaaz kaise utha sakte hain toh iske liye main aapko batana chahunga ki bhrashtachar ke khilaf ho aap maximum logo ko milakar jo us bhrashtachar se prabhavit log un logo ko ekjut karke aap yah prakhand vikas padadhikaari yahan dharna de sakte hain dharna dekar andolan kar sakte hain aap rally nikalakar andolan kar sakte hain aap pradarshan kar sakte hain aap anshan kar sakte hain bandhan kar sakte hain khand vikas padadhikaari ke yahan kar sakte hain aap jila padadhikaari ke yahan kar sakte hain aap anumandal padadhikaari ke yahan kar sakte hain sir aap lagayi la sakte hain aap aam janta toh isi prakar ladai lad sakti hai apna virodh pradarshan kar sakti hai nyay ki baat hai vyaktigat nyay ki baat hai toh uske liye aap nyayalaya ka bhi saral le sakte hain nyayalaya ka saral le sakte hain aap cbi CID bhrashtachar nirodhak vibhag ko likh sakte hain aap usse sampark karke us par maamla chala sakte hain vyaktigat maamla hai aam janta ke maamla hai toh aam janta ke liye toh aapko dharna pradarshan anusaar hi kar sakte hain dhanyavad

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे उठा सकते हैं तो इसके लिए मैं आपको बताना चाहूंगा कि भ

Romanized Version
Likes  70  Dislikes    views  1167
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Prem Koranga

Social Worker

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर चीज की शुरुआत छोटी सी होती है आवाज कटे हो कैसे उठा सकते जैसे भी कोई काम नहीं हो रहा है अगर आपको के काम करने के लिए आपका कोई भी अधिकारी आप को रोकता है नहीं रोकता है या पैसा मांगता है तो वहां पर हरण ऑफिस आने में आजकल टोल फ्री नंबर लगे रहते हैं उसको गवर्नमेंट ने भी टोल फ्री नंबर कंप्लेंट कीजिए और अपने साथ-साथ कई लोगों को भी इस बारे में बताइए और फेसबुक के माध्यम से या टोल फ्री नंबर के माध्यम से व्हाट्सएप के माध्यम से उसी को ज्यादा से ज्यादा उजागर कीजिए धीरे-धीरे लोगों को सपोर्ट मिलता जाएगा लोगों के अंदर और की तो उनके अंदर

har cheez ki shuruat choti si hoti hai awaaz kate ho kaise utha sakte jaise bhi koi kaam nahi ho raha hai agar aapko ke kaam karne ke liye aapka koi bhi adhikari aap ko rokta hai nahi rokta hai ya paisa mangta hai toh wahan par haran office aane me aajkal toll free number lage rehte hain usko government ne bhi toll free number complaint kijiye aur apne saath saath kai logo ko bhi is bare me bataiye aur facebook ke madhyam se ya toll free number ke madhyam se whatsapp ke madhyam se usi ko zyada se zyada ujagar kijiye dhire dhire logo ko support milta jaega logo ke andar aur ki toh unke andar

हर चीज की शुरुआत छोटी सी होती है आवाज कटे हो कैसे उठा सकते जैसे भी कोई काम नहीं हो रहा है

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  193
WhatsApp_icon
user

सुरेश चंद आचार्य

Social Worker ( Self employed )

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज एकजुट होकर उठा सकती है जब जनता जागरूक हो जाए एकजुट हो जाए तो वह सब कुछ कर सकती है तब तो ताज पलट सकती है भगवान को पृथ्वी पर आने को मजबूर कर सकती है क्योंकि एकता में शक्ति होती है

namaskar doston aam janta bhrashtachar ke khilaf awaaz ekjut hokar utha sakti hai jab janta jagruk ho jaaye ekjut ho jaaye toh vaah sab kuch kar sakti hai tab toh taj palat sakti hai bhagwan ko prithvi par aane ko majboor kar sakti hai kyonki ekta me shakti hoti hai

नमस्कार दोस्तों आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज एकजुट होकर उठा सकती है जब जनता जागरूक हो

Romanized Version
Likes  127  Dislikes    views  2184
WhatsApp_icon
user

Sonu Sharma

Social Worker

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठा सकती है वह अपने इसकी शिकायत अपने जिले के अपने राज्य के पुलिस आईटीएम और जो भी सरकारी महकमा यहां पर शिकायत करके आप फर्स्ट आचार को खत्म कर सकते हैं

aam janta bhrashtachar ke khilaf awaaz utha sakti hai vaah apne iski shikayat apne jile ke apne rajya ke police ITM aur jo bhi sarkari mahkama yahan par shikayat karke aap first aachar ko khatam kar sakte hain

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठा सकती है वह अपने इसकी शिकायत अपने जिले के अपने राज्य क

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
user

Rishi Chaudhary

Social Worker

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ संगठित होकर लोगों को जागरूक करके और जन समूह के द्वारा एक बड़ा आंदोलन करके भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठा सकते हैं

aam janta bhrashtachar ke khilaf sangathit hokar logo ko jagruk karke aur jan samuh ke dwara ek bada andolan karke bhrashtachar ke khilaf awaaz utha sakte hain

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ संगठित होकर लोगों को जागरूक करके और जन समूह के द्वारा एक बड़ा

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
user

Govind Saraf

Entrepreneur

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आसानी से आवाज उठा सकती होने लगता है जब सामने वाले कोई भूत मांग रहा है तो पहला बाद अगर खुश नहीं देंगी तो सामने वाला लेगा कैसे पहली बार ऐसे दूसरा बता जब कहीं और भ्रष्टाचार है आपको लगता है अब पब्लिक ग्रीवेंस इस में जाकर आप एप्लीकेशन फाइल कर सकते हैं पर कंप्लेंट कर सकते हैं एप्लीकेशन के द्वारा बहुत सारे कमेंट की वेबसाइट से नरेंद्र मोदी जी का खुद या बिहार है तो यहां पर मैं मानता हूं अगर आपको कोई दिक्कत है कोई परेशानी को अफसर आ सकती कोई शर्माने की कोशिश कर रहा है तब जाकर सीधा फाइल का सबूत भी एविडेंसेस गोरखनाथ बिना सबूत के कोई भी जरूर मैसेज आपकी मदद नहीं कर पाएगा सबसे बड़ा सबूत इकट्ठा करें कृपया कर आप वहां पर कंप्लेंट दर्ज करा सकते हैं या फिर कोई लोकल थाने में जाकर करा सकते हैं मेरा मानना है लोकल थाने में जाकर आप अभी शिकायत दर्ज कराएं तो आपको बहुत ज्यादा बेहतर आपकी सहायता कर सकती आ जाएगा

vikee aam janta bhrashtachar ke khilaf aasani se awaaz utha sakti hone lagta hai jab saamne wale koi bhoot maang raha hai toh pehla baad agar khush nahi dengi toh saamne vala lega kaise pehli baar aise doosra bata jab kahin aur bhrashtachar hai aapko lagta hai ab public grivens is mein jaakar aap application file kar sakte hain par complaint kar sakte hain application ke dwara bahut saare comment ki website se narendra modi ji ka khud ya bihar hai toh yahan par main manata hoon agar aapko koi dikkat hai koi pareshani ko officer aa sakti koi sharmane ki koshish kar raha hai tab jaakar seedha file ka sabut bhi evidences gorakhnath bina sabut ke koi bhi zaroor massage aapki madad nahi kar payega sabse bada sabut ikattha karein kripya kar aap wahan par complaint darj kara sakte hain ya phir koi local thane mein jaakar kara sakte hain mera manana hai local thane mein jaakar aap abhi shikayat darj karaye toh aapko bahut zyada behtar aapki sahayta kar sakti aa jayega

विकी आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आसानी से आवाज उठा सकती होने लगता है जब सामने वाले कोई भूत

Romanized Version
Likes  76  Dislikes    views  1853
WhatsApp_icon
user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने से पहले आम आदमी को यह समझने की जरूरत है कि यह सारा भ्रष्टाचार आम आदमी की वजह से ही है अगर हम यह समझते हैं कि सरकार और पॉलिटिशियंस केवल भ्रष्टाचार कर रहे हैं या पॉलिटिशंस इन ब्यूरोक्रेट केवल भ्रष्टाचार कर रहे हो यह बिल्कुल गलत है अब आम आदमी को देखिए सड़क बगैर पुलिसवाला रेड लाइट जंप करते हुए यह आपके पोलूशन का सर्टिफिकेट नहीं है उसके लिए आप को पकड़ लेता है हर आदमी सोचता में ₹50 से अधिक रुपए देकर निकल जाऊं और चलाने की कोशिश करता है भ्रष्टाचार करने की पूरी और 90% टाइम वही होता है आप पासपोर्ट बनाने जाइए आप ड्राइविंग लाइसेंस बनाने जाइए हम क्यों मैं नहीं खड़ा होना चाहते हम दूध नहीं जाना चाहते वहां पर हम चाहेंगे कि हमारे को छोड़ दो से ₹500 देकर शॉर्टकट तरीके से मेरा काम हो जाए और उस पर मैं आकर बाद में इस बात को मतलब बड़े सम्मान से अपने दोस्तों और मित्र को बताता हूं कि देखो मेरा वापस जुगाड़ है मैंने सेटिंग कर लिया और अपना काम जल्दी कर लिया तो हमें भ्रष्टाचार करते ही हैं और उसका प्रचार भी करते हैं यह हमारे समाज की एकदम आम बात है और इसीलिए हमारे समाज में भ्रष्टाचार फैला हुआ है उसके लिए केवल सरकारी सिस्टम को ब्लेम करना गलत है सरकार इतनी कोशिश कर रही है कि हम स्वच्छ भारत कैंपियन की बात करें आज भी आप देखिए बड़ी बड़ी गाड़ियों से पॉलिथीन फेंकते हुए और कचरा फेंकने के लोग आपको दिलाएंगे सड़क पर भ्रष्टाचार को क्लीन करने में अल्टीमेटली खर्चा तो हम सब काम हो रहा है सरकारी तंत्र का खर्चा हो रहा है नहीं कि हम सब पर क्या हो रहा है लेकिन नहीं वह बात समझ में नहीं आती है तो सबसे पहले जागरूकता है आम आदमी की अगर आम आदमी इमानदारी दिखाएगा तू एक छोटा तबका जो सरकारी अफसर हैं या जो नेता है उनको भी ईमानदार होना ही पड़ेगा

bhrastachar K khilaf awaz uthane se pehle am aadmi co yeh samajhne ki jarurat hai qi yeh saara bhrastachar am aadmi ki vajaha se hea hai agar hum yeh samjhte hain qi sarkar aur palitishiyans keval bhrastachar car rahe hain ya palitishans in byurokret keval bhrastachar car rahe ho yeh bilkool galat hai aba am aadmi co dekhiye sadak bagair pulisvaalaa red light jump karte huye yeh aapke polushan ka certificate nahi hai uske lie aap co pakad lata hai her aadmi sochta mein ₹ se adhik rupe dekar nikul jaun aur chalane ki koshish karata hai bhrastachar karne ki poori aur 90% time whey hota hai aap passport banane jiye aap driving laaisans banane jiye hum kio main nahi khada hona chahte hum dudh nahi jaana chahte vahan per hum chahenge qi hamare co chod though se ₹ dekar shortcut tarike se mera kama ho jae aur oosh per main aakar baad mein is baat co matlab bade samman se apne doston aur mitra co batata hoon qi dekho mera vapusha jugad hai maine setting car liya aur apna kama jaldi car liya to human bhrastachar karte hea hain aur uska prachar bhi karte hain yeh hamare samaj ki ekdam am baat hai aur isiliye hamare samaj mein bhrastachar faila hua hai uske lie keval sarkari system co blame krna galat hai sarkar itni koshish car rahi hai qi hum swach bharat campion ki baat karein aj bhi aap dekhiye badi badi gadiyon se palithin fenkate huye aur kachra fenkne K log aapko dilaenge sadak per bhrastachar co clean karne mein altimetli kharcha to hum sub kama ho raha hai sarkari tantra ka kharcha ho raha hai nahi qi hum sub per kya ho raha hai lekin nahi wah baat samajh mein nahi auti hai to sabse pehle jagrukta hai am aadmi ki agar am aadmi imandari dikhaega tu ek chota tabaka joe sarkari officer hain ya joe neta hai unko bhi imandar hona hea padega

भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने से पहले आम आदमी को यह समझने की जरूरत है कि यह सारा भ्रष्टाच

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  757
WhatsApp_icon
user

Sandesh Gajjar

Journalist

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भ्रष्टाचार भारत में है वह सिक्का नहीं पड़ेगा क्योंकि स्टार्टर मैंने बोला के पहले जागना है पहले हमको ही जाना है हम कुछ काम के लिए जाते हैं हमको काम तुरंत चाहिए बराबर तो कैसा कैसा हम ही फ्रांस अभी भारत की आपको पहले जागना चाहिए और भ्रष्टाचार को मुक्त होता ही है और पहले जाकर फिर भ्रष्टाचार कब आएगा

bhrashtachar bharat mein hai wah sikka nahi padega kyonki starter maine bola ke pehle jagana hai pehle hamko hi jana hai hum kuch kaam ke liye jaate hain hamko kaam turant chahiye barabar toh kaisa kaisa hum hi france abhi bharat ki aapko pehle jagana chahiye aur bhrashtachar ko mukt hota hi hai aur pehle jaakar phir bhrashtachar kab aaega

भ्रष्टाचार भारत में है वह सिक्का नहीं पड़ेगा क्योंकि स्टार्टर मैंने बोला के पहले जागना है

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  778
WhatsApp_icon
user

SUSHIL LAKRA

Politician

2:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोकल कमेटी बैठकर कि आज मीटिंग में लोग प्लान करते हैं करप्शन करप्शन सुना नहीं कर पाते हैं वह सभी मिले हुए रहते हैं करने वाला और कुछ राजनेता मिले हुए रहते हैं तो बात को सुनो ना कोई होता नहीं होता तो है उनको उनका लक्ष्य पब्लिक का काम करने बैठा हुआ है तो ऐसे बात है कि हम किस राजनेता और प्रधान फैसला कर लिया कर कुछ पढ़ा नहीं अभी तुमको पता नहीं जाएगा एक बात हमको प्रधान दोस्त दोबारा से खड़ा हुआ था यह बात हम को बोल रहा था कि पता नहीं लगा आपको पूछा नहीं होगा वहां की पुलिस का मुखड़ा देश में चल रही हो रानी टेबल में सुनने वाला कोई नहीं है

local committee baithkar ki aaj meeting mein log plan karte hain corruption corruption suna nahi kar paate hain wah sabhi mile hue rehte hain karne vala aur kuch raajneta mile hue rehte hain toh baat ko suno na koi hota nahi hota toh hai unko unka lakshya public ka kaam karne baitha hua hai toh aise baat hai ki hum kis raajneta aur pradhan faisla kar liya kar kuch padha nahi abhi tumko pata nahi jayega ek baat hamko pradhan dost dobara se khada hua tha yeh baat hum ko bol raha tha ki pata nahi laga aapko puchha nahi hoga wahan ki police ka mukhda desh mein chal rahi ho rani table mein sunne vala koi nahi hai

लोकल कमेटी बैठकर कि आज मीटिंग में लोग प्लान करते हैं करप्शन करप्शन सुना नहीं कर पाते हैं व

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  222
WhatsApp_icon
user

Kinnari Raval

Singer-Artist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या है कि नहीं यह है कि वह आम जनता क्या हो रहा है ना मुझे बड़ा वहीं पर हूं पर तू जब भ्रष्टाचार खत्म नहीं होगा तब तक तो निकाल लेंगे

kya hai ki nahi yah hai ki vaah aam janta kya ho raha hai na mujhe bada wahi par hoon par tu jab bhrashtachar khatam nahi hoga tab tak toh nikaal lenge

क्या है कि नहीं यह है कि वह आम जनता क्या हो रहा है ना मुझे बड़ा वहीं पर हूं पर तू जब भ्रष्

Romanized Version
Likes  175  Dislikes    views  2601
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

4:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत की जनता कबीर अचार के बारे में आवाज नहीं उठा सकती है क्योंकि एक भ्रष्ट दूसरों के बारे में कभी आवाज नहीं उठा सकते हैं भारत में भ्रष्टाचार जनता में भी है व्यापारी वर्ग में भी है और कर्मचारियों में तो भ्रष्टाचार है और राजनीती को भ्रष्टाचार की जन्म दात्री जननी है अब आप सोचो ऐसी हालात में एक भ्रष्टाचारी दूसरे भ्रष्टाचारी को नहीं कह पाए हम विदेशों में कर सकते हैं आप इंग्लैंड फ्रांस जर्मनी जापान आदि देशों में देखिए वहां भ्रष्टाचारियों का कितना बुरा हाल किया जाता है अधिकारियों राजनेताओं से कर्मचारियों व भ्रष्टाचारियों के मुंह काले कर दिए जाते हैं और उन को सख्त से सख्त सजा दी जाती है उनको नहीं पकड़ते हैं लेकिन जिस देश में नेताओं की खुलेआम गंदी कारी करते हैं लेकिन उनको कानून कुछ नहीं कर सकता कानूनों की तरह मैं देखता रहता है क्योंकि ऐसे भ्रष्टाचारियों को पुलिस वाले भी चरित मेहनत करके भी पकड़ भी लेते हैं तो पेड़ पौधों से छूट जाते हैं क्योंकि इंडिया के दुकानों ने बहुत कमजोर है लक्ष्य भ्रष्टाचारी लोग हैं बढ़ते जा रहे हैं जब बड़े भ्रष्टाचारियों का कुछ नहीं बिगाड़ पाते हैं तो छोटे भ्रष्टाचारी और बढ़ते चले जाते हैं भ्रष्टाचार रिश्वतखोरी गवन घोटाले जिस चीज को कृत्य है यह वो रखतबीज है जिनके रक्त जान जान व्यक्ति जाएंगे और पनपते चले जाएंगे इस प्रकार देश में प्रतिदिन कि भ्रष्टाचार बढ़ता जा रहा है इस पर पूरी बढ़ रही है दमन घोटाले बढ़ रहे हैं लेकिन जनता मूर्ख दर्शकों करके देखिए भारत की जनता गूंगी बहरी है इसका एक सकती है सुन सकती है लेकिन इनका कुछ नहीं सकती है क्योंकि जिस दिन ताली भारत से भ्रष्टाचार मिटाना है जिस दिन हमारी युवा शक्ति की भ्रष्टाचार मिटाना है रिश्वतखोरी बटालियन कोटा में मिटाने उस दिन तुम देख लेना भारत चाहिए संभाल जायेंगे क्योंकि राजनीतिज्ञों को हिम्मत नहीं ना अधिकारी कर्मचारियों की कीमत है व्यापारियों की जनता जान लेगी तो तुम देख लेना उनको सुधार देगी लेकिन दुर्भाग्य की बात चाहे जनता में कोई भी हिम्मत नहीं जुटा पाता है लेकिन मुझे विश्वास है एक दिन श्री राम अवतार लेंगे और तुम देख लेना ऐसे दोस्तों को ऐसी घोटाले बाजों को ऐसे गबन करने वालों को ऐसे देश भक्तों को इस देश से आना होगा जाना होगा जाना होगा एकता हो तो राम से और राम से कोई चीज नहीं सकता है चंपा नहीं थम रही है तब तक यह बढ़ते जा रहे हैं जनता जिस दिन था मिलेगी उस दिन तुम देख लेना इन राजनेताओं से भ्रष्टाचार भाग जाएगा कर्मचारी अधिकारियों से भाग जाएगा व्यापारी कम तोड़ना और अधिक कीमत लेना भूल जाएगा बेईमानी करना भूल जाएगा टैक्स सही करने लगेगा जब यह भ्रष्टाचारी यह कमेंट करने वाले एक घोटालेबाज विदेश पद को हमारे देश से मिट जाएंगे समाप्त हो जाएंगे निश्चित रूप से एक ऐसा समय अवश्य आएगा क्योंकि मैं आशावादी हूं ऐसी आशा रखता हूं

bharat ki janta kabir achaar ke bare mein awaaz nahi utha sakti hai kyonki ek bhrasht dusro ke bare mein kabhi awaaz nahi utha sakte hain bharat mein bhrashtachar janta mein bhi hai vyapaari varg mein bhi hai aur karmachariyon mein toh bhrashtachar hai aur rajneeti ko bhrashtachar ki janam datri janani hai ab aap socho aisi haalaat mein ek bhrashtachaari dusre bhrashtachaari ko nahi keh paye hum videshon mein kar sakte hain aap england france germany japan aadi deshon mein dekhiye wahan bharashtachariyo ka kitna bura haal kiya jata hai adhikaariyo rajnetao se karmachariyon va bharashtachariyo ke mooh kaale kar diye jaate hain aur un ko sakht se sakht saza di jaati hai unko nahi pakadten hain lekin jis desh mein netaon ki khuleaam gandi kaari karte hain lekin unko kanoon kuch nahi kar sakta kanuno ki tarah main dekhta rehta hai kyonki aise bharashtachariyo ko police waale bhi charit mehnat karke bhi pakad bhi lete hain toh ped paudho se chhut jaate hain kyonki india ke dukaano ne bahut kamjor hai lakshya bhrashtachaari log hain badhte ja rahe hain jab bade bharashtachariyo ka kuch nahi bigad paate hain toh chote bhrashtachaari aur badhte chale jaate hain bhrashtachar rishwat khori gavan ghotale jis cheez ko kritya hai yah vo rakhatabij hai jinke rakt jaan jaan vyakti jaenge aur panpate chale jaenge is prakar desh mein pratidin ki bhrashtachar badhta ja raha hai is par puri badh rahi hai daman ghotale badh rahe hain lekin janta murkh darshakon karke dekhiye bharat ki janta gungi bahri hai iska ek sakti hai sun sakti hai lekin inka kuch nahi sakti hai kyonki jis din tali bharat se bhrashtachar mitana hai jis din hamari yuva shakti ki bhrashtachar mitana hai rishwat khori batalion quota mein mitne us din tum dekh lena bharat chahiye sambhaal jayenge kyonki rajaneetigyon ko himmat nahi na adhikari karmachariyon ki kimat hai vyapariyon ki janta jaan legi toh tum dekh lena unko sudhaar degi lekin durbhagya ki baat chahen janta mein koi bhi himmat nahi jutta pata hai lekin mujhe vishwas hai ek din shri ram avatar lenge aur tum dekh lena aise doston ko aisi ghotale bajon ko aise gaban karne walon ko aise desh bhakton ko is desh se aana hoga jana hoga jana hoga ekta ho toh ram se aur ram se koi cheez nahi sakta hai champa nahi tham rahi hai tab tak yah badhte ja rahe hain janta jis din tha milegi us din tum dekh lena in rajnetao se bhrashtachar bhag jaega karmchari adhikaariyo se bhag jaega vyapaari kam todna aur adhik kimat lena bhool jaega baimani karna bhool jaega tax sahi karne lagega jab yah bhrashtachaari yah comment karne waale ek ghotalebaaj videsh pad ko hamare desh se mit jaenge samapt ho jaenge nishchit roop se ek aisa samay avashya aayega kyonki main aashavadi hoon aisi asha rakhta hoon

भारत की जनता कबीर अचार के बारे में आवाज नहीं उठा सकती है क्योंकि एक भ्रष्ट दूसरों के बारे

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  1303
WhatsApp_icon
user

Manish Gopal krishnan

Youtuber and Anchor

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम जनता बोलने के लिए लेकिन आप हर एक व्यक्ति को देश आज का मंडी स्टेशन का प्लेटफार्म कितना बड़ा प्लेटफार्म है हर एक गम को अपना बेटा अपना अपना जो आवाज उठाने के लिए यह किसी का मदद या किसी का पक्ष नहीं कोई अगर आपके सामने कुछ गलत हो रहा है क्या पिक लाइव वीडियो छोटा सा मैसेज डाल कर हम अपने जो मैं तुझे दे कर दे कर सकता जरा अपना जो जो गलत है वह जो नतीजों की तरह पहुंचाना चाहता है वह क्या कर सकता है अभी के टाइम पर

aam janta bolne ke liye lekin aap har ek vyakti ko desh aaj ka mandi station ka platform kitna bada platform hai har ek gum ko apna beta apna apna jo awaaz uthane ke liye yah kisi ka madad ya kisi ka paksh nahi koi agar aapke saamne kuch galat ho raha hai kya pic live video chota sa massage daal kar hum apne jo main tujhe de kar de kar sakta zara apna jo jo galat hai vaah jo nateezon ki tarah pahunchana chahta hai vaah kya kar sakta hai abhi ke time par

आम जनता बोलने के लिए लेकिन आप हर एक व्यक्ति को देश आज का मंडी स्टेशन का प्लेटफार्म कितना ब

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  741
WhatsApp_icon
user

BRAHAM SINGH

Social Activist

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम आदमी है और हमें अपनी ड्यूटी है कि हमें अपने आप को चेक करें और कहीं पर भी भ्रष्टाचार हो रहा है तो उसको भी हम लोग रोकने की कोशिश करें और अपने अपने को दे माता जी

aam aadmi hai aur hamein apni duty hai ki hamein apne aap ko check kare aur kahin par bhi bhrashtachar ho raha hai toh usko bhi hum log rokne ki koshish kare aur apne apne ko de mata ji

आम आदमी है और हमें अपनी ड्यूटी है कि हमें अपने आप को चेक करें और कहीं पर भी भ्रष्टाचार हो

Romanized Version
Likes  155  Dislikes    views  2702
WhatsApp_icon
user

Vimal Srivastav

Journalist

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम आदमी की जहां बात है तो वह फिर वहीं से जुड़ जाता है कि आम आदमी अपने कितना सच है उसको अपने अधिकारों का और अपने राइट्स और जो है उनको कितना ज्ञान है और अशिक्षित व्यक्ति कर सकता है उसे शिक्षा उच्च शिक्षा के लिए हम भी हैं और वह केवल अगले को जो भ्रष्टाचार कर रहा है उस अधिकारी को ही दुआ दृष्टि समझता है उसे अपने आप देख लेता है कि हम इस केस को हम एक प्लेटफार्म पर ले जाकर खड़ा करें जहां आज के बाद ऐसी हिमाकत करने की कोशिश करते हैं

aam aadmi ki jaha baat hai toh wah phir wahi se jud jata hai ki aam aadmi apne kitna sach hai usko apne adhikaaro ka aur apne rights aur jo hai unko kitna gyaan hai aur ashikshit vyakti kar sakta hai use shiksha ucch shiksha ke liye hum bhi hai aur wah keval agle ko jo bhrashtachar kar raha hai us adhikari ko hi dua drishti samajhata hai use apne aap dekh leta hai ki hum is case ko hum ek platform par le jaakar khada karein jaha aaj ke baad aisi himaakat karne ki koshish karte hain

आम आदमी की जहां बात है तो वह फिर वहीं से जुड़ जाता है कि आम आदमी अपने कितना सच है उसको अपन

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  631
WhatsApp_icon
user

Amit Chamaria

Journalist/Professor

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

घर पर यूनिट मान लिया जाए और देश के ऊपर के लोग जो शासक वर्ग है अगर जब तक ईमानदारी होगा तब तक हम नहीं कर पाएंगे आप हमारे पास जो मैडम कटिंग कराई है वोटिंग का जनता को शिक्षित करेंगे हमसे दूर हो सकते हैं जनता जागरुक जागरुक जागरुक होंगे मैं लिख रहा हूं कि किसी भी आर्टिस्ट भ्रष्टाचार नहीं है उनको दूर किया जा सकता है जो देश में रहेगा सबसे पहला सवाल है कि देश की जनता को जागरूक होना होगा और जागरूक होने के लिए सबसे जरूरी है

ghar par unit maan liya jaye aur desh ke upar ke log jo shasak varg hai agar jab tak imandari hoga tab tak hum nahi kar payenge aap hamare paas jo madam cutting karai hai voting ka janta ko shikshit karenge humse dur ho sakte hain janta jagaruk jagaruk jagaruk honge main likh raha hoon ki kisi bhi artist bhrashtachar nahi hai unko dur kiya ja sakta hai jo desh mein rahega sabse pehla sawal hai ki desh ki janta ko jagruk hona hoga aur jagruk hone ke liye sabse zaroori hai

घर पर यूनिट मान लिया जाए और देश के ऊपर के लोग जो शासक वर्ग है अगर जब तक ईमानदारी होगा तब त

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  451
WhatsApp_icon
user
1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज नहीं कि यह नहीं जानती हो जब तक अपना स्वास्थ्य नहीं छोड़ेंगे आपको गलती के लोगों को भ्रष्टाचार की शादी थी अब मुझे ऐसा लगता है कि 100 लोग खड़े हैं जो अपने अर्जित और मेहनत करेगा कि कहीं ना कहीं तो कभी जल्दी कभी खत्म नहीं होगा और वितरण नहीं था यह सब दिखाना को छोड़ देना चाहिए

aaj nahi ki yah nahi jaanti ho jab tak apna swasthya nahi chodenge aapko galti ke logo ko bhrashtachar ki shadi thi ab mujhe aisa lagta hai ki 100 log khade hain jo apne arjit aur mehnat karega ki kahin na kahin toh kabhi jaldi kabhi khatam nahi hoga aur vitaran nahi tha yah sab dikhana ko chod dena chahiye

आज नहीं कि यह नहीं जानती हो जब तक अपना स्वास्थ्य नहीं छोड़ेंगे आपको गलती के लोगों को भ्रष्

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  422
WhatsApp_icon
user
1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भ्रष्टाचार आज एक बीमारी की तरह पूरे व्यवस्था में फैल चुका है आज शायद ही कोई ऐसा क्षेत्र होगा जो भ्रष्टाचार से अछूता होगा प्रत्येक क्षेत्र में भ्रष्टाचार की जड़े फैल चुकी है और यह धीरे-धीरे पूरे तंत्र को खोखला कर रही है भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाना बहुत जरूरी है लेकिन यह तभी संभव है जब प्रत्येक व्यक्ति अतुल से चाहेगा कि भ्रष्टाचार समाप्त हो और इसके लिए सामूहिक रूप से प्रयास किया जाएगा केवल बड़ी-बड़ी बातें करने आंदोलन धरना प्रदर्शन करने इन सबसे भ्रष्टाचार को रोका या मिटाया नहीं जा सकता है संचार को मिटाने के लिए प्रतिबद्धता बहुत जरूरी है प्रत्येक आदमी को यह संकल्प लेना होगा कि वह किसी भी तरीके से जाओ भ्रष्टाचार छोटा हो या बड़ा उसे बढ़ावा नहीं देगा वरना तो भ्रष्टाचार करेगा और ना ही किसी और के प्रचार में सहयोग करेगा हम अक्सर देखते हैं कि जब हम कोई काम करने जाते हैं तो अपना ही काम निकलवाने के लिए हम इतने पैसे देकर काम जल्दी हो जाएगा चाहते हैं लेकिन ऐसा करने पर हम श्याम भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं ऐसा करने से भी हमें बचना चाहिए तो संयुक्त रूप से एक अभियान चला कि साथ ही भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़े कानून बनाकर भ्रष्टाचार को रोका जा सकता है

bhrashtachar aaj ek bimari ki tarah poore vyavastha mein fail chuka hai aaj shayad hi koi aisa kshetra hoga jo bhrashtachar se achuta hoga pratyek kshetra mein bhrashtachar ki jade fail chuki hai aur yah dhire dhire poore tantra ko khokhla kar rahi hai bhrashtachar ke khilaf awaaz uthna bahut zaroori hai lekin yah tabhi sambhav hai jab pratyek vyakti atul se chahega ki bhrashtachar samapt ho aur iske liye samuhik roop se prayas kiya jaega keval baadi badi batein karne andolan dharna pradarshan karne in sabse bhrashtachar ko roka ya mitaya nahi ja sakta hai sanchar ko mitne ke liye pratibaddhata bahut zaroori hai pratyek aadmi ko yah sankalp lena hoga ki vaah kisi bhi tarike se jao bhrashtachar chota ho ya bada use badhawa nahi dega varna toh bhrashtachar karega aur na hi kisi aur ke prachar mein sahyog karega hum aksar dekhte hai ki jab hum koi kaam karne jaate hai toh apna hi kaam nikalavane ke liye hum itne paise dekar kaam jaldi ho jaega chahte hai lekin aisa karne par hum shyam bhrashtachar ko badhawa dete hai aisa karne se bhi hamein bachna chahiye toh sanyukt roop se ek abhiyan chala ki saath hi bhrashtachar ke khilaf kade kanoon banakar bhrashtachar ko roka ja sakta hai

भ्रष्टाचार आज एक बीमारी की तरह पूरे व्यवस्था में फैल चुका है आज शायद ही कोई ऐसा क्षेत्र ह

Romanized Version
Likes  137  Dislikes    views  852
WhatsApp_icon
user

Kishan Kumar

Motivational speaker

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों आपका क्वेश्चन है आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे उठा सकता है दोस्तों एक आम जनता ही है जो भ्रष्टाचार पर आवाज उठा सकता है क्योंकि उसे हक है कि समाज में कर रहा है उसे हक है तो आवाज उठा सकता है इसका सरकार जरूर बनेगी क्योंकि हर एक इंसान जम्मत का अपने अधिकार देता है सरकार को उसको पूरा अधिकार है कुआं उठा सकता है सरकार सुनेगी क्योंकि यह भ्रष्टाचार खत्म हो सकता है तो आज के युवाओं को युवाओं से आम जनता से खत्म हो सकता है

namaskar doston aapka question hai aam janta bhrashtachar ke khilaf awaaz kaise utha sakta hai doston ek aam janta hi hai jo bhrashtachar par awaaz utha sakta hai kyonki use haq hai ki samaj mein kar raha hai use haq hai toh awaaz utha sakta hai iska sarkar zaroor banegi kyonki har ek insaan jammat ka apne adhikaar deta hai sarkar ko usko pura adhikaar hai kuan utha sakta hai sarkar sunegi kyonki yah bhrashtachar khatam ho sakta hai toh aaj ke yuvaon ko yuvaon se aam janta se khatam ho sakta hai

नमस्कार दोस्तों आपका क्वेश्चन है आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे उठा सकता है दोस्तों

Romanized Version
Likes  141  Dislikes    views  1222
WhatsApp_icon
user

Ismail Zaorez

Journalist

3:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत जैसा देश है जो 70 सालों से ज्यादा आजाद हुए हो चुके हैं लेकिन आज भी भ्रष्टाचार जैसे दिमाग और बीमारी से लड़ रहा है इसको और भारत के जो आर्गुमेंट है उसका हर विभाग में हर डिपार्टमेंट में ऊपर से नीचे तक आपको हर जगह करप्शन करप्शन नजर आता है जब आप कोई सरकारी काम के लिए किसी दफ्तर में जाते हैं तो चल में होता यह है कि अगर हम इसके खिलाफ आवाज उठानी है और एक आम आदमी होते हुए इसके खिलाफ हमको अगर कोई आवाज उठानी है तो उसके कुछ चैनल्स है जिसके तो हम लोग के काम कर सकते हैं गवर्नमेंट ने कुछ डिपार्टमेंट किस तरह के खोल रखे हैं जैसे लोकायुक्त आओगे एंटी करप्शन ब्यूरो हो गया यह सारी चीन के पास हम लोग जा सकते हैं किसी भी भ्रष्ट प्रैक्टिस के आगे अगर आपके पास कोई भी अधिकारी कोई भी कर्मचारी भ्रष्टाचार की मांग करता है रिश्वत मांगता है किसी भी काम के लिए तो आप डायरेक्टली एंटी करप्शन ब्यूरो जिसकी ब्रांच रजिस्टर ऑफिस से स्टेट में हर कैपिटल में हार सिटी में होते हैं वहां जाकर अपनी कंप्लेंट लिखवा सकते हैं यह बेसिकली पुलिस का ही एक डिपार्टमेंट होता है जो सिर्फ करप्शन पर भ्रष्टाचार पर नजर रखता है और उन पर एक्शन लेता है जब आप भी आकर उनके खिलाफ किसी के खिलाफ कंप्लेंट लिखी जाएगी तो एंटी करप्शन ब्यूरो एक्सटीजी फॉर्म करेक्शन लेकर और ज्यादातर कैसे यह कोशिश करेगा कि जो भ्रष्ट कर्मचारी है जो बेस्ट ऑफिसर है उसको रंगे हाथों पकड़ा जाए और इन सबके बीच अगर आप अपना अपनी आइडेंटिटी को छुपाना चाहते हैं कॉन्फिडेंस अल रखना चाहते हैं क्योंकि देखी जा पर भ्रष्टाचार की बात आती है छोटे-मोटे लेबल की तो बात अलग है लेकिन बड़े लेवल पर भ्रष्टाचार की बात आती है वहां पर आवाज उठाते हैं उसके खिलाफ सीधी सीधी बात आपकी जान पर आ सकती है भारत जैसे देश में तो उसको नजरअंदाज नजर में रखते हुए एंटी करप्शन ब्यूरो लोकायुक्त आया दूसरे इस तरह की जोड़ी पाठ मेंट्स है आपको आपकी आइडेंटिटी कॉन्फिडेंस अल रखने का भी पूरा अधिकार देते हैं जो आपका जवाब जाकर किसी भ्रष्टाचार अधिकारी के खिलाफ अगर कंप्लेंट लिख पाते हैं तो आपके पास एक ऑप्शन यह भी होता है क्या आप उनको कह सके कि मेरी आईडेंटिटी और मेरी जो पहचाने उसको छुपाया जाए किसी को यह मालूम ना हो कि मैं किसने यह कंप्लेंट लिखी और किस की कंप्लेंट के बिना पड़ी है एक्शन लिया जाए तो यह सारी चीजें है उसको यूज करते हुए किसी भी बेस्ट प्रैक्टिस के खिलाफ आवाज उठा सकते हैं और बहुत जरूरी भी है और एक नागरिक की यह जिम्मेदारी भी बनती है किस देश में जो प्रचार पहला हुआ है उसको खत्म करने के लिए अपना योगदान दें क्योंकि जहां पर रहते हैं वहां की मेंटालिटी और वहां की सोच इस देश के लिए हो गई है कि भारत जैसा देश है वहां पर भ्रष्टाचार विनायक आचार के बिना कोई काम नहीं होता तो हमें भी बैठी गंगा में हाथ धोते हुए अपना काम करवाने के लिए बेस्ट भ्रष्टाचार या रिश्वत देकर ही अपना काम करवाना पड़ेगा लेकिन असल में हमारा जो स्टैंड है वही इस तरह का नहीं होना चाहिए बहती गंगा में हाथ धोने जैसा हमारा स्टैंड हो हमारा स्टैंड यह हो क्या घर घर की सफाई करनी है तो वह तो बंदे करने पड़ेंगे और हाथ को गंदा करते हुए सिस्टम में घुसकर सिस्टम से फाइट करें कोई भी हो अपने अंदर ही एक रेजोल्यूशन ले अपने अंदर एक टाइम लेकर मैं किसी भी प्रश्न का ऑफिसर को कभी भी रिश्वत नहीं दूंगा और जो मुझ से रिश्वत मांगी का मैं उसको कंसर्न्ड अथॉरिटी से नजर मिलाते हुए इस पर एक्शन लेने की काम करूंगा तभी जाकर जो हमारे इंडिविजुअल कॉन्ट्रिब्यूशन है मेरा आपका एक एक बंदे का सिंगल पर्सन तभी जाकर यह भ्रष्टाचार को हम रोक सकते हैं वरना फिर किसी सरकार से किसी मंत्री से किसी एक आदमी से किसी दो आदमी से यह उम्मीद लगाना चाहिए इस देश में भ्रष्टाचार को खत्म करेगा यह बिल्कुल बेवकूफ वाली बात है भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए कोई एक आदमी है कोई मंत्री काम नहीं कर सकता या खत्म नहीं कर सकता उसको मैं आप और हर आम आदमी मिलकर ही करना पड़ेगा थैंक यू

bharat jaisa desh hai jo 70 salon se zyada azad hue ho chuke hai lekin aaj bhi bhrashtachar jaise dimag aur bimari se lad raha hai isko aur bharat ke jo argument hai uska har vibhag mein har department mein upar se niche tak aapko har jagah corruption corruption nazar aata hai jab aap koi sarkari kaam ke liye kisi daftaar mein jaate hai toh chal mein hota yah hai ki agar hum iske khilaf awaaz uthani hai aur ek aam aadmi hote hue iske khilaf hamko agar koi awaaz uthani hai toh uske kuch channels hai jiske toh hum log ke kaam kar sakte hai government ne kuch department kis tarah ke khol rakhe hai jaise lokayukt aaoge anti corruption bureau ho gaya yah saari china ke paas hum log ja sakte hai kisi bhi bhrasht practice ke aage agar aapke paas koi bhi adhikari koi bhi karmchari bhrashtachar ki maang karta hai rishwat mangta hai kisi bhi kaam ke liye toh aap directly anti corruption bureau jiski branch register office se state mein har capital mein haar city mein hote hai wahan jaakar apni complaint likhva sakte hai yah basically police ka hi ek department hota hai jo sirf corruption par bhrashtachar par nazar rakhta hai aur un par action leta hai jab aap bhi aakar unke khilaf kisi ke khilaf complaint likhi jayegi toh anti corruption bureau XTG form correction lekar aur jyadatar kaise yah koshish karega ki jo bhrasht karmchari hai jo best officer hai usko rangey hathon pakada jaaye aur in sabke beech agar aap apna apni identity ko chupana chahte hai confidence al rakhna chahte hai kyonki dekhi ja par bhrashtachar ki baat aati hai chote mote lebal ki toh baat alag hai lekin bade level par bhrashtachar ki baat aati hai wahan par awaaz uthate hai uske khilaf seedhi seedhi baat aapki jaan par aa sakti hai bharat jaise desh mein toh usko najarandaj nazar mein rakhte hue anti corruption bureau lokayukt aaya dusre is tarah ki jodi path ments hai aapko aapki identity confidence al rakhne ka bhi pura adhikaar dete hai jo aapka jawab jaakar kisi bhrashtachar adhikari ke khilaf agar complaint likh paate hai toh aapke paas ek option yah bhi hota hai kya aap unko keh sake ki meri identity aur meri jo pehchane usko chupaya jaaye kisi ko yah maloom na ho ki main kisne yah complaint likhi aur kis ki complaint ke bina padi hai action liya jaaye toh yah saari cheezen hai usko use karte hue kisi bhi best practice ke khilaf awaaz utha sakte hai aur bahut zaroori bhi hai aur ek nagarik ki yah jimmedari bhi banti hai kis desh mein jo prachar pehla hua hai usko khatam karne ke liye apna yogdan de kyonki jaha par rehte hai wahan ki mentalaity aur wahan ki soch is desh ke liye ho gayi hai ki bharat jaisa desh hai wahan par bhrashtachar vinayak aachar ke bina koi kaam nahi hota toh hamein bhi baithi ganga mein hath dhote hue apna kaam karwane ke liye best bhrashtachar ya rishwat dekar hi apna kaam karwana padega lekin asal mein hamara jo stand hai wahi is tarah ka nahi hona chahiye behti ganga mein hath dhone jaisa hamara stand ho hamara stand yah ho kya ghar ghar ki safaai karni hai toh vaah toh bande karne padenge aur hath ko ganda karte hue system mein ghuskar system se fight kare koi bhi ho apne andar hi ek rejolyushan le apne andar ek time lekar main kisi bhi prashna ka officer ko kabhi bhi rishwat nahi dunga aur jo mujhse se rishwat maangi ka main usko concerned authority se nazar milaate hue is par action lene ki kaam karunga tabhi jaakar jo hamare individual contribution hai mera aapka ek ek bande ka singles person tabhi jaakar yah bhrashtachar ko hum rok sakte hai varna phir kisi sarkar se kisi mantri se kisi ek aadmi se kisi do aadmi se yah ummid lagana chahiye is desh mein bhrashtachar ko khatam karega yah bilkul bewakoof wali baat hai bhrashtachar ko khatam karne ke liye koi ek aadmi hai koi mantri kaam nahi kar sakta ya khatam nahi kar sakta usko main aap aur har aam aadmi milkar hi karna padega thank you

भारत जैसा देश है जो 70 सालों से ज्यादा आजाद हुए हो चुके हैं लेकिन आज भी भ्रष्टाचार जैसे दि

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  111
WhatsApp_icon
user

Pandit Prem

शायर, पुस्तक संपादक

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों भ्रष्टाचार के खिलाफ भ्रष्ट तंत्र के खिलाफ या भ्रष्ट नेताओं के खिलाफ किसी के भी खिलाफ आवाज उठाने के लिए आपके पास 3 चीजें होनी चाहिए नंबर 1 शिक्षा शिक्षा नहीं होगी तो आपको पता नहीं चलेगा खासतौर से संविधान के बारे में जानना कानूनों के बारे में जानना बहुत जरूरी है क्योंकि आज जब आप संविधान के बारे में जानेंगे तो आप के खिलाफ अगर कोई एक्शन लेगा या आपके खिलाफ कोई षड्यंत्र षड्यंत्र जाएगा तो आपको पता होगा तो आप उसके खिलाफ आवाज उठा सकते हैं दूसरी चीज है जागरूकता जागरूकता बहुत जरूरी चीजें जागरूकता डर को खत्म कर देती आदमी के होता क्या कई लोग सोचते हैं कि अरे हो रहा है हो रहा है हमें क्या हम क्या कर सकते हैं ऐसे कई तरह के मतलब लोग बातें करते हैं तो उनमें जागरूकता की कमी है उनमें डर भी है और उन्हें जानकारी भी नहीं है जागरूकता भी नहीं है ना तो यह सब चीजे होनी चाहिए टी सी चीजें एकजुटता जब तक जनता एक नहीं होगी एकजुट नहीं होगी तब तक किसी भ्रष्ट तंत्र के खिलाफ भ्रष्टाचार के खिलाफ भ्रष्ट नेताओं के खिलाफ लड़ाई नहीं लड़ी जा सकती थी तीन चीजें बहुत जरूरी है शिक्षा जागरूकता और एकता धन्यवाद

namaskar doston bhrashtachar ke khilaf bhrasht tantra ke khilaf ya bhrasht netaon ke khilaf kisi ke bhi khilaf awaaz uthane ke liye aapke paas 3 cheezen honi chahiye number 1 shiksha shiksha nahi hogi toh aapko pata nahi chalega khaasataur se samvidhan ke bare me janana kanuno ke bare me janana bahut zaroori hai kyonki aaj jab aap samvidhan ke bare me jaanege toh aap ke khilaf agar koi action lega ya aapke khilaf koi shadyantra shadyantra jaega toh aapko pata hoga toh aap uske khilaf awaaz utha sakte hain dusri cheez hai jagrukta jagrukta bahut zaroori cheezen jagrukta dar ko khatam kar deti aadmi ke hota kya kai log sochte hain ki are ho raha hai ho raha hai hamein kya hum kya kar sakte hain aise kai tarah ke matlab log batein karte hain toh unmen jagrukta ki kami hai unmen dar bhi hai aur unhe jaankari bhi nahi hai jagrukta bhi nahi hai na toh yah sab chije honi chahiye T si cheezen ekjutata jab tak janta ek nahi hogi ekjut nahi hogi tab tak kisi bhrasht tantra ke khilaf bhrashtachar ke khilaf bhrasht netaon ke khilaf ladai nahi ladi ja sakti thi teen cheezen bahut zaroori hai shiksha jagrukta aur ekta dhanyavad

नमस्कार दोस्तों भ्रष्टाचार के खिलाफ भ्रष्ट तंत्र के खिलाफ या भ्रष्ट नेताओं के खिलाफ किसी क

Romanized Version
Likes  86  Dislikes    views  1409
WhatsApp_icon
user

Mohammad Sartaj Alam

Journalist & Author

2:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे उठा सकते हैं आप किस सवाल के जवाब किए हैं कि आप नीचे आवाज उठा सकती है और ना ही भ्रष्टाचार कारण यह है कि भ्रष्टाचार का तनाव यूके लिप्टस की तरह है जितना ऊंचा है उतना ही जमीन के अंदर गहराई तक मौजूद अक्षमता से लेकर ब्यूरोक्रेट्स इन सनी धरातल पर बनता है तो ऊंचाई पर नेता किसी भी छोटे से छोटे काम पर ध्यान दीजिए जो सरकारी महकमों में हो रहे हैं उन्हें कराते स्टेशन देखना चाहते हैं तो पाएंगे कि हुई क्षमता से शुरू होता है और उससे निकलने वाला अमाउंट धीरे धीरे धीरे धीरे धीरे उस करती तक जा पहुंचता है जहां से यह निर्देशित होता है आखिर सोचने की बात है कि कई ऐसे स्थानों के बारे में न सुना जहां पर 10000000 रुपए कर लो से ट्रांसफर कर सकते हैं आखिर क्यों अगर आप हेलमेट चेकिंग के दौरान कागज नहीं दिखा पाते हैं आपने क्रॉस थी वह गोश्त थाने तक के हनी थानेदार उसे माउंट को कहां भेजता हूं होगा या किस तरह इस्तेमाल करता हूं सोचिए बहुत सारी ऐसी चीजें हैं जो उस यूकेलिप्टस की तरह है जितना लंबा तना है उतनी ही लंबी अंदर तक जमीन के लंबी सी जड़ मुझे नहीं लगता है क्या जनता को तैयार कर पाएंगे कि जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाई

aam janta bhrashtachar ke khilaf awaaz kaise utha sakte hain aap kis sawaal ke jawab kiye hain ki aap niche awaaz utha sakti hai aur na hi bhrashtachar karan yah hai ki bhrashtachar ka tanaav UK liptas ki tarah hai jitna uncha hai utana hi jameen ke andar gehrai tak maujud akshamata se lekar bureaucrats in sunny dharatal par banta hai toh unchai par neta kisi bhi chote se chote kaam par dhyan dijiye jo sarkari mahkamon me ho rahe hain unhe karate station dekhna chahte hain toh payenge ki hui kshamta se shuru hota hai aur usse nikalne vala amount dhire dhire dhire dhire dhire us karti tak ja pahuchta hai jaha se yah nirdeshit hota hai aakhir sochne ki baat hai ki kai aise sthano ke bare me na suna jaha par 10000000 rupaye kar lo se transfer kar sakte hain aakhir kyon agar aap helmet checking ke dauran kagaz nahi dikha paate hain aapne cross thi vaah gosht thane tak ke honey thanedaar use mount ko kaha bhejta hoon hoga ya kis tarah istemal karta hoon sochiye bahut saari aisi cheezen hain jo us yukeliptas ki tarah hai jitna lamba tana hai utani hi lambi andar tak jameen ke lambi si jad mujhe nahi lagta hai kya janta ko taiyar kar payenge ki janta bhrashtachar ke khilaf awaaz uthayi

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे उठा सकते हैं आप किस सवाल के जवाब किए हैं कि आप नीचे

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  773
WhatsApp_icon
user

Rakesh Sharma

Journalist

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देश में भ्रष्टाचार दिन प्रतिदिन फैलता जा रहा है जिसके कारण लोगों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है लेकिन भ्रष्टाचार फैलाने में आम जनता का भी महत्वपूर्ण रोल अदा करती है उदाहरण के तौर पर यातायात संबंधी नियमों की आवेला कर कर हम यातायात पुलिस में तैनात पुलिसकर्मियों को रिश्वत देने का कार्य करते हैं उदाहरण के तौर पर जब कार्य नहीं होता तब हम पैसे देकर ही काम करवाते हैं यदि सही काम है तो उसकी आवाज उठाई जा सकती है लेकिन हमारे दिमाग में यह बात अदा घर कर गई है कि घर की अधिकारियों से हर प्रकार कार्य करवाना पड़ता है इसलिए उनसे बैर ठीक नहीं लेकिन यदि आप सोशल मीडिया या अन्य का प्रयोग करते हैं तो आज के समय में भ्रष्टाचार को खत्म किया जा सकता है इसके लिए जरूरत होगी आपको इमानदारी से काम करने की धन्यवाद

desh me bhrashtachar din pratidin failata ja raha hai jiske karan logo ko anek samasyaon ka samana karna padta hai lekin bhrashtachar felane me aam janta ka bhi mahatvapurna roll ada karti hai udaharan ke taur par yatayat sambandhi niyamon ki avela kar kar hum yatayat police me tainat policekarmiyon ko rishwat dene ka karya karte hain udaharan ke taur par jab karya nahi hota tab hum paise dekar hi kaam karwaate hain yadi sahi kaam hai toh uski awaaz uthayi ja sakti hai lekin hamare dimag me yah baat ada ghar kar gayi hai ki ghar ki adhikaariyo se har prakar karya karwana padta hai isliye unse bair theek nahi lekin yadi aap social media ya anya ka prayog karte hain toh aaj ke samay me bhrashtachar ko khatam kiya ja sakta hai iske liye zarurat hogi aapko imaandari se kaam karne ki dhanyavad

देश में भ्रष्टाचार दिन प्रतिदिन फैलता जा रहा है जिसके कारण लोगों को अनेक समस्याओं का सामना

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  240
WhatsApp_icon
user

ganesh pazi

Motivator

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो जाति और धर्म से परे होकर आमजन तक एक नागरिक संगठन बनाना चाहिए जिसमें यह तय किया जाए कि अपने मौलिक अधिकारों की रक्षा के साथ-साथ को एक-दूसरे का सहयोग करेंगे इसके साथ ही नीति निर्देशक तत्वों का पालन भी करेंगे भ्रष्टाचार हमारी कुंठा हमारे भाई हमारे पूर्वाग्रह के कारण बढ़ रहे हैं हमको इन सब से मुक्त होना पड़ेगा जब हम मुक्त हो जाएंगे वैसे उनका से जो यह मानते चलेगा कि भ्रष्टाचार खत्म किया जा सकता है संगठित नागरिक जागरुक नागरिक जब अपने अधिकार के साथ अपने कर्तव्य का पालन करेंगे तो भ्रष्टाचार खत्म हो जाएगा इसके लिए सामूहिक सोच में बदलाव आवश्यक है जिसके लिए सबको ध्यान में जाति समाज से परियों के एक नागरिक की तरह सोचना होगा नागरिक बनना पड़ेगा हम अभी तक नागरिक नहीं बन पाए हैं हम अभी तक जाति समाज वर्ग में बैठे हुए जिस दिन हम इस बंटवारे को छोड़कर एक नागरिक अधिकार की बात करेंगे सामूहिक रूप से करेंगे कंधे से कंधा मिलाकर करेंगे तो कोई भ्रष्टाचार नहीं होगा

sabse pehle toh jati aur dharm se pare hokar aamjan tak ek nagarik sangathan banana chahiye jisme yeh tay kiya jaye ki apne maulik adhikaaro ki raksha ke saath saath ko ek dusre ka sahyog karenge iske saath hi niti nirdeshak tatvon ka palan bhi karenge bhrashtachar hamari kuntha hamare bhai hamare purvagrah ke kaaran badh rahe hain hamko in sab se mukt hona padega jab hum mukt ho jaenge waise unka se jo yeh maante chalega ki bhrashtachar khatam kiya ja sakta hai sangathit nagarik jagaruk nagarik jab apne adhikaar ke saath apne kartavya ka palan karenge toh bhrashtachar khatam ho jayega iske liye samuhik soch mein badlav aavashyak hai jiske liye sabko dhyan mein jati samaj se pariyon ke ek nagarik ki tarah sochna hoga nagarik banana padega hum abhi tak nagarik nahi ban paye hain hum abhi tak jati samaj varg mein baithe hue jis din hum is batware ko chhodkar ek nagarik adhikaar ki baat karenge samuhik roop se karenge kandhe se kandha milakar karenge toh koi bhrashtachar nahi hoga

सबसे पहले तो जाति और धर्म से परे होकर आमजन तक एक नागरिक संगठन बनाना चाहिए जिसमें यह तय कि

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  451
WhatsApp_icon
user

मनोज राम

सामाजिक कार्यकर्ता

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते मारने वाले आम जनता अगर वाकई में भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाना चाहती हैं तो उसे सबसे पहले एक आदर्श नागरिक का परिचय देना होगा क्योंकि जब तक हुए अपने अपने कर्तव्यों का पालन नहीं करेंगे तब तक देश के उच्च अधिकारी कर्मचारी आम नागरिकों का अधिकार छीन ते रहेंगे उसका गवन करते रहेंगे क्योंकि वह जानते हैं कि आम नागरिक अपने कर्तव्यों का पालन ठीक से नहीं करते हैं इसलिए हुए कुछ नहीं बोलेंगे इसलिए सबसे पहले अपने अपने कर्तव्यों का पालन कीजिए जो सरकारी तंत्र अधिकारी कर्मचारी अपने कर्तव्यों का पालन नहीं करते अपने काम को ठीक ढंग से नहीं करते हैं उसे खिलाफ आवाज उठाई है उसकी शिकायत कीजिए तभी S1 अधिकारियों के मन में डर उत्पन्न होगा और वह अपने अपने काम को सही रूप में अंजाम देंगे धन्यवाद जय हिंद

namaste maarne waale aam janta agar vaakai me bhrashtachar ke khilaf awaaz uthana chahti hain toh use sabse pehle ek adarsh nagarik ka parichay dena hoga kyonki jab tak hue apne apne kartavyon ka palan nahi karenge tab tak desh ke ucch adhikari karmchari aam nagriko ka adhikaar cheen te rahenge uska gavan karte rahenge kyonki vaah jante hain ki aam nagarik apne kartavyon ka palan theek se nahi karte hain isliye hue kuch nahi bolenge isliye sabse pehle apne apne kartavyon ka palan kijiye jo sarkari tantra adhikari karmchari apne kartavyon ka palan nahi karte apne kaam ko theek dhang se nahi karte hain use khilaf awaaz uthayi hai uski shikayat kijiye tabhi S1 adhikaariyo ke man me dar utpann hoga aur vaah apne apne kaam ko sahi roop me anjaam denge dhanyavad jai hind

नमस्ते मारने वाले आम जनता अगर वाकई में भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाना चाहती हैं तो उसे सबस

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  448
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे उठा सकती है इसके लिए बहुत सारे प्रोसेस हैं कोर्ट में जा सकते हैं आप अगर आपको लगता कहीं भ्रष्टाचार हो आपके पास सबूत है तो अगर आपको लगता है कि आपके पास ठोस सबूत हैं तो आप कोर्ट में जा सकते हैं लेकिन मैं आपको बता दूं कि एकता में बल है अगर जनता एक होकर भ्रष्टाचार के खिलाफ खड़ी होती है तो हम उसको हरा सकते हैं अदर वाइज अगर कोई नेता है भ्रष्टाचार में लिप्त पाया जाता है या फिर कोई अमीर व्यक्ति है वह पाया जाता है तो उनके खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अब जाते हैं तो बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है फूट कचरिया सामना करना पड़ता लेकिन सफलता हाथ कभी लगती है नहीं लगती अगर आपके पास कुछ सबूत हैं तो एक बार हम कह सकते कि हाथों आपको सफलता हाथ लगे लेकिन आपको बता दूं कि एकता में बल है अगर जनता या फिर जाकर साथ एकजुट होकर लड़ाई तो देश से भ्रष्टाचार को खत्म किया जा सकता है जातक भ्रष्टाचार अब समझ सकते कहां हो रहा है राजनीति में किया जा रहा है नेता है राजनेता है वही ज्यादा भ्रष्टाचार कर रहे हैं क्योंकि एक बार मंत्री या एक बार विधायक बनने के बाद वह मालामाल हो जाते हैं जनता से कोई लेना देना नहीं होता तो मैं तो यही कहूंगा कि अगर आपको लगता है कहीं बस चार हो रहा है तो उसके खिलाफ आवाज उठाई आवाज उठाने के लिए आप अदालत का रास्ता अपना सकते हैं कंजूमर कोर्ट जा सकते हैं सोशल मीडिया पर आप अपनी अपील कर सकते हैं काफी रास्ते हैं

aam janta bhrashtachar ke khilaf awaaz kaise utha sakti hai iske liye bahut saare process hain court me ja sakte hain aap agar aapko lagta kahin bhrashtachar ho aapke paas sabut hai toh agar aapko lagta hai ki aapke paas thos sabut hain toh aap court me ja sakte hain lekin main aapko bata doon ki ekta me bal hai agar janta ek hokar bhrashtachar ke khilaf khadi hoti hai toh hum usko hara sakte hain other wise agar koi neta hai bhrashtachar me lipt paya jata hai ya phir koi amir vyakti hai vaah paya jata hai toh unke khilaf karyawahi karne ke liye ab jaate hain toh bahut pareshani ka samana karna padta hai foot kachriya samana karna padta lekin safalta hath kabhi lagti hai nahi lagti agar aapke paas kuch sabut hain toh ek baar hum keh sakte ki hathon aapko safalta hath lage lekin aapko bata doon ki ekta me bal hai agar janta ya phir jaakar saath ekjut hokar ladai toh desh se bhrashtachar ko khatam kiya ja sakta hai jatak bhrashtachar ab samajh sakte kaha ho raha hai raajneeti me kiya ja raha hai neta hai raajneta hai wahi zyada bhrashtachar kar rahe hain kyonki ek baar mantri ya ek baar vidhayak banne ke baad vaah malamaal ho jaate hain janta se koi lena dena nahi hota toh main toh yahi kahunga ki agar aapko lagta hai kahin bus char ho raha hai toh uske khilaf awaaz uthayi awaaz uthane ke liye aap adalat ka rasta apna sakte hain consumer court ja sakte hain social media par aap apni appeal kar sakte hain kaafi raste hain

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे उठा सकती है इसके लिए बहुत सारे प्रोसेस हैं कोर्ट में

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
user

rukmani

टीचर एंड गाइड UPSC

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिये आम जनता भ्रष्ट सरकार के खिलाफ आवाज उठा सकती हैं जैसे कि लोकपाल के माध्यम से, शिकायत के माध्यम से, जन सूचना के माध्यम से, न्यायालय के माध्यम से, आम जनता भ्रष्ट सरकार के खिलाफ सड़कों पर आंदोलन के माध्यम से अपने आवाज उठा सकती हैं| जैसे कि अन्ना जी ने इंडिया अगेन्स्ट करप्शन आंदोलन चलाया था| उनके साथ पूरी जनता उनके साथ हो गई थी| इसलिए आम जनता को ऐसे ही आंदोलन करके अपने हित के लिए लड़ाई करनी चाहिए|

dekhiye am janta bhrast sarkar K khilaf awaz utha sakti hain jaise qi lokpal K maadhyam se shikayat K maadhyam se jon suchana K maadhyam se nyaayaalya K maadhyam se am janta bhrast sarkar K khilaf sadkon per andolan K maadhyam se apne awaz utha sakti hain jaise qi anna g ne india against corruption andolan chalaya thaa unke sathe poori janta unke sathe ho gi thi eeslie am janta co aise hea andolan karake apne hita K lie ladai karni chahie

देखिये आम जनता भ्रष्ट सरकार के खिलाफ आवाज उठा सकती हैं जैसे कि लोकपाल के माध्यम से, शिकायत

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  376
WhatsApp_icon
user

शशांक पाण्डेय

इंकलाब जिंदाबाद

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम जनता खुद ही भ्रष्ट हो गई है तो भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाएगी जो अकेला आवाज उठाता है वह भी मारा जाता है उसका भी कोई साथ नहीं देता ठीक है हम ही लोग करप्शन फैलाते हैं जो के पास डीजल नहीं है पुलिस वालों को ₹100 देकर बच जाता है बच्चे स्कूल नहीं जा रहे हैं तो अब कुछ काम करेंगे टीचर को मनाए यही है भ्रष्टाचार हम ही लोग भ्रष्टाचार फैलाते हैं और जो है यही है हम लोग कि भ्रष्टाचार रही है दिक्कत जो है यही है कि हम लोग खुद सरकार को सुविधा पूर्वक जो है हो जाए इसीलिए आराम कितने आदमी हो गए आज डीजल बन रहे हैं लोग रुपया देकर डीजल बनवा ले रे क्या भ्रष्टाचार नहीं है यह भी भ्रष्टाचार पहले जनता ईमानदारी सीखे डिपार्टमेंटल वह अपने आप ईमानदार हो जाएगा जब जनता खुद है बेईमान है बड़ा बेईमान की उम्मीद रखता सब अपना अपना ही देखते हैं इसलिए सब जो है अब कोई संगठित अगर रहने लगे सब कोई तो कोई कुछ नहीं जो है बिगाड़ सकता अच्छा लगा हो तो लाइक करें शेयर करें कमेंट करें जय हिंद जय भारत वंदे मातरम

am janta khud hea bhrast ho gi hai to bhrastachar K khilaf awaz uthaaegi joe akela awaz uthaataa hai wah bhi mara jaata hai uska bhi koi sathe nahin deta thik hai hum hea log corruption failate hain joe K pass diesel nahin hai police valon co ₹ dekar bach jaata hai bacche school nahin ja rahe hain to aba kuch kama karenge teacher co manaye yahi hai bhrastachar hum hea log bhrastachar failate hain aur joe hai yahi hai hum log qi bhrastachar rahi hai dikkat joe hai yahi hai qi hum log khud sarkar co suvidha purvak joe hai ho jae isiliye aroma kitne aadmi ho ge aj diesel bun rahe hain log rupyaa dekar diesel banwa le ray kya bhrastachar nahin hai yeh bhi bhrastachar pehle janta imaandaari siikhe DEPARTMENTAL wah apne aap imandar ho jaaegaa jab janta khud hai beimaan hai bada beimaan ki ummeed rakhta sub apna apna hea dekhte hain eeslie sub joe hai aba koi sangathit agar rahane lage sub koi to koi kuch nahin joe hai bigad sakta accha laga ho to like karein share karein comment karein jai hind jai bharat vande matram

आम जनता खुद ही भ्रष्ट हो गई है तो भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाएगी जो अकेला आवाज उठाता है व

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  407
WhatsApp_icon
user

Gyaani Woman lekhika 📚👩

Lekhika Hoon Suchai Likhti Hoo

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे होता है बहुत अच्छा सवाल है लेकिन मैं बताना चाहूंगी आम जनता को किसी की परमिशन की जरूरत नहीं कुछ सोचने की जरूरत नहीं आम जनता चाहे तो अभी आवाज उठा सकती है लेकिन आम जनता ऐसा नहीं चाहेगी कि आज के टाइम हर कोई दिया से अपनी फैमिली को लेकर अपने कारोबार को लेकर आम जनता अभी भी इतनी ताकतवर है क्यों भ्रष्टाचार के खिलाफ होकर आचार को मिटा सकती है खत्म कर सकती है दुनिया आम जनता के ऊपर है हम जनता जानती है कि इस देश में भ्रष्टाचार बहुत हो रहा है बहुत सी ऐसी गलतियां हो रही है जिससे आम जनता नाखुश हैं अगर शुरुआती में एक इंसान भी भ्रष्टाचार के खिलाफ हो जाए तो जाहिर सी बात है वहां से इंसान भी खड़े जरूर होंगे लेकिन मुझे नहीं लगता कि आम जनता यह कर पाएगी क्योंकि जितनी ताकतवर आम जनता है उतनी ही कमजोर आम जनता है उम्मीद है कि आने वाले समय में यह आम जनता जज कि हम आप यह समझ जाए और भ्रष्टाचार के खिलाफ एक बड़ा और नया कदम उठाएं

am janta bhrastachar K khilaf awaz kaise hota hai bahut accha sawal hai lekin main batana chahungi am janta co kisi ki paramishan ki jarurat nahi kuch sochne ki jarurat nahi am janta chahe to abhi awaz utha sakti hai lekin am janta aisa nahi chahegi qi aj K time her koi diya se apni family co lycra apne karobaar co lycra am janta abhi bhi itni taakatvar hai kio bhrastachar K khilaf hokra aachar co mita sakti hai khatma car sakti hai duniya am janta K upar hai hum janta jaanati hai qi is desh mein bhrastachar bahut ho raha hai bahut C aisi galtiyan ho rahi hai jisase am janta nakhush hain agar shuruaati mein ek insaan bhi bhrastachar K khilaf ho jae to zahir C baat hai vahan se insaan bhi khade jarur honge lekin mujhe nahi lagta qi am janta yeh car paaegii kyonki jitni taakatvar am janta hai utni hea kamjor am janta hai chahiye ummeed hai qi aane wale samay mein yeh am janta judge qi hum aap yeh samajh jae aur bhrastachar K khilaf ek bada aur naya kadam uthaen

आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज कैसे होता है बहुत अच्छा सवाल है लेकिन मैं बताना चाहूंगी आ

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  233
WhatsApp_icon
user

sanjay bhargav

जय परशुराम

1:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दही भ्रष्टाचार को बढ़ावा भी आम जनता देती है और उसको मिटा ले सकती है बड़ा बाबू ऐसे देती है यदि किसी का काम है और वह किसी अधिकारी के पास जाता है और अपने काम को शीघ्र करने के लिए रस पद की मांग करता है और उस वक्त यदि वह व्यक्ति विशेष किसी उच्च अधिकारी को रिश्वत दे देता है तो उससे क्या होता है कि उसका मन बढ़ जाता है और भ्रष्टाचार के प्रति अग्रसर होता है क्योंकि वह उसकी जो मासिक पेंशन में तनखा है उसको तो पता ही है और अलग से ऊपरी कमाई जैसे बोलते हैं उसको ही वह लेना चाहता है तो उसी का अनुसरण करके अन्य लोग भी भ्रष्टाचारी हो जाते हैं उसके दफ्तर के प्रभु उसका जब पद आगे बढ़ता है और ऊंची पोस्ट पर पहुंचता है तो उसमें वह प्रतिकृति बनी रहती है और धीरे-धीरे भ्रष्टाचार बढ़ता जाता है इस को मिटाने की आम जनता को चाहिए कि वह किसी भी प्रकार से किसी भी व्यक्ति रिश्वत नहीं दे और यदि कोई रिश्वत की मांग करता है तो जनता के पास तो सब अधिकार है उसका तो कोई हाथ भी नेता जितने भी रिश्वत की मांग की उसकी पिटाई कर दे धीरे-धीरे अपने जैसे लोगों को पीटते हुए देख और भ्रष्टाचारी भी सुधर जाएंगे और दूसरा काम है करें कि ऐसी पार्टी को भी देता है जो देश प्रेमी हो और जिसका देश के प्रति श्रद्धा भाव और देश को रोजगारी बेरोजगारी देश के बेरोजगारों को रोजगार दे तथा उनके मन में देश के प्रति श्रद्धा भाव और आत्म समर्पण की भावना को भरे ऐसा नेता हो ऐसे नेता से देश का विकास होगा उसी को ही लोग को वोट देना चाहिए हमें भ्रष्टाचार मुक्त भारत की कल्पना कर सकते हैं धन्यवाद

dahi bhrashtachar ko badhawa bhi aam janta deti hai aur usko mita le sakti hai bada babu aise deti hai yadi kisi ka kaam hai aur wah kisi adhikari ke paas jata hai aur apne kaam ko shighra karne ke liye ras pad ki maang karta hai aur us waqt yadi wah vyakti vishesh kisi ucch adhikari ko rishwat de deta hai toh usse kya hota hai ki uska man badh jata hai aur bhrashtachar ke prati agrasar hota hai kyonki wah uski jo maasik pension mein tankha hai usko toh pata hi hai aur alag se upari kamai jaise bolte hai usko hi wah lena chahta hai toh usi ka anusaran karke anya log bhi bhrashtachaari ho jaate hai uske daftaar ke prabhu uska jab pad aage badhta hai aur uchi post par pahuchta hai toh usme wah pratikriti bani rehti hai aur dhire dhire bhrashtachar badhta jata hai is ko mitne ki aam janta ko chahiye ki wah kisi bhi prakar se kisi bhi vyakti rishwat nahi de aur yadi koi rishwat ki maang karta hai toh janta ke paas toh sab adhikaar hai uska toh koi hath bhi neta jitne bhi rishwat ki maang ki uski pitai kar de dhire dhire apne jaise logo ko pitate hue dekh aur bhrashtachaari bhi sudhar jaenge aur doosra kaam hai karein ki aisi party ko bhi deta hai jo desh premi ho aur jiska desh ke prati shraddha bhav aur desh ko rojgari berojgari desh ke berojgaron ko rojgar de tatha unke man mein desh ke prati shraddha bhav aur aatm samarpan ki bhavna ko bhare aisa neta ho aise neta se desh ka vikas hoga usi ko hi log ko vote dena chahiye humein bhrashtachar mukt bharat ki kalpana kar sakte hai dhanyavad

दही भ्रष्टाचार को बढ़ावा भी आम जनता देती है और उसको मिटा ले सकती है बड़ा बाबू ऐसे देती है

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  355
WhatsApp_icon
user

Prem Verma

Journalist

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्त आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठा सकती है और आम जनता के ही पास पावर है आम जनता सबसे पहले करप्शन यानी भूत ना दे किसी को अगर कोई अधिकारी जो भ्रष्ट है आप से रिश्वत की मांग कर रहा है तो उसके महकमे के सीनियर अफसर के पास जाकर शिकायत करें अगर आपको लगता है किसी तरह की सुनवाई नहीं कर रहा है तो आप चुपचाप विजिलेंस डिपार्टमेंट के पास ही हर जिले में हर शहर में होता है वहां जाकर आपको शिकायत तो अपने आप बिजनेस वाले जो है उस आदमी को रिश्वत के केस में गिरफ्तार करेंगे या वह अपनी कार्रवाई करेंगे

namaskar dost aam janta bhrashtachar ke khilaf awaaz utha sakti hai aur aam janta ke hi paas power hai aam janta sabse pehle corruption yani bhoot na de kisi ko agar koi adhikari jo bhrasht hai aap se rishwat ki maang kar raha hai toh uske mahkame ke senior officer ke paas jaakar shikayat kare agar aapko lagta hai kisi tarah ki sunvai nahi kar raha hai toh aap chupchap vijilens department ke paas hi har jile mein har shehar mein hota hai wahan jaakar aapko shikayat toh apne aap business waale jo hai us aadmi ko rishwat ke case mein giraftar karenge ya vaah apni karyawahi karenge

नमस्कार दोस्त आम जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठा सकती है और आम जनता के ही पास पावर है आम

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  157
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!