भारतीय संविधान ये नहीं कहता कि दिल्ली भारत की राजधानी है! इस पर आपका क्या कहना है?...


play
user

Neha S

UPSC कोच

0:59

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यहां बिल्कुल नहीं लिखा है हमारे कांस्टिट्यूशन में क्या सर कैपिटल है दिल्ली भारत की और यह अरविंद केजरीवाल जी ने मिस्टर अरविंद केजरीवाल जी ने सुप्रीम कोर्ट में सूअर के लिए भी कर दिया है तूने किया ऐसा होता है कि जब से हम मैंने अपनी पढ़ाई शुरु करनी है या पढ़ रही हूं छोटे से ही मैंने देवी को ही नेशनल जिंदगी को ही कैपिटल माना है भारत का और सुना है पड़ा है यही लिखा है किसी भी आई क्यों पूछते हैं किसी भी स्टेट में किसी भी कंट्री में जाते हैं पर व्हाट इस द केपिटल ऑफ इंडिया तो डेल्ही बोला जाता है इसलिए इसमें कोई बहस का मुद्दा नहीं है इससे पहले दिल्ली से पहले कॉल करता को रखा गया था ब्रिटिश ब्रिटिश उसने वह भी चेंज कर दिया गया है इसका रीजन का क्रिकेट दिल्ली से राज करना आसान था दिल्ली से खेसारी स्टेट्स पास पड़ती हैं एक सफल होती है कोलकाता था तो कोलकाता बुक ऑस्ट्रेलिया पढ़ता था वहां से जाने आने में प्रॉब्लम होती थी तो बहुत सारे रीजन है आप हर एक इंडिविजुअल का अपना अलग अलग हो सकता है

yahan bilkul nahi likha hai hamare constitution mein kya sir capital hai delhi bharat ki aur yah arvind kejriwal ji ne mister arvind kejriwal ji ne supreme court mein suar ke liye bhi kar diya hai tune kiya aisa hota hai ki jab se hum maine apni padhai shuru karni hai ya padh rahi hoon chhote se hi maine devi ko hi national zindagi ko hi capital mana hai bharat ka aur suna hai pada hai yahi likha hai kisi bhi I kyon poochhte hain kisi bhi state mein kisi bhi country mein jaate hain par what is the kepital of india toh delhi bola jata hai isliye isme koi bahas ka mudda nahi hai isse pehle delhi se pehle call karta ko rakha gaya tha british british usne vaah bhi change kar diya gaya hai iska reason ka cricket delhi se raj karna aasaan tha delhi se khesari states paas padti hain ek safal hoti hai kolkata tha toh kolkata book austrailia padhata tha wahan se jaane aane mein problem hoti thi toh bahut saare reason hai aap har ek individual ka apna alag alag ho sakta hai

यहां बिल्कुल नहीं लिखा है हमारे कांस्टिट्यूशन में क्या सर कैपिटल है दिल्ली भारत की और यह अ

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  49
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

shikha.bansal002

Satyam Shivam Sundaram

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय संविधान यह नहीं कहता कि दिल्ली भारत की राजधानी है यह एकदम गलत है हमारे कॉन्स्टिट्यूशन में यह कहीं पर भी नहीं लिखा है कि दिल्ली भारत की राजधानी नहीं है उसके अतिरिक्त नई दिल्ली भारत की राजधानी है नई दिल्ली भारत सरकार और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार के केंद्र के रुप में कार्य करती है और उसके अलावा दिल्ली संघ राज्य क्षेत्र के 11 जिलों में से एक है

bharatiya samvidhan yah nahi kahata ki delhi bharat ki raajdhani hai yah ekdam galat hai hamare Constitution mein yah kahin par bhi nahi likha hai ki delhi bharat ki raajdhani nahi hai uske atirikt nayi delhi bharat ki raajdhani hai nayi delhi bharat sarkar aur rashtriya raajdhani kshetra delhi sarkar ke kendra ke roop mein karya karti hai aur uske alava delhi sangh rajya kshetra ke 11 jilon mein se ek hai

भारतीय संविधान यह नहीं कहता कि दिल्ली भारत की राजधानी है यह एकदम गलत है हमारे कॉन्स्टिट्यू

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  173
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!