GST से भारत के गरीब और मध्यम वर्ग के उपभोक्ताओं को कैसे फायदा हुआ है?...


user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गरीब और मध्यम वर्ग के लाभ की बात छोड़िए जीएसटी से देश का हर वर्ग परेशान है पानी में पीएम ने कहा जीएसटी से हर चीज पर टैक्स बंद हो गए हैं जीएसटी लागू होने से कारोबारियों में प्रतिस्पर्धा बड़ी है जिसे सामान की कीमतें कम हुई है और गरीब मध्यम वर्ग को फायदा मिल रहा है पर सच्चाई कुछ अलग ही है महंगाई कम नहीं हुई बल्कि बढ़िया जीएसटी के बाद दवाओं की कीमतें 65 प्रतिशत तक बढ़ गई है इसी साल मार्च में जिस दवा की कीमत ₹16 23 पैसे थी जीएसटी लागू होने के बाद अगस्त में वही दवा 129 रुपए की हो गई है किसानों की खास महंगे हो गए हैं 21 रुपए से लेकर 145 रुपए तक के पहने हुए हैं क्यों यूरिया का एक बैग ₹284 में मिलता था अब वह 300 ₹15 हो गया है पोटाश की कीमत ₹550 से बढ़कर अब 690 रुपय हो गई है किसानी में लगभग 20% कील आदत पड़ गई है जाहिर है सामान महंगे होंगे इतने से गरीब और मध्यम वर्ग के लाभ का अंदाजा लगा लीजिए

garib aur madhyam varg ke labh ki baat chodiye gst se desh ka har varg pareshan hai paani mein pm ne kaha gst se har cheez par tax band ho gaye hai gst laagu hone se karobariyon mein pratispardha baadi hai jise saamaan ki keematein kam hui hai aur garib madhyam varg ko fayda mil raha hai par sacchai kuch alag hi hai mahangai kam nahi hui balki badhiya gst ke baad dawaon ki keematein 65 pratishat tak badh gayi hai isi saal march mein jis dawa ki kimat Rs 23 paise thi gst laagu hone ke baad august mein wahi dawa 129 rupaye ki ho gayi hai kisano ki khaas mehnge ho gaye hai 21 rupaye se lekar 145 rupaye tak ke pehne hue hai kyon urea ka ek bag Rs mein milta tha ab vaah 300 Rs ho gaya hai Potash ki kimat Rs se badhkar ab 690 rupay ho gayi hai kisaani mein lagbhag 20 keel aadat pad gayi hai jaahir hai saamaan mehnge honge itne se garib aur madhyam varg ke labh ka andaja laga lijiye

गरीब और मध्यम वर्ग के लाभ की बात छोड़िए जीएसटी से देश का हर वर्ग परेशान है पानी में पीएम न

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  15
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!