क्या भारतीय राजनीति में एजुकेशन के लिए कोई जगह नहीं है?...


play
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:34

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे भारतीय राजनीति में एजुकेशन का सबसे बड़ा महत्व है लेकिन एजुकेटेड लोग जब रहेंगे तभी तो एजुकेशन का महत्व रहेगा मुलायम सिंह यादव उत्तर प्रदेश के भूतपूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव जी की बात कर रहा हूं पिंकी जब सरकार बनती है तो खुलेआम नकल होता है सभी लोग पास होते हैं पंजाब से तमिलनाडु से लोग पास होने के लिए उत्तर प्रदेश जाते थे भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो 12 13 लाख स्टूडेंट एग्जाम छोड़ देते हैं तो जरा सोचिए किसका शासनकाल अच्छा है कि कौन एजुकेशन के लिए अच्छा कार्य करना चाहता है उत्तर प्रदेश में प्रतिभा की कमी नहीं है जो बॉलीवुड के महानायक हैं अमिताभ बच्चन वह भी उत्तर प्रदेश से बिलॉन्ग करते हैं और 8 प्रधान मंत्री उत्तर प्रदेश अकेले देने वाला है जो राष्ट्रपति हैं रामनाथ कोविंद जी वह भी उत्तर प्रदेश के आप बहुत सारे एक्टर एक्ट्रेस या किसी को भी आप देखेंगे इतिहास ठाकुर देखेंगे तो वह उत्तर प्रदेश का है तो उत्तर प्रदेश में प्रतिभा की कमी नहीं है और एजुकेशन के लिए अगर कोई सरकार कार्य करना चाहती है और कर सकती है तो भारतीय जनता पार्टी एजुकेशन का बहुत महत्व है हमारे देश को विश्वगुरु कहा जाता था पहले लेकिन आज हमने अपनी पहचान को खो दिया है फिर से हमें हमारी पहचान मिलेगी हमें अपना वोट भारतीय जनता पार्टी को करना होगा कमल के फूल पर करना होगा और फिर से हम विश्व गुरु का लाएंगे सोने की चिड़िया कहलाएगा हमारा देश धन्यवाद

dekhe bharatiya rajneeti mein education ka sabse bada mahatva hai lekin educated log jab rahenge tabhi toh education ka mahatva rahega mulayam Singh yadav uttar pradesh ke bhutpurv mukhyamantri mulayam Singh yadav ji ki baat kar raha hoon pinky jab sarkar banti hai toh khuleaam nakal hota hai sabhi log paas hote hain punjab se tamil nadu se log paas hone ke liye uttar pradesh jaate the bharatiya janta party ki sarkar banti hai toh 12 13 lakh student exam chod dete hain toh jara sochie kiska shasankal accha hai ki kaun education ke liye accha karya karna chahta hai uttar pradesh mein pratibha ki kami nahi hai jo bollywood ke mahanayak hain amitabh bachchan wah bhi uttar pradesh se Bilong karte hain aur 8 pradhan mantri uttar pradesh akele dene vala hai jo Rashtrapati hain ramnath kovind ji wah bhi uttar pradesh ke aap bahut saare actor actress ya kisi ko bhi aap dekhenge itihas thakur dekhenge toh wah uttar pradesh ka hai toh uttar pradesh mein pratibha ki kami nahi hai aur education ke liye agar koi sarkar karya karna chahti hai aur kar sakti hai toh bharatiya janta party education ka bahut mahatva hai hamare desh ko vishvaguru kaha jata tha pehle lekin aaj humne apni pehchaan ko kho diya hai phir se humein hamari pehchaan milegi humein apna vote bharatiya janta party ko karna hoga kamal ke fool par karna hoga aur phir se hum vishwa guru ka layenge sone ki chidiya kahalaega hamara desh dhanyavad

देखे भारतीय राजनीति में एजुकेशन का सबसे बड़ा महत्व है लेकिन एजुकेटेड लोग जब रहेंगे तभी तो

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  364
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kriti

Volunteer

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिकी जैसा कि हम जानते हैं कि बहुत सारे जो पॉलीटिशियंस है वह इतने एजुकेटेड नहीं है और जिस तरह से आप बात कर रहे हैं कि भारतीय राजनीति में एजुकेशन के लिए कोई जगह नहीं है तो जो जो भी लीडर बनते हैं और आगे पहुंचते हैं उनका एजुकेशन अगर हम देखें तो वह काफी पढ़े लिखे जैसे कि हम नरेंद्र मोदी जी की बात करें तो वह जो है वह हमारे देश के प्राइम मिनिस्टर है तो अपने जुकेशन से ही आगे भी बड़े हैं एक अपने एक्सपीरियंस से आगे बढ़े हैं तो अगर हमारे देश के नेताओं को नेताओं ने अगर ज्यादा पढ़ा लिखा है और ज्यादा एजुकेटेड होते तो वह काफी अच्छे से कार्य कर पाते और पॉलिटिक्स में ऐसे लोगों को ही लेना चाहिए जो किए वो एजुकेटेड हो ना कि ऐसे लोगों को जिन्होंने ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं है और वह पॉलिटिक्स में आ गए हैं

biki jaisa ki hum jante hain ki bahut saare jo politicians hai vaah itne educated nahi hai aur jis tarah se aap baat kar rahe hain ki bharatiya raajneeti mein education ke liye koi jagah nahi hai toh jo jo bhi leader bante hain aur aage pahunchate hain unka education agar hum dekhen toh vaah kaafi padhe likhe jaise ki hum narendra modi ji ki baat kare toh vaah jo hai vaah hamare desh ke prime minister hai toh apne jukeshan se hi aage bhi bade hain ek apne experience se aage badhe hain toh agar hamare desh ke netaon ko netaon ne agar zyada padha likha hai aur zyada educated hote toh vaah kaafi acche se karya kar paate aur politics mein aise logo ko hi lena chahiye jo kiye vo educated ho na ki aise logo ko jinhone zyada padha likha nahi hai aur vaah politics mein aa gaye hain

बिकी जैसा कि हम जानते हैं कि बहुत सारे जो पॉलीटिशियंस है वह इतने एजुकेटेड नहीं है और जिस त

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  361
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!