क्या सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है?...


Likes  37  Dislikes    views  907
WhatsApp_icon
13 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साथ में दूध को अच्छा बनाया जाता है पुरुषों ने कहा है ना पूजा ध्यान रखना ताजा नहीं दो-तीन दिन में खत्म हो जाता है तो क्या करते समय आ गया वह दूध

saath me doodh ko accha banaya jata hai purushon ne kaha hai na puja dhyan rakhna taaza nahi do teen din me khatam ho jata hai toh kya karte samay aa gaya vaah doodh

साथ में दूध को अच्छा बनाया जाता है पुरुषों ने कहा है ना पूजा ध्यान रखना ताजा नहीं दो-तीन द

Romanized Version
Likes  122  Dislikes    views  3207
WhatsApp_icon
user

Shailesh Kumar Dubey

Yoga Teacher , Retired Government Employee

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है क्या स्वाद सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है इसका उत्तर है जी हां सात्विक आहार में दूध को बहुत ही अच्छा माना जाता है दूध में स्वास्थ्य के लिए अधिकांशत तत्व उसमें मौजूद हैं जो हमारे शरीर को पूर्ण रूप से स्वस्थ रखने में सहायक हैं दूध है जो है सात्विक आहार में प्रमुख स्थान है दूसरा

prashna hai kya swaad Satvik aahaar me doodh ko accha mana jata hai iska uttar hai ji haan Satvik aahaar me doodh ko bahut hi accha mana jata hai doodh me swasthya ke liye adhikanshat tatva usme maujud hain jo hamare sharir ko purn roop se swasth rakhne me sahayak hain doodh hai jo hai Satvik aahaar me pramukh sthan hai doosra

प्रश्न है क्या स्वाद सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है इसका उत्तर है जी हां सात्व

Romanized Version
Likes  90  Dislikes    views  1598
WhatsApp_icon
user

Rekha Agarwal

Yoga Teacher

0:47
Play

Likes  70  Dislikes    views  736
WhatsApp_icon
user

Kavita gandhi

Founder and director Of Aasra Fitness hub....health and Fitness Expert ...Yoga Instructor ...instructor Of Aerobic .Zumba .pilate..physiotherapist Nutritionists and Weight Loss Expert

0:39
Play

Likes  65  Dislikes    views  1255
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है क्या सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना गया है या माना जाता है देखिए सात्विक आहार में दूध को अमृत की संज्ञा दी गई है दूध के साथ अकेला दिखा सकते हैं दूध के साथ रोटी भी खा सकते हैं या दूध के साथ कुछ भी उस में डाल कर आप खा सकते इसलिए दूध को छाती का हरकत सर्वोत्तम आहार माना गया है और इससे अच्छा कोई साथी का हार हो ही नहीं सकता

aapka question hai kya Satvik aahaar me doodh ko accha mana gaya hai ya mana jata hai dekhiye Satvik aahaar me doodh ko amrit ki sangya di gayi hai doodh ke saath akela dikha sakte hain doodh ke saath roti bhi kha sakte hain ya doodh ke saath kuch bhi us me daal kar aap kha sakte isliye doodh ko chhati ka harkat sarvottam aahaar mana gaya hai aur isse accha koi sathi ka haar ho hi nahi sakta

आपका क्वेश्चन है क्या सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना गया है या माना जाता है देखिए सात्

Romanized Version
Likes  237  Dislikes    views  3234
WhatsApp_icon
user

Ashish Lavania

Yoga Trainer

0:20
Play

Likes  457  Dislikes    views  3930
WhatsApp_icon
user
0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हरि ओम नमस्कार प्रश्न आपका क्या सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है ताकि कहानी हम दूध को सामान सकते हैं कोई भी जो कांड उत्पन्न ना हो वह सात्विक आहार में आती है सारे खाद्य पदार्थ तो आप दूध को सामान सकते हैं दूध का सेवन कर सकते हैं साथ में कहार में साथ-साथ अपने संतुलित आहार भी लेना है जो सात्विकता को लेकर आए हमारे मन में हमारे शरीर में तो जितने भी बिल्कुल कांड रहित खाद्य पदार्थ

hari om namaskar prashna aapka kya Satvik aahaar me doodh ko accha mana jata hai taki kahani hum doodh ko saamaan sakte hain koi bhi jo kaand utpann na ho vaah Satvik aahaar me aati hai saare khadya padarth toh aap doodh ko saamaan sakte hain doodh ka seven kar sakte hain saath me kahar me saath saath apne santulit aahaar bhi lena hai jo satwikata ko lekar aaye hamare man me hamare sharir me toh jitne bhi bilkul kaand rahit khadya padarth

हरि ओम नमस्कार प्रश्न आपका क्या सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है ताकि कहानी हम द

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  172
WhatsApp_icon
play
user

Narendar Gupta

प्राकृतिक योगाथैरिपिस्ट एवं योगा शिक्षक,फीजीयोथैरीपिस्ट

0:32

Likes  219  Dislikes    views  2471
WhatsApp_icon
play
user
0:12

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भगवान को इंजेक्शन लगाओ

bhagwan ko injection lagao

भगवान को इंजेक्शन लगाओ

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  420
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है जी हां बिल्कुल दूध जो है सातवीं कहा रही है और दूध का सेवन प्रतिदिन कर सकते हैं हमेशा ध्यान रखिए दूध बिना चीनी का लीजिए फीका नीचे यह बहुत अधिक लाभदायक है हरिया

Satvik aahaar mein doodh ko accha mana jata hai ji haan bilkul doodh jo hai satvi kaha rahi hai aur doodh ka seven pratidin kar sakte hain hamesha dhyan rakhiye doodh bina chini ka lijiye fika niche yah bahut adhik labhdayak hai hariya

सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है जी हां बिल्कुल दूध जो है सातवीं कहा रही है और द

Romanized Version
Likes  409  Dislikes    views  3376
WhatsApp_icon
user

Radha Mohan

Yoga & Naturopathy Expert

1:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं क्या सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है दोस्तों दो प्रकार की विचारधारा देखने को मिलती है दूध के संबंध में पहली विचारधाराएं शाकाहार और आयुर्वेद के अनुसार दोस्तों दूध को एक कंपलीट फूड माना गया है और इसमें दोस्तों जब हम का सेवन करते हैं तो एलसीएम के साथ-साथ हमें बहुत सारे पोषक तत्वों की प्राप्ति होती है जो हमारे शरीर के लिए आवश्यक है परंतु दोस्तों यह बात पर विशेष तौर से ध्यान देने वाली है कि दूध वह भी अच्छा है जो हमें बिना किसी केमिकल प्रोसेस है अगर बैठेगी हमें मिल रहा है आजकल दोस्त दूध की खपत ज्यादा खपत हो रही है और पूर्ति दोस्तों हो नहीं पाती है तो इसकी पूर्ति करने के लिए दोस्तों आजकल जितने भी डेयरी फॉर्म से दोस्तों अधिकतर उन में गायों को ऐसे इंजेक्शन लगाया जाता है जिससे उनकी दूध की मात्रा बढ़ जाती है जब दूध पीते हैं तो उस दूध में सात्विकता का असर दोस्तों खत्म हो जाता है वह दोस्तों इफेक्ट हो जाता है केमिकल से और उसे इंजेक्शन की वजह से तो ऐसा दोस्त तो हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं माना जाता है उसमें यह माना जाता है कि सात्विकता का असर खत्म हो गया है और यह दूध यदि हम पिएंगे हमारे दूसरे विचारधारा दोस्तों आजकल दोस्तों वेगन डाइट का बहुत ही प्रचलन तेजी से बढ़ रहा है और वीगन डाइट में दोस्तों जितने भी एनिमल प्रोडक्ट है उनको सभी को बंद किया जाता है जो भी डेरी प्रोडक्ट हैं उनका सेवन निषेध माना जाता है शुद्ध शाकाहार अपनाया जाता है जैसे दूध दही घी मक्खन आदि इनका प्रयोग वर्जित करके जो पाखी का दूसरा का है तो उसमें उसका सेवन किया जाता है यदि हम सात्विक आहार के रूप में दोस्तों मेरी बात करें तो जो बिना केमिकल प्रोसेस तो जो दूध मिल रहा है उसको हमें शाकाहार और आयुर्वेद के अनुसार दोस्तों से एक माना गया है परंतु यदि हम वेगन डाइट के अनुसार बात करते हैं तो दोस्तों से किसी भी प्रकार के दूध को इसमें शामिल नहीं किया जाता है सारे एनिमल प्रोडक्ट्स डेरी प्रोडक्ट होता है धन्यवाद

namaskar doston kaise kya Satvik aahaar mein doodh ko accha mana jata hai doston do prakar ki vichardhara dekhne ko milti hai doodh ke sambandh mein pehli vichardharaen shaakaahaar aur ayurveda ke anusaar doston doodh ko ek complete food mana gaya hai aur isme doston jab hum ka seven karte hain toh LCM ke saath saath hamein bahut saare poshak tatvon ki prapti hoti hai jo hamare sharir ke liye aavashyak hai parantu doston yah baat par vishesh taur se dhyan dene wali hai ki doodh vaah bhi accha hai jo hamein bina kisi chemical process hai agar baithegi hamein mil raha hai aajkal dost doodh ki khapat zyada khapat ho rahi hai aur purti doston ho nahi pati hai toh iski purti karne ke liye doston aajkal jitne bhi dairy form se doston adhiktar un mein gayon ko aise injection lagaya jata hai jisse unki doodh ki matra badh jaati hai jab doodh peete hain toh us doodh mein satwikata ka asar doston khatam ho jata hai vaah doston effect ho jata hai chemical se aur use injection ki wajah se toh aisa dost toh hamare swasthya ke liye accha nahi mana jata hai usme yah mana jata hai ki satwikata ka asar khatam ho gaya hai aur yah doodh yadi hum piyenge hamare dusre vichardhara doston aajkal doston vegan diet ka bahut hi prachalan teji se badh raha hai aur vegan diet mein doston jitne bhi animal product hai unko sabhi ko band kiya jata hai jo bhi dairy product hain unka seven nishedh mana jata hai shudh shaakaahaar apnaya jata hai jaise doodh dahi ghee makhan aadi inka prayog varjit karke jo pakhi ka doosra ka hai toh usme uska seven kiya jata hai yadi hum Satvik aahaar ke roop mein doston meri baat kare toh jo bina chemical process toh jo doodh mil raha hai usko hamein shaakaahaar aur ayurveda ke anusaar doston se ek mana gaya hai parantu yadi hum vegan diet ke anusaar baat karte hain toh doston se kisi bhi prakar ke doodh ko isme shaamil nahi kiya jata hai saare animal products dairy product hota hai dhanyavad

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं क्या सात्विक आहार में दूध को अच्छा माना जाता है दोस्तों दो प्रकार

Romanized Version
Likes  149  Dislikes    views  1455
WhatsApp_icon
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

3:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपकी मन के अंदर एलोपैथिक सिस्टम की कल्पना यह है एलोपैथिक के सिस्टम और यूरोपियन जो पढ़ाई की सिस्टम है एजुकेशन सिस्टम है उसके द्वारा आपके मन में एक प्रकार के भी खुश और क्या कहते हैं कि आप लोगों के पास कोई ज्ञान युक्त विचारधारा नहीं है आप सोचते हैं कि से दूध महात्मा गांधी के साथ एक व्यक्ति मानता था कि दूध मांसाहारी है तो आप लोग जन्म से अपनी मां का दूध पीते हैं तो मनुष्य मानव भक्षक नहीं बन जाता है या उसको मानव भक्षक नहीं कर सकते हैं यह सारी दूध गाय का दूध के परम शास्त्री चीज है गाय का मांस से भयंकर विकृति जाता है भैंस बकरी बकरी बकरी का दूध भी अच्छा है उसका भी दूध अच्छा है और जितने भी पशु पक्षियों पक्षियों और प्राणियों के जूते वह भी एक अच्छी चीज है उसका अनेक प्रकार का फायदा होता है परंतु जो मांसाहार है और दूसरे व्यक्ति को दूर करता है और शरीर को हानि पहुंचाता है तो आप लोग यह मत मानिए कि दूध एक प्रकृति के शाकाहारी नहीं है दूध शाकाहारी है गाय शाकाहारी प्राणी है मां शाकाहारी माता है मनुष्य की मां भी शाकाहारी है शाकाहार और ऐसे करने से एक साथ विभिन्न वाला भी जाता है छोटे बच्चे की मां यदि भारी प्रदर्शन खाएगी मसमा शहर को करेगी तो उसका दूध पीने से भारत केसरी के अंदर अनेक प्रकार के दोस्त खड़े होते हैं श्री जो बालक को जन्म देती है और स्त्री शाकाहार करेगी दूध चौधरी का प्रयोग करेंगे गेहूं के आटे के अंदर आज ढाई सौ ग्राम आर्ट के अंदर ढाई सौ ग्राम 200 ग्राम गाय का भैंस का डाल कर के वह 5G रोटी बनाकर के भक्ति बनाकर के दोस्त विकास तभी जबरदस्त शक्तिशाली हो जाता है आप लोग जो हरा मूंग मूंग के हो आप 50 ग्राम 100 ग्राम उसको बाल करके उसको स्वाद के अनुसार चाहे तो काली मिर्च का पाउडर सेंधा नमक ना डाल सकते हैं और नहीं यह डालिए साधारण नमक भी डाल सकते हैं उसके अंदर 20 25 50 का डीपी डालिए और उसको बिल्कुल घोटकर क्या पूछा का धर्म गरम-गरम चाय पीजिए आपके शरीर के अंदर जबरदस्त थी पैदा होगी और दूध और शाकाहारी जो बीज वगैरह सभी के मूलभूत आहार है और आप ऐसा मत सोचिए कि दूध को अच्छा माना जाता है नहीं माना जाता है साथ लिखे नहीं है ऐसी कल्पना की बातों को छोड़ दीजिए आप लोग तुम्हारा आगे समाज जागृत हॉस्पिटल के वीडियो को पढ़ने के लिए बार-बार हमें अनुरोध करते हैं हमारे ऑनलाइन पर आर्य समाज आयुर्वेद औषधि निर्माण प्रयोगशाला के प्रति पत्र भी आपको मिल जाएगा उसका अच्छी तरह से लिंग करिए अच्छी तरह से सोचिए और मशीनें के लिए मनुष्य के सभी को बचाने के लिए भयानक रोगों से बचाने के लिए कोई भी भयंकर रोगों कोरोनावायरस और दूसरा तीसरा जो भी हमारे पास सारी मेडिसिन मेडिसिन पूरी में हमारी मेडिकल ट्रीटमेंट सिस्टम है आप लोग आइए और अपनी जिंदगी को अपने आयुष्य को बताइए और दिन का इस्तेमाल से बचें धन्यवाद

aapki man ke andar allopathic system ki kalpana yah hai allopathic ke system aur european jo padhai ki system hai education system hai uske dwara aapke man me ek prakar ke bhi khush aur kya kehte hain ki aap logo ke paas koi gyaan yukt vichardhara nahi hai aap sochte hain ki se doodh mahatma gandhi ke saath ek vyakti maanta tha ki doodh masahari hai toh aap log janam se apni maa ka doodh peete hain toh manushya manav bakshak nahi ban jata hai ya usko manav bakshak nahi kar sakte hain yah saari doodh gaay ka doodh ke param shastri cheez hai gaay ka maas se bhayankar vikriti jata hai bhains bakri bakri bakri ka doodh bhi accha hai uska bhi doodh accha hai aur jitne bhi pashu pakshiyo pakshiyo aur praniyo ke joote vaah bhi ek achi cheez hai uska anek prakar ka fayda hota hai parantu jo mansahaari hai aur dusre vyakti ko dur karta hai aur sharir ko hani pohchta hai toh aap log yah mat maniye ki doodh ek prakriti ke shakahari nahi hai doodh shakahari hai gaay shakahari prani hai maa shakahari mata hai manushya ki maa bhi shakahari hai shaakaahaar aur aise karne se ek saath vibhinn vala bhi jata hai chote bacche ki maa yadi bhari pradarshan khaegee masama shehar ko karegi toh uska doodh peene se bharat kesari ke andar anek prakar ke dost khade hote hain shri jo balak ko janam deti hai aur stree shaakaahaar karegi doodh choudhary ka prayog karenge gehun ke aate ke andar aaj dhai sau gram art ke andar dhai sau gram 200 gram gaay ka bhains ka daal kar ke vaah 5G roti banakar ke bhakti banakar ke dost vikas tabhi jabardast shaktishali ho jata hai aap log jo hara moong moong ke ho aap 50 gram 100 gram usko baal karke usko swaad ke anusaar chahen toh kali mirch ka powder sendha namak na daal sakte hain aur nahi yah daaliye sadhaaran namak bhi daal sakte hain uske andar 20 25 50 ka dipi daaliye aur usko bilkul ghotakar kya poocha ka dharm garam garam chai PGA aapke sharir ke andar jabardast thi paida hogi aur doodh aur shakahari jo beej vagera sabhi ke mulbhut aahaar hai aur aap aisa mat sochiye ki doodh ko accha mana jata hai nahi mana jata hai saath likhe nahi hai aisi kalpana ki baaton ko chhod dijiye aap log tumhara aage samaj jagrit hospital ke video ko padhne ke liye baar baar hamein anurodh karte hain hamare online par arya samaj ayurveda aushadhi nirmaan prayogshala ke prati patra bhi aapko mil jaega uska achi tarah se ling kariye achi tarah se sochiye aur mashinen ke liye manushya ke sabhi ko bachane ke liye bhayanak rogo se bachane ke liye koi bhi bhayankar rogo coronavirus aur doosra teesra jo bhi hamare paas saari medicine medicine puri me hamari medical treatment system hai aap log aaiye aur apni zindagi ko apne ayushya ko bataiye aur din ka istemal se bache dhanyavad

आपकी मन के अंदर एलोपैथिक सिस्टम की कल्पना यह है एलोपैथिक के सिस्टम और यूरोपियन जो पढ़ाई की

Romanized Version
Likes  116  Dislikes    views  365
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!