आप अपने व्यक्तित्व को कैसे बदलते हैं?...


user

Trushar Patel

Psychologist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

પર્સનાલિટી ચંદ્રિકા ઇસકે પહેલા હમ તો ઉસકે પહેલો પ્રસંગ છે કે આપણે ક્યા કરતે હૈ અભી ક્યા કરના સાથે તો એસા બોલતે હે કે મેં કુછ કર નહી તો પહેલે સાઉથ કા સબસે બડા સા થોડા ચેન્જ કરના ચાહિયે કિસી કી યાદ મુજે રોજ આતી કી મેરે દિલ સે કેસે કરને કા હૈ ઉસકો પતા હૈ હમકો સામેવાળી વ્યક્તિ કૈસે હોતે હૈ ઉસકો ભી કુછ કર રહે હો કેસે બોલતે હે હમકો તો ઉસકી કેસરી રંગ બહારા થયું હો તુમ કો દેખના હૈ

પર્સનાલિટી ચંદ્રિકા ઇસકે પહેલા હમ તો ઉસકે પહેલો પ્રસંગ છે કે આપણે ક્યા કરતે હૈ અભી ક્યા ક

Likes  3  Dislikes    views  80
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sonam Chhatwani

Counseling and Rehabilitation Psychologist

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पागलपंती वाली बात तो यह है कि पहले तो एक्सेप्ट कर लूंगा मैं आपको समझ नहीं आ रही हूं 1 दिन की हारमनी की गई इस वजह से मुझे यह दुआ एम के चेंजिंग कार्टून को धीरे धीरे धीरे धीरे धीरे कर लिया तो बात करी थी आपको सबसे ज्यादा डर क्यों लगता है

pagalpanti wali baat toh yah hai ki pehle toh except kar lunga main aapko samajh nahi aa rahi hoon 1 din ki harmani ki gayi is wajah se mujhe yah dua M ke changing cartoon ko dhire dhire dhire dhire dhire kar liya toh baat kari thi aapko sabse zyada dar kyon lagta hai

पागलपंती वाली बात तो यह है कि पहले तो एक्सेप्ट कर लूंगा मैं आपको समझ नहीं आ रही हूं 1 दिन

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  373
WhatsApp_icon
play
user

Kanika Rungta

Child Counselor

1:53

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वीके जौहरी पर्सनालिटी होती है एक हमारा टेंपो में जो 1 बच्चे का शुरू से टेंपरामेंट होता है कई बच्चे शुरू से चंचल होते हैं कई शुरू से ही बहुत शर्मीले होते हैं मान लीजिए एक बच्चा है जो बहुत ही शर्मिंदा है उसको ऐसा एनवायरमेंट मिला है जहां पर उसकी रेगुलर बाहर आना जाना लगा वह कैसा रहे हैं घर में या उसकी प्रेरक थिएटर आईबॉल होम थिएटर में परफॉर्म करता है स्टेज पर करता है तो उसकी पर्सनैलिटी धीरे-धीरे शाय है और धीरे-धीरे ओल्ड होती जाएगी और वह अब तू अपने आप को खोलो पर्सनालिटी जो है कोई ड्रामा हुआ या तू ही तुषार घटना घटी जिसमें उन्हें बहुत ज्यादा अपडेट कराओ तूतीकोरिन रेस्ट करने के लिए धीरे-धीरे और वह धीरे-धीरे उनके आ सकता है शेड्यूल

VK jauhri personality hoti hai ek hamara tempo mein jo 1 bacche ka shuru se temparament hota hai kai bacche shuru se chanchal hote hain kai shuru se hi bahut sharmile hote hain maan lijiye ek baccha hai jo bahut hi sharminda hai usko aisa environment mila hai jaha par uski regular bahar aana jana laga vaah kaisa rahe hain ghar mein ya uski prerak theater iball home theater mein perform karta hai stage par karta hai toh uski personality dhire dhire shay hai aur dhire dhire old hoti jayegi aur vaah ab tu apne aap ko kholo personality jo hai koi drama hua ya tu hi tushaar ghatna ghati jisme unhe bahut zyada update karao tuticorin rest karne ke liye dhire dhire aur vaah dhire dhire unke aa sakta hai schedule

वीके जौहरी पर्सनालिटी होती है एक हमारा टेंपो में जो 1 बच्चे का शुरू से टेंपरामेंट होता है

Romanized Version
Likes  119  Dislikes    views  1495
WhatsApp_icon
user
1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दो तरह के होते हैं बेटी अपनी पर्सनालिटी पर्सनालिटी भी सोते हैं यह बच्ची करना चाहते हैं यह बहुत क्या होते हैं तो हम कैसे टाइप ए पर्सनालिटी गुस्सा होता है जो सोचना है कि किस चीज में फायदा है और किस चीज में लगता है सारी दुनिया के रस्ते पर आओ

do tarah ke hote hain beti apni personality personality bhi sote hain yah bachi karna chahte hain yah bahut kya hote hain toh hum kaise type a personality gussa hota hai jo sochna hai ki kis cheez mein fayda hai aur kis cheez mein lagta hai saree duniya ke raste par aao

दो तरह के होते हैं बेटी अपनी पर्सनालिटी पर्सनालिटी भी सोते हैं यह बच्ची करना चाहते हैं यह

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  293
WhatsApp_icon
user
1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अपने व्यक्तित्व को कैसे बदले बहुत ही अच्छा प्रश्न है लेकिन तू को बदला बदल ना कोई बड़ी घटना नहीं बड़ा सरल है आप अपने व्यवहार पर ही सब कुछ निर्भर होता है यदि आपको कोई व्यक्ति है बताता है कि आपके व्यक्तित्व में यह कमी है या आपके वाचल पर्वती में यह कमी है या आपके शब्दों में यह कमी है क्या आपके मन में यह कमी है तो उसे स्वीकार करें और उसे स्वीकार करके उसे संशोधित करने के प्रयत्न करें उसमें सुधार करने का प्रयत्न करें वह व्यक्ति या मित्र आपका एक आईने के संबंधों पर जो आपको आर्थिक स्थिति बताता है कि आपका व्यक्तित्व क्या है और आप किस तरह का जीवन जी रहे हो और उस जीवन को कितना अच्छे ढंग से सुधार के उर्वशी तरह से आप अपने आपको आपके व्यक्तित्व को निकालते हो अपने व्यक्तित्व को निखारने के लिए अपने मित्र अपने परिवार और अपने से छोटे बड़े व्यक्ति जो कोई भी हमें इसी प्रकार की राय देता है और हमें लगता है कि वास्तव में इसके राय का इसे भी कोई गलत नहीं है तो उसे उसमें अपने परिवर्तन करके अपने व्यक्तित्व को निकालना चाहिए पिक नहीं तो कल बोले जाने से निकलता नहीं आपके रहने चलने साफ-सुथरे कपड़े पहने जूते चप्पल बगैर व्यवस्थित पहनने आदि के कारण और अनुशासन के कारण आपका व्यक्तित्व बड़ा अच्छा सा अनुभव होगा और निकलेगा

aap apne vyaktitva ko kaise badle bahut hi accha prashna hai lekin tu ko badla badal na koi baadi ghatna nahi bada saral hai aap apne vyavhar par hi sab kuch nirbhar hota hai yadi aapko koi vyakti hai batata hai ki aapke vyaktitva mein yah kami hai ya aapke vachal parvati mein yah kami hai ya aapke shabdon mein yah kami hai kya aapke man mein yah kami hai toh use sweekar kare aur use sweekar karke use sanshodhit karne ke prayatn kare usme sudhaar karne ka prayatn kare vaah vyakti ya mitra aapka ek aaine ke sambandhon par jo aapko aarthik sthiti batata hai ki aapka vyaktitva kya hai aur aap kis tarah ka jeevan ji rahe ho aur us jeevan ko kitna acche dhang se sudhaar ke urvashi tarah se aap apne aapko aapke vyaktitva ko nikalate ho apne vyaktitva ko nikharne ke liye apne mitra apne parivar aur apne se chote bade vyakti jo koi bhi hamein isi prakar ki rai deta hai aur hamein lagta hai ki vaastav mein iske rai ka ise bhi koi galat nahi hai toh use usme apne parivartan karke apne vyaktitva ko nikalna chahiye pic nahi toh kal bole jaane se nikalta nahi aapke rehne chalne saaf suthre kapde pehne joote chappal bagair vyavasthit pahanne aadi ke karan aur anushasan ke karan aapka vyaktitva bada accha sa anubhav hoga aur niklega

आप अपने व्यक्तित्व को कैसे बदले बहुत ही अच्छा प्रश्न है लेकिन तू को बदला बदल ना कोई बड़ी घ

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  189
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!