माता-पिता जिनके बच्चे डिस्लेक्सिया की स्थिति से कैसे निपटते हैं?...


user

Anjana Baliga

Counselor

3:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो मैं आपको बता दूं डिस्लेक्सिया जो है कोई बीमारी नहीं है यह कुछ समय बाद बिल्कुल ठीक हो सकती है आपको सिर्फ बच्चों के साथ थोड़ा सा प्यार और प्रयत्न करना है डिस्लेक्सिया में या तो बच्चा जो है अफसरों को पहचान नहीं पाता बीडी सबसे पहले बच्चे को जब भी आप एप्पल दिखाती हैं तो क्या वह एप्पल बोल पाता है क्या आप उसको पूछे उसके मन में एप्पल का दृश्य आ रहा है कि नहीं क्या उस बच्चे के माइंड में पिक्चर बन रही है तुम्हें फिर आप उससे कुछ मिट्टी में लिखवाया अपने हाथों पर उस अफसरों को लिखवाने की कोशिश करिए कि यह है यह भी है तो बच्चा जब अपनी उंगलियों से उन अफसरों को आकर हाथ पर लिखेगा तो वह टेक्स्ट मतलब तू कर लिख रहा होता अफसरों को तो इससे भी आपकी समस्या दूर हो सकती दूसरा आप एक काम करिए आज ही एक बड़ा सा रंगों का पैकेट मंगवा लीजिए जो मॉम के रंग होते क्रेयॉन कलर और कलर से एक बड़े से पेपर पर ही हो जो चार्ट पेपर होता है बच्चा जिस भी अक्षर को नहीं लिख पा रहा उसकी साइज को बढ़ा दीजिए उस पेपर पर और उसके दीवार पर लगा दीजिए और उसको उस बच्चे को कहिए कि यह वाला अक्सर जो लाल अक्षर में लिखा है वह है या भी है कई बार डिसलेक्सिक बच्चे जो है बीआरडी में फर्क नहीं कर पाते तो उनको फर्क बताइए जैसे जब हम भी छोटा भी लिखते हैं तो उसका पेट जो है वह सीधे हाथ को है तो उसको बताना कि आपका जो बच्चे का सीधा हाथ है उसका पेट भी सीधे हाथ को तो उसको कहना कि एक लड़का जो है सीधे तरफ चल रहा मिला आपके राइट हैंड साइड को चल रहा है और जो बता कडक डी फॉर डॉग बटक है वह उल्टे हाथ को चल रही है तो जब आप उसको सीधा और उल्टे के रूप में समझा एंगे मतलब दिखा दिखा शुरू करेंगे तुझे प्रॉब्लम धीरे-धीरे सॉल्व हो जाएगी क्योंकि उसके मन में दिशा आने लग जाएगी कि यह इस दिशा में मुझे बोला ही बनानी है उस दिशा में गोलाई बनाने से यह वाला पर बनता है तो और कलर से उसको डिफरेंट सेट करिए कि 1 वर्ड आफ बड़ा सा लिखिए मान लो आप डीयूसी के ही लिख रहे हैं तो आप उसको बड़ा बड़ा नीले अक्षरों में लिखिए और बच्चे को कहिए इन अक्षरों को देखो दो-तीन बार देखो और आंखें बंद करके उनको बक्सर को पढ़ो और इन अक्षरों को और भी बढ़ा करनी है वह अपनी मन की आंखों में जैसी सुपरमैन स्पाइडरमैन की पिक्चर देखती हूं इतना बड़ा कर ले सबको और जब वह बड़े बड़े अक्षरों को देखेगा और उसको बोला अब इसकी स्पेलिंग पड़े तो जब वह बड़े बड़े अक्षरों में डी यू सी के नीले अक्षरों में पड़ेगा तो वह धीरे-धीरे इस प्रॉब्लम से बाहर आने के लिए सक्षम हो जाएगा तो ऐसे बच्चों को हम लोग थेरेपी में पांच से सेशंस देकर उनको इस प्रॉब्लम से बाहर ले आते हैं तो आप कलर थेरेपी और उनको दिशा बताना डायरेक्शन बताना हाथ पर लिखवा ना कोई चीजों को यह सब करके इन बच्चों को दिन मतलब कंसिस्टेंटली रोज करवाना रोज करते हैं तो कुछ दिन बाद यह प्रॉब्लम सॉल्व हो जाती है देखिए कहते हैं चढ़कर अभ्यासी कुछ मिलता है तो एवरीडे मतलब रोज अभ्यास करेंगे तो बच्चे को डिस्लेक्सिया से बाहर निकाल सकते हैं थैंक यू गॉड ब्लेस यू

sabse pehle toh main aapko bata doon dyslexia jo hai koi bimari nahi hai yah kuch samay baad bilkul theek ho sakti hai aapko sirf baccho ke saath thoda sa pyar aur prayatn karna hai dyslexia me ya toh baccha jo hai afsaron ko pehchaan nahi pata BD sabse pehle bacche ko jab bhi aap apple dikhati hain toh kya vaah apple bol pata hai kya aap usko pooche uske man me apple ka drishya aa raha hai ki nahi kya us bacche ke mind me picture ban rahi hai tumhe phir aap usse kuch mitti me likhwaya apne hathon par us afsaron ko likhwane ki koshish kariye ki yah hai yah bhi hai toh baccha jab apni ungaliyon se un afsaron ko aakar hath par likhega toh vaah text matlab tu kar likh raha hota afsaron ko toh isse bhi aapki samasya dur ho sakti doosra aap ek kaam kariye aaj hi ek bada sa rangon ka packet mangwa lijiye jo mom ke rang hote kreyan color aur color se ek bade se paper par hi ho jo chart paper hota hai baccha jis bhi akshar ko nahi likh paa raha uski size ko badha dijiye us paper par aur uske deewaar par laga dijiye aur usko us bacche ko kahiye ki yah vala aksar jo laal akshar me likha hai vaah hai ya bhi hai kai baar disleksik bacche jo hai BRD me fark nahi kar paate toh unko fark bataiye jaise jab hum bhi chota bhi likhte hain toh uska pet jo hai vaah sidhe hath ko hai toh usko batana ki aapka jo bacche ka seedha hath hai uska pet bhi sidhe hath ko toh usko kehna ki ek ladka jo hai sidhe taraf chal raha mila aapke right hand side ko chal raha hai aur jo bata kadak d for dog buttock hai vaah ulte hath ko chal rahi hai toh jab aap usko seedha aur ulte ke roop me samjha enge matlab dikha dikha shuru karenge tujhe problem dhire dhire solve ho jayegi kyonki uske man me disha aane lag jayegi ki yah is disha me mujhe bola hi banani hai us disha me golai banane se yah vala par banta hai toh aur color se usko different set kariye ki 1 word of bada sa likhiye maan lo aap DUC ke hi likh rahe hain toh aap usko bada bada neele aksharon me likhiye aur bacche ko kahiye in aksharon ko dekho do teen baar dekho aur aankhen band karke unko buxar ko padho aur in aksharon ko aur bhi badha karni hai vaah apni man ki aakhon me jaisi superman spaidaramain ki picture dekhti hoon itna bada kar le sabko aur jab vaah bade bade aksharon ko dekhega aur usko bola ab iski spelling pade toh jab vaah bade bade aksharon me d you si ke neele aksharon me padega toh vaah dhire dhire is problem se bahar aane ke liye saksham ho jaega toh aise baccho ko hum log therapy me paanch se seshans dekar unko is problem se bahar le aate hain toh aap color therapy aur unko disha batana direction batana hath par likhva na koi chijon ko yah sab karke in baccho ko din matlab kansistentali roj karwana roj karte hain toh kuch din baad yah problem solve ho jaati hai dekhiye kehte hain chadhakar abhyasi kuch milta hai toh everyday matlab roj abhyas karenge toh bacche ko dyslexia se bahar nikaal sakte hain thank you god bless you

सबसे पहले तो मैं आपको बता दूं डिस्लेक्सिया जो है कोई बीमारी नहीं है यह कुछ समय बाद बिल्कुल

Romanized Version
Likes  458  Dislikes    views  2930
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Supriya More

Educational Psychologist/Lecturer

2:05

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो सबसे पहले है कि उनको इसकी इंफॉर्मेशन बहुत अच्छी तरह देनी है बहुत बार बाय पैरंट्स को डर जाता है कि यह क्या बड़ी चीज है एलजी है यह क्या है तो उनको प्रॉपर्ली उनको समझाना है कि अब जाके व्हाट इस प्रॉब्लम से बाहर निकल सकता है क्या काम करना होता है तो हम अगर इनको बस्त्र अल्टरनेटिव दे सकते हैं बहुत सारे चीज भेज सकेंगे तो क्या करोगी तुम को अलग-अलग कन्फेशंस अवेलेबल है कि वह लैंग्वेज चेंज कर सकते हैं लैंग्वेज के बजाय दूसरे सकते हैं इसकी जानकारी नहीं होती है पेरेंट्स को यह जानकारी देंगे बहुत जरूरी होती है कि अभी है डिसऑर्डर इसमें आपकी गलती नहीं है इससे बाहर निकल सकते हो स्कूल में बच्चों के लिए कन्फेशन बोर्ड कंसेशन देती है वह कंसेशन काफी उसका उसकी जगह स्कूल प्रोग्राम पैरंट्स करते हैं बच्चों के लिए हमें अलग होता है तो राइटर की भी हद होती है

jo sabse pehle hai ki unko iski information bahut achi tarah deni hai bahut baar bye Parents ko dar jata hai ki yah kya badi cheez hai LG hai yah kya hai toh unko properly unko samajhana hai ki ab jake what is problem se bahar nikal sakta hai kya kaam karna hota hai toh hum agar inko bastra Alternative de sakte hain bahut saare cheez bhej sakenge toh kya karogi tum ko alag alag confessions available hai ki vaah language change kar sakte hain language ke bajay dusre sakte hain iski jaankari nahi hoti hai parents ko yah jaankari denge bahut zaroori hoti hai ki abhi hai disorder isme aapki galti nahi hai isse bahar nikal sakte ho school mein baccho ke liye confession board concession deti hai vaah concession kaafi uska uski jagah school program Parents karte hain baccho ke liye hamein alag hota hai toh writer ki bhi had hoti hai

जो सबसे पहले है कि उनको इसकी इंफॉर्मेशन बहुत अच्छी तरह देनी है बहुत बार बाय पैरंट्स को डर

Romanized Version
Likes  115  Dislikes    views  1550
WhatsApp_icon
user

Dr. Ratna Sharma

Psychologist/Counselor

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इतना ज्यादा फ्रेंडली तरीके पर और उसको जितना ज्यादा इंटरेस्ट करते हुए इसे क्यों होती है पेरेंट्स को कैसे बच्चा होता है गोविंद को सूचित किया जाता है और उसको करनी रहती है

itna zyada friendly tarike par aur usko jitna zyada interest karte hue ise kyon hoti hai parents ko kaise baccha hota hai govind ko suchit kiya jata hai aur usko karni rehti hai

इतना ज्यादा फ्रेंडली तरीके पर और उसको जितना ज्यादा इंटरेस्ट करते हुए इसे क्यों होती है पेर

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  261
WhatsApp_icon
user

Kanika Rungta

Child Counselor

2:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो पेरेंट्स अपने बच्चों को सबसे पहले बिल्कुल भी यह सोचना छोड़ दी थी इसका एटीट्यूट एक लापरवाह और कामना करते वाला है बच्चा अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रहा है पर अगर उसकी प्रोसेसिंग में अगर है तो उसका आउटपुट हमेशा अच्छा के प्रसिद्ध आपको उसको डील करने का सबसे पहला स्टेप है आप उसको पहचान है इसका टाइम सेट किया किस एरिया में है रीडिंग में राइटिंग पर नाचती लैंग्वेज में शब्द अर्थ लक्ष्य अलग अलग तरीके से दिखता है उनकी मात्राएं जो हिंदी की होती है उन सब में हमेशा गढवी करेगा राइटिंग में होगा तो उसकी राइटिंग कंपलेक्स होगी और लिखने में उसको हमेशा प्रॉब्लम इस तरह से ही लैंग्वेज और रात में गलतियां आती जाएगी और इससे डील करने का सबसे अच्छा तरीका है इसकी जो बच्चे कैसे होते हैं पोजीशन है बड़े बड़े अक्षरों में छोटे छोटे पैराग्राफ दे नहीं पढ़ पाए ना समझ पाए जाते उसको लिखने की कोशिश करें अगर आप उनको कि वोट देंगे पैराग्राफ पैराग्राफ को सिर्फ 2 मिनट छोटा करते तो उसकी पूरी इंफॉर्मेशन भी ले ली थी और उसको आगे लिखती पर यह सब इंटररिलेटेड होता है टाइप राइटिंग स्पेलिंग छोटे-छोटे टुकड़ों में डिवाइड करके उन्हें बताएं कैसे आ गए हैं एक वर्ड मान लीजिए इंग्लिश का एक बताते हैं आपको एग्जांपल है एग्जाम 1 वर्ड करो सपोर्ट करो उसको लिखो बड़ा बड़ा करके दो कलर में एक कलर में एग्जाम बीच में ठंडाई आ जाए दूसरे कलर में कौन लिखो ताकि उसे बच्चे को समझाइए दो अलग-अलग जाम और उसकी ट्रीटमेंट इन इंफॉर्मेशन इन छोटे-छोटे बिट्स एंड पीसेज और साथ में एक नाटक पिक्चर हेल्थ पैक अनलॉक्ड

jo parents apne baccho ko sabse pehle bilkul bhi yah sochna chod di thi iska etityut ek laaparavaah aur kamna karte vala hai baccha apni taraf se puri koshish kar raha hai par agar uski processing mein agar hai toh uska output hamesha accha ke prasiddh aapko usko deal karne ka sabse pehla step hai aap usko pehchaan hai iska time set kiya kis area mein hai reading mein writing par nachati language mein shabd arth lakshya alag alag tarike se dikhta hai unki matraen jo hindi ki hoti hai un sab mein hamesha gadhavi karega writing mein hoga toh uski writing complex hogi aur likhne mein usko hamesha problem is tarah se hi language aur raat mein galtiya aati jayegi aur isse deal karne ka sabse accha tarika hai iski jo bacche kaise hote hain position hai bade bade aksharon mein chote chhote Paragraph de nahi padh paye na samajh paye jaate usko likhne ki koshish kare agar aap unko ki vote denge Paragraph Paragraph ko sirf 2 minute chota karte toh uski puri information bhi le li thi aur usko aage likhti par yah sab intararileted hota hai type writing spelling chote chhote tukadon mein divide karke unhe bataye kaise aa gaye hain ek word maan lijiye english ka ek batatey hain aapko example hai exam 1 word karo support karo usko likho bada bada karke do color mein ek color mein exam beech mein thandai aa jaaye dusre color mein kaun likho taki use bacche ko samjhaiye do alag alag jam aur uski treatment in information in chote chhote bits and pieces aur saath mein ek natak picture health pack unlocked

जो पेरेंट्स अपने बच्चों को सबसे पहले बिल्कुल भी यह सोचना छोड़ दी थी इसका एटीट्यूट एक लापरव

Romanized Version
Likes  116  Dislikes    views  1493
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!