क्या लड़कियां को माता पिता के कहने पर शादी करना चाहिए या लड़कियां को खुद से करनी चाहिए? इसपर आपका क्या विचार है?...


user

Ruchi Garg

Counsellor and Psychologist(Gold MEDALIST)

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विचित्र हम बात करते हैं हम समझ पा रही हो अब लव मैरिज और अरेंज मैरिज की बात करेंगे तो दोनों ही सही है दोनों में से कोई भी जो है तेरी शादी करने का गलत नहीं है लव मैरिज में आप उस लड़की को थोड़ा ज्यादा जानती हैं और उसके बारे में पूरा गागा जानती हैं और उसके बाद आप उससे शादी करती है अरेंज मैरिज में अरेंज मैरिज में जो है आप थोड़ा कम जानती हैं शादी के बाद जो है डिस्कवर करने लगती हैं वह भी बहुत एक्साइटिंग मीनिंग होता है कि आप नई नई बातें उनके बारे में जान रही है और समझ रही हैं दोनों में से कोई भी गलत नहीं है महंगी दोनों की अपने-अपने फ्रोजन कौन से कुछ अच्छी बातें होती है लव मैरिज में कुछ बुरी बातें होती हैं कुछ अच्छी बातें पर ही नहीं मारे गए होते तो पूरी बातें होती हैं जैसे कि यह बात बहुत जरूरी है समझ में लव मैरिज में कि जो इंसान जो आपका बॉयफ्रेंड शादी के बाद उसमें फुल आफ चेंजेज देखेंगे क्योंकि शादी के बाद काफी सारी रिस्पांसिबिलिटीज आ जाती है लड़के पर और लड़की पर भी उसके अंदर आपको जो है इसके अलावा अरेंज मैरिज में यह है कि जो आप ज्यादा जानते नहीं हैं उनके बारे में तो आप ज्यादा एक्सपेक्ट नहीं कर सकती हैं और हो सकता है कि आपको ऐसा करैक्टेरिस्टिक उनसे उनका मिले जो आपको लगे कि आज यह पहले चीज बताओ कि तो शायद मैं इस शादी में हाथ नहीं डालती तू हर दोनों ही रिलेशनशिप के पूजन कौनसी है आपको जो बेहतर लगेगा आपको कोई अच्छा लग रहा है और आपको लगता है कि आप उसे जिंदगी बिताना चाहेंगे तो आप शादी कर सकते हैं लोग मांस अगर कोई नहीं आप कुछ ठीक लग रहा है तो माता पिता के कहने से कर सकते हैं

vichitra hum baat karte hain hum samajh paa rahi ho ab love marriage aur arrange marriage ki baat karenge toh dono hi sahi hai dono mein se koi bhi jo hai teri shadi karne ka galat nahi hai love marriage mein aap us ladki ko thoda zyada jaanti hain aur uske bare mein pura gaga jaanti hain aur uske baad aap usse shadi karti hai arrange marriage mein arrange marriage mein jo hai aap thoda kam jaanti hain shadi ke baad jo hai discover karne lagti hain vaah bhi bahut exciting meaning hota hai ki aap nayi nayi batein unke bare mein jaan rahi hai aur samajh rahi hain dono mein se koi bhi galat nahi hai mehengi dono ki apne apne frozen kaunsi kuch achi batein hoti hai love marriage mein kuch buri batein hoti hain kuch achi batein par hi nahi maare gaye hote toh puri batein hoti hain jaise ki yah baat bahut zaroori hai samajh mein love marriage mein ki jo insaan jo aapka boyfriend shadi ke baad usme full of changes dekhenge kyonki shadi ke baad kaafi saree rispansibilitij aa jaati hai ladke par aur ladki par bhi uske andar aapko jo hai iske alava arrange marriage mein yah hai ki jo aap zyada jante nahi hain unke bare mein toh aap zyada expect nahi kar sakti hain aur ho sakta hai ki aapko aisa karaikteristik unse unka mile jo aapko lage ki aaj yah pehle cheez batao ki toh shayad main is shadi mein hath nahi daalti tu har dono hi Relationship ke pujan kaunsi hai aapko jo behtar lagega aapko koi accha lag raha hai aur aapko lagta hai ki aap use zindagi bitana chahenge toh aap shadi kar sakte hain log maas agar koi nahi aap kuch theek lag raha hai toh mata pita ke kehne se kar sakte hain

विचित्र हम बात करते हैं हम समझ पा रही हो अब लव मैरिज और अरेंज मैरिज की बात करेंगे तो दोनों

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  1137
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user
2:18

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या लड़कियों को माता पिता के कहने पर शादी करना चाहिए यह लड़कियों को कैसे करनी चाहिए इस पर विचार मांगे गए आपके धर्म बहुत अच्छा प्रश्न है कल से हम देखते आ रहे हैं कि लड़की के माता-पिता द्वारा जो निर्णय ले जाता था उसे लड़के द्वारा मान लिया जाता था और उस बताई जगह पर उस वह विवाह कर लेते थे वह लगभग 75% से अधिक सफल रहे हैं ऐसा नहीं है कि माता-पिता ने कोई गलत रिश्ता बताया या गलत लड़के के साथ उसके शादी में हो कर दी पंतु परिस्थितियां बदली समय बदला शिक्षा का स्तर बढ़ा शिक्षा का स्तर में क्या हुआ फल सिर्फ लड़कियों को पढ़ने भेजा जा रहा है और आज लगभग सभी लड़कियां शिक्षित है वह शिक्षा के द्वारा अपने आप को एक योग्य बना रही है और स्वयं भी निर्णय लेने में सक्षम हो पूर्व की लड़कियां अशिक्षित या कम पढ़ी लिखी थी और ज्यादा ही संस्कारी थी जो माता-पिता के आदेशों का पालन मानती थी और उनसे एक कदम भी आगे बनना पसंद नहीं करते थे परंतु वर्तमान में यह स्थिति नहीं है लड़कियां अपने आप को स्वतंत्र इसी अवस्था में ले आई है माता-पिता के विचारों से आगे चलने को तैयार हैं माता-पिता को कन्वेंस करने को तैयार है तो आज इसलिए है कि माता-पिता के साथ साथ में स्वयं लड़की ने खुद ने निर्णय लेना चाहिए यदि लड़का माता-पिता तरह बताएगा तो उसे मिले उसे समझे उनके विचारों को जान है उसके पश्चात हां या ना का निर्णय लें इसके पैसे थी और लड़की यदि किस प्रकार को प्रेम करती किसी लड़के को तो उनकी जानकारी माता-पिता को दें और उन्हें बताया कि इस लड़के में क्या क्वालिटी है और क्या नहीं है और उसके प्रसन्न माता-पिता को उचित लग रहा है और सही लग रहा है तो उन्होंने भी समाज बगैर पर विचार न करते हुए यदि अच्छा लड़कियों के लड़का मिल रहा है तो उस बच्चे की बात मान कर उस को धीमा कर देना चाहिए इस तरह दो दोनों का एक दूसरे को समझना जरूरी है माता-पिता को भी समझना जरूरी है और बच्चे को भी समझना जरूरी है एक दूसरे से विचार करके इस बात पर स्पेशल जले थोड़ी ज्यादा सुखी रहेंगे

kya ladkiyon ko mata pita ke kehne par shadi karna chahiye yah ladkiyon ko kaise karni chahiye is par vichar mange gaye aapke dharm bahut accha prashna hai kal se hum dekhte aa rahe hain ki ladki ke mata pita dwara jo nirnay le jata tha use ladke dwara maan liya jata tha aur us batai jagah par us vaah vivah kar lete the vaah lagbhag 75 se adhik safal rahe hain aisa nahi hai ki mata pita ne koi galat rishta bataya ya galat ladke ke saath uske shadi mein ho kar di pantu paristhiyaann badli samay badla shiksha ka sthar badha shiksha ka sthar mein kya hua fal sirf ladkiyon ko padhne bheja ja raha hai aur aaj lagbhag sabhi ladkiyan shikshit hai vaah shiksha ke dwara apne aap ko ek yogya bana rahi hai aur swayam bhi nirnay lene mein saksham ho purv ki ladkiyan ashikshit ya kam padhi likhi thi aur zyada hi sanskari thi jo mata pita ke aadesho ka palan maanati thi aur unse ek kadam bhi aage banna pasand nahi karte the parantu vartaman mein yah sthiti nahi hai ladkiyan apne aap ko swatantra isi avastha mein le I hai mata pita ke vicharon se aage chalne ko taiyar hain mata pita ko convence karne ko taiyar hai toh aaj isliye hai ki mata pita ke saath saath mein swayam ladki ne khud ne nirnay lena chahiye yadi ladka mata pita tarah batayega toh use mile use samjhe unke vicharon ko jaan hai uske pashchat haan ya na ka nirnay le iske paise thi aur ladki yadi kis prakar ko prem karti kisi ladke ko toh unki jaankari mata pita ko de aur unhe bataya ki is ladke mein kya quality hai aur kya nahi hai aur uske prasann mata pita ko uchit lag raha hai aur sahi lag raha hai toh unhone bhi samaj bagair par vichar na karte hue yadi accha ladkiyon ke ladka mil raha hai toh us bacche ki baat maan kar us ko dheema kar dena chahiye is tarah do dono ka ek dusre ko samajhna zaroori hai mata pita ko bhi samajhna zaroori hai aur bacche ko bhi samajhna zaroori hai ek dusre se vichar karke is baat par special jale thodi zyada sukhi rahenge

क्या लड़कियों को माता पिता के कहने पर शादी करना चाहिए यह लड़कियों को कैसे करनी चाहिए इस पर

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
करैक्टेरिस्टिक ; shadi kab karni chahiye ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!