घर से निकलने पर मुझे बहुत डर लगता है ऐसा क्यों है?...


user

Norang sharma

Social Worker

2:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों वह कल पर सुन रही मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा बहुत-बहुत प्यार भरा नमस्कार आज का सवाल है घर से निकलने पर आपको बहुत डर लगता है ऐसा क्यों है दोस्तों वैसे तो हम में से हर किसी के अपने कुछ डर होते हैं और वह डर इतने निजी होते हैं कि कई बार हमें तो इस चीज से डर लगता है लेकिन सामने वाले के बाकी लोगों को उन चीजों से डर नहीं लगता तो आपको घर से निकलने पर डर लगने की वजह या तो यह हो सकती है कि पास्ट में या अतीत में आप किसी ऐसे हादसे या किसी ऐसे इंसीडेंट के शिकार हुए हो जहां अब बार-बार आप को डर लगता है कि कहीं दोबारा आपके साथ वह आस्था फिर से ना हो जाए तो या फिर करीब लोग इतने ज्यादा हर चीज को लेकर ओवरथिंकिंग करते हैं चिंता करते रहते हैं पता नहीं क्या हो जाएगा या आसपास अखबारों में या किसी इन शाम के मुंह से ऐसी चीजें ऐसी नेगेटिव चीजें स्पेशली सुन लेते हैं कि फिर उनके मन में भी वह भावना बन जाती है कि अगर हम जाएंगे तो हमारे साथ भी हो जाएगा जैसे किसी भी नेगेटिविटी का शिकार हमें होने की जरूरत नहीं होती ठीक है जरूरी सावधानी सतर्कता हमें रखनी चाहिए लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि आप घर में ही कैद होकर बैठे रहे ना कहीं जाना भी पड़ जाए तो आप जा ही ना पाए तो हमें हमेशा पॉजिटिव सोचना चाहिए कि हमारे साथ जो भी होगा अच्छा ही होगा तो अगर हम नेगेटिविटी को दूर करना चाहते हैं तो उसके लिए हमें घर से निकलना होगा फिर तीन या चार बार जब आपसे फ्री अपने घर वापस लौट आएंगे तो आप का बॉर्डर दूर हो जाएगा तो चीज है जो है उनको सही तरीके से मैनेज करना हमें आना चाहिए तो आपको क्यों डर लगता है उसकी वजह सिर्फ आप जानते हैं तो अपनी उस वजह को पहचान कर उसे आप दूर कर सकते हैं बाकी जो मेनली वजह रहती है वह मैंने बता ही दी है आपको तो आपको डर नहीं लगेगा डर के आगे ही जीत होती है अपनी हर उस डर का हमें सामना करना सीखना चाहिए मुकाबला करना सीखना चाहिए ताकि वह डर हम पर हावी ना हो सके और हम लाइफ में आगे बढ़ सके धन्यवाद

hello doston vaah kal par sun rahi mere sabhi buddhijeevi shrotaon ko mera bahut bahut pyar bhara namaskar aaj ka sawaal hai ghar se nikalne par aapko bahut dar lagta hai aisa kyon hai doston waise toh hum me se har kisi ke apne kuch dar hote hain aur vaah dar itne niji hote hain ki kai baar hamein toh is cheez se dar lagta hai lekin saamne waale ke baki logo ko un chijon se dar nahi lagta toh aapko ghar se nikalne par dar lagne ki wajah ya toh yah ho sakti hai ki past me ya ateet me aap kisi aise haadse ya kisi aise insident ke shikaar hue ho jaha ab baar baar aap ko dar lagta hai ki kahin dobara aapke saath vaah astha phir se na ho jaaye toh ya phir kareeb log itne zyada har cheez ko lekar overthinking karte hain chinta karte rehte hain pata nahi kya ho jaega ya aaspass akhbaron me ya kisi in shaam ke mooh se aisi cheezen aisi Negative cheezen speshli sun lete hain ki phir unke man me bhi vaah bhavna ban jaati hai ki agar hum jaenge toh hamare saath bhi ho jaega jaise kisi bhi negativity ka shikaar hamein hone ki zarurat nahi hoti theek hai zaroori savdhani satarkata hamein rakhni chahiye lekin iska yah matlab nahi ki aap ghar me hi kaid hokar baithe rahe na kahin jana bhi pad jaaye toh aap ja hi na paye toh hamein hamesha positive sochna chahiye ki hamare saath jo bhi hoga accha hi hoga toh agar hum negativity ko dur karna chahte hain toh uske liye hamein ghar se nikalna hoga phir teen ya char baar jab aapse free apne ghar wapas lot aayenge toh aap ka border dur ho jaega toh cheez hai jo hai unko sahi tarike se manage karna hamein aana chahiye toh aapko kyon dar lagta hai uski wajah sirf aap jante hain toh apni us wajah ko pehchaan kar use aap dur kar sakte hain baki jo mainly wajah rehti hai vaah maine bata hi di hai aapko toh aapko dar nahi lagega dar ke aage hi jeet hoti hai apni har us dar ka hamein samana karna sikhna chahiye muqabla karna sikhna chahiye taki vaah dar hum par haavi na ho sake aur hum life me aage badh sake dhanyavad

हेलो दोस्तों वह कल पर सुन रही मेरे सभी बुद्धिजीवी श्रोताओं को मेरा बहुत-बहुत प्यार भरा नमस

Romanized Version
Likes  128  Dislikes    views  4186
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!