मेरी फ़ैमिली मैं कोई मुझे सपोर्ट नहीं करता और हमेशा मेरा मज़ाक़ उड़ाया जाता है। मैं क्या करूँ?...


user

Vikas Singh Rajput

Political Analyst

3:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डीके फैमिली आपका सपोर्ट क्यों करेगी आपको आपके मम्मी पापा ने पढ़ा लिखा कर बड़ा कर दिया उसके बाद आपको अपना काम अपने से करना है आपको अपने से नौकरी ढूंढ नहीं है आपको नौकरी प्राप्त करके नौकरी भी खुद से करना है नौकरी करके आपको पैसा इकट्ठा करना है पैसा इकट्ठा करके आपको अपने बल पर बिजनेस करना है समझा अब आपको पापा ने पढ़ा भी दिया पढ़ाने के बाद आप की जितनी ख्वाहिश थी आपकी जितनी इच्छा थी पापा ने पूरा भी कर दिया उसके बाद आप आज कह रहे हो कि नहीं पापा मुझे एक करोड़ रुपए की जरूरत है मैं बिजनेस करना चाहता हूं अगर आपके पापा की औकात नहीं है तो कहां से आपको देंगे तो इसलिए हमेशा अपने जीवन को अपने तरीके जीना चाहिए आप कुछ ऐसा काम करिए जिससे आपकी वजह से आपके माता-पिता का नाम रोशन हो आपके घर परिवार वालों का नाम रोशन हो आप अपने बल पर करिए आप यह समझ लीजिए कि मैं जीरो पर हूं मुझे जीरो से हंड्रेड रूपीस बनाना है तो मैं कैसे बनाऊंगा मुझे नौकरी करनी है मुझे संघर्ष करना मुझे भूखा सोना है कि टाइम और इस तरीके से काम करके मुझे आगे पढ़ना है मुझे इतिहास लिखना है और इतिहास ऐसा लिखना है जिससे माता-पिता घर परिवार गांव जिला और देश का नाम हो यह सोचकर आप काम करिए आपको अपने किसी घर वालों की जरूरत नहीं पड़ेगी जब आपको उपलब्धि मिल जाएगी तो आपके परिवार वाले आपका बिल्कुल भी मजाक नहीं उड़ाएंगे वह आपकी प्रशंसा करेंगे और आप के नाम पर आपके घर वालों को जाना जाएगा इससे बड़ी उपलब्ध कुछ नहीं हो सकती है आप सूर्यवंशम मूवी देखे होंगे उसमें हीरा की मां भानु प्रताप सिंह से लास्ट में करती है कि आज कोई यह नहीं कहता है कि वह देखिए भानु प्रताप सिंह के बेटे हीरा जा रहे हैं बल्कि आज कोई यह कहता है कि हीरा के पिता भानु प्रताप सिंह जी हैं इससे बड़ी उपलब्धि क्या हो सकती है जीवन में आपके नाम पर आपके पापा को याद किया जाएगा आपके घर परिवार वालों को याद किया जाएगा तो यह बहुत बड़ी अपॉर्चुनिटी है आपके लिए अगर आप का मजाक उड़ाया जा रहा है इसको अब सीरियस लीजिए सकारात्मक तरीके से लीजिए और इसी मजाक को आप सकारात्मक तरीके से देंगे तो आप इतिहास लिखेंगे और इतिहास लिखेंगे तो आपकी लाइफ में बहुत खुशहाली आएगी और 1 पीढ़ियों के लिए आप आदर्श बन जाएंगे धन्यवाद

DK family aapka support kyon karegi aapko aapke mummy papa ne padha likha kar bada kar diya uske baad aapko apna kaam apne se karna hai aapko apne se naukri dhundh nahi hai aapko naukri prapt karke naukri bhi khud se karna hai naukri karke aapko paisa ikattha karna hai paisa ikattha karke aapko apne bal par business karna hai samjha ab aapko papa ne padha bhi diya padhane ke baad aap ki jitni khwaahish thi aapki jitni iccha thi papa ne pura bhi kar diya uske baad aap aaj keh rahe ho ki nahi papa mujhe ek crore rupaye ki zarurat hai main business karna chahta hoon agar aapke papa ki aukat nahi hai toh kaha se aapko denge toh isliye hamesha apne jeevan ko apne tarike jeena chahiye aap kuch aisa kaam kariye jisse aapki wajah se aapke mata pita ka naam roshan ho aapke ghar parivar walon ka naam roshan ho aap apne bal par kariye aap yah samajh lijiye ki main zero par hoon mujhe zero se hundred Rupees banana hai toh main kaise banaunga mujhe naukri karni hai mujhe sangharsh karna mujhe bhukha sona hai ki time aur is tarike se kaam karke mujhe aage padhna hai mujhe itihas likhna hai aur itihas aisa likhna hai jisse mata pita ghar parivar gaon jila aur desh ka naam ho yah sochkar aap kaam kariye aapko apne kisi ghar walon ki zarurat nahi padegi jab aapko upalabdhi mil jayegi toh aapke parivar waale aapka bilkul bhi mazak nahi udaenge vaah aapki prashansa karenge aur aap ke naam par aapke ghar walon ko jana jaega isse badi uplabdh kuch nahi ho sakti hai aap suryavansham movie dekhe honge usme heera ki maa bhanu pratap Singh se last me karti hai ki aaj koi yah nahi kahata hai ki vaah dekhiye bhanu pratap Singh ke bete heera ja rahe hain balki aaj koi yah kahata hai ki heera ke pita bhanu pratap Singh ji hain isse badi upalabdhi kya ho sakti hai jeevan me aapke naam par aapke papa ko yaad kiya jaega aapke ghar parivar walon ko yaad kiya jaega toh yah bahut badi opportunity hai aapke liye agar aap ka mazak udaya ja raha hai isko ab serious lijiye sakaratmak tarike se lijiye aur isi mazak ko aap sakaratmak tarike se denge toh aap itihas likhenge aur itihas likhenge toh aapki life me bahut khushahali aayegi aur 1 peedhiyon ke liye aap adarsh ban jaenge dhanyavad

डीके फैमिली आपका सपोर्ट क्यों करेगी आपको आपके मम्मी पापा ने पढ़ा लिखा कर बड़ा कर दिया उसके

Romanized Version
Likes  317  Dislikes    views  4870
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!