पाक मीडिया चेनल्स को J और K में बैन कर देना चाहिए, ये लोगों को भड़कते हैं। आपकी क्या राय है?...


user

Pankaj Vasuja

Cinematographer

2:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम-राम मेरे भाई आप मीडिया चैनल्स को चयन के में बैन कर देना चाहिए यह लोगों को भड़का आते हैं आपकी राय देखिए साहब अगर आप मीडिया चैनल्स कि आप बात करते हैं किसी भी देश का मीडिया जो होता है वह उसकी सरकार के द्वारा प्रतिबंध होता है पाक सभी मीडिया चैनल पर दिखाई एजेंसी है जो ने काम करवाती है तो हम बैन करने के हम उसको बहन तो कर सकते हैं वहां पर लेकिन इंटरनेट की सुविधाएं ऐसी हो रही है अभी आप जेएंडके की बात करते हो हिंदुस्तान में हर जगह चलता है मेरे इस मोबाइल में पाक मीडिया करना सकते हैं तो किसी ने आप हिंदुस्तान की चैनल वीडियो चाहिए वह भी लोगों को बताते हैं ऐसी बात नहीं है बहुत से चैनल है मैं किसी का नाम नहीं लेना चाहूंगा लेकिन धर्म के नाम पर हिंदुस्तान की मीडिया में भी वह दिखाया जाता है आजकल करो ना की वजह से थोड़ा सा पैर कम है लेकिन पहले आप देख रहे थे एनआरसी यह वह बहुत कुछ चल रहा था और आज रिसेंटली में आज न्यूज़ देख रहा था एनडीटीवी तो उसमें मैंने एक बहुत विचित्र वाक्य देखा मेरा दिल थोड़ा सा पसीज गया मैंने यह देखा कि सिरसा हरियाणा के और बरेली यूपी में पुलिस पर हमला हुआ यह लोग डाउन की वजह से हुआ था कि आम जनता परेशान होती है तो पुलिस पर ऐसा काम होता है क्योंकि आम जनता की आबादी बहुत ज्यादा है और पुलिस कर्मचारियों की संख्या कहीं ना कहीं उनके मुकाबले बहुत कम है ऐसा अक्सर देखा जाता है कि जम्मू एंड कश्मीर में पुलिस पर हमला होना आम बात है क्योंकि वह आतंकवादी है लेकिन एक आम आदमी जब परेशान हो जाएगा हर जगह से तू उसको नाम दे दिया जाता है आतंकवादी का या कुछ है या पीढ़ियों में ब्लड में चला जाता है जैसे कि बहुत से कारण है इसका पूरा सन बहुत लंबा हो जाएगा तो सभी भाई अपने विचार से अपने हिसाब से किसी के कहने से करने से जनता ऐसे नहीं धड़कती राजनीति का कोई धर्म का विष घोल दी है कोई देश का मजहब का किस खोलती है तभी मीडिया वाले कामयाब होते हैं ठीक है राम-राम सभी भाइयों को धन्यवाद

ram ram mere bhai aap media channels ko chayan ke me ban kar dena chahiye yah logo ko bhadaka aate hain aapki rai dekhiye saheb agar aap media channels ki aap baat karte hain kisi bhi desh ka media jo hota hai vaah uski sarkar ke dwara pratibandh hota hai pak sabhi media channel par dikhai agency hai jo ne kaam karwati hai toh hum ban karne ke hum usko behen toh kar sakte hain wahan par lekin internet ki suvidhaen aisi ho rahi hai abhi aap jeendake ki baat karte ho Hindustan me har jagah chalta hai mere is mobile me pak media karna sakte hain toh kisi ne aap Hindustan ki channel video chahiye vaah bhi logo ko batatey hain aisi baat nahi hai bahut se channel hai main kisi ka naam nahi lena chahunga lekin dharm ke naam par Hindustan ki media me bhi vaah dikhaya jata hai aajkal karo na ki wajah se thoda sa pair kam hai lekin pehle aap dekh rahe the NRC yah vaah bahut kuch chal raha tha aur aaj recently me aaj news dekh raha tha NDTV toh usme maine ek bahut vichitra vakya dekha mera dil thoda sa pasij gaya maine yah dekha ki sirsa haryana ke aur bareilly up me police par hamla hua yah log down ki wajah se hua tha ki aam janta pareshan hoti hai toh police par aisa kaam hota hai kyonki aam janta ki aabadi bahut zyada hai aur police karmachariyon ki sankhya kahin na kahin unke muqable bahut kam hai aisa aksar dekha jata hai ki jammu and kashmir me police par hamla hona aam baat hai kyonki vaah aatankwadi hai lekin ek aam aadmi jab pareshan ho jaega har jagah se tu usko naam de diya jata hai aatankwadi ka ya kuch hai ya peedhiyon me blood me chala jata hai jaise ki bahut se karan hai iska pura san bahut lamba ho jaega toh sabhi bhai apne vichar se apne hisab se kisi ke kehne se karne se janta aise nahi dhadkati raajneeti ka koi dharm ka vish ghol di hai koi desh ka majhab ka kis kholti hai tabhi media waale kamyab hote hain theek hai ram ram sabhi bhaiyo ko dhanyavad

राम-राम मेरे भाई आप मीडिया चैनल्स को चयन के में बैन कर देना चाहिए यह लोगों को भड़का आते है

Romanized Version
Likes  146  Dislikes    views  1212
KooApp_icon
WhatsApp_icon
8 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!