मनुष्य की मौत क्यों होती है?...


play
user

Mehnaz Amjad

Certified Life Coach

0:59

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है कि मनुष्य की मौत क्यों होती है आपके सवाल का जवाब यह होगा कि अगर आप किसी धर्म को मानते हो या किसी साइंटिफिक थ्योरी को दोनों ही एक चीज बहुत कॉमन कहती हैं वही के प्रकृति का नियम है कि हर जो चीज जिंदा है उसकी लाइफ साइकिल है और वह फिर इसका जीवन है उसकी मृत्यु उसके साइकिल का एंड है इसीलिए हर मनुष्य हर वह चीज चाहे वह पौधे हो चाहे वह खून चाहे वह कोई भी चीज जिसमें जान है वह चीज का एक ऐसा सिस्टम बनाया गया है कि वह जीती है एक समय तक फिर उसका अंत आ जाता है ताकि दूसरे को मौका मिले दूसरी चीजें भी जीवन में आए और वह अपना जीवन काल गुजार के निकल जाए यही सेम प्रिंसिपल मनुष्य पर भी लागू है यह चीज हमारे धर्म भी कहते हैं और यह चीज सर्टिफिकेट भी कहती है और इसी की वजह से मनुष्य को मौत आती है धन्यवाद

aap ka sawal hai ki manushya ki maut kyon hoti hai aapke sawal ka jawab yeh hoga ki agar aap kisi dharm ko maante ho ya kisi scientific theory ko dono hi ek cheez bahut common kehti hain wahi ke prakriti ka niyam hai ki har jo cheez zinda hai uski life cycle hai aur wah phir iska jeevan hai uski mrityu uske cycle ka end hai isliye har manushya har wah cheez chahe wah paudhe ho chahe wah khoon chahe wah koi bhi cheez jisme jaan hai wah cheez ka ek aisa system banaya gaya hai ki wah jeeti hai ek samay tak phir uska ant aa jata hai taki dusre ko mauka mile dusri cheezen bhi jeevan mein aaye aur wah apna jeevan kaal gujar ke nikal jaye yahi same principal manushya par bhi laagu hai yeh cheez hamare dharm bhi kehte hain aur yeh cheez certificate bhi kehti hai aur isi ki wajah se manushya ko maut aati hai dhanyavad

आप का सवाल है कि मनुष्य की मौत क्यों होती है आपके सवाल का जवाब यह होगा कि अगर आप किसी धर्म

Romanized Version
Likes  89  Dislikes    views  4187
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Raj Bahadur

Study Please Subscribe On YouTube

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मनुष्य हो या अन्य कोई प्राणी हो जिसमें जान होती है वह मरता जरूर है जिसमें जान नहीं होती वह नहीं मरती है अगर इंसान नहीं खत्म होगा तो दुनिया में और जनसंख्या बढ़ जाएगी लेकिन हम यह कहना चाहेंगे कि मौत एक बीमारी है जिस दिन इसका इलाज हो जाएगा उस दिन इंसान का मरना खत्म हो जाएगा

manushya ho ya anya koi prani ho jisme jaan hoti hai vaah marta zaroor hai jisme jaan nahi hoti vaah nahi marti hai agar insaan nahi khatam hoga toh duniya mein aur jansankhya badh jayegi lekin hum yah kehna chahenge ki maut ek bimari hai jis din iska ilaj ho jaega us din insaan ka marna khatam ho jaega

मनुष्य हो या अन्य कोई प्राणी हो जिसमें जान होती है वह मरता जरूर है जिसमें जान नहीं होती वह

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  503
WhatsApp_icon
user

Mursalin

Tailors

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक तरफ से कहती है कि अगर इंसान की मौत होती है तो वह पार्टी कसमें बदल जाते हैं तो मुझे एक सवाल का जवाब होते हैं जो पार्टिकल है ना उसकी मौत कैसे हो सकती है हमारे जैसे जैसे हमारी दुआ है हमारी

ek taraf se kehti hai ki agar insaan ki maut hoti hai toh vaah party kasmein badal jaate hain toh mujhe ek sawaal ka jawab hote hain jo particle hai na uski maut kaise ho sakti hai hamare jaise jaise hamari dua hai hamari

एक तरफ से कहती है कि अगर इंसान की मौत होती है तो वह पार्टी कसमें बदल जाते हैं तो मुझे एक स

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user

Roshan Prasad Jaiswal

Junior Volunteer

1:04
Play

Likes  15  Dislikes    views  369
WhatsApp_icon
user

Munmun 🌈

Volunteer

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एंड की हर इंसान को जो है मौत क्यों आती है देखिए यह जो है प्रकृति का नियम होता है कि जो इंसान जो है पैदा होता है इस दुनिया में आता है उस इंसान की मृत्यु निश्चित और यह जो मृत्यु है वह जीवन का जो है एक सच है उनकी सत्य है जिसको जो कोई भी झुठला नहीं सकता है इसको तो मानना ही होता है

and ki har insaan ko jo hai maut kyon aati hai dekhiye yah jo hai prakriti ka niyam hota hai ki jo insaan jo hai paida hota hai is duniya mein aata hai us insaan ki mrityu nishchit aur yah jo mrityu hai vaah jeevan ka jo hai ek sach hai unki satya hai jisko jo koi bhi jhuthla nahi sakta hai isko toh manana hi hota hai

एंड की हर इंसान को जो है मौत क्यों आती है देखिए यह जो है प्रकृति का नियम होता है कि जो इंस

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  361
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!