रोगी को योग उपचार कब लेना चाहिए?...


user
Play

Likes  531  Dislikes    views  5313
WhatsApp_icon
20 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:43
Play

Likes  555  Dislikes    views  4921
WhatsApp_icon
user

Gyanchand Soni

Yoga Instructor.

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसके लिए डॉक्टर की सलाह लेना शादी में योगदान लेना अगर आपका बहुत-बहुत धन्यवाद आपका दिन शुभ

iske liye doctor ki salah lena shaadi me yogdan lena agar aapka bahut bahut dhanyavad aapka din shubha

इसके लिए डॉक्टर की सलाह लेना शादी में योगदान लेना अगर आपका बहुत-बहुत धन्यवाद आपका दिन शुभ

Romanized Version
Likes  135  Dislikes    views  922
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

0:44
Play

Likes  507  Dislikes    views  7242
WhatsApp_icon
user
1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि प्रत्येक मनुष्य योगाभ्यास पहले से ही करता रहेगा तो वह कभी भी रॉकी रॉकी नहीं बनेगा कहते हैं कि सुख में सुमिरन जो करें दुख काहे को होय तो जब पहले करते रहेंगे तो कभी भी किसी भी प्रकार के रोग हमारे शरीर में नहीं आएंगे तो आपने पूछा है कि रोगी को योग कब करना चाहिए अगर किसी के शरीर में कोई प्रॉब्लम आती है ब्लड प्रेशर है हार्ट की प्रॉब्लम है तू दवाई के साथ-साथ उसे युवक प्यास भी जल्दी ही प्रारंभ कर देना चाहिए जिससे कि उसकी कोई भी समस्या या कोई भी रो ज्यादा ना बढ़ पाए या वह शरीर में एकत्रित ना हो जाए तो आप जो तुरंत डॉक्टर को दिखाएंगे दवाइयां खाएंगे योग अभ्यास करेंगे तो आपका शरीफ जल्दी ही ठीक हो जाएगा

yadi pratyek manushya yogabhayas pehle se hi karta rahega toh vaah kabhi bhi rocky rocky nahi banega kehte hain ki sukh me sumiran jo kare dukh kaahe ko hoy toh jab pehle karte rahenge toh kabhi bhi kisi bhi prakar ke rog hamare sharir me nahi aayenge toh aapne poocha hai ki rogi ko yog kab karna chahiye agar kisi ke sharir me koi problem aati hai blood pressure hai heart ki problem hai tu dawai ke saath saath use yuvak pyaas bhi jaldi hi prarambh kar dena chahiye jisse ki uski koi bhi samasya ya koi bhi ro zyada na badh paye ya vaah sharir me ekatrit na ho jaaye toh aap jo turant doctor ko dikhayenge davaiyan khayenge yog abhyas karenge toh aapka sharif jaldi hi theek ho jaega

यदि प्रत्येक मनुष्य योगाभ्यास पहले से ही करता रहेगा तो वह कभी भी रॉकी रॉकी नहीं बनेगा कहते

Romanized Version
Likes  191  Dislikes    views  1576
WhatsApp_icon
user

Vijay Sharma

Yoga Trainer (P.G.D.Y.)

3:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रोगी को क्या कोई भी व्यक्ति कोई भी इंसान जरूरी नहीं है कि वह रोग उसको लगे तभी वह योग करें योग तो हर उस इंसान को सच में क्या बच्चा हो बुड्ढा हो जवान निरोगी स्वस्थ व उसको भी योग करना चाहिए योगी योग का कोई साइड इफेक्ट नहीं पहली बात तो यह अगर निरोगी है इसको कोई रोग नहीं है तो भी लोग उसको बहुत ही फायदेमंद होता है और अगर रोग है उसको कोई बीमारी है तो अभी उसको फायदा करता है दूसरी बात उस पर कोई साइड इफेक्ट नहीं है जैसे और 33 में कैसे एलोपैथी इस्टाइलफ्रीक मिल जाता है योगेंद्र कोई साइड इफेक्ट है आपको एक्टिव एंड एक्सपोर्ट टीचर के सामने करना चाहिए डिश टीवी के माध्यम से देखकर पढ़ते सुनते कभी भी योग नहीं करना चाहिए इसमें यह भी है कि आजकल लोग वहां टीवी के द्वारा पाठक के थोड़ा वक्त उनकी आंखों में बैठकर कर लेते हैं और सोचते हैं कि योगाचार्य आपको एक चीज बता दे बॉडी टू बॉडी रेजिस्टेंस होते हैं इसी की बॉडी में क्या चीज है और किसी की बॉडी में क्या इंसुरेंस होता है कौन सा आसन करने से और कौन से प्रधानमंत्री नहीं है कि एक ही आदमी से सभी व्यक्तियों को एक साथ अनुभवों एक से फायदा या किसी को नुकसान भी हो सकता है किसी को फायदा भी हो सकता है मोदी लाइव क्रिकेट की जानकारी अधूरा ज्ञान आदि को ले डूबता तो किसी भी क्षेत्र में जाएं हादसों से योग के क्षेत्र में आपको पूर्ण ज्ञान होना जरूरी है अधूरा ज्ञान आप परेशानी ना हो को करने के लिए एक्स्ट्रा एक्स्ट्रा स्पेशलिस्ट या एक्सपोर्ट चैनल जिसको फिजिकली जो कराना आता हो ह्यूमन लॉटरी के बारे में भी जानकारी हो शांति के लिए यह नहीं है कि जो थोड़ा वक्त सीख लिया और वह आगे से खाएंगे क्योंकि पहले बजट बताया कि हर आसन प्राणायाम प्रत्याहार मुद्रा अलग-अलग इंसान को अलग-अलग फायदा पहुंचाती है यो है क्योंकि हमारी बॉडी में 10 प्राण वाहिनी है विराजमान रहती हैं तो वह कब कैसे व्यक्त कर जा किसी भी शख्स को यह कोई नहीं जानता इसलिए सावधानी से योगा करना चाहिए जिससे कि आपकी हेल्प अच्छी सुंदर और सुंदर बनी है

rogi ko kya koi bhi vyakti koi bhi insaan zaroori nahi hai ki vaah rog usko lage tabhi vaah yog kare yog toh har us insaan ko sach me kya baccha ho Buddha ho jawaan nirogee swasth va usko bhi yog karna chahiye yogi yog ka koi side effect nahi pehli baat toh yah agar nirogee hai isko koi rog nahi hai toh bhi log usko bahut hi faydemand hota hai aur agar rog hai usko koi bimari hai toh abhi usko fayda karta hai dusri baat us par koi side effect nahi hai jaise aur 33 me kaise allopathy istailafrik mil jata hai yogendra koi side effect hai aapko active and export teacher ke saamne karna chahiye dish TV ke madhyam se dekhkar padhte sunte kabhi bhi yog nahi karna chahiye isme yah bhi hai ki aajkal log wahan TV ke dwara pathak ke thoda waqt unki aakhon me baithkar kar lete hain aur sochte hain ki yogacharya aapko ek cheez bata de body to body resistance hote hain isi ki body me kya cheez hai aur kisi ki body me kya insurens hota hai kaun sa aasan karne se aur kaun se pradhanmantri nahi hai ki ek hi aadmi se sabhi vyaktiyon ko ek saath anubhavon ek se fayda ya kisi ko nuksan bhi ho sakta hai kisi ko fayda bhi ho sakta hai modi live cricket ki jaankari adhura gyaan aadi ko le dubata toh kisi bhi kshetra me jayen hadason se yog ke kshetra me aapko purn gyaan hona zaroori hai adhura gyaan aap pareshani na ho ko karne ke liye extra extra specialist ya export channel jisko physically jo krana aata ho human lottery ke bare me bhi jaankari ho shanti ke liye yah nahi hai ki jo thoda waqt seekh liya aur vaah aage se khayenge kyonki pehle budget bataya ki har aasan pranayaam pratyahar mudra alag alag insaan ko alag alag fayda pahunchati hai yo hai kyonki hamari body me 10 praan vahini hai viraajamaan rehti hain toh vaah kab kaise vyakt kar ja kisi bhi sakhs ko yah koi nahi jaanta isliye savdhani se yoga karna chahiye jisse ki aapki help achi sundar aur sundar bani hai

रोगी को क्या कोई भी व्यक्ति कोई भी इंसान जरूरी नहीं है कि वह रोग उसको लगे तभी वह योग करें

Romanized Version
Likes  72  Dislikes    views  1410
WhatsApp_icon
user

योगाचार्य S.S.Rawat🕉🔱🚩🙏

Lecturer Of Yog And Alternative Therapy

0:36
Play

Likes  98  Dislikes    views  2439
WhatsApp_icon
play
user

Dr. R. K. Gupta

Yoga & Nature Care Health center

0:46

Likes  80  Dislikes    views  797
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है रोगी को उपचार कब लेना चाहिए तू कहे तो मैं यह कहूंगा कि ऐसी स्थिति आएगी नहीं कि किसी को भी रोग लगे किसी को हम रूबी कहीं क्योंकि इस धरती पर सबसे बड़ा पाप यही है रोगी हो ना तो ऐसा दिन ही ना आए कि हम रोगी बने और यदि कोई दर्द ऊपर के बाहर आता है तो तब हमें एहसास कराता है कि आपके शरीर में किसी तरह की कोई खराबी है तो उस खराबी को ठीक करने के लिए जब आपको पता चले तो आप तुरंत ही आप उसका उपचार करवा लीजिए उसके बाद कोशिश करें कि वह रोक पुनः आपके शरीर में प्रवेश न कर पाए

aapka sawaal hai rogi ko upchaar kab lena chahiye tu kahe toh main yah kahunga ki aisi sthiti aayegi nahi ki kisi ko bhi rog lage kisi ko hum ruby kahin kyonki is dharti par sabse bada paap yahi hai rogi ho na toh aisa din hi na aaye ki hum rogi bane aur yadi koi dard upar ke bahar aata hai toh tab hamein ehsaas karata hai ki aapke sharir me kisi tarah ki koi kharabi hai toh us kharabi ko theek karne ke liye jab aapko pata chale toh aap turant hi aap uska upchaar karva lijiye uske baad koshish kare ki vaah rok punh aapke sharir me pravesh na kar paye

आपका सवाल है रोगी को उपचार कब लेना चाहिए तू कहे तो मैं यह कहूंगा कि ऐसी स्थिति आएगी नहीं क

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  276
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी दारू की कोई उपचार कब लेना चाहिए कि डिपेंड करता है उसे कौन सी समस्या है डिपेंड करता है योग के थैरेपिस्ट पर भी तो यूको थेरेपी के रूप में भी आप इस्तेमाल करते हैं लेकिन यह रोक पर निर्भर करता है कि उसको क्या समस्या है कुछ समस्याओं में योग के बहुत अच्छे रिजल्ट है और कुछ समस्याओं में योग एक सहायक थेरेपी के रूप में काम करता है तो यह ऐसे कहना बहुत मुश्किल है आपका पूछना अधूरा है क्योंकि हर एक रोग में आपको अपने पर्सनल योग थैरेपिस्ट से जो योग विशेषज्ञ ही योग गुरु है उससे मिलना होगा और अपने रोग की जानकारी देनी होगी आप उसी स्थिति में योग की शुरुआत कर सकते हैं या नहीं कैसे करना है कितना करना है कितनी देर करना है यह सब चीजें रोक पर निर्भर करती हैं हरि ओम

apni daaru ki koi upchaar kab lena chahiye ki depend karta hai use kaun si samasya hai depend karta hai yog ke thairepist par bhi toh yuko therapy ke roop me bhi aap istemal karte hain lekin yah rok par nirbhar karta hai ki usko kya samasya hai kuch samasyaon me yog ke bahut acche result hai aur kuch samasyaon me yog ek sahayak therapy ke roop me kaam karta hai toh yah aise kehna bahut mushkil hai aapka poochna adhura hai kyonki har ek rog me aapko apne personal yog thairepist se jo yog visheshagya hi yog guru hai usse milna hoga aur apne rog ki jaankari deni hogi aap usi sthiti me yog ki shuruat kar sakte hain ya nahi kaise karna hai kitna karna hai kitni der karna hai yah sab cheezen rok par nirbhar karti hain hari om

अपनी दारू की कोई उपचार कब लेना चाहिए कि डिपेंड करता है उसे कौन सी समस्या है डिपेंड करता है

Romanized Version
Likes  464  Dislikes    views  5755
WhatsApp_icon
user

Manmohan Bhutada

Founder & Director - Yog Prayog

1:09
Play

Likes  293  Dislikes    views  2195
WhatsApp_icon
user

Swami Umesh Yogi

Peace-Guru (Global Peace Education)

0:45
Play

Likes  525  Dislikes    views  2098
WhatsApp_icon
user

Manoj Kumar Gudsele

Yoga Instructor

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग चिकित्सा नहीं है लेकिन यह पद्धति है बीमारियों को ना होने देने की यानी कि अगर आप योग को अपनी लाइफ स्टाइल में बनाए रखते हैं तो आप कोई भी बीमारी नहीं होगी

yog chikitsa nahi hai lekin yah paddhatee hai bimariyon ko na hone dene ki yani ki agar aap yog ko apni life style mein banaye rakhte hain toh aap koi bhi bimari nahi hogi

योग चिकित्सा नहीं है लेकिन यह पद्धति है बीमारियों को ना होने देने की यानी कि अगर आप योग को

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  386
WhatsApp_icon
play
user

Minhaz Khan

Yoga Instructor

1:25

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्वेश्चन स्टार्टिंग से स्टार्ट करें क्योंकि ज्यादातर लोग ज्यादा कंडीशन खराब हो जाती है फिर उसमें इतनी बुरी होती है कि वह अगले 1 महीने में ठीक हो सकती थी आपने उसको अल्टरनेट ना चुन करके आपने क्या-क्या लोपेज़ के बाद गया आपने दवाई खाना स्टार्ट कर दो दवाइयों से चीज जो थी वह सब ट्रेस होती गई वह ठीक नहीं है इसके अलावा और बढ़ गई मतलब अंदाजा था लेकिन बंदना दवाइयां लेना स्टार्ट कर दी एक प्रॉब्लम ठीक हुई नहीं कि दो कॉलम और खराब हो गई थी किडनी लीवर पर बहुत ज्यादा इफेक्ट साइड इफेक्ट आया अब उसके बाद योग्य योग्य कृष्णा तुरंत के पहले इस महीने जरूर लगाइए उसके बाद अगर आप देखिए क्या-क्या चीजें डर क्यों नहीं हो रही है तब आप एलोपैथिक रिजल्ट

question starting se start kare kyonki jyadatar log zyada condition kharab ho jaati hai phir usme itni buri hoti hai ki vaah agle 1 mahine mein theek ho sakti thi aapne usko altaranet na chun karke aapne kya kya lopez ke baad gaya aapne dawai khana start kar do dawaiyo se cheez jo thi vaah sab trays hoti gayi vaah theek nahi hai iske alava aur badh gayi matlab andaja tha lekin bandana davaiyan lena start kar di ek problem theek hui nahi ki do column aur kharab ho gayi thi KIDNEY liver par bahut zyada effect side effect aaya ab uske baad yogya yogya krishna turant ke pehle is mahine zaroor lagaaiye uske baad agar aap dekhiye kya kya cheezen dar kyon nahi ho rahi hai tab aap allopathic result

क्वेश्चन स्टार्टिंग से स्टार्ट करें क्योंकि ज्यादातर लोग ज्यादा कंडीशन खराब हो जाती है फिर

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  393
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका 55 है रोगी को योग उपचार कब लेनी चाहिए जब आपको लगे कि हम मैं बिल्कुल होगी हो गया हूं या हो गई हो उसी समय से आप लोग का उपचार लेना आरंभ कर दीजिए और योगेश्वर रोगी व्यक्ति के लिए इन हिंदी भक्ति के लिए भी आवश्यक है जब आपको लगने लगे कि शारीरिक मानसिक और बौद्धिक तौर पर कुछ न कुछ हमें बीमारियों से ग्रसित होने जा रहे हो गए हैं तो आप उसी समय से योग की शरण में जाएं और है योग का उपचार करें योग से कुछ भी संभव है कोई बीमारी ठीक हो सकता है बशर्ते कि समय रहते आपको योग करना प्रारंभ कर दें धन्यवाद

aapka 55 hai rogi ko yog upchaar kab leni chahiye jab aapko lage ki hum main bilkul hogi ho gaya hoon ya ho gayi ho usi samay se aap log ka upchaar lena aarambh kar dijiye aur yogeshwar rogi vyakti ke liye in hindi bhakti ke liye bhi aavashyak hai jab aapko lagne lage ki sharirik mansik aur baudhik taur par kuch na kuch hamein bimariyon se grasit hone ja rahe ho gaye hain toh aap usi samay se yog ki sharan mein jayen aur hai yog ka upchaar kare yog se kuch bhi sambhav hai koi bimari theek ho sakta hai basharte ki samay rehte aapko yog karna prarambh kar de dhanyavad

आपका 55 है रोगी को योग उपचार कब लेनी चाहिए जब आपको लगे कि हम मैं बिल्कुल होगी हो गया हूं य

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  966
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपका प्रश्न है कि रोगी को योग उपचार कब लेना चाहिए तो देखिए सामान्यता क्या होता है जब हमें कोई समस्या होती है तो सबसे पहले हम जो है उसका एलोपैथिक ट्रीटमेंट लेते हैं उसे ठीक नहीं हो पाती और स्ट्रीम्स में जाते हैं और जब तुमसे ज्यादा बढ़ जाती है तब सोचते हैं कि जो हर वक्त चालू करके देख लिया जाए तब हम लोग करते हैं योग का उपयोग से उपचार अगर आप कोई भी समस्या होती है तो अगर शुरुआत से अगर आप की शरण में जाएंगे तो आपको बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे ऐसा नहीं कि आप किसी और इस पद्धति से उसका इलाज नहीं करा सकते आप की शरण में जाएंगे अगर आप जियो करेंगे तो आपको निश्चित रूप से और जल्दी लाभ होगा इसीलिए जो है अगर हमें कोई समस्या होती है तो उस रोक की शुरुआत से ही अगर हम योग चिकित्सा पर जाएंगे तो बेहतर परिणाम देखने को मिलते हैं आ चुकी अब इसमें कोई शक नहीं है कि योग जो है अपने आप को चिकित्सा विज्ञान के रूप में स्थापित हो चुका है तो इसलिए कोई संस्था नहीं होना चाहिए कि योग से बीमारी ठीक हो पाएगी या नहीं हो पाएगी और बहुत सारे हॉस्पिटल्स में हो रहा है हिंदुस्तान का सबसे बड़ा चिकित्सा विज्ञान केंद्र एमपी योग को महत्व दे रहा है धन्यवाद

dekhiye aapka prashna hai ki rogi ko yog upchaar kab lena chahiye toh dekhiye samanyata kya hota hai jab hamein koi samasya hoti hai toh sabse pehle hum jo hai uska allopathic treatment lete hain use theek nahi ho pati aur streams mein jaate hain aur jab tumse zyada badh jaati hai tab sochte hain ki jo har waqt chaalu karke dekh liya jaaye tab hum log karte hain yog ka upyog se upchaar agar aap koi bhi samasya hoti hai toh agar shuruat se agar aap ki sharan mein jaenge toh aapko behtar parinam dekhne ko milenge aisa nahi ki aap kisi aur is paddhatee se uska ilaj nahi kara sakte aap ki sharan mein jaenge agar aap jio karenge toh aapko nishchit roop se aur jaldi labh hoga isliye jo hai agar hamein koi samasya hoti hai toh us rok ki shuruat se hi agar hum yog chikitsa par jaenge toh behtar parinam dekhne ko milte hain aa chuki ab isme koi shak nahi hai ki yog jo hai apne aap ko chikitsa vigyan ke roop mein sthapit ho chuka hai toh isliye koi sanstha nahi hona chahiye ki yog se bimari theek ho payegi ya nahi ho payegi aur bahut saare hospitals mein ho raha hai Hindustan ka sabse bada chikitsa vigyan kendra mp yog ko mahatva de raha hai dhanyavad

देखिए आपका प्रश्न है कि रोगी को योग उपचार कब लेना चाहिए तो देखिए सामान्यता क्या होता है जब

Romanized Version
Likes  166  Dislikes    views  2075
WhatsApp_icon
user

Jitendra Kumar

Disciple of Swami Niranjananand Sarswati

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग का उपचार तो अब उन पर डिपेंड करता है कि माली के आसन करने को तकलीफ होती होगी या फिर बहुत ओल्ड एज एज है तो उनको जो है धीरे-धीरे प्रणाम शुरू करना चाहिए यह आसन करते हैं तो हर हम लोग योग में कैसे करी पवन मुक्त आसन कर लीजिए साहब पैर की उंगलियों को मोड़ खोलिए एड़ी को रोटेट कीजिए घुटने का मूवमेंट कीजिए फिर सलोनी प्रदेश का मूवमेंट कीजिए फिर आपको कंधार का मूवमेंट कीजिए एक लाइक कमेंट कीजिए अनेक रोटेशन का व्यास कीजिए इस तरह से अभ्यास छोटे-छोटे अभ्यास कम लोग जोड़कर जो है स्टार्ट करवाते हैं

yog ka upchaar toh ab un par depend karta hai ki maali ke aasan karne ko takleef hoti hogi ya phir bahut old age age hai toh unko jo hai dhire dhire pranam shuru karna chahiye yah aasan karte hain toh har hum log yog mein kaise kari pawan mukt aasan kar lijiye saheb pair ki ungaliyon ko mod kholiye eddy ko rotate kijiye ghutne ka movement kijiye phir saloni pradesh ka movement kijiye phir aapko kandhaar ka movement kijiye ek like comment kijiye anek rotation ka vyas kijiye is tarah se abhyas chhote chhote abhyas kam log jodkar jo hai start karwaate hain

योग का उपचार तो अब उन पर डिपेंड करता है कि माली के आसन करने को तकलीफ होती होगी या फिर बहुत

Romanized Version
Likes  154  Dislikes    views  2574
WhatsApp_icon
user

Parveen kumar

Yoga Therapist

2:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रोगी को योग का उपचार कब लेना चाहिए रोगी को जब लगे मानव शरीर सही तरीके से काम नहीं कर रहा शरीर में अलग-अलग रोग स्टार्ट हो जाते हैं तो उन परिस्थितियों में आप योग का अभ्यास कर सकते हैं और आप स्वस्थ हैं तो भी आप योग का अभ्यास करें जिससे आपको आने वाले समय में कोई भी रोग नहीं लगेगा उन चीजों से आप से बच सकते हैं और रोगी को योगाभ्यास दे तेरे अच्छे योग संस्था में जो योग भवन में जाकर योगाभ्यास तीसरे सीखे और जो कांधा देर से बढ़ाएं जिससे आप अपने ऊपर नियंत्रण कर सकते हैं रोगी को सबसे पहले अपनी दिनचर्या को ठीक करना होगा फोन तरीके से नींद ले फोन तरीके से संपूर्ण पानी पी और अपने पेट को ठीक रखें शरीर में पेट संबंधी बीमारियां ने हूं हूं तो आप सबसे पहले अपने पेट को ठीक करें उसके लिए मिर्च मसाले कम खाएं और साथ में मीठे को कम कर दीजिए सैनी शुगर आप भोजन में कम पूरी दिनचर्या में कम ले साथ में रोगी होने के बाद

rogi ko yog ka upchaar kab lena chahiye rogi ko jab lage manav sharir sahi tarike se kaam nahi kar raha sharir mein alag alag rog start ho jaate hain toh un paristhitiyon mein aap yog ka abhyas kar sakte hain aur aap swasthya hain toh bhi aap yog ka abhyas kare jisse aapko aane waale samay mein koi bhi rog nahi lagega un chijon se aap se bach sakte hain aur rogi ko yogabhayas de tere acche yog sanstha mein jo yog bhawan mein jaakar yogabhayas teesre sikhe aur jo kandha der se badhaye jisse aap apne upar niyantran kar sakte hain rogi ko sabse pehle apni dincharya ko theek karna hoga phone tarike se neend le phone tarike se sampurna paani p aur apne pet ko theek rakhen sharir mein pet sambandhi bimariyan ne hoon hoon toh aap sabse pehle apne pet ko theek kare uske liye mirch masale kam khayen aur saath mein meethe ko kam kar dijiye saini sugar aap bhojan mein kam puri dincharya mein kam le saath mein rogi hone ke baad

रोगी को योग का उपचार कब लेना चाहिए रोगी को जब लगे मानव शरीर सही तरीके से काम नहीं कर रहा श

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  193
WhatsApp_icon
user

Arun Choudhary

Yoga Trainer

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर कोई आदमी कोई मनुष्य कोई माता बहन को भाई कोई भी और कोई भी अगर रोगी है रोगी मतलब उसके शरीर में कोई भी बीमारी है और बीमारी एक्स्ट्राऑर्डिनरी नहीं पहुंच पाई है बहुत ज्यादा अत्यधिक अपना रूप धारण नहीं कर पाई है तो अगर वह स्टार्ट हुई है या थोड़ी हल्की हुई है तो तभी से अपना योगा स्टार्ट कर दें योगाभ्यास करना स्टार्ट कर लेना चाहिए योग उपचार कर लेना चाहिए उपचार में मिट्टी चिकित्सा नेचुरोपैथी वगैरह सब आता है कि परिसर भी है सब कुछ है यह सब चीजें हमें लेनी चाहिए जिससे कि हमें रिलीफ मिलता हूं रिलीज हमारी रोग में हमें उपचार मिलता हो यह सारी चीजें हमें लेनी चाहिए अत्यधिक ज्यादा पढ़ने के बाद हमें यह चीजें नहीं लेनी चाहिए तो भी ध्यान रखें जब आपको लगे कि हमारी बॉडी में यह हमारे शरीर में बहुत कुछ गड़बड़ चल रही है तभी से स्टार्ट कर देंगे वक्त चार तो आपके लिए बहुत लाभकारी रहेगा लाइक करें फॉलो करें शेयर करें ज्यादा से ज्यादा

agar koi aadmi koi manushya koi mata behen ko bhai koi bhi aur koi bhi agar rogi hai rogi matlab uske sharir mein koi bhi bimari hai aur bimari extraordinary nahi pohch payi hai bahut zyada atyadhik apna roop dharan nahi kar payi hai toh agar vaah start hui hai ya thodi halki hui hai toh tabhi se apna yoga start kar de yogabhayas karna start kar lena chahiye yog upchaar kar lena chahiye upchaar mein mitti chikitsa naturopathy vagera sab aata hai ki parisar bhi hai sab kuch hai yah sab cheezen hamein leni chahiye jisse ki hamein relief milta hoon release hamari rog mein hamein upchaar milta ho yah saree cheezen hamein leni chahiye atyadhik zyada padhne ke baad hamein yah cheezen nahi leni chahiye toh bhi dhyan rakhen jab aapko lage ki hamari body mein yah hamare sharir mein bahut kuch gadbad chal rahi hai tabhi se start kar denge waqt char toh aapke liye bahut labhakari rahega like kare follow kare share kare zyada se zyada

अगर कोई आदमी कोई मनुष्य कोई माता बहन को भाई कोई भी और कोई भी अगर रोगी है रोगी मतलब उसके शर

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  225
WhatsApp_icon
user

anand pandey

Yoga Trainer & YouTuber #Anand_R_Techno

0:40
Play

Likes  25  Dislikes    views  303
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!