सांस लेने के लिए कौन सा योगासन अच्छा है?...


user

Sunil Verma

Yoga Instructor

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सांस लेने के लिए एक उद्गीथ प्राणायाम होता है और एक नाड़ी शोधन प्राणायाम है जैसे अनुलोम विलोम प्राणायाम है धनामली प्रणब है तितली प्राणी में यह सब सांस लेने की गति को प्राप्त करते चीज करते हैं तो यह प्राणायाम हमें जरूर करनी चाहिए

saans lene ke liye ek udgith pranayaam hota hai aur ek naadi sodhan pranayaam hai jaise anulom vilom pranayaam hai dhanamali pranab hai titli prani mein yah sab saans lene ki gati ko prapt karte cheez karte hain toh yah pranayaam hamein zaroor karni chahiye

सांस लेने के लिए एक उद्गीथ प्राणायाम होता है और एक नाड़ी शोधन प्राणायाम है जैसे अनुलोम विल

Romanized Version
Likes  160  Dislikes    views  2639
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Amrita Show

Yoga Instractor

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्राणायाम योगा में बोर्डिंग के ऊपर मकान आया बॉडी को डिवाइड

pranayaam yoga mein boarding ke upar makan aaya body ko divide

प्राणायाम योगा में बोर्डिंग के ऊपर मकान आया बॉडी को डिवाइड

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  490
WhatsApp_icon
play
user

Jitendra Kumar

Disciple of Swami Niranjananand Sarswati

1:22

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ब्रीडिंग के लिए तो वन ऑफ द बेस्ट प्रैक्टिस जो है सबसे बढ़िया जो है आपको अल्टरनेट ब्रीडिंग है जिसको अनुलोम विलोम प्राणायाम के नाम से प्रचलित है बाय नाक से स्वास लंबा गहरा धीरे-धीरे लिए स्वास्थ्य और धन से जुड़े और ध्यान रखने के क्रम में आवाज बाहर नहीं निकलना चाहिए कि धीमा लंबा व गहरा होना चाहिए आप ही आपके सोसाइटी के अनुसार धर्म के अनुसार या कोई ऐसा शब्द पसंद करते हैं उसको आपको बोलने से आनंद आता है तो उस मंत्र को भी आप प्रणाम के साथ जोड़ सकते हैं जिसे स्वास लेते हुए आप गायत्री मंत्र का उच्चारण करते हुए श्री गायत्री मंत्र उच्चारण करें पूरी मंत्र का उच्चारण करते हुए श्री प्रणाम का अभ्यास करेंगे ऐसे कई गुना ज्यादा लाभ मिल जाता है इसमें लाश मिलने के कारण है कि जो है एक मंत्र मंत्र छूटना नहीं चाहिए तो आप सजगता बना हुआ कभी-कभी क्या होता कितने काम करते करते करते करते आदमी खो जाता है तो सजगता खत्म हो गई

Breeding ke liye toh van of the best practice jo hai sabse badhiya jo hai aapko altaranet Breeding hai jisko anulom vilom pranayaam ke naam se prachalit hai bye nak se swas lamba gehra dhire dhire liye swasthya aur dhan se jude aur dhyan rakhne ke kram mein awaaz bahar nahi nikalna chahiye ki dheema lamba va gehra hona chahiye aap hi aapke society ke anusaar dharm ke anusaar ya koi aisa shabd pasand karte hain usko aapko bolne se anand aata hai toh us mantra ko bhi aap pranam ke saath jod sakte hain jise swas lete hue aap gayatri mantra ka ucharan karte hue shri gayatri mantra ucharan kare puri mantra ka ucharan karte hue shri pranam ka abhyas karenge aise kai guna zyada labh mil jata hai isme laash milne ke karan hai ki jo hai ek mantra mantra chutana nahi chahiye toh aap sajgata bana hua kabhi kabhi kya hota kitne kaam karte karte karte karte aadmi kho jata hai toh sajgata khatam ho gayi

ब्रीडिंग के लिए तो वन ऑफ द बेस्ट प्रैक्टिस जो है सबसे बढ़िया जो है आपको अल्टरनेट ब्रीडिंग

Romanized Version
Likes  167  Dislikes    views  2464
WhatsApp_icon
user

Pragya Choudhary

Yoga Teacher

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप भी दिन पहले सोच तो फूल है दूसरे कपालभाति कपालभाती से हमारे मतलब जो लंच की जो पलमोनरी जो हमारी प्रॉब्लम होती है वह काफी इनक्रीस होती है दूसरा होता है सूर्य नमस्कार पूरी नमस्कार करने से उसने तेरा आसन जाते हैं उसके बाद जो हमारा ब्रीथिंग रेट बताओ काफी हाई होता है और लैक्टिक एसिड की जो फॉर्मूलेशन हमारी बॉडी में होती है तो वह भी रहती है तो ग्रीटिंग एक्सरसाइज कपालभाति अनुलोम विलोम और इंस्ट्रुमेंटल

aap bhi din pehle soch toh fool hai dusre kapalbhati kapalbhati se hamare matlab jo lunch ki jo palamonri jo hamari problem hoti hai vaah kaafi increase hoti hai doosra hota hai surya namaskar puri namaskar karne se usne tera aasan jaate hain uske baad jo hamara breathing rate batao kaafi high hota hai aur lactic acid ki jo Formulation hamari body mein hoti hai toh vaah bhi rehti hai toh Greeting exercise kapalbhati anulom vilom aur instrumental

आप भी दिन पहले सोच तो फूल है दूसरे कपालभाति कपालभाती से हमारे मतलब जो लंच की जो पलमोनरी जो

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न के सांस लेने के लिए कौन सा योगासन अच्छा है तो सांस लेने के लिए सारे योगासन अच्छे हैं साडे 1 आसनों सांस के साथ किए जाते हैं अगर आप यह जानना चाहते तो दूसरा यह जो प्राणायाम है वह सारी प्रक्रिया जो है वह श्वसन अभ्यासी हैं चाहे कपालभाति क्रिया करें या अनुलोम विलोम प्राणायाम करें बस काम करें शीतकारी प्राणायाम करें नाड़ी शोधन करें तो सारे अभ्यास जो है वही हैं और बाकी योगासनों का जहां तक सवाल तो सारे अच्छे हैं आज सूर्य नमस्कार बढ़िया है व्यास है इसमें कई योगासनों का लाभ एक साथ मिलता है और स्वास्थ्य के साथ ही किया जाता है तब यह लाभदायक रहता है धन्यवाद

aapka prashna ke saans lene ke liye kaun sa yogasan accha hai toh saans lene ke liye saare yogasan acche hain saade 1 aasanon saans ke saath kiye jaate hain agar aap yah janana chahte toh doosra yah jo pranayaam hai vaah saree prakriya jo hai vaah shwasan abhyasi hain chahen kapalbhati kriya kare ya anulom vilom pranayaam kare bus kaam kare shitkari pranayaam kare naadi sodhan kare toh saare abhyas jo hai wahi hain aur baki yogasanon ka jaha tak sawaal toh saare acche hain aaj surya namaskar badhiya hai vyas hai isme kai yogasanon ka labh ek saath milta hai aur swasthya ke saath hi kiya jata hai tab yah labhdayak rehta hai dhanyavad

आपका प्रश्न के सांस लेने के लिए कौन सा योगासन अच्छा है तो सांस लेने के लिए सारे योगासन अच्

Romanized Version
Likes  150  Dislikes    views  2202
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है सांस लेने के लिए कौन सा योगासन अच्छा है तो मेरा मानना है सांस का डायरेक्ट संबंध भस्त्रिका प्राणायाम से है तो बच्चे का में क्या होता है कि काफी तेज गति से सांस लिया जाता है और तेज गति से ही साथ छोड़ा जाता है ऐसे तो प्रणाम में बहुत सारे ऐसे प्रणाम सर जी प्रणाम चंद्र प्रणाम जिसे इडा पिंगला भी कहा जाता है यह की भाषा में लेकिन आप तो सांस लेने का कौन से वजन अच्छा है तो मेरा मानना है कि भस्त्रिका से ज्यादा ही शरीर का कार्बन डाइऑक्साइड का निस्तारण होता है और ऑक्सीजन ज्यादा मात्रा में व्यक्ति ले पाता है इसलिए मेरा मानना है कि बस्ती का परिणाम सर्वश्रेष्ठ है प्राणायाम योगासन है धन्यवाद

aapka question hai saans lene ke liye kaun sa yogasan accha hai toh mera manana hai saans ka direct sambandh bhastrika pranayaam se hai toh bacche ka mein kya hota hai ki kaafi tez gati se saans liya jata hai aur tez gati se hi saath choda jata hai aise toh pranam mein bahut saare aise pranam sir ji pranam chandra pranam jise ida pingla bhi kaha jata hai yah ki bhasha mein lekin aap toh saans lene ka kaun se wajan accha hai toh mera manana hai ki bhastrika se zyada hi sharir ka carbon dioxide ka nistaaran hota hai aur oxygen zyada matra mein vyakti le pata hai isliye mera manana hai ki basti ka parinam sarvashreshtha hai pranayaam yogasan hai dhanyavad

आपका क्वेश्चन है सांस लेने के लिए कौन सा योगासन अच्छा है तो मेरा मानना है सांस का डायरेक्ट

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  1022
WhatsApp_icon
user

Sanjeev Kumar

Yoga | Naturopathy

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अग्नि के लिए सबसे अच्छी जगह काला कपड़ा अमेरिका के बराबर कुछ जानकारी के लिए संपर्क नंबर लगाते हैं

agni ke liye sabse acchi jagah kala kapda america ke barabar kuch jankari ke liye sampark number lagate hain

अग्नि के लिए सबसे अच्छी जगह काला कपड़ा अमेरिका के बराबर कुछ जानकारी के लिए संपर्क नंबर लगा

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  442
WhatsApp_icon
user

Radha Mohan

Yoga & Naturopathy Expert

3:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चार दोस्तों के साथ लेने के लिए कौन सा योगासन की मसाज भगदड़ और की भरपूर मात्रा में बात करें तो इसके लिए आसमां से भी कहीं ज्यादा इफेक्टिव और आसान होता हमारा प्रणाम करते हैं बिल्डिंग टेक्निक सेटिंग को जब हम इन्हेल करते हैं एग्जाम करते हैं और कुछ समय के लिए होल्ड करते हैं तो बहुत ही आश्चर्यजनक तरीके से हमारी लॉन्ग की कैपेसिटी बढ़ जाती है जैसा कि हम सभी जानते हैं प्रणब का मतलब होता है किसानों का आयाम करना सांसो को गहरी बनाते हैं लंबी करते हैं सांसों को विस्तारित रूप देते हैं और जितना लंबा देहरा करेंगे उतनी ही हमारी लसी के पति की बढ़ेगी ऑक्सीजन देने की वजह से हमारे शरीर में खून की मात्रा बढ़ेगी को जितने चौक से बाहर निकलते रहेंगे हमारे जितने भी इंटरनल ऑर्गन सिस्टम हमारी बॉडी में काम कर रहे हैं उससे कहीं ज्यादा अनुलोम विलोम प्राणायाम का अभ्यास करते हैं जो शरीर की जो गाड़ियां है वह शुद्ध होती है तो वह दूर होता है इस आसन का अभ्यास करते हैं जब हम इनका सही तरीके से करते हैं छोड़ते हैं तो हमें यह मालूम नहीं रहता क्या इस रेट में मिलेगी है सामान्य मनुष्य 1 मिनट में लगभग 15 से लेकर 28 तक सांस लेता है और जब किसी व्यक्ति की सांस लेने की गति बढ़ जाती है 25 तक हो जाती है कई लोगों में किस देश में पाई जाती है तो इसका मतलब है कि उनके शरीर में वसा की मात्रा सही नहीं पहुंची है यदि हम प्राणायाम का अभ्यास करते हैं सही टेक्निक से तो हम अपनी सांस लेने की जो व्यक्ति है जो इस्टील है उसको 15 से कम कर सकते हैं और 6 से लेकर 7 तक बिस्तर पर लेट कर सकते हैं इसका मतलब यह हुआ कि तेरी हमने 50 लेने की जगह की है उसको कम कर लिया रिड्यूस कर लिया तो इसका मतलब है कि हमारी सांसें विस्तारित रूप से लेना प्रारंभ हो गई है किसानों को गहरी कर रहे हैं और जब ऐसा होता है तो भरपूर मात्रा में हमारे शरीर में ऑक्सीजन बढ़ जाती है जिससे नहीं तो कैसे दूर हो जाते हैं यह माना जाता है कि यदि हमारे ऑप्शन में मौजूद इसी प्रकार कोई वायरल इंफेक्शन हो सकता है इसी प्रकार को बढ़ाने में बहुत ही अच्छा और स्ट्रांग केवल होता है यदि हम सही मात्रा में उस दिन हमारे शरीर में ग्रहण कर रहे हैं तो जितने भी तेरे पास लेने के तरीके को अच्छा करने में बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान होता है तो हमें हमेशा प्रणब का अभ्यास करते रहना चाहिए जिससे हमारी दोस्त को अच्छा बना रहे इसी प्रकार का कोई हमारी रेस्पिरेशन सिस्टम में कोई प्रॉब्लम ना किसी प्रकार का तरीका जम रहा है या फिर कोई स्पेलिंग है तो भी

char doston ke saath lene ke liye kaun sa yogasan ki Massage bhagadad aur ki bharpur matra mein baat kare toh iske liye asaman se bhi kahin zyada effective aur aasaan hota hamara pranam karte hai building technique setting ko jab hum inhale karte hai exam karte hai aur kuch samay ke liye hold karte hai toh bahut hi aashcharyajanak tarike se hamari long ki capacity badh jaati hai jaisa ki hum sabhi jante hai pranab ka matlab hota hai kisano ka aayam karna saanso ko gehri banate hai lambi karte hai shanson ko vistarit roop dete hai aur jitna lamba dehara karenge utani hi hamari lasi ke pati ki badhegi oxygen dene ki wajah se hamare sharir mein khoon ki matra badhegi ko jitne chauk se bahar nikalte rahenge hamare jitne bhi internal organ system hamari body mein kaam kar rahe hai usse kahin zyada anulom vilom pranayaam ka abhyas karte hai jo sharir ki jo gadiyan hai vaah shudh hoti hai toh vaah dur hota hai is aasan ka abhyas karte hai jab hum inka sahi tarike se karte hai chodte hai toh hamein yah maloom nahi rehta kya is rate mein milegi hai samanya manushya 1 minute mein lagbhag 15 se lekar 28 tak saans leta hai aur jab kisi vyakti ki saans lene ki gati badh jaati hai 25 tak ho jaati hai kai logo mein kis desh mein payi jaati hai toh iska matlab hai ki unke sharir mein vasa ki matra sahi nahi pahuchi hai yadi hum pranayaam ka abhyas karte hai sahi technique se toh hum apni saans lene ki jo vyakti hai jo istil hai usko 15 se kam kar sakte hai aur 6 se lekar 7 tak bistar par late kar sakte hai iska matlab yah hua ki teri humne 50 lene ki jagah ki hai usko kam kar liya reduce kar liya toh iska matlab hai ki hamari sansen vistarit roop se lena prarambh ho gayi hai kisano ko gehri kar rahe hai aur jab aisa hota hai toh bharpur matra mein hamare sharir mein oxygen badh jaati hai jisse nahi toh kaise dur ho jaate hai yah mana jata hai ki yadi hamare option mein maujud isi prakar koi viral infection ho sakta hai isi prakar ko badhane mein bahut hi accha aur strong keval hota hai yadi hum sahi matra mein us din hamare sharir mein grahan kar rahe hai toh jitne bhi tere paas lene ke tarike ko accha karne mein bahut hi mahatvapurna yogdan hota hai toh hamein hamesha pranab ka abhyas karte rehna chahiye jisse hamari dost ko accha bana rahe isi prakar ka koi hamari respiration system mein koi problem na kisi prakar ka tarika jam raha hai ya phir koi spelling hai toh bhi

चार दोस्तों के साथ लेने के लिए कौन सा योगासन की मसाज भगदड़ और की भरपूर मात्रा में बात करें

Romanized Version
Likes  226  Dislikes    views  1934
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!