ऑफिस में तनाव को काम करने में योग कैसे मदद कर सकता है?...


user
7:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है तो सब प्रथम यह समझना होगा कि ऑफिस में तनाव इस तरह के मिलते हैं वाली बात करो अगर आपका काम देर तक बैठकर करने का है कंप्यूटर पर बैठे आपको कंप्यूटर पर बैठकर काम कर रहे हो इस तरह का काम तो आप महसूस करते हैं अपने आप अपने शरीर में थकान तनाव एक अकड़न महसूस करते हैं और दूसरी बात ओवरलोड के कारण काम का प्रेशर होने के कारण बहुत सारे विचार जो हमारे दिमाग में एक साथ चल रहे होते बहुत सारे प्लान समर की मांग में एक साथ चले होते हैं बहुत सारे काम हमारे हमारे लिए पेंडिंग होते हैं बहुत सारे काम करने होते हैं तो इन सारी चीजों को लेकर मेंटल प्रेशर से माधोपुर बहुत ज्यादा होता है तो इसके साथ एक प्रेस और हमारे दिमाग पर और होता है कि हम जो काम कर रहे हैं उस भी हमारे अगर हमारे काम में कहीं कोई कमी होती है उससे अगर हमारे जॉब पर कोई प्रभाव पड़ता है तो उसका प्रभाव सिर्फ मार्ग जॉब पर नहीं हमारे घर पर पड़ता है कुछ घरेलू परेशानियां भी हमारे दिमाग में चल रही होती अगर मैं कहूं तो शारीरिक मानसिक भावनात्मक तीनों तरह के प्रभाव से हम ग्रसित रहते हैं और तीनों तरह के तनावों हमारे अंदर होते तो इनको मैं दूर करने का आपको तरीका बदला रहा हूं पहला शारीरिक तनाव को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है कि हर आधे घंटे पर आपको से बैठे-बैठे ही अगर संभव है तो कुर्सी पर बैठे-बैठे ही दोनों उंगलियों को आपस में फंसाकर दोनों हाथों की उंगलियों का आपस में फंसाकर ताड़ासन दोनों हाथों की उंगलियों को इंटरलॉक करके अपने सर पर रख कर फिर से पलटते विश्वास लेकर खींचे तारा सिंह की स्थिति में शरीर को ऊपर की ओर खींचें तीन से पांच बार फिर ताड़ासन की स्थिति में आने के बाद दाहिनी ओर से बीच में असर भाइयों सांस लेते हुए सीधा श्वास छोड़ते हुए दाहिनी ओर आपसे उसी तरह से सांस छोड़ते हुए भाइयों अगर अगर हम यह करते हैं तो हम देखते हैं कि हमें बहुत आराम मिलता है और 7:30 जब हम देर तक चुके बैठ रहे हैं तो बैठने के आशा तुम कर सकते हैं कि बॉडी के साथ ट्विस्ट चेयर पर बैठे हुए हैं तो कटिचक्रासन की तरह हम बैठे बैठे भी अपनी बॉडी को ट्विस्ट कर सकते हैं एडमिन साहब आपको अपनी बॉडी को सर्च करना है साइड वॉइस बंद करना है को बंद करना है और टेस्ट करना आशा 308 घुटनों के व्यायाम के लिए आप सांस लेकर तारों को सीधा करें सांस छोड़ते हुए पैर को मोड़ इस प्रकार की चीजें अगर हम करते हैं और हां आपको बता दूं कटिचक्रासन बॉडी को ट्विस्ट कर रहे हैं उसको सांस छोड़ना है वापस आएंगे तो समझना अगर आप इतनी चीजें करते हैं तो आप महसूस करेंगे कि आपको बहुत रिलैक्स हो रहा है साथ ही साथ कमर दर्द की परेशानी से कंधे दर्द की परेशानी से गर्दन दर्द की परेशानी से बच पाएंगे दूसरा दूसरी बात अगर मैं करूं मानसिक थकान तुझे मन में विचार आ रहे होते हैं बहुत सारे विचार विचारों का प्रसार होता है तो बहुत सारे विचार एक एक साथ आने का मतलब है तनाव का बढ़िया ना और हम देखते हैं कि जब जब हमारा हमारे ऊपर तनाव बढ़ता है तो हमारी श्वास की गति बढ़ जाती है या नहीं हो जाती है तो स्वास्थ्य गति के आरक्षण से हम यह समझ सकते हैं कि जैसे-जैसे हम हमारे मन में विचार बढ़ रहे हैं तो स्वाद गति बढ़ रही उसी प्रकार आप अनुभव करेंगे कि जब उस श्वास की गति पर हम नियंत्रण पहले सांस की गति को अगर हम वहां से उस पर कंट्रोल करें श्वास की गति को रिदमिक्स करें ले बंद करें हम देखते हैं कि उसी तरह से हमारे विचार और हमारे मन में आ रहे विचार भी धीरे-धीरे कम हो तो चले जाते हैं और इस प्रकार हमारे दिमाग पर जो बहुत सारे बहुत सारे विचारों के साथ एक बात और यही श्वसन प्रक्रिया आपको सहायता देती है अपने भावनाओं पर नियंत्रण में भी होता है बहुत सारे काम होते हैं काम नहीं बन रहे होते तो एक चिड़चिड़ापन हमारे अंदर होता है एक गुस्सा हमारे अंदर होता है स्टेशन हमारे अंदर होता है जिसके कारण हम किसी कार्य को नहीं कर पाते और बार-बार खुद पर अपने करीब पर गुस्सा होते रहते हैं जिसका प्रभाव हमारे जॉब पर पड़ता है और काफी सारी बातें बिगड़ने लगती तो अगर आप शोषण प्रक्रिया पर अच्छी तरह ध्यान दें आप देखेंगे कि आपके भावनाओं पर भी आपका नियंत्रण हुआ गुस्सा चिड़चिड़ापन ऊर्जा का प्रवाह बढ़ता है आपको सोचने के लिए समय मिल जाता है और हर तरह की भावनाओं पर आपका नियंत्रण अब देखते हैं कि हो पा रहा है जब कभी भी बहुत गुस्सा है तो उस गुस्से के वक्त आप 810 बार लंबी गहरी सांस लें और छोड़े आप देखेंगे कि उस गुस्से पर आपका बहुत हद तक नियंत्रण आ चुका है बहुत जोर क्या कर हंसी आ रही है उस वक्त बरात लंबी गहरी सांस ले तो आप अनुभव करते हैं कि उस हंसी पर भी नियंत्रण हो रहा है इस प्रकार हम देखते हैं कि जैसे-जैसे हम सांस पर नियंत्रण करते हैं हमारे मन पर नियंत्रण होता हमारी भावनाओं पर नियंत्रण होता अगर हम ऑफिस में जितना भी खाली समय मिले उस वक्त अगर स्वार्थ से जुड़े हुए व्यायाम करें था तुझसे ब्रदर प्राणायाम में अनुलोम-विलोम अगर हमें इस तरह की चीजें करते हैं तो हम देख पाते हैं कि हमारा शारीरिक मानसिक और भावनात्मक जो तनाव है वह कम होगा और आप ऑफिस में ज्यादा अच्छे कर काम कर पाएंगे इस प्रकार योग आपको ऑफिस में काम करते हुए एक स्वस्थ जीवन जीने में सहायक होगा धन्यवाद

office me tanaav ko kam karne me yog kaise madad kar sakta hai toh sab pratham yah samajhna hoga ki office me tanaav is tarah ke milte hain wali baat karo agar aapka kaam der tak baithkar karne ka hai computer par baithe aapko computer par baithkar kaam kar rahe ho is tarah ka kaam toh aap mehsus karte hain apne aap apne sharir me thakan tanaav ek akadan mehsus karte hain aur dusri baat Overload ke karan kaam ka pressure hone ke karan bahut saare vichar jo hamare dimag me ek saath chal rahe hote bahut saare plan summer ki maang me ek saath chale hote hain bahut saare kaam hamare hamare liye pending hote hain bahut saare kaam karne hote hain toh in saari chijon ko lekar mental pressure se madhopur bahut zyada hota hai toh iske saath ek press aur hamare dimag par aur hota hai ki hum jo kaam kar rahe hain us bhi hamare agar hamare kaam me kahin koi kami hoti hai usse agar hamare job par koi prabhav padta hai toh uska prabhav sirf marg job par nahi hamare ghar par padta hai kuch gharelu pareshaniya bhi hamare dimag me chal rahi hoti agar main kahun toh sharirik mansik bhavnatmak tatvo tarah ke prabhav se hum grasit rehte hain aur tatvo tarah ke tanavon hamare andar hote toh inko main dur karne ka aapko tarika badla raha hoon pehla sharirik tanaav ko dur karne ka sabse accha tarika hai ki har aadhe ghante par aapko se baithe baithe hi agar sambhav hai toh kursi par baithe baithe hi dono ungaliyon ko aapas me fansakar dono hathon ki ungaliyon ka aapas me fansakar tadasan dono hathon ki ungaliyon ko interlock karke apne sir par rakh kar phir se paltate vishwas lekar khinche tara Singh ki sthiti me sharir ko upar ki aur khinchen teen se paanch baar phir tadasan ki sthiti me aane ke baad dahini aur se beech me asar bhaiyo saans lete hue seedha swas chodte hue dahini aur aapse usi tarah se saans chodte hue bhaiyo agar agar hum yah karte hain toh hum dekhte hain ki hamein bahut aaram milta hai aur 7 30 jab hum der tak chuke baith rahe hain toh baithne ke asha tum kar sakte hain ki body ke saath twist chair par baithe hue hain toh katichakrasan ki tarah hum baithe baithe bhi apni body ko twist kar sakte hain admin saheb aapko apni body ko search karna hai side voice band karna hai ko band karna hai aur test karna asha 308 ghutno ke vyayam ke liye aap saans lekar taaron ko seedha kare saans chodte hue pair ko mod is prakar ki cheezen agar hum karte hain aur haan aapko bata doon katichakrasan body ko twist kar rahe hain usko saans chhodna hai wapas aayenge toh samajhna agar aap itni cheezen karte hain toh aap mehsus karenge ki aapko bahut relax ho raha hai saath hi saath kamar dard ki pareshani se kandhe dard ki pareshani se gardan dard ki pareshani se bach payenge doosra dusri baat agar main karu mansik thakan tujhe man me vichar aa rahe hote hain bahut saare vichar vicharon ka prasaar hota hai toh bahut saare vichar ek ek saath aane ka matlab hai tanaav ka badhiya na aur hum dekhte hain ki jab jab hamara hamare upar tanaav badhta hai toh hamari swas ki gati badh jaati hai ya nahi ho jaati hai toh swasthya gati ke aarakshan se hum yah samajh sakte hain ki jaise jaise hum hamare man me vichar badh rahe hain toh swaad gati badh rahi usi prakar aap anubhav karenge ki jab us swas ki gati par hum niyantran pehle saans ki gati ko agar hum wahan se us par control kare swas ki gati ko ridmiks kare le band kare hum dekhte hain ki usi tarah se hamare vichar aur hamare man me aa rahe vichar bhi dhire dhire kam ho toh chale jaate hain aur is prakar hamare dimag par jo bahut saare bahut saare vicharon ke saath ek baat aur yahi shwasan prakriya aapko sahayta deti hai apne bhavnao par niyantran me bhi hota hai bahut saare kaam hote hain kaam nahi ban rahe hote toh ek chidchidapan hamare andar hota hai ek gussa hamare andar hota hai station hamare andar hota hai jiske karan hum kisi karya ko nahi kar paate aur baar baar khud par apne kareeb par gussa hote rehte hain jiska prabhav hamare job par padta hai aur kaafi saari batein bigadne lagti toh agar aap shoshan prakriya par achi tarah dhyan de aap dekhenge ki aapke bhavnao par bhi aapka niyantran hua gussa chidchidapan urja ka pravah badhta hai aapko sochne ke liye samay mil jata hai aur har tarah ki bhavnao par aapka niyantran ab dekhte hain ki ho paa raha hai jab kabhi bhi bahut gussa hai toh us gusse ke waqt aap 810 baar lambi gehri saans le aur chode aap dekhenge ki us gusse par aapka bahut had tak niyantran aa chuka hai bahut jor kya kar hansi aa rahi hai us waqt baraat lambi gehri saans le toh aap anubhav karte hain ki us hansi par bhi niyantran ho raha hai is prakar hum dekhte hain ki jaise jaise hum saans par niyantran karte hain hamare man par niyantran hota hamari bhavnao par niyantran hota agar hum office me jitna bhi khaali samay mile us waqt agar swarth se jude hue vyayam kare tha tujhse brother pranayaam me anulom vilom agar hamein is tarah ki cheezen karte hain toh hum dekh paate hain ki hamara sharirik mansik aur bhavnatmak jo tanaav hai vaah kam hoga aur aap office me zyada acche kar kaam kar payenge is prakar yog aapko office me kaam karte hue ek swasth jeevan jeene me sahayak hoga dhanyavad

ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है तो सब प्रथम यह समझना होगा कि ऑफिस में

Romanized Version
Likes  168  Dislikes    views  963
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
3:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय गुरुदेव प्रश्न है कि ऑफिस में तनाव को तनाव को काम करने में योग कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है ऑफिस में तनाव को कम करने के लिए योग कैसे मदद कर सकता है बहुत अच्छा सोचेंगे यदि आप लोग ऑफिस जाते हैं तो यदि आप लोग तनावग्रस्त नहीं तो इसीलिए योग बहुत जरूरी है क्योंकि करना तनाव और दबाव योग में दूर हो जाता है पहले करेंगे करेंगे तो हमारा तनाव दूर हो जाता है हमारा जो कि इतना हमें फ्रेश महसूस होता है कि कितना तो जरूर तो अपना-अपना अपने आपको इतना कुर्ती महसूस होगा ध्यान करने के बाद हम कार्यकर्ताओं और आपका जीवन का 4 क्षेत्र का उन्नति होता है मानसिक शक्ति का विकास होता है वास्तव में हम दो बार योगा करना चाहिए तलाक को हटाने के लिए ठीक है क्योंकि जब तनाव आपका मेडिटेशन में रिलीज हो रहा है तो आपको अच्छा लगता है क्योंकि और कोई टाइप फॉर मेडिटेशन ड्यूरिंग मेडिटेशन मेडिटेशन ड्यूरिंग मेडिटेशन स्पेशलिस्ट और के नीचे दबा दूर हो जाता है जो भी कार्य किए यानी के ऑफिस में कोई आपको कुछ बोल दिए क्योंकि जो कि आपको ऐसे बोलना नहीं चाहिए था आपका मन हो जाता है तो फिर मत सोचिए कि मेरा ध्यान नहीं चल रहा है मेरा जो किठौर तारा है जो मैंने पहले दिन का किया किया जो भी थोड़ा ध्यान में आ रहा है क्योंकि और तो मेरी टेंशन थी उसको कहते हैं प्लीज प्लीज आपका तनाव दूर हो जाता है मेरा मतलब तीन प्रकार का है जो कि मेरी टेस्टिंग मीटर में तालाबों की बुद्धि इतना अच्छा हमारा हो जाता है कि हम इतना हॉटस्पॉट को रिलीज करने के लिए जो हमारा काम करने के लिए दुआ जरूर दूर हो जाएगी इसलिए आप ध्यान करना चाहिए

jai gurudev prashna hai ki office me tanaav ko tanaav ko kaam karne me yog kam karne me yog kaise madad kar sakta hai office me tanaav ko kam karne ke liye yog kaise madad kar sakta hai bahut accha sochenge yadi aap log office jaate hain toh yadi aap log tanaavgrast nahi toh isliye yog bahut zaroori hai kyonki karna tanaav aur dabaav yog me dur ho jata hai pehle karenge karenge toh hamara tanaav dur ho jata hai hamara jo ki itna hamein fresh mehsus hota hai ki kitna toh zaroor toh apna apna apne aapko itna kurtee mehsus hoga dhyan karne ke baad hum karyakartaon aur aapka jeevan ka 4 kshetra ka unnati hota hai mansik shakti ka vikas hota hai vaastav me hum do baar yoga karna chahiye talak ko hatane ke liye theek hai kyonki jab tanaav aapka meditation me release ho raha hai toh aapko accha lagta hai kyonki aur koi type for meditation during meditation meditation during meditation specialist aur ke niche daba dur ho jata hai jo bhi karya kiye yani ke office me koi aapko kuch bol diye kyonki jo ki aapko aise bolna nahi chahiye tha aapka man ho jata hai toh phir mat sochiye ki mera dhyan nahi chal raha hai mera jo kithaur tara hai jo maine pehle din ka kiya kiya jo bhi thoda dhyan me aa raha hai kyonki aur toh meri tension thi usko kehte hain please please aapka tanaav dur ho jata hai mera matlab teen prakar ka hai jo ki meri testing meter me talabon ki buddhi itna accha hamara ho jata hai ki hum itna hotspot ko release karne ke liye jo hamara kaam karne ke liye dua zaroor dur ho jayegi isliye aap dhyan karna chahiye

जय गुरुदेव प्रश्न है कि ऑफिस में तनाव को तनाव को काम करने में योग कम करने में योग कैसे मदद

Romanized Version
Likes  68  Dislikes    views  689
WhatsApp_icon
user

Anshu Sarkar

Founder & Director, Sarkar Yog Academy

4:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले मेरा आपको धन्यवाद आपका सवाल का जवाब देने के लिए आपने मुझे अब सर्दी साथी आप को मेरा नमस्कार आप का सवाल है ऑफिस में तनाव को कम करने के योग कैसे मदद कर सकता है योग केवल ऑफिस में काम करने वाले को तनाव भी नहीं कम कर सकता है दुनिया में हर वर्ग हर जाति हर प्रोफेशन जिस से भी जुड़े हैं किसी भी प्रोफेशन सागर हुए हैं चाहिए ऑफिस में काम करें 6:00 बजे शिक्षक हो चाहे आर्मी हो चाहे पुलिस आर्डर हो दुनिया का किसी भी प्रोफेशन में कोई भी इंसान के लिए योग तनाव को दूर करता है क्योंकि आज के भागदौड़ वाली जिंदगी में जहां साथ में प्रदूषण थाना में मिला चारों तरफ तनाव ऐसी अवस्था में योग्य कैसा माध्यम है जिसके द्वारा आप अपने भंग अपने पूरे परिवार को निरोग एवं चिंता मत रख सकते हैं वह भी दवा के बिना विदाउट मेडिसिन बहुत इंटरसिटी हैं और इसका जवाब कई ऑफिस में काम करने वाले के साथ-साथ कई जैन को सही दिशा देने के लिए प्रार्थना करेंगे एवं साथ में उनको मनोबल को बढ़ाएंगे ताकि प्रेरित करेंगे साथ में योग ऑफिस में काम करने वाले जितने भी लोग हैं उनको तनाव तो कम कर आना ही है और अपने को खुद को तनाव को कम करना है साथ ही में ऑफिस में काम करने के लिए जो जो प्रॉब्लम होती है जैसे ऑफिस में बैठकर अगर आप काम कर रहे हैं कंप्यूटर में काम कर इसमें आपका ऑर्डर लेटेस्ट राखी का प्रॉब्लम गैस एसिडिटी कॉन्स्टिपेशन प्रॉब्लम होता है बैठे-बैठे काम करते-करते गर्दन का दर्द कमर का दर्द प्रॉब्लम है जिससे लोग बहुत ही लाभदायक सिद्ध होगा जिसमें आपका स्पॉटलाइट जा सकती कॉन्स्टिपेशन हर प्रॉब्लम को दूर करने के लिए बहुत ही लाभदायक सिद्ध होगा और तनाव को कम करने के लिए योग के साथ-साथ आपको प्रणाम कुछ ब्रीडिंग सेट करना है स्वास्थ्य गतिविधि को नियंत्रण में लाने को प्रणाम कहते हैं प्रदान करना है एवं मेडिटेशन यानी कि ध्यान करना है अगर आप क्यों चेंज कर रहे हैं योग बनाएं एवं है हमारा सहयोग में तीनों ही आता है यम नियम आसन प्राणायाम प्रत्याहार धारणा ध्यान समाधि तीनों अगर एक साथ करेंगे आप पहले योग फिर इसके बाद प्रणाम उसके बाद ध्यान तो आपको कंप्लीट संपूर्ण लाभ मिलेगा मेरा आपसे विनम्र निवेदन है आप अपना जीवन में सभी से अनुरोध है मेरा जीवन में योग का अपना लें और आने वाला भविष्य निरोग सुंदर दीर्घायु एवं चिंतामणि योग अपनाएं रोग भगाए योग अपनाएं मोटापा घटाएं साथी इतना कहना चाहूंगा स्वास्थ्य के बिना धन-दौलत बेकार स्वास्थ्य के बिना धन दौलत बेकार योग अपनाएं यह अंशु सरकार की पुकार धन्यवाद

sabse pehle mera aapko dhanyavad aapka sawaal ka jawab dene ke liye aapne mujhe ab sardi sathi aap ko mera namaskar aap ka sawaal hai office me tanaav ko kam karne ke yog kaise madad kar sakta hai yog keval office me kaam karne waale ko tanaav bhi nahi kam kar sakta hai duniya me har varg har jati har profession jis se bhi jude hain kisi bhi profession sagar hue hain chahiye office me kaam kare 6 00 baje shikshak ho chahen army ho chahen police order ho duniya ka kisi bhi profession me koi bhi insaan ke liye yog tanaav ko dur karta hai kyonki aaj ke bhagdaud wali zindagi me jaha saath me pradushan thana me mila charo taraf tanaav aisi avastha me yogya kaisa madhyam hai jiske dwara aap apne bhang apne poore parivar ko nirog evam chinta mat rakh sakte hain vaah bhi dawa ke bina without medicine bahut intercity hain aur iska jawab kai office me kaam karne waale ke saath saath kai jain ko sahi disha dene ke liye prarthna karenge evam saath me unko manobal ko badhaenge taki prerit karenge saath me yog office me kaam karne waale jitne bhi log hain unko tanaav toh kam kar aana hi hai aur apne ko khud ko tanaav ko kam karna hai saath hi me office me kaam karne ke liye jo jo problem hoti hai jaise office me baithkar agar aap kaam kar rahe hain computer me kaam kar isme aapka order latest rakhi ka problem gas acidity constipation problem hota hai baithe baithe kaam karte karte gardan ka dard kamar ka dard problem hai jisse log bahut hi labhdayak siddh hoga jisme aapka spotlight ja sakti constipation har problem ko dur karne ke liye bahut hi labhdayak siddh hoga aur tanaav ko kam karne ke liye yog ke saath saath aapko pranam kuch Breeding set karna hai swasthya gatividhi ko niyantran me lane ko pranam kehte hain pradan karna hai evam meditation yani ki dhyan karna hai agar aap kyon change kar rahe hain yog banaye evam hai hamara sahyog me tatvo hi aata hai yum niyam aasan pranayaam pratyahar dharana dhyan samadhi tatvo agar ek saath karenge aap pehle yog phir iske baad pranam uske baad dhyan toh aapko complete sampurna labh milega mera aapse vinamra nivedan hai aap apna jeevan me sabhi se anurodh hai mera jeevan me yog ka apna le aur aane vala bhavishya nirog sundar dirghayu evam chintamani yog apanaen rog bhagaye yog apanaen motapa ghataye sathi itna kehna chahunga swasthya ke bina dhan daulat bekar swasthya ke bina dhan daulat bekar yog apanaen yah anshu sarkar ki pukaar dhanyavad

सबसे पहले मेरा आपको धन्यवाद आपका सवाल का जवाब देने के लिए आपने मुझे अब सर्दी साथी आप को मे

Romanized Version
Likes  215  Dislikes    views  2064
WhatsApp_icon
user

Akhil

Yoga Expert

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योगाभ्यास करने से आपने एक अंदरूनी शांति का निर्माण होता है यह शांति दिन भर आपके सभी कार्यों में आपको तनाव मुक्त रखती है योग से मानसिक क्षमता बढ़ती है जिससे आप कम समय में ज्यादा काम कर सकते हैं इससे भी आपके कार्य का तनाव कम होता है नियमित योगाभ्यास करने से आप में क्षमता थी जिससे आप सभी परिस्थितियों में अवश्य लेते रहते हैं अगर लाभ हो या हानि हो मान हो या मान हो जीत हो या हार हो आप सभी बंधुओं से ऊपर उठकर संभव में रहते हैं यह क्षमता न केवल आपको ऑफिस में बल्कि जीवन के हर क्षेत्र में आपके मन को शांत सकती है

yogabhayas karne se aapne ek andaruni shanti ka nirmaan hota hai yah shanti din bhar aapke sabhi karyo me aapko tanaav mukt rakhti hai yog se mansik kshamta badhti hai jisse aap kam samay me zyada kaam kar sakte hain isse bhi aapke karya ka tanaav kam hota hai niyamit yogabhayas karne se aap me kshamta thi jisse aap sabhi paristhitiyon me avashya lete rehte hain agar labh ho ya hani ho maan ho ya maan ho jeet ho ya haar ho aap sabhi bandhuon se upar uthakar sambhav me rehte hain yah kshamta na keval aapko office me balki jeevan ke har kshetra me aapke man ko shaant sakti hai

योगाभ्यास करने से आपने एक अंदरूनी शांति का निर्माण होता है यह शांति दिन भर आपके सभी कार्यो

Romanized Version
Likes  246  Dislikes    views  2420
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस को कम करने में योग बहुत बड़ा आपका नाम का अभ्यास करते हैं जिसे कपालभाति किया हो गई हमारा धर्म की पहचान हो गया और साथ ही साथ आपका रिश्ता है ऑफिस में

office ko kam karne me yog bahut bada aapka naam ka abhyas karte hain jise kapalbhati kiya ho gayi hamara dharm ki pehchaan ho gaya aur saath hi saath aapka rishta hai office me

ऑफिस को कम करने में योग बहुत बड़ा आपका नाम का अभ्यास करते हैं जिसे कपालभाति किया हो गई हमा

Romanized Version
Likes  367  Dislikes    views  2620
WhatsApp_icon
user

Shashikant Mani Tripathi

Yoga Expert | Life Coach

2:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बनाओ ऑफिस में हो या घर में हो तनाव का जो मूल कारण है वह अपेक्षाएं हैं कामनाएं हैं आपको जिस तरह की चाहत है या आप भी आपके अधिनस्थ या आपके ऊपर के काम करने वाले अधिकारियों की जिस तरह की चाहत है उस चाहत का फुलफिल नहीं हो पाने की स्थिति में आपको तनाव भी होता है और आपकी वजह से लोगों को भी तनाव होता है तो तनाव का एक मूल कारण है अपेक्षा और अपेक्षाएं होती ही हैं किसी आधार पर आप कहीं ऑफिस में काम करते हैं तो निश्चित आपसे अपेक्षा रहेगी या आप जिस के अंडर में काम करते हैं उससे भी आपको अपेक्षा रहेगी यह दोनों को समझना चाहिए तनाव नासमझी से उत्पन्न होने वाला एक मानसिक विकार है चाहे वह परिवार में हूं चाय समाज में हो क्या ऑफिस में हो अब आपने पूछा है कि तनाव को कम करने वाला योगा बताइए आपके विचारों से सीधा आपका स्वास्थ्य प्रभावित होता है आपके हृदय की गति प्रभावित होती है अब जब भी देखें अगर आप अच्छे विचार के साथ हैं ऐसे विचार जो मन को अनुकूल लगते हैं उस दौरान आपके सांसो की दुर्गति है वह सामान्य होती है लेकिन जैसे ही आपके प्रतिकूल विचार आपके अंदर जन्म लेता है तो आपकी सांसों की गति बदलती है तो आप प्राणायाम करके अपने तनाव को कम कर सकते हैं और धनिया में विशेष रूप से अनुलोम विलोम प्राणायाम इससे आपकी दोनों नारियां इला और पिंगला दोनों समूहों और साथ ही साथ सुषुम्ना में प्रवाहित होने लगे इसके लिए आपको प्रणाम करना चाहिए क्योंकि पुराणों की गति बदल करके आप अपने विचारों से होने वाले तनाव को कम कर सकते हैं और सबसे बड़ी बात तो यह है कि आपको आप विचार करना चाहिए और अपने कर्तव्य का ठीक से पालन करना चाहिए क्योंकि कई बार हमारे क्षमता से अधिक की अपेक्षा लोगों को होती है तो भी तना होता है और कई बार हम अपनी क्षमता का ठीक से प्रयोग नहीं करते हैं तो भी तना होता है तो इसमें समझना होगा और समझना दोनों तरफ से होगा तो इसके लिए मैं समझता हूं कि आप प्रणाम करें हो सके तो उदगीठ प्राणायाम जिसमें हम ओंकार की ध्वनि करते हैं उसको करें जहां मरी करें यह सब तनाव को कम करने का साधन है और एक सफल हो पाएगी आप शांभवी मुद्रा का अभ्यास करें जिसमें आप अपनी दृष्टि को अपना शिकार पर केंद्रित करें तो उस से क्या होगा जब आपका मन कहीं केंद्रित होगा तो निश्चित ही मन के विचारों से उत्पन्न होने वाला विशाल अपने आप शांत होगा इन सब की आंखों का अभ्यास करके आप निश्चित ही अपने तनाव को कम कर सकते हैं धन्यवाद

banao office me ho ya ghar me ho tanaav ka jo mul karan hai vaah apekshayen hain kamanaen hain aapko jis tarah ki chahat hai ya aap bhi aapke adhinasth ya aapke upar ke kaam karne waale adhikaariyo ki jis tarah ki chahat hai us chahat ka fulfil nahi ho paane ki sthiti me aapko tanaav bhi hota hai aur aapki wajah se logo ko bhi tanaav hota hai toh tanaav ka ek mul karan hai apeksha aur apekshayen hoti hi hain kisi aadhar par aap kahin office me kaam karte hain toh nishchit aapse apeksha rahegi ya aap jis ke under me kaam karte hain usse bhi aapko apeksha rahegi yah dono ko samajhna chahiye tanaav nasamajhi se utpann hone vala ek mansik vikar hai chahen vaah parivar me hoon chai samaj me ho kya office me ho ab aapne poocha hai ki tanaav ko kam karne vala yoga bataiye aapke vicharon se seedha aapka swasthya prabhavit hota hai aapke hriday ki gati prabhavit hoti hai ab jab bhi dekhen agar aap acche vichar ke saath hain aise vichar jo man ko anukul lagte hain us dauran aapke saanso ki durgati hai vaah samanya hoti hai lekin jaise hi aapke pratikul vichar aapke andar janam leta hai toh aapki shanson ki gati badalti hai toh aap pranayaam karke apne tanaav ko kam kar sakte hain aur dhania me vishesh roop se anulom vilom pranayaam isse aapki dono nariyan ila aur pingla dono samuho aur saath hi saath sushumna me pravahit hone lage iske liye aapko pranam karna chahiye kyonki purano ki gati badal karke aap apne vicharon se hone waale tanaav ko kam kar sakte hain aur sabse badi baat toh yah hai ki aapko aap vichar karna chahiye aur apne kartavya ka theek se palan karna chahiye kyonki kai baar hamare kshamta se adhik ki apeksha logo ko hoti hai toh bhi tana hota hai aur kai baar hum apni kshamta ka theek se prayog nahi karte hain toh bhi tana hota hai toh isme samajhna hoga aur samajhna dono taraf se hoga toh iske liye main samajhata hoon ki aap pranam kare ho sake toh udagith pranayaam jisme hum onkaar ki dhwani karte hain usko kare jaha mari kare yah sab tanaav ko kam karne ka sadhan hai aur ek safal ho payegi aap shambhavi mudra ka abhyas kare jisme aap apni drishti ko apna shikaar par kendrit kare toh us se kya hoga jab aapka man kahin kendrit hoga toh nishchit hi man ke vicharon se utpann hone vala vishal apne aap shaant hoga in sab ki aakhon ka abhyas karke aap nishchit hi apne tanaav ko kam kar sakte hain dhanyavad

बनाओ ऑफिस में हो या घर में हो तनाव का जो मूल कारण है वह अपेक्षाएं हैं कामनाएं हैं आपको जिस

Romanized Version
Likes  349  Dislikes    views  3339
WhatsApp_icon
user

Manmohan Bhutada

Founder & Director - Yog Prayog

1:11
Play

Likes  247  Dislikes    views  2158
WhatsApp_icon
user

Akash Singhvi

Yoga & Wellness Coach

1:40
Play

Likes  65  Dislikes    views  1093
WhatsApp_icon
user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

3:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब कितनी ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है वेरी गुड क्वेश्चन देखो ऑफिस में मोस्टली बैठे रहने का काम ज्यादा होता है और बैठे रहने में आपकी कमर भी दर्द कर सकती है आपकी ज्ञापन के दांत कर सकती है आजकल लगातार ज्यादा कंप्यूटर पर काम होता है तो आपकी आईडी नहीं जाती और रमाकांत खासकर दर्द बहुत मदद कर सकता है बेशक 5 मिनट के बीच में टाइम मिलेगा 2 मिनट टाइम मिले तो अपनी गर्दन को सीधी करो बिल्कुल स्टेट बैठो कुर्सी पर थोड़ा सा उसको टच करो और पृथ्वीराज तनाव पैदा करो अभिलाष उसे जितना भी आपकी कसम आपकी मदद मिलेगी थोड़ा 2 मिनट के लिए बीच-बीच में से टाइम निकाल कर लो उससे भी आपको बहुत मदद मिलेगी और यदि आप पानी पीने के लिए उठते हैं तो अपने हाथ पर तेज करो थोड़ा सा आपको कुछ कर सकते हो आप चलते चलते तरफ जा रहे हो इतना आप कर सकते हो चाय पीने के पहले कर सकते हो खाने के बाद में कर लेगा तो एक मन में डिस्ट्रिक्ट बनाइए बनाइए मुझे मिलने मुझे अपने आप करना कर सकते हैं और रे तू तो कहीं चैटिंग करते रहना चाहिए आप बैठे बैठे भी टांगों को चर्च टांगों में आप उसको तनाव पैदा करिए इलाके में तनाव पैदा कर सकते बाजू में तनाव पैदा करो जैसे जैसे आपको बीच में कभी तो टाइम मिलता है ऐसी बात नहीं किया आप लगातार हर आधा घंटा काम करके थोड़ा अपने आप को देख ले सकते हैं फिर से उठने की भी जरूरत नहीं तू यूं क्या एक एटीट्यूड होना चाहिए कहीं भी किया जा सकता है और इसमें कोई दो राय नहीं है ऑफिस में भी तनाव क्यों किया जा सकता और तनाव को बहुत नियंत्रण में रख सकते हैं चुनाव होने के लिए

ab kitni office me tanaav ko kam karne me yog kaise madad kar sakta hai very good question dekho office me Mostly baithe rehne ka kaam zyada hota hai aur baithe rehne me aapki kamar bhi dard kar sakti hai aapki gyapan ke dant kar sakti hai aajkal lagatar zyada computer par kaam hota hai toh aapki id nahi jaati aur ramakant khaskar dard bahut madad kar sakta hai beshak 5 minute ke beech me time milega 2 minute time mile toh apni gardan ko seedhi karo bilkul state baitho kursi par thoda sa usko touch karo aur prithviraj tanaav paida karo abhilash use jitna bhi aapki kasam aapki madad milegi thoda 2 minute ke liye beech beech me se time nikaal kar lo usse bhi aapko bahut madad milegi aur yadi aap paani peene ke liye uthte hain toh apne hath par tez karo thoda sa aapko kuch kar sakte ho aap chalte chalte taraf ja rahe ho itna aap kar sakte ho chai peene ke pehle kar sakte ho khane ke baad me kar lega toh ek man me district banaiye banaiye mujhe milne mujhe apne aap karna kar sakte hain aur ray tu toh kahin chatting karte rehna chahiye aap baithe baithe bhi tangon ko church tangon me aap usko tanaav paida kariye ilaake me tanaav paida kar sakte baju me tanaav paida karo jaise jaise aapko beech me kabhi toh time milta hai aisi baat nahi kiya aap lagatar har aadha ghanta kaam karke thoda apne aap ko dekh le sakte hain phir se uthane ki bhi zarurat nahi tu yun kya ek attitude hona chahiye kahin bhi kiya ja sakta hai aur isme koi do rai nahi hai office me bhi tanaav kyon kiya ja sakta aur tanaav ko bahut niyantran me rakh sakte hain chunav hone ke liye

अब कितनी ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है वेरी गुड क्वेश्चन देखो ऑफिस

Romanized Version
Likes  529  Dislikes    views  5899
WhatsApp_icon
user

Luckypandey

Yoga Trainer

2:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस में आपको निरंतर अगर आपको तनाव रहता है तो सबसे पहले तो आप अपने दिनचर्या को मारे दिनचर्या में प्रातः काल उठने का प्रयास करें कि सूर्योदय के पहले अगर आप उठ जाते हैं तो आपको 50 पर सेंट क्यों बचाए गए इसके बाद आपको योग में आपको प्राणायाम करना अगर आपका शरीर फिट फाट है थोड़ा बहुत आप एक्सरसाइज कर सकते हैं उसमें थोड़ा सा आप दो-तीन बार युवा है तो 6 बार ज्यादा कर सकते तो 12 बार सुन विस्तार कर सकते हैं वह आपके लिए मस्त उपयोगी है और प्राणायाम भी हो जाता है हो सके तो दंड बैठक भी आप कर लिया उससे भी क्योंकि आपके चित्र से एक बार पसीना निकलना चाहिए अबे कभी भी किसी से कंपटीशन करना ही नहीं क्या मतलब जो हम करेंगे वह मिलेगा कंपटीशन के भावना करने से देश पल होगा मन हमारा चंचलता और अधिक आएगी और हम संत निर्मल नहीं रह सकते हैं और हमें वह चीज को प्राप्त करने के लिए हम घर गलत भी कर लेते हैं तो जितना हो सके भगवान ने जितना दिव्यता दिया है जितना आपका पुरुषार्थ करने का इच्छा प्रकट हो रही है तो उसको जरूर करें इसके लिए आपको ऑफिस में अगर तनाव को कम करना है तो आपको भास्त्रिका 5 मिनट अनुलोम-विलोम 5 मिनट 5 मिनट नहीं कर सकते हैं तो 2 से 3 मिनट तो कर ही सकते हैं और खाली पेट आप सुबह कपालभाति 5 मिनट के बाद धाम रे इतना आपको करना है और 1 मिनट का लगातार लंबा गहरा ओम का उच्चरण इसीलिए आप करिए आपके जीवन में उसी दिन से परिवर्तन आ जाएगा इंशा व्यास करेंगे तो ऑफिस में तनाव अगर आता है तो आप 1 मिनट लंबी गहरी सांस को अंदर भरी है बाहर छोड़िए और यही आप लगभग करिए और कुछ देर शांत होने का प्रयास अपने आप को देखने का प्रयास करना कौन क्या कर रहा है इस से मतलब नहीं यह तनाव एक कड़ी के सामान जिस प्रकार हमारा घर है कहीं पर कचरा हमने रख दिया वह पड़ा हुआ है तो उसी प्रकार हम सोने पर उसको ना रखे उसको प्रयास करें कि हम बाहर कर दें वह ज्यादा बेहतर होगा ज्यादा उपयोगी भी होगा और आपको यह योग में मदद भी करेगा प्रयास से ही करें आपको जरूर निरंतर आप को अच्छा लाभ मिलेगा अगर कोई समस्या होती है तो आप थोड़ा सा प्रयास यह करें कि हम निरंतर योग करें आपकी समस्या दूर हो जाएगी

office me aapko nirantar agar aapko tanaav rehta hai toh sabse pehle toh aap apne dincharya ko maare dincharya me pratah kaal uthane ka prayas kare ki suryoday ke pehle agar aap uth jaate hain toh aapko 50 par sent kyon bachaye gaye iske baad aapko yog me aapko pranayaam karna agar aapka sharir fit fat hai thoda bahut aap exercise kar sakte hain usme thoda sa aap do teen baar yuva hai toh 6 baar zyada kar sakte toh 12 baar sun vistaar kar sakte hain vaah aapke liye mast upyogi hai aur pranayaam bhi ho jata hai ho sake toh dand baithak bhi aap kar liya usse bhi kyonki aapke chitra se ek baar paseena nikalna chahiye abe kabhi bhi kisi se competition karna hi nahi kya matlab jo hum karenge vaah milega competition ke bhavna karne se desh pal hoga man hamara chanchalata aur adhik aayegi aur hum sant nirmal nahi reh sakte hain aur hamein vaah cheez ko prapt karne ke liye hum ghar galat bhi kar lete hain toh jitna ho sake bhagwan ne jitna divyata diya hai jitna aapka purusharth karne ka iccha prakat ho rahi hai toh usko zaroor kare iske liye aapko office me agar tanaav ko kam karna hai toh aapko bhastrika 5 minute anulom vilom 5 minute 5 minute nahi kar sakte hain toh 2 se 3 minute toh kar hi sakte hain aur khaali pet aap subah kapalbhati 5 minute ke baad dhaam ray itna aapko karna hai aur 1 minute ka lagatar lamba gehra om ka uchcharan isliye aap kariye aapke jeevan me usi din se parivartan aa jaega insha vyas karenge toh office me tanaav agar aata hai toh aap 1 minute lambi gehri saans ko andar bhari hai bahar chodiye aur yahi aap lagbhag kariye aur kuch der shaant hone ka prayas apne aap ko dekhne ka prayas karna kaun kya kar raha hai is se matlab nahi yah tanaav ek kadi ke saamaan jis prakar hamara ghar hai kahin par kachra humne rakh diya vaah pada hua hai toh usi prakar hum sone par usko na rakhe usko prayas kare ki hum bahar kar de vaah zyada behtar hoga zyada upyogi bhi hoga aur aapko yah yog me madad bhi karega prayas se hi kare aapko zaroor nirantar aap ko accha labh milega agar koi samasya hoti hai toh aap thoda sa prayas yah kare ki hum nirantar yog kare aapki samasya dur ho jayegi

ऑफिस में आपको निरंतर अगर आपको तनाव रहता है तो सबसे पहले तो आप अपने दिनचर्या को मारे दिनचर्

Romanized Version
Likes  430  Dislikes    views  4729
WhatsApp_icon
user

Dhananjay Janardan Suryavanshi

Founder & Director - Yogeej Meditation

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तनाव तो सभी तरफ होता ही है ऑफिस में हो या घर में हो कहीं भी हो स्ट्रेस तो होता है लेकिन उसमें भी दो प्रकार होते यूज्ड डिस्ट्रेस जो सकारात्मकता ने वह तो जिंदगी में जरूरी है जिससे हम डिवेलप होते बढ़ते हैं जो नकारात्मकता न्यू होता है उसे हमें बाहर निकालते फेंकना है नकारात्मक तारण को बाहर फेंकने के लिए हमें थोड़ा बहुत शवासन इंस्ट्रक्शन टेकराम सीखेंगे तो हम उसे अपने डिप्रेशन को यह नेगेटिव स्ट्रेस को हम निकल सकते हैं

tanaav toh sabhi taraf hota hi hai office me ho ya ghar me ho kahin bhi ho stress toh hota hai lekin usme bhi do prakar hote used distress jo sakaraatmakata ne vaah toh zindagi me zaroori hai jisse hum develop hote badhte hain jo nakaratmakta new hota hai use hamein bahar nikalate phenkana hai nakaratmak tarana ko bahar fenkne ke liye hamein thoda bahut shavasan instruction tekram sikhenge toh hum use apne depression ko yah Negative stress ko hum nikal sakte hain

तनाव तो सभी तरफ होता ही है ऑफिस में हो या घर में हो कहीं भी हो स्ट्रेस तो होता है लेकिन उस

Romanized Version
Likes  290  Dislikes    views  2818
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस और अन्य व्यस्तता वाली कार्य करने वाले लोगों के लिए तो योग एक रामबाण है अगर आप नियमित रूप से कम से कम आधा घंटा भी योग और प्राणायाम करते हैं यकीन मानिए आपको 24 घंटे की ऊर्जा मिलेगी जिसकी आप कल्पना नहीं कर सकते

office aur anya vyastata wali karya karne waale logo ke liye toh yog ek rambaan hai agar aap niyamit roop se kam se kam aadha ghanta bhi yog aur pranayaam karte hain yakin maniye aapko 24 ghante ki urja milegi jiski aap kalpana nahi kar sakte

ऑफिस और अन्य व्यस्तता वाली कार्य करने वाले लोगों के लिए तो योग एक रामबाण है अगर आप नियमित

Romanized Version
Likes  168  Dislikes    views  2161
WhatsApp_icon
Likes  119  Dislikes    views  2228
WhatsApp_icon
user

Swami Umesh Yogi

Peace-Guru (Global Peace Education)

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे प्रोडक्टिविटी पूरे 24 घंटे में पूरी 24 घंटे में हमारी जो प्रोडक्टिविटी है और 24 मिनट होती है पर हम ऑफिस में 10 घंटे 8 घंटे 6 घंटे के लिए काम करते हैं वह 60 घंटे में जो पिक प्रोडक्टिविटी है वह केवल 24 मिनट की होती है यह सेंटर से क्लिप है जो हम घंटो घंटो काम करते हैं और अपने प्रोडक्टिविटी को बढ़ाना चाहते हैं यू वांट टू परफॉर्मेंस बैटरी कंपनी योगा मेडिटेशन मेडिटेशन प्राणायामा एंड प्राणायामा इन मेडिसिन ब्राइटनेस इंक्रीज योर क्रिएटिविटी

likhe productivity poore 24 ghante me puri 24 ghante me hamari jo productivity hai aur 24 minute hoti hai par hum office me 10 ghante 8 ghante 6 ghante ke liye kaam karte hain vaah 60 ghante me jo pic productivity hai vaah keval 24 minute ki hoti hai yah center se clip hai jo hum ghanton ghanton kaam karte hain aur apne productivity ko badhana chahte hain you want to performance battery company yoga meditation meditation pranayama and pranayama in medicine brightness increase your creativity

लिखे प्रोडक्टिविटी पूरे 24 घंटे में पूरी 24 घंटे में हमारी जो प्रोडक्टिविटी है और 24 मिनट

Romanized Version
Likes  221  Dislikes    views  1882
WhatsApp_icon
user

Shivam Kumar

Yoga Instructor

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो नमस्कार श्रीमान आपका प्रश्न है ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि प्रतिदिन आप ही योगाभ्यास कर सकते हैं करते हैं तो आप तनाव मुक्त हो सकते हैं अगर आप प्रतिदिन इमानदारी से अपने आप को आधा घंटे ते तू मेरा मानना है आप तनाव मुक्त रहेंगे पर इतना ध्यान रखे आपको प्रतिदिन योगाभ्यास करना होगा आप करें योग और रहे निरोग मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं नमस्कार

hello namaskar shriman aapka prashna hai office me tanaav ko kam karne me yog kaise madad kar sakta hai toh main aapko batana chahunga ki pratidin aap hi yogabhayas kar sakte hain karte hain toh aap tanaav mukt ho sakte hain agar aap pratidin imaandari se apne aap ko aadha ghante te tu mera manana hai aap tanaav mukt rahenge par itna dhyan rakhe aapko pratidin yogabhayas karna hoga aap kare yog aur rahe nirog meri subhkamnaayain aapke saath hain namaskar

हेलो नमस्कार श्रीमान आपका प्रश्न है ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है त

Romanized Version
Likes  107  Dislikes    views  1719
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  904  Dislikes    views  7647
WhatsApp_icon
user
0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस में तनाव को दूर करने के लिए यहां ब्राह्मी प्रणाम का अभ्यास करें धमनी प्रणाम 2 मिनट का अभ्यास करने से मानसिक जो आपका तनाव होता है हमें सिर दर्द भरा हो जाता है फिर मैं किसी प्रकार का आप स्टेट में होते हैं तो 2 मिनट में उसका रिजल्ट आ जाता है 2 मिनट में आप देखेंगे कि वास्तव में आप मानसिक रूप से फिर हम क्या करें आप स्वस्थ रहेंगे

office me tanaav ko dur karne ke liye yahan brahmi pranam ka abhyas kare dhamani pranam 2 minute ka abhyas karne se mansik jo aapka tanaav hota hai hamein sir dard bhara ho jata hai phir main kisi prakar ka aap state me hote hain toh 2 minute me uska result aa jata hai 2 minute me aap dekhenge ki vaastav me aap mansik roop se phir hum kya kare aap swasth rahenge

ऑफिस में तनाव को दूर करने के लिए यहां ब्राह्मी प्रणाम का अभ्यास करें धमनी प्रणाम 2 मिनट का

Romanized Version
Likes  424  Dislikes    views  4774
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

2:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है ऑफिस में आप जाते हो तो चेयर पर बैठे बैठे या तो आपका गर्दन दर्द करने लगता है या हाथ पैर दर्द करने लगता है या नींद आने लगती है या अब बहुत थकावट फील करते हो कई प्रकार की समस्या होती है इन सभी समस्याओं का समाधान योगाभ्यास योगाभ्यास आपको सुबह करना होगा सुबह 4:00 या 4:30 बजे आप प्रतिदिन उठिए चार पांच गिलास गर्म पानी पीजिए उसके बाद पेश होने बाथरूम जाइए उसके बाद पेश होने के बाद अब बाहर निकलिए तीन-चार किलोमीटर मॉर्निंग वॉक करिए रनिंग कर सकते हैं रनिंग करिए इतना कर सकते हैं उसके बाद हवादार जगह में बैठकर योगा के लिए योगाभ्यास बढ़िया से करिए बॉडी को टाइप करके करिए जो नियम कानून होता है योग का उसे फॉलो करें उसके बाद आप 10 दिन लगातार करके शुरू में तो थोड़ा आपको दिक्कत आएगी आफ्टर दर्द भी कर सकता है लेकिन सब ठीक हो जाएगा उस दिन के बाद आप ऑफिस में जाओगे आपको थकावट महसूस नहीं होगी हाथ पैर दर्द नहीं करेगा आप काम करते रहोगे और नींद भी नहीं आएगी काम भी मन से करोगे और रात में जब आओगे घर तो खा पीकर आराम से सोने जब जाओगे तो आपको नींद आ जाएगी तो आपका पूरा सिस्टम बन जाएगा लेकिन आपको सुबह उठना पड़ेगा आपको दृढ़ संकल्प करना होगा कि मुझे सुबह उठना है सुबह 8:00 तभी उठ पाओगे जब रात में जल्दी सो गए तो रात में 10:00 बजे तक आप सो जाना फिर आप 4:30 बजे 4:00 या 5:00 बजे तक उठ जाओगे और थोड़ा बहुत हल्की योगा कर लोगे तो आपकी सारी परेशानी दूर हो जाएगी धन्यवाद

aapka sawaal hai office me tanaav ko kam karne me yog kaise madad kar sakta hai office me aap jaate ho toh chair par baithe baithe ya toh aapka gardan dard karne lagta hai ya hath pair dard karne lagta hai ya neend aane lagti hai ya ab bahut thakawat feel karte ho kai prakar ki samasya hoti hai in sabhi samasyaon ka samadhan yogabhayas yogabhayas aapko subah karna hoga subah 4 00 ya 4 30 baje aap pratidin uthiye char paanch gilas garam paani PGA uske baad pesh hone bathroom jaiye uske baad pesh hone ke baad ab bahar nikliye teen char kilometre morning walk kariye running kar sakte hain running kariye itna kar sakte hain uske baad havadar jagah me baithkar yoga ke liye yogabhayas badhiya se kariye body ko type karke kariye jo niyam kanoon hota hai yog ka use follow kare uske baad aap 10 din lagatar karke shuru me toh thoda aapko dikkat aayegi after dard bhi kar sakta hai lekin sab theek ho jaega us din ke baad aap office me jaoge aapko thakawat mehsus nahi hogi hath pair dard nahi karega aap kaam karte rahoge aur neend bhi nahi aayegi kaam bhi man se karoge aur raat me jab aaoge ghar toh kha peekar aaram se sone jab jaoge toh aapko neend aa jayegi toh aapka pura system ban jaega lekin aapko subah uthna padega aapko dridh sankalp karna hoga ki mujhe subah uthna hai subah 8 00 tabhi uth paoge jab raat me jaldi so gaye toh raat me 10 00 baje tak aap so jana phir aap 4 30 baje 4 00 ya 5 00 baje tak uth jaoge aur thoda bahut halki yoga kar loge toh aapki saari pareshani dur ho jayegi dhanyavad

आपका सवाल है ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है ऑफिस में आप जाते हो तो च

Romanized Version
Likes  344  Dislikes    views  5442
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

2:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है योग मनुष्य के अंदर मानसिक क्षमता और मानसिक स्थिरता प्रदान करने में आप क्यों सक्षम बनाता है अगर आप संतुष्ट से ऑफिस में काम करेंगे जिस चीज का जितना महत्व है उतना ही महत्व देंगे ज्यादा होता है उसकी आवश्यकता से अधिक उसे तू लॉन्ग करता है लंबित करता है बढ़ाता है और अपने स्वास्थ्य में कंप्रोमाइज करता है तो तनाव होता है तनाव हमारी सोच के कारण होता है तनाव कामकाज की प्रस्तुति योगदान होता है तनाव ऑफिस में उत्पन्न परिस्थितियों और वातावरण के कारण होता है लोगों के स्वभाव लोगों के विचार लिख विभिन्नता के कारण तनाव पैदा होते हैं लेकिन वह एक कारण है इन कारणों को इन स्थितियों को आपको भी एक कैसे करना है आपकी प्रतिक्रिया कैसी होनी चाहिए यह केवल आपकी चॉइस है और आप चाहें तो आसान तरीके से फोन कर सकते आप चाहे हेल्पफुल तरीके से आप कर सकते हैं आप चाहें और बिल्कुल स्टेबल तरीके से आपका बुलबुल का सबसे इसलिए तनाव कम करने के लिए आपका दृष्टिकोण व्यक्तिगत आपकी सोच बहुत महत्वपूर्ण है इसीलिए तो इतना महत्त्व मत दीजिए जो आपके शरीर या विचार मन के अंदर तनाव पैदा करें जहां आप छोड़ दीजिए ऑफिस का काम ऑफिस में करिए ऑफिस वापस निकालने के बाद घर में उसको पूरी तरह से भूल जाइए घर में घर परिवार के साथ समय दिखाइए ऐसी क्या प्राथमिकता ऑफिस अध्यक्षता में करेंगे और तनाव कम हो जाएगा और काम करेंगे आपको आत्मबोध की ओर ले लेकर जाता है कि कोई भी कोई नहीं और अगर आप उसके अनुकूल सौम्यता के साथ मानसिक क्षमता के साथ अपनी प्रतिक्रिया तो आपको तनाव कम करने में मदद मिलेगी

office me tanaav ko kam karne me yog kaise madad kar sakta hai yog manushya ke andar mansik kshamta aur mansik sthirta pradan karne me aap kyon saksham banata hai agar aap santusht se office me kaam karenge jis cheez ka jitna mahatva hai utana hi mahatva denge zyada hota hai uski avashyakta se adhik use tu long karta hai lambit karta hai badhata hai aur apne swasthya me compromise karta hai toh tanaav hota hai tanaav hamari soch ke karan hota hai tanaav kaamkaaj ki prastuti yogdan hota hai tanaav office me utpann paristhitiyon aur vatavaran ke karan hota hai logo ke swabhav logo ke vichar likh vibhinnata ke karan tanaav paida hote hain lekin vaah ek karan hai in karanon ko in sthitiyo ko aapko bhi ek kaise karna hai aapki pratikriya kaisi honi chahiye yah keval aapki choice hai aur aap chahain toh aasaan tarike se phone kar sakte aap chahen helpful tarike se aap kar sakte hain aap chahain aur bilkul stable tarike se aapka bulbul ka sabse isliye tanaav kam karne ke liye aapka drishtikon vyaktigat aapki soch bahut mahatvapurna hai isliye toh itna mahatva mat dijiye jo aapke sharir ya vichar man ke andar tanaav paida kare jaha aap chhod dijiye office ka kaam office me kariye office wapas nikalne ke baad ghar me usko puri tarah se bhool jaiye ghar me ghar parivar ke saath samay dikhaiye aisi kya prathamikta office adhyakshata me karenge aur tanaav kam ho jaega aur kaam karenge aapko atmabodh ki aur le lekar jata hai ki koi bhi koi nahi aur agar aap uske anukul saumyata ke saath mansik kshamta ke saath apni pratikriya toh aapko tanaav kam karne me madad milegi

ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है योग मनुष्य के अंदर मानसिक क्षमता और

Romanized Version
Likes  305  Dislikes    views  3009
WhatsApp_icon
user

Sonveer YOGI

Yog Teacher and Personal Trainer

3:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं सोनवीर यादव आपका सवाल है कि ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है जैसे-जैसे आकर हम ऑफिस में काम करते हैं तो हमारे ऊपर बहुत तनाव रहता है काम का दबाव रहता है स्टेट जाता है तो हमें काफी तकलीफ होती है अंदर से घबराहट सी रहती है मन प्रसन्न नहीं होता है तो उसको हम कैसे अपने आप को व्यवस्थित करें कि हमारा मन शांत रहें और हमें बेचैनी और घबराहट ना हो तेज अगर आप के ऑफिस में थोड़ी बहुत भी जगह है और अगर आपके पास पर्याप्त आधा घंटा भी है समय तब आप अपने आप को रिप्लेस कर सकते हो पहले आप छोटे-छोटे व्यायाम करें चेहरे पर ही बैठकर जो आपके मोमेंट्स आफ फंगस मोमेंट जैसे आपने कंप्यूटर पर कार्य किया था पर फिर नस में दर्द होने लगता है लिस्ट में दर्द होने लगता 16 मिनट होता होता है बदन पर खिंचाव आता है तनाव दूर करने के लिए आप पहले स्टार्ट करें करें एक गाय करें और बैठ कर दोनों हाथों को ऊपर उठाकर स्ट्रेस करें बॉडी को दाएं बाएं दोनों तरफ बैंड करें बैठे-बैठे चेयर पर 1014 पोस्ट करें बॉडी को सूरज की क्रिया क्या है तो क्या आप के शहीद का यह तनाव है शारीरिक तनाव दूर हो जाएगा और आप अपने आपको तरोताजा महसूस करेंगे और उसके बाद आप बैठे बैठे अपने मानसिक संतुलन बनाने के लिए अपने मन को प्रसन्न करने के लिए कुछ प्राणायाम का अभ्यास कर सकते हैं प्राणायाम में आप 5 मिनट अनुलोम विलोम प्राणायाम के अभ्यास करें उसके बाद आप ब्राह्मण राम का व्यास करें जो हमें मन में शांति देता है मानसिक शांति प्रदान करता है ब्राह्मणी प्राणायाम और उसके बाद आपको मेडिटेशन करें ओम चंद करें बैठकर 5 मिनट तक आप होम सेंड करें 10 मिनट तक जितना आपके पास समय है जितना समय अब हम बता तो नहीं सकते कि आपके पास कितना समय हो सकता पर्याप्त जाऊं काम करते हैं तो जितना आपके पास पर्याप्त समय है उसके हिसाब से अपने टाइम को सेट अप करें उतरे जैसे कम समय तो दो-दो मिनट 5 मिनट आप छोटे-छोटे अभ्यास करें मैं बैठकर फ्रॉम चंदन करें जिससे हमारा मन शांत होगा गढ़ का स्वरूप लेट होगा उससे मोरिया शक्ति का संचार होगा और जो हमारे शरीर की थकान है वह भी दूर होगी और मन प्रसन्न रहेगा ऑफिस में तनाव कम करने के लिए ऐसी चीजें हैं जिनको हम प्रयोग में ला सकते हैं इस कार्य होगा हमारे लिए ऑफिस में भी बहुत ही मदद करता है बस आपको सही तरीका आना चाहिए करने का और सही जानकारी होनी चाहिए तो आप ऑफिस में भी कर सकते हैं जो जानकारी मैंने आपको नहीं उम्मीद है कि आपको पसंद आएगी और आप और भी लोगों तक शेयर करें आपको बहुत-बहुत धन्यवाद

namaskar main sonvir yadav aapka sawaal hai ki office me tanaav ko kam karne me yog kaise madad kar sakta hai jaise jaise aakar hum office me kaam karte hain toh hamare upar bahut tanaav rehta hai kaam ka dabaav rehta hai state jata hai toh hamein kaafi takleef hoti hai andar se ghabarahat si rehti hai man prasann nahi hota hai toh usko hum kaise apne aap ko vyavasthit kare ki hamara man shaant rahein aur hamein bechaini aur ghabarahat na ho tez agar aap ke office me thodi bahut bhi jagah hai aur agar aapke paas paryapt aadha ghanta bhi hai samay tab aap apne aap ko replace kar sakte ho pehle aap chote chote vyayam kare chehre par hi baithkar jo aapke moments of fungus moment jaise aapne computer par karya kiya tha par phir nas me dard hone lagta hai list me dard hone lagta 16 minute hota hota hai badan par khinchav aata hai tanaav dur karne ke liye aap pehle start kare kare ek gaay kare aur baith kar dono hathon ko upar uthaakar stress kare body ko dayen baen dono taraf band kare baithe baithe chair par 1014 post kare body ko suraj ki kriya kya hai toh kya aap ke shaheed ka yah tanaav hai sharirik tanaav dur ho jaega aur aap apne aapko tarotaja mehsus karenge aur uske baad aap baithe baithe apne mansik santulan banane ke liye apne man ko prasann karne ke liye kuch pranayaam ka abhyas kar sakte hain pranayaam me aap 5 minute anulom vilom pranayaam ke abhyas kare uske baad aap brahman ram ka vyas kare jo hamein man me shanti deta hai mansik shanti pradan karta hai brahmani pranayaam aur uske baad aapko meditation kare om chand kare baithkar 5 minute tak aap home send kare 10 minute tak jitna aapke paas samay hai jitna samay ab hum bata toh nahi sakte ki aapke paas kitna samay ho sakta paryapt jaaun kaam karte hain toh jitna aapke paas paryapt samay hai uske hisab se apne time ko set up kare utare jaise kam samay toh do do minute 5 minute aap chote chote abhyas kare main baithkar from chandan kare jisse hamara man shaant hoga garh ka swaroop late hoga usse moriya shakti ka sanchar hoga aur jo hamare sharir ki thakan hai vaah bhi dur hogi aur man prasann rahega office me tanaav kam karne ke liye aisi cheezen hain jinako hum prayog me la sakte hain is karya hoga hamare liye office me bhi bahut hi madad karta hai bus aapko sahi tarika aana chahiye karne ka aur sahi jaankari honi chahiye toh aap office me bhi kar sakte hain jo jaankari maine aapko nahi ummid hai ki aapko pasand aayegi aur aap aur bhi logo tak share kare aapko bahut bahut dhanyavad

नमस्कार मैं सोनवीर यादव आपका सवाल है कि ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता

Romanized Version
Likes  77  Dislikes    views  2950
WhatsApp_icon
user

Suresh B. Patel

Yoga Instructor

2:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस में तनाव खत्म करने में योग बहुत ही बहुत ही बहुत ही बदबू होता है मेरे भाई ऑफिस का तनाव आजकल का हर एक होता है मनुष्य की जिंदगी इतनी फास्ट हो गई इतनी दौड़ता में थी सुबह उठता है वहां से दौड़ने की शुरुआत रात को घर आते हैं वहां तक दौड़ता रहता है दौड़ता रहता है रे इतना परेशानी मेंटली से इतना जबरदस्त बैठ गया छोटे-छोटे बच्चे को पढ़ाई करते हैं उसे अच्छे नंबर लाने का पेड़ से बच्चा पांचवी छठी कक्षा से उसको टेस्ट चालू हो जाता है तो पूरी जिंदगी चप्पल से मारता है वहां तक पैसे ही रहता है उसके अंदर आपको चाहिए तो आप का सहारा लेना पड़ेगा आपको आपके लिए एक घंटा दूध निकालना पड़ेगा आप थोड़ी हल्की हल्की सी धाम करे शुरुआत में बाकी कुछ निर्वाचन करें उसके बाद प्राणायाम करें और लास्ट में आ प्रत्यय मेडिटेशन बस इतना करेंगे तो थी आपका तनाव बहुत ही अब तक कम होगा यह मेरा खुद का अनुभव है मैं यहां पर एक इंजन को इंडियन बैंक ऑफ इंडिया का ट्रेनिंग सेंटर अहमदाबाद के अंदर वहां पर जाता हूं युग की ट्रेनिंग देने के लिए जब उनकी ट्रेनिंग सेशन होता है तो 1 घंटे का भी होता है वहां पर मैं देखता हूं जो लोग मैम को बताता हूं दो बार और ट्रेनिंग में थे तब वह बताते हैं कि मैं आपके बताए हुए रास्ते से हमें बहुत बहुत अच्छी तरह हमारे तनाव को कम कर सके और ट्रेस की वजह से यह आपको बहुत सारी बीमारियां होती है पराई डीपी है डायबिटीज से डायबिटीज होती है मां की बीमारी है गैस्टिक प्रॉब्लम है कब का प्रॉब्लम है उस सारा अटैक के कारण होता है एक बार फिर खत्म हो जाएगी आप अब शरीर भी इतना हल्का फुल्का हो जाएगा 5 में जब आप आपके परिवार के बिल्कुल मुख्य व्यक्ति है बहुत ही इंपॉर्टेंट व्यक्ति आपके पीछे आपका पूरा परिवार परिवार का पालन पोषण आप करते हो आपके पीछे आपका पूरा परिवार लगा रहता है उस टाइम आओ आपके लिए नहीं तो आपके परिवार के लिए भी आपको एक घंटा रोज देना है थोड़ी हमारी लाइफ स्टाइल भी हमें कम करनी है करनी पड़ेगी जैसे सुबह में जल्दी उठना रात को जल्दी सोना खाना-पीना भी के साथ ही कर दो बार का पहला ऐसा फास्ट फूड जंक फूड नॉनवेज बहुत ही कम कर दिया बंद कर दो अगर आपको कोई व्यसन है तो वह भी कम कर दो बिल्कुल शुद्ध सात्विक जीवन जीने का प्रयत्न करो अपने आप चला जाएगा

office me tanaav khatam karne me yog bahut hi bahut hi bahut hi badbu hota hai mere bhai office ka tanaav aajkal ka har ek hota hai manushya ki zindagi itni fast ho gayi itni daudata me thi subah uthata hai wahan se daudne ki shuruat raat ko ghar aate hain wahan tak daudata rehta hai daudata rehta hai ray itna pareshani mentally se itna jabardast baith gaya chote chote bacche ko padhai karte hain use acche number lane ka ped se baccha paanchvi chathi kaksha se usko test chaalu ho jata hai toh puri zindagi chappal se maarta hai wahan tak paise hi rehta hai uske andar aapko chahiye toh aap ka sahara lena padega aapko aapke liye ek ghanta doodh nikalna padega aap thodi halki halki si dhaam kare shuruat me baki kuch nirvachan kare uske baad pranayaam kare aur last me aa pratyay meditation bus itna karenge toh thi aapka tanaav bahut hi ab tak kam hoga yah mera khud ka anubhav hai main yahan par ek engine ko indian bank of india ka training center ahmedabad ke andar wahan par jata hoon yug ki training dene ke liye jab unki training session hota hai toh 1 ghante ka bhi hota hai wahan par main dekhta hoon jo log maam ko batata hoon do baar aur training me the tab vaah batatey hain ki main aapke bataye hue raste se hamein bahut bahut achi tarah hamare tanaav ko kam kar sake aur trays ki wajah se yah aapko bahut saari bimariyan hoti hai parai dipi hai diabetes se diabetes hoti hai maa ki bimari hai gastic problem hai kab ka problem hai us saara attack ke karan hota hai ek baar phir khatam ho jayegi aap ab sharir bhi itna halka fulka ho jaega 5 me jab aap aapke parivar ke bilkul mukhya vyakti hai bahut hi important vyakti aapke peeche aapka pura parivar parivar ka palan poshan aap karte ho aapke peeche aapka pura parivar laga rehta hai us time aao aapke liye nahi toh aapke parivar ke liye bhi aapko ek ghanta roj dena hai thodi hamari life style bhi hamein kam karni hai karni padegi jaise subah me jaldi uthna raat ko jaldi sona khana peena bhi ke saath hi kar do baar ka pehla aisa fast food junk food nonveg bahut hi kam kar diya band kar do agar aapko koi vyasan hai toh vaah bhi kam kar do bilkul shudh Satvik jeevan jeene ka prayatn karo apne aap chala jaega

ऑफिस में तनाव खत्म करने में योग बहुत ही बहुत ही बहुत ही बदबू होता है मेरे भाई ऑफिस का तनाव

Romanized Version
Likes  219  Dislikes    views  1907
WhatsApp_icon
user

positive patidaar

Celebrity & Tycoon's Trainer ,yoga Entrepreneur..aanando Parmo Dharm

2:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल ऑफिस परसों ऑफिस एरिया वर्कप्लेस कॉरपोरेट प्लेस में योगा करना ही चाहिए और आए दिन में इसका चलन बढ़ता ही जा रहा है और पूरे इंडिया में कॉरपोरेटिव का काय कौन सा ऐप है और इसे बहुत ही एलजी हैप्पी और एक सपोर्टिव स्पीयर और क्लाइमेट के क्रिएट होता है जिसमें एक बहुत ही पॉजिटिविटी डिवेलप होती है योगा तो होता ही है स्वास्थ के लिए साथ-साथ और मानसिक रूप से अकबरपुर एक्सप्रेस के जो एंप्लोई होते हैं जो स्टाफ होते होते हैं वह उनका माइंड काफी रिलैक्स रिता है माइंड रिलैक्स एंड से उसकी पैक्ट उनकी वर्किंग एफिशिएंसी बढ़ती है काम करने की क्षमता भी बढ़ती है और एक दूसरे के कली को को एक-दूसरे को सहयोग पॉजिटिवली सपोर्ट सपोर्ट भी बढ़ एक दूसरे के अंदर तो यह सब कुछ छोटे-छोटे बदलाव करने से काफी उसका बड़ा इंपैक्ट आता है और उसका रिजल्ट बहुत बड़ा कंपनी को लाभदायक स्वरूप में मिलता है तो ओ मेरा ऐसा मानना है कि सभी छोटे बड़े कॉरपोरेट में योगा प्रणाम भैया बैलेंस प्रोग्राम करानी चाहिए और ऐसे थोड़े थोड़े वक्त पर करते रहना चाहिए तो जिससे आपके स्टाफ एंप्लोई उनकी और किशन जी बड़े पॉजिटिविटी बड़े एक का सपोर्ट सिस्टम बहुत ही बड़ा डिवेलप हो जाता है और ऑफिस का तना हो तो ऐसे ही कम हो जाता है तो इस तरह से आप एक्टिविटी या करा सकते हो और किसी एक्सपर्ट और एक्सपीरियंस विनर के पास आफ कॉरपोरेट पर केजी ले सकते कॉरपोरेट योगा का पैकेज ले सकते हैं धन्यवाद

ji bilkul office parso office area workplace corporate place me yoga karna hi chahiye aur aaye din me iska chalan badhta hi ja raha hai aur poore india me karporetiv ka kya kaun sa app hai aur ise bahut hi LG happy aur ek Supportive spiyar aur climate ke create hota hai jisme ek bahut hi positivity develop hoti hai yoga toh hota hi hai swaasth ke liye saath saath aur mansik roop se akabarpur express ke jo employee hote hain jo staff hote hote hain vaah unka mind kaafi relax rita hai mind relax and se uski pact unki working efishiensi badhti hai kaam karne ki kshamta bhi badhti hai aur ek dusre ke kalee ko ko ek dusre ko sahyog positively support support bhi badh ek dusre ke andar toh yah sab kuch chote chote badlav karne se kaafi uska bada impact aata hai aur uska result bahut bada company ko labhdayak swaroop me milta hai toh O mera aisa manana hai ki sabhi chote bade corporate me yoga pranam bhaiya balance program karani chahiye aur aise thode thode waqt par karte rehna chahiye toh jisse aapke staff employee unki aur kishan ji bade positivity bade ek ka support system bahut hi bada develop ho jata hai aur office ka tana ho toh aise hi kam ho jata hai toh is tarah se aap activity ya kara sakte ho aur kisi expert aur experience winner ke paas of corporate par KG le sakte corporate yoga ka package le sakte hain dhanyavad

जी बिल्कुल ऑफिस परसों ऑफिस एरिया वर्कप्लेस कॉरपोरेट प्लेस में योगा करना ही चाहिए और आए दिन

Romanized Version
Likes  165  Dislikes    views  1410
WhatsApp_icon
user

Ankit Laur

Yoga Instructor

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जितने भी काम कर रहे हैं उससे पहले ही हो वैसे ही काम को ही कर चुका है सभी ऑफिसों में अलग-अलग प्रकार के काम है पर उनका नाम तथा मेहनत तो काम ही करते रहते हैं ना तो आप काम करें अपने पूरा मन लगाकर अपना हंड्रेड परसेंट देने की कोशिश करें फालतू की टेंशन ना ले अपनी तरफ से हंड्रेड परसेंट करें जितना होता है ठीक है आजकल लोग शांति नहीं है जितने भी आपके बॉस है चाकन डेट पर सेंड कर रहे हो आपको तभी के डाइज कर देंगे इसलिए अच्छा है आप हंड्रेड परसेंट देने की कोशिश करें अपने मन में तो शांति रहेगी हमने हंड्रेड परसेंट दिया आपको कुछ और सोचने की जरूरत ही नहीं बस काम करें पर यह भी एक ध्यान है जो योग कहे तो रुप है जब काम करें तो अपनी सांसों की ओर ध्यान लगाए रखें आपकी सांसे ओम ओम का उच्चारण

jitne bhi kaam kar rahe hain usse pehle hi ho waise hi kaam ko hi kar chuka hai sabhi afison me alag alag prakar ke kaam hai par unka naam tatha mehnat toh kaam hi karte rehte hain na toh aap kaam kare apne pura man lagakar apna hundred percent dene ki koshish kare faltu ki tension na le apni taraf se hundred percent kare jitna hota hai theek hai aajkal log shanti nahi hai jitne bhi aapke boss hai chakan date par send kar rahe ho aapko tabhi ke daij kar denge isliye accha hai aap hundred percent dene ki koshish kare apne man me toh shanti rahegi humne hundred percent diya aapko kuch aur sochne ki zarurat hi nahi bus kaam kare par yah bhi ek dhyan hai jo yog kahe toh roop hai jab kaam kare toh apni shanson ki aur dhyan lagaye rakhen aapki sanse om om ka ucharan

जितने भी काम कर रहे हैं उससे पहले ही हो वैसे ही काम को ही कर चुका है सभी ऑफिसों में अलग-अल

Romanized Version
Likes  181  Dislikes    views  1787
WhatsApp_icon
user

Sadhak Anshit

Yoga Teacher

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है कि ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है योग में आसन प्राणायाम एवं ध्यान हंड्रेड परसेंट ऑफिस के तनाव को कम करने का मन कर सकते हैं इसके लिए अगर हम आसनों में वृक्षासन ताड़ासन बालासन अधोमुखी राशन अभिमुख स्वान आसन उर्दू मुख स्वान आसन एवं शशांक आसन का नित्य प्रतिदिन अभ्यास करें और साथ ही साथ अनुलोम विलोम कपालभाति भस्त्रिका भामरी प्राणायाम एवं उदगीठ प्राणायाम की क्रियाओं का अभ्यास करें और अंत में अपनी आती जाती हुई स्वास्थ्य स्वास्थ्य को देखने का कार्य करें अर्थात आनापान सती योग ध्यान विधि का प्रयोग करें तो हम निश्चित ही ऑफिस के तनाव के साथ-साथ हम अपने आम जीवन के तनाव को भी अपने दैनिक दिनचर्या में कम कर सकेंगे धन्यवाद

namaskar aapka prashna hai ki office me tanaav ko kam karne me yog kaise madad kar sakta hai yog me aasan pranayaam evam dhyan hundred percent office ke tanaav ko kam karne ka man kar sakte hain iske liye agar hum aasanon me vrikshasan tadasan balasan adhomukhi raashan abhimukh swan aasan urdu mukh swan aasan evam shashank aasan ka nitya pratidin abhyas kare aur saath hi saath anulom vilom kapalbhati bhastrika bhamri pranayaam evam udagith pranayaam ki kriyaon ka abhyas kare aur ant me apni aati jaati hui swasthya swasthya ko dekhne ka karya kare arthat anapan sati yog dhyan vidhi ka prayog kare toh hum nishchit hi office ke tanaav ke saath saath hum apne aam jeevan ke tanaav ko bhi apne dainik dincharya me kam kar sakenge dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न है कि ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है योग में आसन

Romanized Version
Likes  244  Dislikes    views  2476
WhatsApp_icon
play
user

Dr Chandra Shekhar Jain

MBBS, Yoga Therapist Yoga Psychotherapist

1:00

Likes  205  Dislikes    views  4659
WhatsApp_icon
user

RAHUL BHADOTIYA

Yog Expert /Motivater/Life Coach

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छा प्रश्न है आपका ऑफिस में तनाव को कम करने में योग मदद कैसे करता है ऑफिस में हम बहुत सारी चीजें सुबह से लेकर शाम तक सुनते हैं बहुत से अपने फ्रेंड से कल एक से एक आम के लिए काम करो मनमानी मत बताना हो जाता है इस तनाव को दूर करने के लिए हमने क्या करना है एक घर में आने के बाद कोशिश करने की ऑफिस की चीजें ऑफिस तक ही सीमित रखें अगर घर में काम भी लाते तो रात को सोने से पहले कम से कम 10 मिनट के लिए आफ मेडिटेशन करें ध्यान करें ध्यान से ही होगा कि आपको अभी फ्रेश अपने आपको फील करेंगे और ध्यान करना कैसे हैं बताएं तो एक बार शुरुआत आप 10 मिनट में सबसे पहले अपने बेरिंग पर ध्यान देंगे और सुबह से लेकर अभी तक जो भी काम किया उस पर एक बार रिमाइंड करेंगे आप रिमाइंड करना फोकस करना कि पूरे दिन आपने क्या-क्या किया और कौन सा काम था इसको आप उसे ज्यादा मिली वह काम आपने याद रहे कि वह काम है आपको अगले दिन के देख आगे दिन के नए काम करने के निजी देगा ऐसे करके अपना ध्यान करना है पूरे शरीर का ध्यान करना है पूरे एक-एक बात का ध्यान करना है कर दे कर दे मीणा के बीच आएंगे आपको बता में लगेगा ठीक है डांस करने के अपने ध्यान को सुना भटकने नहीं देना आप सोच तो रहे कुछ और लेके कहीं और पहुंच जाइए नहीं करें धन्यवाद

bahut accha prashna hai aapka office me tanaav ko kam karne me yog madad kaise karta hai office me hum bahut saari cheezen subah se lekar shaam tak sunte hain bahut se apne friend se kal ek se ek aam ke liye kaam karo manmani mat batana ho jata hai is tanaav ko dur karne ke liye humne kya karna hai ek ghar me aane ke baad koshish karne ki office ki cheezen office tak hi simit rakhen agar ghar me kaam bhi laate toh raat ko sone se pehle kam se kam 10 minute ke liye of meditation kare dhyan kare dhyan se hi hoga ki aapko abhi fresh apne aapko feel karenge aur dhyan karna kaise hain bataye toh ek baar shuruat aap 10 minute me sabse pehle apne bearing par dhyan denge aur subah se lekar abhi tak jo bhi kaam kiya us par ek baar remind karenge aap remind karna focus karna ki poore din aapne kya kya kiya aur kaun sa kaam tha isko aap use zyada mili vaah kaam aapne yaad rahe ki vaah kaam hai aapko agle din ke dekh aage din ke naye kaam karne ke niji dega aise karke apna dhyan karna hai poore sharir ka dhyan karna hai poore ek ek baat ka dhyan karna hai kar de kar de meena ke beech aayenge aapko bata me lagega theek hai dance karne ke apne dhyan ko suna bhatakne nahi dena aap soch toh rahe kuch aur leke kahin aur pohch jaiye nahi kare dhanyavad

बहुत अच्छा प्रश्न है आपका ऑफिस में तनाव को कम करने में योग मदद कैसे करता है ऑफिस में हम बह

Romanized Version
Likes  97  Dislikes    views  3223
WhatsApp_icon
user

Bk soni

Rajyoga Teacher

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न बहुत अच्छा किया है क्या ऑफिस में तनाव को कम करने तनाव को काम करने में योग कैसे मदद कर सकता है इसमें जब हम तनाव से जो कई काम करते रहते तो अलग से थक जाते हैं उस टाइम अगर हम योग करते हैं तो माना 4 घंटे का नींद किया वह सकती हमें फिर से वापस आ जाना हम पूरे अच्छे रिश्ते से 10 मिनट भी अभियोग किया तो 4 घंटे नींद किया हुआ लक्ष्य हमको होना शुरू हो जाते यही योग की ताकत है यह मदद मिलता है इसी राजयोग मेडिटेशन हमें एक तरफ कामायनी शक्ति भी देता है शारीरिक शक्ति मिलेगा धन्यवाद राजीव का मेडिसन करें और अपने जीवन को परिवर्तित

prashna bahut accha kiya hai kya office me tanaav ko kam karne tanaav ko kaam karne me yog kaise madad kar sakta hai isme jab hum tanaav se jo kai kaam karte rehte toh alag se thak jaate hain us time agar hum yog karte hain toh mana 4 ghante ka neend kiya vaah sakti hamein phir se wapas aa jana hum poore acche rishte se 10 minute bhi abhiyog kiya toh 4 ghante neend kiya hua lakshya hamko hona shuru ho jaate yahi yog ki takat hai yah madad milta hai isi rajyog meditation hamein ek taraf kamayani shakti bhi deta hai sharirik shakti milega dhanyavad rajeev ka medicine kare aur apne jeevan ko parivartit

प्रश्न बहुत अच्छा किया है क्या ऑफिस में तनाव को कम करने तनाव को काम करने में योग कैसे मदद

Romanized Version
Likes  152  Dislikes    views  2135
WhatsApp_icon
user

Ashish Lavania

Yoga Trainer

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बिल्कुल योग काफी मदद कर सकता है देखे तनाव को कम करने के लिए आपको जो भी है ऑफिस का तनाव है या ऑफिस में तनाव है उसके लिए आपको सबसे अच्छा जो है वह अनुलोम-विलोम भ्रामरी प्राणायाम इन दोनों को अगर आप करते हैं तो आपको मेंटली प्रेशर बहुत होगा इसके बाद 20 मिनट का एक फंक्शन में मेडिटेशन कैसे दिखेगा

yah bilkul yog kaafi madad kar sakta hai dekhe tanaav ko kam karne ke liye aapko jo bhi hai office ka tanaav hai ya office me tanaav hai uske liye aapko sabse accha jo hai vaah anulom vilom bhramari pranayaam in dono ko agar aap karte hain toh aapko mentally pressure bahut hoga iske baad 20 minute ka ek function me meditation kaise dikhega

यह बिल्कुल योग काफी मदद कर सकता है देखे तनाव को कम करने के लिए आपको जो भी है ऑफिस का तनाव

Romanized Version
Likes  433  Dislikes    views  6316
WhatsApp_icon
user

Ravi Ahuja

Yoga Instructor And Naturopath Therapist And Hijama Therapist

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है बहुत सारे तरीके हैं जैसे कि अगर आप देखा जाए तो लाइट एक्सरसाइज ओलाइट आसन है वह हम ऑफिस में कर सकते हैं और जितनी ज्यादा हम एक्सरसाइज करते हैं इतनी ज्यादा हम लोग करते हैं वैसे वैसे हमारा डाउन होता चाहता है कि उससे आसनों से और योगा से हमारा माइंड फ्रेश होता है और माइंड नहीं स्पेस होता है तो जैसे जैसे हम योगासन करेंगे तो हमारा क्षेत्रफल काम होगा और हमारे लिए तनाव मुक्त यह होता जाएगा और अगर ज्यादा से ज्यादा गर्म ध्यान दिया जाए तो हमें अपने स्वास्थ्य पर ध्यान लगाना है कितना पड़ता है जब हमारी सांसे मौज ज्यादा तेज हो जाती हैं कभी भी आप एक बार अपने बॉडी को अच्छे से एक बार परखी मैं आज जब भी देखेंगे जब आप तेज गति से कुछ भी काम करेंगे तो उसी टाइम ना को तनाव महसूस स्वास्थ्य जितनी आराम से होंगी उतना जल्दी आप अपने आपको रे लाइक्स और तनावमुक्त पाएंगे

office me tanaav ko kam karne me yog kaise madad kar sakta hai bahut saare tarike hain jaise ki agar aap dekha jaaye toh light exercise olait aasan hai vaah hum office me kar sakte hain aur jitni zyada hum exercise karte hain itni zyada hum log karte hain waise waise hamara down hota chahta hai ki usse aasanon se aur yoga se hamara mind fresh hota hai aur mind nahi space hota hai toh jaise jaise hum yogasan karenge toh hamara kshetrafal kaam hoga aur hamare liye tanaav mukt yah hota jaega aur agar zyada se zyada garam dhyan diya jaaye toh hamein apne swasthya par dhyan lagana hai kitna padta hai jab hamari sanse mauj zyada tez ho jaati hain kabhi bhi aap ek baar apne body ko acche se ek baar parkhi main aaj jab bhi dekhenge jab aap tez gati se kuch bhi kaam karenge toh usi time na ko tanaav mehsus swasthya jitni aaram se hongi utana jaldi aap apne aapko ray likes aur tanaavmukt payenge

ऑफिस में तनाव को कम करने में योग कैसे मदद कर सकता है बहुत सारे तरीके हैं जैसे कि अगर आप दे

Romanized Version
Likes  315  Dislikes    views  1538
WhatsApp_icon
user

Neera Singh

Asst. Prof / Yoga Expert

1:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हरिओम फ्रेंड ऑफिस में ही नहीं योग आपके जीवन में भी आ रहे तनाव को दूर करने में आपकी पूरी मदद करता है प्रातः काल का किया क्या सूर्य नमस्कार आपको पूरा दिन फ्रेश और फिट रखता है और योग का तो नाम ही है योगा कर्मसु कौशलम् अर्थात कार्य करने की कुशलता को ही योग कहते हैं जैसे आप योग करते जाते हैं आपको काम करने का आपको कार्य में कुशलता आती जाती है किस प्रकार से इस काम को किया जाए कि ज्यादा अच्छी तरीके से हो पाएगा अब रही ऑफिस की बात तो ऑफिस में यदि आप कंटिन्यू कंप्यूटर के आगे बैठी में फाइल आपको रिटर्न वर्कर फाइलों के तो आपको थोड़ी देर रुक कर आपको थोड़ा सा ईयर होगा आपको करना होगा थोड़ी सी और सूक्ष्म हाथ और पैरों की फीस के पांच से 10 मिनट की व्यायाम होते हैं वह आप कर लीजिए 10 मिनट का टाइम अपने ऑफिस में अकेले निकाल सकते हैं इसके अलावा 2 से 3 मिनट अनुलोम-विलोम हम भी प्राणायाम और चार से पांच बार उनकी पेंटिंग आपको एक बार फिर से रिफ्रेश कर देती है पर मैं यह बार-बार कहूंगी कि यदि संभव हो तो आप प्रातः काल या शाम के समय भी आप अपने जीवन में सूर्य नमस्कार को थोड़ा सा स्थान दीजिए 45 रावण नमस्कार का आपको पूरा दिन तनाव से दूर रखने में आपकी मदद करता है धन्यवाद

hariom friend office me hi nahi yog aapke jeevan me bhi aa rahe tanaav ko dur karne me aapki puri madad karta hai pratah kaal ka kiya kya surya namaskar aapko pura din fresh aur fit rakhta hai aur yog ka toh naam hi hai yoga karmasu kaushalam arthat karya karne ki kushalata ko hi yog kehte hain jaise aap yog karte jaate hain aapko kaam karne ka aapko karya me kushalata aati jaati hai kis prakar se is kaam ko kiya jaaye ki zyada achi tarike se ho payega ab rahi office ki baat toh office me yadi aap continue computer ke aage baithi me file aapko return worker filon ke toh aapko thodi der ruk kar aapko thoda sa year hoga aapko karna hoga thodi si aur sukshm hath aur pairon ki fees ke paanch se 10 minute ki vyayam hote hain vaah aap kar lijiye 10 minute ka time apne office me akele nikaal sakte hain iske alava 2 se 3 minute anulom vilom hum bhi pranayaam aur char se paanch baar unki painting aapko ek baar phir se refresh kar deti hai par main yah baar baar kahungi ki yadi sambhav ho toh aap pratah kaal ya shaam ke samay bhi aap apne jeevan me surya namaskar ko thoda sa sthan dijiye 45 ravan namaskar ka aapko pura din tanaav se dur rakhne me aapki madad karta hai dhanyavad

हरिओम फ्रेंड ऑफिस में ही नहीं योग आपके जीवन में भी आ रहे तनाव को दूर करने में आपकी पूरी मद

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  741
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!