क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए?...


user

Gyanchand Soni

Yoga Instructor.

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां तक हो सके योगाभ्यास अमित प्रातकाल ही करना चाहिए और अगर मान लूं कि नहीं कारण कारणवश किसी कारणवश सुबह समय नहीं निकाल पाते तो लंच के 6 से 8 घंटे बाद हम योगाभ्यास कर सकते धन्यवाद आपको

jaha tak ho sake yogabhayas amit pratakal hi karna chahiye aur agar maan loon ki nahi karan karanvash kisi karanvash subah samay nahi nikaal paate toh lunch ke 6 se 8 ghante baad hum yogabhayas kar sakte dhanyavad aapko

जहां तक हो सके योगाभ्यास अमित प्रातकाल ही करना चाहिए और अगर मान लूं कि नहीं कारण कारणवश कि

Romanized Version
Likes  200  Dislikes    views  1950
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Radha Mohan

Yoga & Naturopathy Expert

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए एक ही दोस्तों सुबह के समय यदि आप योग का अभ्यास करते हैं तो एक बहुत अच्छा रहता है कि चाहते काल किसी प्रकार का कोई डिस्टरबेंस नहीं होता है चारों तरफ वातावरण में शुद्ध ऑक्सीजन का संचार रहता है इसमें एक ऑप्शन की पर्याप्त आपूर्ति हमें हो पाती है जब हम योग में विभिन्न प्रकार के आसन करते हैं और प्राणायाम करते हैं तो यदि आपके पास में प्रातः काल का समय है तो फिर आप प्रातकाल योग का अभ्यास करें यदि आपको समय नहीं निकाल पा रहे हैं किसी कारण बस तो फिर आप शाम को भी योग अभ्यास कर सकते हैं इसमें किसी भी प्रकार की कोई बुराई नहीं है बस आपको कुछ बातों का ध्यान रखना है कि जब भी आपको शाम के समय योग का अभ्यास करें तो आपका पेट खाली होना चाहिए और यदि आपने खाना खाया है तो लगभग 4 घंटे बाद ही आप योग का अभ्यास करें इसके साथ-साथ जब आप योगाभ्यास करते हैं तो उसी स्थान पर हवा का वेंटीलेशन प्रॉपर होना चाहिए यदि आप किसी हॉल में या फिर कमरे में कर रहे हैं तो अपना खिड़कियां और रोशनदान दरवाजे खुले रहने चाहिए ताकि हवा का आवागमन अच्छा रह सके जिससे आपको जब आसन और प्राणायाम करें तो उसने आपको अच्छा फायदा मिल सके धन्यवाद

namaskar doston kaise hain kya yog ka abhyas keval subah ke samay hi kiya jana chahiye ek hi doston subah ke samay yadi aap yog ka abhyas karte hain toh ek bahut accha rehta hai ki chahte kaal kisi prakar ka koi distarabens nahi hota hai charo taraf vatavaran me shudh oxygen ka sanchar rehta hai isme ek option ki paryapt aapurti hamein ho pati hai jab hum yog me vibhinn prakar ke aasan karte hain aur pranayaam karte hain toh yadi aapke paas me pratah kaal ka samay hai toh phir aap pratakal yog ka abhyas kare yadi aapko samay nahi nikaal paa rahe hain kisi karan bus toh phir aap shaam ko bhi yog abhyas kar sakte hain isme kisi bhi prakar ki koi burayi nahi hai bus aapko kuch baaton ka dhyan rakhna hai ki jab bhi aapko shaam ke samay yog ka abhyas kare toh aapka pet khaali hona chahiye aur yadi aapne khana khaya hai toh lagbhag 4 ghante baad hi aap yog ka abhyas kare iske saath saath jab aap yogabhayas karte hain toh usi sthan par hawa ka ventileshan proper hona chahiye yadi aap kisi hall me ya phir kamre me kar rahe hain toh apna khidkiyan aur roshanadan darwaze khule rehne chahiye taki hawa ka aavagaman accha reh sake jisse aapko jab aasan aur pranayaam kare toh usne aapko accha fayda mil sake dhanyavad

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए एक ही दोस्

Romanized Version
Likes  228  Dislikes    views  1630
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय में किया जाना चाहिए तो नहीं बिल्कुल गलत है यह कि केवल सुबह ही किया जाना चाहिए हां सुबह अति उत्तम होता है योगा बेस्ट करने के लिए लेकिन आप शाम को भी कर सकते हैं शाम को मन कहने का अर्थ यह है कि आपका जब भी आप लंच करें लंच करने के कम से खाना खाने कम से कम 6 घंटे बाद आप योगासन प्राणायाम कर सकते हैं

kya yog ka abhyas keval subah ke samay me kiya jana chahiye toh nahi bilkul galat hai yah ki keval subah hi kiya jana chahiye haan subah ati uttam hota hai yoga best karne ke liye lekin aap shaam ko bhi kar sakte hain shaam ko man kehne ka arth yah hai ki aapka jab bhi aap lunch kare lunch karne ke kam se khana khane kam se kam 6 ghante baad aap yogasan pranayaam kar sakte hain

क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय में किया जाना चाहिए तो नहीं बिल्कुल गलत है यह कि केवल

Romanized Version
Likes  49  Dislikes    views  1313
WhatsApp_icon
play
user

Dr. R. K. Gupta

Yoga & Nature Care Health center

0:37

Likes  136  Dislikes    views  1529
WhatsApp_icon
user

dipti choudhary

Yoga Trainer

1:07
Play

Likes  125  Dislikes    views  1585
WhatsApp_icon
user

Somit Yoga Varanasi

Yoga Trainer and Astrologer

0:17
Play

Likes  77  Dislikes    views  1733
WhatsApp_icon
user

Rekha Agarwal

Yoga Teacher

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड शाखा प्रश्न के योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए ऐसा कुछ भी नहीं है कि युवा काव्या सभा के समय ही करना चाहिए योगा सुबह और शाम दोनो टाइम कर सकते हैं जिसमें आपके पास समय है दिल के पास सुबह समय होता है वह सुबह कर लेंगे बस सुबह समय नहीं होता है वह शाम को कर ले लेकिन सुबह इसलिए अच्छा रहता है कि रात भर हमारा पूरा खाली हो जाता है खाली पीली हुआ करना रहता है अगर शरीफ पूरे दिन के लिए चार्ज हो जाता है युवा करते हैं तो हमें 4 घंटे पहले सेवर के बीच में दोपहर का खाना ना चले कि 4:30 घंटे का गया उसके बाद नहीं हुआ करें धन्यवाद

hello friend shakha prashna ke yog ka abhyas keval subah ke samay hi kiya jana chahiye aisa kuch bhi nahi hai ki yuva kavya sabha ke samay hi karna chahiye yoga subah aur shaam dono time kar sakte hain jisme aapke paas samay hai dil ke paas subah samay hota hai vaah subah kar lenge bus subah samay nahi hota hai vaah shaam ko kar le lekin subah isliye accha rehta hai ki raat bhar hamara pura khaali ho jata hai khaali pili hua karna rehta hai agar sharif poore din ke liye charge ho jata hai yuva karte hain toh hamein 4 ghante pehle sevar ke beech me dopahar ka khana na chale ki 4 30 ghante ka gaya uske baad nahi hua kare dhanyavad

हेलो फ्रेंड शाखा प्रश्न के योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए ऐसा कुछ भी नह

Romanized Version
Likes  40  Dislikes    views  637
WhatsApp_icon
user

Neelam Chauhan

Yoga Teacher

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए नहीं तो टाइम कर सकते हैं सुबह शाम जब पेट खाली हो तब आपको करें 6:00 बजे 7:00 बजे

aapka prashna hai kya yog ka abhyas keval subah ke samay hi kiya jana chahiye nahi toh time kar sakte hain subah shaam jab pet khaali ho tab aapko kare 6 00 baje 7 00 baje

आपका प्रश्न है क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए नहीं तो टाइम कर सकते

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  372
WhatsApp_icon
user

Priyanka Bhatele

Yoga Trainer

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योगाभ्यास के वक्त शाम को कीजिए और अगर आपके पास सुबह टाइम है तो सुबह आप कीजिए बहुत ही अच्छा रहेगा सुबह बहुत सारे फायदे मिलेंगे क्योंकि सुबह शाम को तो पटना कोलाहल शोरगुल हो जाता है डिस्टरबेंस बहुत होता है मारा मारा वातावरण में चेंज हो जाता है वह चीज जो जाती है उसमें कार्बोहाइड्रेट कार्बन डाइऑक्साइड का अधिक मात्रा में बढ़ जाना होता है और सुबह के समय ऑक्सीजन एकदम सोती है और वातावरण में बहुत शांति रहती है

yogabhayas ke waqt shaam ko kijiye aur agar aapke paas subah time hai toh subah aap kijiye bahut hi accha rahega subah bahut saare fayde milenge kyonki subah shaam ko toh patna kolahal shoragul ho jata hai distarabens bahut hota hai mara mara vatavaran me change ho jata hai vaah cheez jo jaati hai usme carbohydrate carbon dioxide ka adhik matra me badh jana hota hai aur subah ke samay oxygen ekdam soti hai aur vatavaran me bahut shanti rehti hai

योगाभ्यास के वक्त शाम को कीजिए और अगर आपके पास सुबह टाइम है तो सुबह आप कीजिए बहुत ही अच्छा

Romanized Version
Likes  45  Dislikes    views  1015
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग क्या प्यास का किसे कितने का था खाली होता है उस समय शरीर हमारा विधायक होता है और योग का सबसे अधिक लाभ होता है पेट खाली हो जाए तो भी कॉल कर सकते हैं

yog kya pyaas ka kise kitne ka tha khaali hota hai us samay sharir hamara vidhayak hota hai aur yog ka sabse adhik labh hota hai pet khaali ho jaaye toh bhi call kar sakte hain

योग क्या प्यास का किसे कितने का था खाली होता है उस समय शरीर हमारा विधायक होता है और योग का

Romanized Version
Likes  206  Dislikes    views  2922
WhatsApp_icon
user

Shailesh Kumar Dubey

Yoga Teacher , Retired Government Employee

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रचना है क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए इसका उत्तर है ऐसी कोई बात नहीं है वैसे योग के लिए उत्तम समय है ब्रह्म मुहूर्त में उठकर के नित्य क्रिया से निवृत्त होकर के और योग किया जाए यह सर्वोत्तम समय है लेकिन यदि आपके पास समय का अभाव है तो शाम को योग कीजिए करें योग रहें निरोग

rachna hai kya yog ka abhyas keval subah ke samay hi kiya jana chahiye iska uttar hai aisi koi baat nahi hai waise yog ke liye uttam samay hai Brahma muhurt me uthakar ke nitya kriya se sevanervit hokar ke aur yog kiya jaaye yah sarvottam samay hai lekin yadi aapke paas samay ka abhaav hai toh shaam ko yog kijiye kare yog rahein nirog

रचना है क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए इसका उत्तर है ऐसी कोई बात न

Romanized Version
Likes  97  Dislikes    views  2581
WhatsApp_icon
play
user

Narendar Gupta

प्राकृतिक योगाथैरिपिस्ट एवं योगा शिक्षक,फीजीयोथैरीपिस्ट

0:21

Likes  263  Dislikes    views  2595
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां यह सबसे उत्तम ब्रह्म मुहूर्त का माना गया है का प्रयोग करना उसमें करें यदि आपको समय नहीं मिल पाता तो आप शाम को कर सकते हैं लेकिन आप ज्यादा से ज्यादा विरोध नहीं करें

ji haan yah sabse uttam Brahma muhurt ka mana gaya hai ka prayog karna usme kare yadi aapko samay nahi mil pata toh aap shaam ko kar sakte hain lekin aap zyada se zyada virodh nahi kare

जी हां यह सबसे उत्तम ब्रह्म मुहूर्त का माना गया है का प्रयोग करना उसमें करें यदि आपको समय

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  716
WhatsApp_icon
user

Ashish Lavania

Yoga Trainer

0:21
Play

Likes  380  Dislikes    views  6758
WhatsApp_icon
user

Foram M Sheth

Yoga Instructor

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शुभम इसलिए बोलते हैं क्योंकि शुद्ध ऑक्सीजन हमको सुबह दुबई मिलता है शाम को पूरा मतलब पोलूशन वाला और वह सब होता है तो जो योगा से मैक्सिमम हम जो भी होगा करते हैं जब हमारे शरीर में मैक्सिमम ऑक्सीजन पड़ता है तो सुबह में प्यार हमें ऑक्सीजन और जितना ज्यादा से ज्यादा हम ऑपरेशन ले सके उतना हमारी बॉडी के लिए प्राण बहुत ही अच्छा होता है तो इसके लिए सुबह में करें तो बहुत ही अच्छा है और दवाई टाइम नहीं मिलता तो शाम को भी कर सकते हैं ऐसा नहीं है लेकिन खाली पेट करना है सिर्फ मुझे रखना

subham isliye bolte hain kyonki shudh oxygen hamko subah dubai milta hai shaam ko pura matlab pollution vala aur vaah sab hota hai toh jo yoga se maximum hum jo bhi hoga karte hain jab hamare sharir mein maximum oxygen padta hai toh subah mein pyar hamein oxygen aur jitna zyada se zyada hum operation le sake utana hamari body ke liye praan bahut hi accha hota hai toh iske liye subah mein kare toh bahut hi accha hai aur dawai time nahi milta toh shaam ko bhi kar sakte hain aisa nahi hai lekin khaali pet karna hai sirf mujhe rakhna

शुभम इसलिए बोलते हैं क्योंकि शुद्ध ऑक्सीजन हमको सुबह दुबई मिलता है शाम को पूरा मतलब पोलूशन

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  511
WhatsApp_icon
user

Sandeep Tiwari

Yoga Instructor And Teacher

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओम ऐसा कहीं नहीं कहा गया है कि योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए हां यह जरूर है कि योग का अभ्यास ब्रह्म मुहूर्त में अत्यंत फायदेमंद होता है इसलिए कहा जाता है कि सुबह के समय ही किया जाना चाहिए फिर भी व्यस्तता में जिनका हम कोई भी समय चुनते हैं तो हमारे शरीर के लिए फायदा ही पहुंचाता है बस एक हमारा खाली होना चाहिए खाने के 4 घंटे बाद ही हमको योग अभ्यास करना चाहिए धन्यवाद

om aisa kahin nahi kaha gaya hai ki yog ka abhyas keval subah ke samay hi kiya jana chahiye haan yah zaroor hai ki yog ka abhyas Brahma muhurt mein atyant faydemand hota hai isliye kaha jata hai ki subah ke samay hi kiya jana chahiye phir bhi vyastata mein jinka hum koi bhi samay chunte hain toh hamare sharir ke liye fayda hi pohchta hai bus ek hamara khaali hona chahiye khane ke 4 ghante baad hi hamko yog abhyas karna chahiye dhanyavad

ओम ऐसा कहीं नहीं कहा गया है कि योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए हां यह ज

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  7
WhatsApp_icon
user

Puneet Kumar

Yoga Instructor

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं ऐसा कुछ नहीं करना चाहिए इसलिए प्रेफर करते हैं कि जो मॉर्निंग का टाइम होता है कि एक तो कोई पोलूशन फ्री होता है रात को ज्यादा पॉलिसी नहीं होता है रोड पार्टिकल प्रकार होते हैं अलग से जीतने पर वर्किंग होते उसकी मशीन का पॉलिसी मॉर्निंग में फर्स्ट आने में कोई भी चीज कराते हैं उस व्यक्ति को तो ज्यादा एक्टिव होता लेकिन अभी घर में है और टाइम नहीं है तो जरूर यह ध्यान रखना चाहिए कि आपको जब भी आप योगा करते हुए 1 घंटे पहले आप दो हम कम से कम 2 घंटे पहले कुछ खा लिया

nahi aisa kuch nahi karna chahiye isliye prefar karte hain ki jo morning ka time hota hai ki ek toh koi pollution free hota hai raat ko zyada policy nahi hota hai road particle prakar hote hain alag se jitne par working hote uski machine ka policy morning mein first aane mein koi bhi cheez karate hain us vyakti ko toh zyada active hota lekin abhi ghar mein hai aur time nahi hai toh zaroor yah dhyan rakhna chahiye ki aapko jab bhi aap yoga karte hue 1 ghante pehle aap do hum kam se kam 2 ghante pehle kuch kha liya

नहीं ऐसा कुछ नहीं करना चाहिए इसलिए प्रेफर करते हैं कि जो मॉर्निंग का टाइम होता है कि एक तो

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  388
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मतलब बेसिकली होता कि वह सुबह ही करना ज्यादा फायदेमंद रहता है लेकिन ऐसा नहीं अगर हमारे पास समय है तो हम उसे भी कर सकते हैं ज्यादा से ज्यादा लाभकारी रहता है आजकल

matlab basically hota ki vaah subah hi karna zyada faydemand rehta hai lekin aisa nahi agar hamare paas samay hai toh hum use bhi kar sakte hain zyada se zyada labhakari rehta hai aajkal

मतलब बेसिकली होता कि वह सुबह ही करना ज्यादा फायदेमंद रहता है लेकिन ऐसा नहीं अगर हमारे पास

Romanized Version
Likes  136  Dislikes    views  1696
WhatsApp_icon
user

Himanshu Yadav

Fitness Consultant, Weight-loss Expert & Fitness Motivator

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि आपको योगा सुबह ही करना है आप योगा सुबह-शाम दोनों में से किसी भी टाइम कर सकते हैं योगा करने से बेसिकली आपको आपके माइंड को एक पीस आफ माइंड में काम में साथिया आइए एक फिजिकल एक्सरसाइज दिया तो आपकी बॉडी में एनर्जी लेवल मेंटेन होता है तो यह आपकी बिल्कुल रूटीन के ऊपर है आप किस टाइम फ्री है आप किस टाइम आसानी से योगा कर सकते हैं बट जिसकी टाइम आप योगा करने जाए बस इतना ध्यान रखें कि आपका पूरा फोकस अपनी एक्सरसाइज रुटीन होना चाहिए और उस टाइम अच्छे से बात करें वह आपको बहुत अच्छे लाभ देगा

main aisa bilkul bhi nahi hai ki aapko yoga subah hi karna hai aap yoga subah shaam dono mein se kisi bhi time kar sakte hain yoga karne se basically aapko aapke mind ko ek peace of mind mein kaam mein sathiya aaiye ek physical exercise diya toh aapki body mein energy level maintain hota hai toh yah aapki bilkul routine ke upar hai aap kis time free hai aap kis time aasani se yoga kar sakte hain but jiski time aap yoga karne jaaye bus itna dhyan rakhen ki aapka pura focus apni exercise routine hona chahiye aur us time acche se baat kare vaah aapko bahut acche labh dega

मैं ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि आपको योगा सुबह ही करना है आप योगा सुबह-शाम दोनों में से किसी

Romanized Version
Likes  135  Dislikes    views  1926
WhatsApp_icon
play
user

Reena Arya

Yoga Instructor

0:19

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा कोई जरूरी नहीं है बट कहां जाता है पल लेबल जो होता है ना कम होता है सुबह के टाइम में इसलिए सुबह के टाइम में योग जितना अच्छा होता है आप लोग तो शाम को भी करते इवनिंग में बबूल के हिसाब से देखें तो कर सकते हैं

aisa koi zaroori nahi hai but kahaan jata hai pal lebal jo hota hai na kam hota hai subah ke time mein isliye subah ke time mein yog jitna accha hota hai aap log toh shaam ko bhi karte evening mein babool ke hisab se dekhen toh kar sakte hain

ऐसा कोई जरूरी नहीं है बट कहां जाता है पल लेबल जो होता है ना कम होता है सुबह के टाइम में इस

Romanized Version
Likes  93  Dislikes    views  1336
WhatsApp_icon
user

Dr.Parminder Laroiya

Qci Certified Yoga therapist

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जंगली क्या चीज है कि हम कहते कि सुबह उठकर आफ्टर आपका जो दिल्ली का जो काम है आप ना भजन आपो के बाद नहाकर भी कर सकते बिना नहाए भाइयों की खेती नहीं है कि आप सहयोग करोगे अगर संपन्न टॉर्च कल काजल से नारी हुआ उसमें यह है कि कई बार अर्ली मॉर्निंग काम होते हैं आपका मीटिंग होती है उसका न्यूज़ होते हैं कि आप सुबह नहीं हो केवल योग करने के बाद शाम को भी कर सकते हो बस कुछ चीजों का ध्यान रखना होता है जैसे खाना खाने के 38 घंटे कॉल मोर्चों पर रखो जरूर रखी है तो पेट में खाना होगा तो चैटिंग करोगी

jungli kya cheez hai ki hum kehte ki subah uthakar after aapka jo delhi ka jo kaam hai aap na bhajan apo ke baad nahakar bhi kar sakte bina nahae bhaiyo ki kheti nahi hai ki aap sahyog karoge agar sampann torch kal kajal se nari hua usme yah hai ki kai baar early morning kaam hote hain aapka meeting hoti hai uska news hote hain ki aap subah nahi ho keval yog karne ke baad shaam ko bhi kar sakte ho bus kuch chijon ka dhyan rakhna hota hai jaise khana khane ke 38 ghante call morchon par rakho zaroor rakhi hai toh pet mein khana hoga toh chatting karogi

जंगली क्या चीज है कि हम कहते कि सुबह उठकर आफ्टर आपका जो दिल्ली का जो काम है आप ना भजन आपो

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user

Dr Anil Anandan

Yoga Instructor

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिस समय ने नेचर में बहुत ज्यादा ऑक्सीजन की मात्रा होती है उस समय गर्म योगाभ्यास करते हैं तो हमें बहुत ज्यादा बेनिफिट मिलता है ऑक्सीजन जितना ज्यादा कंज्यूम होगी बॉडी में उतना ज्यादा हमारा जो है आईपी लोगों और रजिस्टेंस पावर स्ट्रांग हुआ तो उसके लिए जो नेचर ने समय हमें प्रवाहित किया है वह 5:00 से 6:00 सुबह मॉर्निंग का सबसे बेस्ट ट्यूशन में है उपवास से 6 बाय नेचर 506 जो टाइमिंग है वह युग के लिए सबसे अच्छी उपयुक्त हैं

jis samay ne nature mein bahut zyada oxygen ki matra hoti hai us samay garam yogabhayas karte hain toh hamein bahut zyada benefit milta hai oxygen jitna zyada consume hogi body mein utana zyada hamara jo hai IP logo aur resistance power strong hua toh uske liye jo nature ne samay hamein pravahit kiya hai vaah 5 00 se 6 00 subah morning ka sabse best tuition mein hai upvaas se 6 bye nature 506 jo timing hai vaah yug ke liye sabse achi upyukt hain

जिस समय ने नेचर में बहुत ज्यादा ऑक्सीजन की मात्रा होती है उस समय गर्म योगाभ्यास करते हैं त

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  266
WhatsApp_icon
user

Udanveer Yadav

Yoga Instructor

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा कोई जरूरी नहीं है लेकिन आप मेरे अपने योग्य क्या बोलते हैं इसमें भारतीय संस्कृति को सबसे खतरनाक सबसे ज्यादा लाभकारी है सुबह करते मॉर्निंग फ्रेश होने के बाद सबसे 2 सबसे बेस्ट खाना खाने के 4 घंटे बाद बता सकते हैं

aisa koi zaroori nahi hai lekin aap mere apne yogya kya bolte hain isme bharatiya sanskriti ko sabse khataranaak sabse zyada labhakari hai subah karte morning fresh hone ke baad sabse 2 sabse best khana khane ke 4 ghante baad bata sakte hain

ऐसा कोई जरूरी नहीं है लेकिन आप मेरे अपने योग्य क्या बोलते हैं इसमें भारतीय संस्कृति को सबस

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  365
WhatsApp_icon
user

Yogacharya Raju Soni

Yoga Instructor - Aum Yog And Naturopathy Centre

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे तो एक्चुअल टाइम जो है वह अर्ली मॉर्निंग है 4:05 बजे से लेकर 6:07 बजे तक बाकी यदि आपके पास समय नहीं है सब खाली पेट 3 से 4 घंटे आपके दिखाने के बाद खाली पेट रहते हैं उस बात कर सकते तो उस वक्त भी काफी लाभ मिलेगा आपको

waise toh actual time jo hai vaah early morning hai 4 05 baje se lekar 6 07 baje tak baki yadi aapke paas samay nahi hai sab khaali pet 3 se 4 ghante aapke dikhane ke baad khaali pet rehte hain us baat kar sakte toh us waqt bhi kaafi labh milega aapko

वैसे तो एक्चुअल टाइम जो है वह अर्ली मॉर्निंग है 4:05 बजे से लेकर 6:07 बजे तक बाकी यदि आपके

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  315
WhatsApp_icon
user

Jitendra Kumar

Disciple of Swami Niranjananand Sarswati

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सामान्य तौर से फिर से बल्कि है योग के अभ्यास में बताया जाता है कि आपका खाली पेट होना चाहिए और सुबह का सामने सुबह का टाइम बहुत आइडियल होता है लेकिन देखने को मिल रहा है जैसे आप उनको युग से कैसे लाभ होगा तो इस दृष्टिकोण में हम लोग रेफर करते हैं इस अवसर पर फ्रेंड को देना है कि आपका हार्दिक का सबसे गर्म स्थान बहुत अच्छे योगा भक्ति दुख रहा इसका मतलब होता है कि बेटी को एक प्रकृति के अनुसार होता है सुबह और शाम होते-होते हो जाता है इनका एक अपना टाइमिंग सेट है आपसे तो मना है दूध टाइम के अनुसार ऐसी कोई गोली रात तक काम करता हो और 10:00 बजे सुबह में जागता हो तो उसी अनुसार अपना ज्ञात जागने के बाद जो है 10 से 15 आप को ठीक करना है बिहार आचार विचार बैलेंस करेंगे और खाली पेट तो खाली पेट का मतलब हुआ कि जब जाएंगे तब प्रणाम मेडिसन का ध्यान करके आप इस उद्योग का लाभ उठा सकते हैं

dekhiye samanya taur se phir se balki hai yog ke abhyas mein bataya jata hai ki aapka khaali pet hona chahiye aur subah ka saamne subah ka time bahut ideal hota hai lekin dekhne ko mil raha hai jaise aap unko yug se kaise labh hoga toh is drishtikon mein hum log Refer karte hain is avsar par friend ko dena hai ki aapka hardik ka sabse garam sthan bahut acche yoga bhakti dukh raha iska matlab hota hai ki beti ko ek prakriti ke anusaar hota hai subah aur shaam hote hote ho jata hai inka ek apna timing set hai aapse toh mana hai doodh time ke anusaar aisi koi goli raat tak kaam karta ho aur 10 00 baje subah mein jaagta ho toh usi anusaar apna gyaat jagne ke baad jo hai 10 se 15 aap ko theek karna hai bihar aachar vichar balance karenge aur khaali pet toh khaali pet ka matlab hua ki jab jaenge tab pranam medicine ka dhyan karke aap is udyog ka labh utha sakte hain

देखिए सामान्य तौर से फिर से बल्कि है योग के अभ्यास में बताया जाता है कि आपका खाली पेट होना

Romanized Version
Likes  165  Dislikes    views  2494
WhatsApp_icon
user

Sunil Verma

Yoga Instructor

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुबह ज्यादा ठीक रहता है क्योंकि हम सुबह सो के उठते हैं तो हमारा पेट में खाली होता है मंदी मंदी साथ रहता है सर से मतलब है मन में विचार नहीं हो तो सुबह उठने के बाद में तो सुबह के पीछे बजे जोर से निवृत्त होकर उसके बाद योगाभ्यास करना

subah zyada theek rehta hai kyonki hum subah so ke uthte hain toh hamara pet mein khaali hota hai mandi mandi saath rehta hai sir se matlab hai man mein vichar nahi ho toh subah uthane ke baad mein toh subah ke peeche baje jor se sevanervit hokar uske baad yogabhayas karna

सुबह ज्यादा ठीक रहता है क्योंकि हम सुबह सो के उठते हैं तो हमारा पेट में खाली होता है मंदी

Romanized Version
Likes  42  Dislikes    views  417
WhatsApp_icon
user

Jyoti Agrawal

Founder & Director - Shree Yoga Classes

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे तो योगाभ्यास सुबह के समय ही किया जाना चाहिए लेकिन अगर हमारे पास उस वक्त समय नहीं हो तो दिन में कभी भी खाना खाने के 4 घंटे के बाद आप योगाभ्यास कर सकते हैं

waise toh yogabhayas subah ke samay hi kiya jana chahiye lekin agar hamare paas us waqt samay nahi ho toh din mein kabhi bhi khana khane ke 4 ghante ke baad aap yogabhayas kar sakte hain

वैसे तो योगाभ्यास सुबह के समय ही किया जाना चाहिए लेकिन अगर हमारे पास उस वक्त समय नहीं हो त

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  531
WhatsApp_icon
user

Kumar Ajit

Yoga Trainer (पतंजलि योग समिति योग शिक्षक)

2:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओम जी नमस्कार प्रश्न पूछने के लिए आपका अभिनंदन है आपका प्रश्न है कि क्या योग का अभ्यास केवल सुबह के समय ही किया जाना चाहिए जी नहीं ऐसा कोई जरूरी नहीं है लेकिन हां इतना जरूर है कि सुबह का जो अभ्यास होता है सुबह के समय में वह बहुत ही सभी अभ्यास उसे अच्छा कहा जा सकता है और अच्छा माना जाएगा क्योंकि वह इसलिए भी कि वह उस समय जो आप उसमें तो अच्छा होता ही है और भोजन करने के 45 मतलब 3:00 से 4:30 घंटा चोरी 3:30 4 घंटे का अंतराल होना चाहिए भोजन के बाद तो और पेट भी साफ होना चाहिए तो अच्छा माना जाता है तो सुबह का समय इसलिए भी अच्छा है क्योंकि आप जब रात्रि में भोजन करके शाम को संडे को सोते हैं तो भोजन को पचने की बहुत अधिक समय मिलता है फिर सुबह सोचो आप करते हैं तो उसमें बहुत आसानी से पेट साफ हो जाता है और सब भी प्रकार से मतलब सुदी हो जाता है और जब बीच में आप करते हैं दिन में किसी समय तो निश्चित तौर पर कहा जा सकता है कि जो सुबह में आप पर ताजगी महसूस करते हैं फ्रेश होते हैं और अपने जो नित्य कर्म होता है वह उस से निवृत होते हैं उस तरह से आपके दिन में किस समय नहीं हो पाएंगे तो इसलिए दिन में वह नहीं ठीक हो पाता लेकिन फिर भी जब कोई असाध्य रोगों से आप ग्रसित है तो वह फिर यह जो समय के अंतराल में बोल रहा हूं कि नहीं सुबह में ही सबसे अच्छा होता है सुबह में निश्चित तौर पर अच्छा होता है लेकिन जब असाध्य रोगों से ग्रसित है तो आप भोजन का आसन और प्राणायाम की कौन सा किस प्रकार से कितना कठिन है उसको देखते हैं समय का अंतराल एक निश्चित अंतराल के बाद किया जा सकता है और लंबे समय तक किया जा सकता है और उसकी समय बढ़ाया जा सकता है तब उसमें विशेष लाभ मिलेगा

om ji namaskar prashna poochne ke liye aapka abhinandan hai aapka prashna hai ki kya yog ka abhyas keval subah ke samay hi kiya jana chahiye ji nahi aisa koi zaroori nahi hai lekin haan itna zaroor hai ki subah ka jo abhyas hota hai subah ke samay mein vaah bahut hi sabhi abhyas use accha kaha ja sakta hai aur accha mana jaega kyonki vaah isliye bhi ki vaah us samay jo aap usme toh accha hota hi hai aur bhojan karne ke 45 matlab 3 00 se 4 30 ghanta chori 3 30 4 ghante ka antaral hona chahiye bhojan ke baad toh aur pet bhi saaf hona chahiye toh accha mana jata hai toh subah ka samay isliye bhi accha hai kyonki aap jab ratri mein bhojan karke shaam ko sunday ko sote hain toh bhojan ko pachane ki bahut adhik samay milta hai phir subah socho aap karte hain toh usme bahut aasani se pet saaf ho jata hai aur sab bhi prakar se matlab shudi ho jata hai aur jab beech mein aap karte hain din mein kisi samay toh nishchit taur par kaha ja sakta hai ki jo subah mein aap par tajgi mehsus karte hain fresh hote hain aur apne jo nitya karm hota hai vaah us se nivrit hote hain us tarah se aapke din mein kis samay nahi ho payenge toh isliye din mein vaah nahi theek ho pata lekin phir bhi jab koi asadhya rogo se aap grasit hai toh vaah phir yah jo samay ke antaral mein bol raha hoon ki nahi subah mein hi sabse accha hota hai subah mein nishchit taur par accha hota hai lekin jab asadhya rogo se grasit hai toh aap bhojan ka aasan aur pranayaam ki kaun sa kis prakar se kitna kathin hai usko dekhte hain samay ka antaral ek nishchit antaral ke baad kiya ja sakta hai aur lambe samay tak kiya ja sakta hai aur uski samay badhaya ja sakta hai tab usme vishesh labh milega

ओम जी नमस्कार प्रश्न पूछने के लिए आपका अभिनंदन है आपका प्रश्न है कि क्या योग का अभ्यास केव

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  327
WhatsApp_icon
user

Janardhan kumar Sharma

Yoga Instructor

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग का अभ्यास कभी भी किया जा सकता है जब आपका खाली पेट हो वैसे प्रातः काल का समय उपयुक्त माना जाता है क्योंकि सुबह का वातावरण भाड़ में बिल्कुल मन दूषित नहीं रहता है और उसके बाद धीरे-धीरे धीरे-धीरे दूषित हो जाता है सूर्य की किरणें जो हमारे शरीर पर पड़ती हैं उसमें अल्ट्रावायलेट किरणें सुबह में नहीं होती है किसलिए सुबह ही उपयुक्त माना जाता है बाकी जो सुबह में नहीं कर सकते हैं वह किसी भी टाइम खाली समय जब को किया जा सकता है

yog ka abhyas kabhi bhi kiya ja sakta hai jab aapka khaali pet ho waise pratah kaal ka samay upyukt mana jata hai kyonki subah ka vatavaran bhad mein bilkul man dushit nahi rehta hai aur uske baad dhire dhire dhire dhire dushit ho jata hai surya ki kirne jo hamare sharir par padti hain usme Ultraviolet kirne subah mein nahi hoti hai kisliye subah hi upyukt mana jata hai baki jo subah mein nahi kar sakte hain vaah kisi bhi time khaali samay jab ko kiya ja sakta hai

योग का अभ्यास कभी भी किया जा सकता है जब आपका खाली पेट हो वैसे प्रातः काल का समय उपयुक्त मा

Romanized Version
Likes  165  Dislikes    views  2477
WhatsApp_icon
user
0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां मॉर्निंग ठीक नहीं फिर सबसे लेटराइट कोटी बोलते हैं क्या सबसे बेहतर कौन सा है सबसे निम्न सतर कौन सा है सबसे निम्न सतर हजार आगरा जाएंगे तो सारे सबसे ऊंचा होगा

haan morning theek nahi phir sabse letrait koti bolte kya sabse behtar kaun sa hai sabse nimn satar kaun sa hai sabse nimn satar hazaar agra jaenge toh saare sabse uncha hoga

हां मॉर्निंग ठीक नहीं फिर सबसे लेटराइट कोटी बोलते हैं क्या सबसे बेहतर कौन सा है सबसे निम्न

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  215
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!