हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा योगिक प्रबंधन क्या हो सकता है?...


play
user

Narendar Gupta

प्राकृतिक योगाथैरिपिस्ट एवं योगा शिक्षक,फीजीयोथैरीपिस्ट

1:50

Likes  234  Dislikes    views  2550
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एडी के लिए सबसे अच्छा योग आसन वज्रासन में 10 से 15 मिनट में पूजन के बाद और सुबह आप हलासन करें प्रशासन करें उतान पादासन करें पवनमुक्तासन करें 9:00 का संकलन करें और चक्रासन करें जिससे आपका हाइपर एसिडिटी खत्म हो जाएगा

ad ke liye sabse accha yog aasan vajrasan me 10 se 15 minute me pujan ke baad aur subah aap halasan kare prashasan kare utan padasan kare pavanamuktasan kare 9 00 ka sankalan kare aur chakrasan kare jisse aapka hyper acidity khatam ho jaega

एडी के लिए सबसे अच्छा योग आसन वज्रासन में 10 से 15 मिनट में पूजन के बाद और सुबह आप हलासन क

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  857
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है यहां पर एसपी के लिए सबसे अच्छा योगी प्रबंध क्या हो सकता है तो सबसे पहले तो आप अपने आहार पर ध्यान देंगे कि आप कौन सा मैच खेल रहे हैं जिस टाइप से आपको आज छुट्टी हो रही है बिल्कुल आप से देखें कौन सा प्रोडक्ट है जिसे आपने तो आप नहीं लेंगे दूसरी चीज आप पानी का ज्यादा उपयोग करेंगे जय जय तो पानी पिएंगे और यदि आपको कब्ज है तो कबसे के लिए आप एनिमा पर क्लिक कर उसके बाद योगासन और प्राणायाम योगासन और प्राणायाम आप करते हैं तो आपको फायदा होगा

aapka sawaal hai yahan par SP ke liye sabse accha yogi prabandh kya ho sakta hai toh sabse pehle toh aap apne aahaar par dhyan denge ki aap kaun sa match khel rahe hain jis type se aapko aaj chhutti ho rahi hai bilkul aap se dekhen kaun sa product hai jise aapne toh aap nahi lenge dusri cheez aap paani ka zyada upyog karenge jai jai toh paani piyenge aur yadi aapko kabz hai toh kabse ke liye aap Anima par click kar uske baad yogasan aur pranayaam yogasan aur pranayaam aap karte hain toh aapko fayda hoga

आपका सवाल है यहां पर एसपी के लिए सबसे अच्छा योगी प्रबंध क्या हो सकता है तो सबसे पहले तो आप

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  1191
WhatsApp_icon
play
user

Dr. R. K. Gupta

Yoga & Nature Care Health center

0:47

Likes  129  Dislikes    views  1129
WhatsApp_icon
user

Neelam Chauhan

Yoga Teacher

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा योग प्रवचन क्या हो सकता है एसिडिटी में आपका कुंजल क्रिया कर सकते हैं और खींच ली और शीतकारी प्राणायाम आपको ज्यादा करना है तो आपको काफी रिलीफ मिलेगा खाने पीने में आप थोड़ा ध्यान रखेंगे आप तो ऐसी चीजें ना खाएं जिसमें एसिड हो अंध वाली चीजें सारी वस्तुओं का सेवन करें तो आपका जैसे डिटी का प्रॉब्लम है वह ठीक हो जाएगा

hyper acidity ke liye sabse accha yog pravachan kya ho sakta hai acidity me aapka kunjal kriya kar sakte hain aur khinch li aur shitkari pranayaam aapko zyada karna hai toh aapko kaafi relief milega khane peene me aap thoda dhyan rakhenge aap toh aisi cheezen na khayen jisme acid ho andh wali cheezen saari vastuon ka seven kare toh aapka jaise DT ka problem hai vaah theek ho jaega

हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा योग प्रवचन क्या हो सकता है एसिडिटी में आपका कुंजल क्रिया

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  201
WhatsApp_icon
user

Shailesh Kumar Dubey

Yoga Teacher , Retired Government Employee

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा योगिक प्रबंधन क्या हो सकता है इसका उत्तर है हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा योगी प्रबंधन है कि नियमित नित्य क्रिया से निवृत्त होकर की एक घंटा आसन कीजिए और अपने खान-पान पर विशेष ध्यान दीजिए खानपान का मतलब है आप प्रातः काल उठकर के 1 लीटर गुनगुना पानी पीजिए अभी छोटा-छोटा घूंट करके इसे चाय पीते हैं ऐसे करके भोजन के 1 घंटे के बाद पानी पीजिए प्यास लगी यह तो भोजन से 50 मिनट पूर्व पानी पीजिए भोजन को तीन भागों में बांटकर कीजिए सुबह दोपहर शाम 3:00 भाग में भोजन बांट लीजिए लेकिन जब भी भोजन करें तो भोजन को प्रत्येक ने वाले को 32 बार चबाकर तब निकल है और पानी भोजन की एक घंटा बाद या प्यास लगी है तो भोजन के 50 मिनट पूर्व पानी पीजिए यदि आप करेंगे तो आप बिल्कुल रोगमुक्त हो जाएंगे किसी भी प्रकार की कोई बीमारी आपके अंदर नहीं रहेगी करें योग रहें निरोग

prashna hai hyper acidity ke liye sabse accha yogic prabandhan kya ho sakta hai iska uttar hai hyper acidity ke liye sabse accha yogi prabandhan hai ki niyamit nitya kriya se sevanervit hokar ki ek ghanta aasan kijiye aur apne khan pan par vishesh dhyan dijiye khanpan ka matlab hai aap pratah kaal uthakar ke 1 litre gunguna paani PGA abhi chota chota ghunt karke ise chai peete hain aise karke bhojan ke 1 ghante ke baad paani PGA pyaas lagi yah toh bhojan se 50 minute purv paani PGA bhojan ko teen bhaagon me bantakar kijiye subah dopahar shaam 3 00 bhag me bhojan baant lijiye lekin jab bhi bhojan kare toh bhojan ko pratyek ne waale ko 32 baar chabaakar tab nikal hai aur paani bhojan ki ek ghanta baad ya pyaas lagi hai toh bhojan ke 50 minute purv paani PGA yadi aap karenge toh aap bilkul rogmukt ho jaenge kisi bhi prakar ki koi bimari aapke andar nahi rahegi kare yog rahein nirog

प्रश्न है हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा योगिक प्रबंधन क्या हो सकता है इसका उत्तर है हाइ

Romanized Version
Likes  99  Dislikes    views  2633
WhatsApp_icon
user

Gyanchand Soni

Yoga Instructor.

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर हायपर एसिडिटी है आपको तो आप कुंजल क्रिया कीजिए सप्ताह में एक बार एसिड बनने वाले पता नहीं खाए नींबू पानी भोजन शुद्ध शाकाहारी ले जंक फूड से बच्ची तली हुई चीजों से बच्ची और ज्यादा में चाय कॉफी का सेवन कम से कम या नहीं करें तो सबसे डाइजीन सिरप आता है उसको आप पीजी निर्माण उत्साह और अश्विनी जी धन्यवाद आपका दिन शुभ रहे

agar hyper acidity hai aapko toh aap kunjal kriya kijiye saptah me ek baar acid banne waale pata nahi khaye nimbu paani bhojan shudh shakahari le junk food se bachi tali hui chijon se bachi aur zyada me chai coffee ka seven kam se kam ya nahi kare toh sabse daijin syrup aata hai usko aap PG nirmaan utsaah aur ashwini ji dhanyavad aapka din shubha rahe

अगर हायपर एसिडिटी है आपको तो आप कुंजल क्रिया कीजिए सप्ताह में एक बार एसिड बनने वाले पता नह

Romanized Version
Likes  221  Dislikes    views  1909
WhatsApp_icon
play
user

Minhaz Khan

Yoga Instructor

1:37

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एसिडिटी के लिए बेसिकली क्या होता है एक कुंदन कितने होते हैं जो कि सुबह हम लोग का वेट करते हैं इसमें आप तीन से चार गिलास पानी जो होता है वह हल्का गुनगुना कर लेते हैं और उसमे हल्का सा नमक नींबू कुछ भी डाल सकते हैं अगर हाई ब्लड देते नहीं है तो आप तो नंबर डाल सकते हैं अगर बीपी है उसमें नमक डालकर ग्लास पानी बैठ करके आराम से पी लेते हैं उसके बाद जो भी आपने पानी पिया होता है उसको तुरंत बाहर निकाल देती एक 2 मिनट के बाद उसमें अंदर की पोजीशन होती है उसको इंटरनेट किया जाता है अपने तन के अंदर लास्ट में जा कर के तो रिफ्लेक्शन पैदा होता है तो इससे हमारी दोस्ती बॉल में जो भी ऐसी चीजें होती हैं बच्चे की हुई है जो भी पदार्थ होते हैं उसके माध्यम से उसे नमक के पानी से या जो नींबू के पानी से गुनगुना पानी उसमें भूलकर के बाहर आ जाता है तो गैस्टिक के प्रॉब्लम कम हो जाती है इसके माध्यम से जो कुंजल के माध्यम से कर सकते हैं लावा हमारी दोनों को कॉल मतलब जो वह एसिड लेवल बढ़ रहे हैं उसको ठंडक देने के लिए आप चंद्रभेदी प्राणायाम कर सकते हैं मतलब चीजों को ठंडा रखने का काम कर सकते हैं ताकि आपका जो गैस्ट्रिक जूस ज्यादा तकलीफ हो रहा है वह कम शिक्षित होना स्टार्ट हो जाए तो चंद्रभेदी प्राणायाम कर सकते हैं यह आप कर सकते हैं इसके अलावा बहुत सारी एक्सरसाइज होती हैं जो उस टम्मक टू लिसन देती है मंडूकासन होता है आप वह कर सकते हैं और पेट के लिए बेहतर एक्सरसाइज होते हैं वह कर सकते हैं 20 को जाती है

acidity ke liye basically kya hota hai ek kundan kitne hote hain jo ki subah hum log ka wait karte hain isme aap teen se char gilas paani jo hota hai vaah halka gunguna kar lete hain aur usme halka sa namak nimbu kuch bhi daal sakte hain agar high blood dete nahi hai toh aap toh number daal sakte hain agar BP hai usme namak dalkar glass paani baith karke aaram se p lete hain uske baad jo bhi aapne paani piya hota hai usko turant bahar nikaal deti ek 2 minute ke baad usme andar ki position hoti hai usko internet kiya jata hai apne tan ke andar last mein ja kar ke toh reflection paida hota hai toh isse hamari dosti ball mein jo bhi aisi cheezen hoti hain bacche ki hui hai jo bhi padarth hote hain uske madhyam se use namak ke paani se ya jo nimbu ke paani se gunguna paani usme bhulkar ke bahar aa jata hai toh gastic ke problem kam ho jaati hai iske madhyam se jo kunjal ke madhyam se kar sakte hain lava hamari dono ko call matlab jo vaah acid level badh rahe hain usko thandak dene ke liye aap chandrabhedi pranayaam kar sakte hain matlab chijon ko thanda rakhne ka kaam kar sakte hain taki aapka jo gastric juice zyada takleef ho raha hai vaah kam shikshit hona start ho jaaye toh chandrabhedi pranayaam kar sakte hain yah aap kar sakte hain iske alava bahut saree exercise hoti hain jo us tammak to listen deti hai mandukasan hota hai aap vaah kar sakte hain aur pet ke liye behtar exercise hote hain vaah kar sakte hain 20 ko jaati hai

एसिडिटी के लिए बेसिकली क्या होता है एक कुंदन कितने होते हैं जो कि सुबह हम लोग का वेट करते

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  381
WhatsApp_icon
user

Ratnesh Choubey

Yoga Trainer

6:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्नेहा योगिक मैनेजमेंट में मैं आपको बोलना चाहूंगा कि हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे पहले हमें अपने भोजन से थोड़ा संयम रखना होगा और भोजन की प्रक्रिया को थोड़ा सा समझना होगा ठीक है यह सत्य है यदि हम नहीं करेंगे पहले भोजन तो भोजन जो है और मैं बताना चाहूंगा कि भोजन है जैसे ही सूर्य निकलता है तो हमारे शरीर के भीतर एक तो अमाशय के अंदर एक रस बनता है जिसको जेठालाल सूर्य उदय होता है तो हमारा जैसी है वह अधिक बनता है या यूं कहें कि सूर्योदय से लेकर प्रारंभ होता है उस समय हम जो भी भोजन करते हैं वह हमारा जल्दी पच जाता है योग जो है प्रकृति से जुड़ा हुआ है तो अभी हम सुबह का भोजन अपना समय से करते हैं यानी कि कल मुझे 9:00 बजे तक अपना भोजन नाश्ता नहीं लेकिन जो हमारी है उसमें नाश्ता नहीं है कहीं भी ब्रेकफास्ट नहीं है प्रातः कालीन भोजन है आज जलपान जलपान के शिक्षण लेकिन नाश्ता है या वेज पार्टी से कोई चीज नहीं चाहते हैं कालीन भोजन लेना चाहिए उसमें आपको सुबह के अनुसार थोड़ा कम भोजन करना चाहिए सुबह के अनुसार दोपहर में भोजन की सुबह सूर्योदय और सूर्यास्त सूर्यास्त का समय होता है उसमें आपको भोजन कर लेना सामान्य ऐसे बोलते हैं कि 8:00 बजे से पहले आप को भोजन कर लेना चाहिए क्योंकि जो आशा कैटरर्स है उस समय तक बन रहा है अगर आप रात में 11:00 बजे 10:00 बजे 12:00 बजे कर रहे हैं मुकेश नेगी एसिडिटी हो गई हर पल की टीम को शुरू हो जाता है कि आपका भोजन सात्विक होना चाहिए कि प्रकृति से पूर्ण रूप से जुड़ा होना चाहिए तो उसका विशेष ध्यान रखें शास्त्री के भजन होना चाहिए तीसरा भोजन के साथ-साथ आपको अपने जल का भी विशेष ध्यान रखते हैं कि आप जो जल ग्रहण कर रहे हैं वह शुद्ध होना चाहिए और भोजन के बाद करना कि यदि आपको बताओ ना क्यों आप ने कर लिया और ऊपर से आपने तुरंत पानी पी लिया प्रक्रिया शुरू हो जाएगी आप थोड़ी सी है और हमारी अमाशय के अंदर गया भोजन करते हैं तो हमारे भोजन के साथ हमारे भोजन की प्रक्रिया शुरू होने लगता है 20 मिनट में प्रक्रिया शुरू होती है और लगभग भोजन करने के तुरंत बाद जल नहीं करना है कम से कम 1 मिनट रुकना होगा 1 घंटे बाद पानी पीते हैं तो ऐसी हो जाएगी कि आपको कैसी ट्रबल नहीं होगा गैस नहीं बनेगी और दूसरी कितना आप कौन हैं शौचालय रहेंगे तो पेट आपका साफ रहेगा कभी नहीं रहेगी आपको तो इसका ध्यान रखेंगे तो उसके 1 घंटे बाद ही आंचल ग्रैंड करें पहले नाटक अगर आपने पूछा भोजन या बहुत तेज भोजन कर लिया आपने तो थोड़ा ले सकते हैं यह करके पानी नहीं पीना है जब भी पानी पिए तो मुंह को चलाकर मिले जैसे कुल्ला करके पानी का प्रयोग करके देख सकते हैं क्लास कीजिए तो बिलासपुर तो यह भोजन और आपने आपका जो प्रश्न था

sneha yogic management mein main aapko bolna chahunga ki hyper acidity ke liye sabse pehle hamein apne bhojan se thoda sanyam rakhna hoga aur bhojan ki prakriya ko thoda sa samajhna hoga theek hai yah satya hai yadi hum nahi karenge pehle bhojan toh bhojan jo hai aur main bataana chahunga ki bhojan hai jaise hi surya nikalta hai toh hamare sharir ke bheetar ek toh amashay ke andar ek ras banta hai jisko jethalal surya uday hota hai toh hamara jaisi hai vaah adhik banta hai ya yun kahein ki suryoday se lekar prarambh hota hai us samay hum jo bhi bhojan karte hai vaah hamara jaldi pach jata hai yog jo hai prakriti se jinko hua hai toh abhi hum subah ka bhojan apna samay se karte hai yani ki kal mujhe 9 00 baje tak apna bhojan nashta nahi lekin jo hamari hai usme nashta nahi hai kahin bhi Breakfast nahi hai pratah kaleen bhojan hai aaj jalpan jalpan ke shikshan lekin nashta hai ya veg party se koi cheez nahi chahte hai kaleen bhojan lena chahiye usme aapko subah ke anusaar thoda kam bhojan karna chahiye subah ke anusaar dopahar mein bhojan ki subah suryoday aur suryaast suryaast ka samay hota hai usme aapko bhojan kar lena samanya aise bolte hai ki 8 00 baje se pehle aap ko bhojan kar lena chahiye kyonki jo asha kaitarars hai us samay tak ban raha hai agar aap raat mein 11 00 baje 10 00 baje 12 00 baje kar rahe hai mukesh negi acidity ho gayi har pal ki team ko shuru ho jata hai ki aapka bhojan Satvik hona chahiye ki prakriti se purn roop se jinko hona chahiye toh uska vishesh dhyan rakhen shastri ke bhajan hona chahiye teesra bhojan ke saath saath aapko apne jal ka bhi vishesh dhyan rakhte hai ki aap jo jal grahan kar rahe hai vaah shudh hona chahiye aur bhojan ke baad karna ki yadi aapko batao na kyon aap ne kar liya aur upar se aapne turant paani p liya prakriya shuru ho jayegi aap thodi si hai aur hamari amashay ke andar gaya bhojan karte hai toh hamare bhojan ke saath hamare bhojan ki prakriya shuru hone lagta hai 20 minute mein prakriya shuru hoti hai aur lagbhag bhojan karne ke turant baad jal nahi karna hai kam se kam 1 minute rukna hoga 1 ghante baad paani peete hai toh aisi ho jayegi ki aapko kaisi trouble nahi hoga gas nahi banegi aur dusri kitna aap kaun hai shauchalay rahenge toh pet aapka saaf rahega kabhi nahi rahegi aapko toh iska dhyan rakhenge toh uske 1 ghante baad hi aanchal grand kare pehle natak agar aapne poocha bhojan ya bahut tez bhojan kar liya aapne toh thoda le sakte hai yah karke paani nahi peena hai jab bhi paani piye toh mooh ko chalakar mile jaise kulla karke paani ka prayog karke dekh sakte hai class kijiye toh bilaspur toh yah bhojan aur aapne aapka jo prashna tha

स्नेहा योगिक मैनेजमेंट में मैं आपको बोलना चाहूंगा कि हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे पहले हमें अ

Romanized Version
Likes  156  Dislikes    views  2485
WhatsApp_icon
user

Jitendra Kumar

Disciple of Swami Niranjananand Sarswati

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हायपर सिटी में आपको पुलिंग सबसे पहले पुलिंग प्रणाम करना चाहिए कितनी प्रणब हुआ है पिचकारी प्रणब हो गया 12 परिणाम का व्यास ज्ञात वीरेंद्र गिरी का अभ्यास करने से इन पड़े हम जोड़ दीजिए बहुत ज्यादा लाभ मिलेगा तो और इसके बाद इसके बाद ही पेशेंट जो है संघ संघ प्रचालन का अभ्यास रिसर्च में पाया गया है कि मनुष्य जब से जन्म लेता है तो मृत्यु तक भी संघ प्रचालन का अभ्यास नहीं कर पाता है तो हम लोग शंख प्रक्षालन का भी अभ्यास जोड़ते हैं उसे क्या होता है कि पूरा सिस्टम को इंटरनल क्लियर कर देता है तो आपका नंबर दीजिए और ठीक हो जाएगा

hyper city mein aapko puling sabse pehle puling pranam karna chahiye kitni pranab hua hai pichkari pranab ho gaya 12 parinam ka vyas gyaat virendra giri ka abhyas karne se in pade hum jod dijiye bahut zyada labh milega toh aur iske baad iske baad hi patient jo hai sangh sangh prachalan ka abhyas research mein paya gaya hai ki manushya jab se janam leta hai toh mrityu tak bhi sangh prachalan ka abhyas nahi kar pata hai toh hum log shankh prakshalan ka bhi abhyas jodte hain use kya hota hai ki pura system ko internal clear kar deta hai toh aapka number dijiye aur theek ho jaega

हायपर सिटी में आपको पुलिंग सबसे पहले पुलिंग प्रणाम करना चाहिए कितनी प्रणब हुआ है पिचकारी प

Romanized Version
Likes  185  Dislikes    views  2538
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाइपर एसिडिटी में सबसे 10 है खासतौर से कुछ क्रियाएं होती है और बाकी का जो सिंपल अगर आदमी उसमें गुनगुना पानी पीना है हल्का-हल्का नमक भी डाल सकते हैं

hyper acidity mein sabse 10 hai khaasataur se kuch kriyaen hoti hai aur baki ka jo simple agar aadmi usme gunguna paani peena hai halka halka namak bhi daal sakte hain

हाइपर एसिडिटी में सबसे 10 है खासतौर से कुछ क्रियाएं होती है और बाकी का जो सिंपल अगर आदमी उ

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  1972
WhatsApp_icon
user

Sunil Verma

Yoga Instructor

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाइपर एसिडिटी के लिए देखिए सबसे अच्छा है कि हम दोनो C3 शीतकारी प्राणायाम करें और अगर हम आसन की बात करें तो हमारा इसमें प्रॉब्लम पवनमुक्तासन बहुत अच्छा है इसके लिए और उत्तानपाद अनुपात आशंका बहुत अच्छा है इसके लिए और पश्चिमोत्तानासन उसके लिए बहुत अच्छा है और अगर हम पेट के बल करके करें तो रिपीट केवल करते हैं अगर हम तो रिपीट केवल तो आज सलवार सूट बहुत अच्छा सही बात है मुश्किल बहुत अच्छा कंट्रोल करने के लिए हाइपर एसिडिटी को और साथ ही साथ इस नहीं कर सकता चालन किया जाता है यह प्रक्रिया में आता है शोधन क्रिया में जो हम कर सकते

hyper acidity ke liye dekhiye sabse accha hai ki hum dono C3 shitkari pranayaam kare aur agar hum aasan ki baat kare toh hamara isme problem pavanamuktasan bahut accha hai iske liye aur uttanapad anupat ashanka bahut accha hai iske liye aur pashchimottanasan uske liye bahut accha hai aur agar hum pet ke bal karke kare toh repeat keval karte hain agar hum toh repeat keval toh aaj salwar suit bahut accha sahi baat hai mushkil bahut accha control karne ke liye hyper acidity ko aur saath hi saath is nahi kar sakta chaalan kiya jata hai yah prakriya mein aata hai sodhan kriya mein jo hum kar sakte

हाइपर एसिडिटी के लिए देखिए सबसे अच्छा है कि हम दोनो C3 शीतकारी प्राणायाम करें और अगर हम आस

Romanized Version
Likes  144  Dislikes    views  2601
WhatsApp_icon
user

Yogendra Kumar Sharma

Yoga Instructor

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी की तैसी कॉल करना चाहिए जो कैटरीना फास्ट फूड हैं उन पर कंट्रोल करना होगा और कोई ज्यादा जो भोजन होता है

aisi ki taisi call karna chahiye jo katrina fast food hain un par control karna hoga aur koi zyada jo bhojan hota hai

ऐसी की तैसी कॉल करना चाहिए जो कैटरीना फास्ट फूड हैं उन पर कंट्रोल करना होगा और कोई ज्यादा

Romanized Version
Likes  88  Dislikes    views  1337
WhatsApp_icon
user

Dr. Tanmay Gorajiya

Yoga Instructor & Naturopathy

1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाइपर एसिडिटी के लिए जो हमारा डाइजेस्टिव सिस्टम है या नी वात पित्त और कफ नारी से पूरा जो बॉडी में डीपी जाता है वहां से पूरा जॉइंट प्रॉब्लम स्पाइन प्रॉब्लम प्रॉब्लम आता है कि सेमिनल यानी पूरा बॉडी में यानी प्रेशर ब्लड प्रेशर है हाई ब्लड प्रेशर हाई हाई पल्स रेट है वह आता है कब से पूरा भूख नहीं लगता है पूरा दिन ऐसा ही जाता है मैं विदाउट कुछ खाया कुछ पिया कुछ अच्छा लगा तो पूरा डाइजेस्टिव सिस्टम को कंट्रोल में रखने के लिए हमें जो एसिडिटी हाइपरएसिडिटी है तो उसके लिए पहले फूड में थोड़ा चेंजिंग आना होता है या नहीं हमें गरमा गरम नहीं खाना है कि राशन में है तो असल में हमें कैंटीन जाने के लिए जैसे उत्तानपादासन है पद्मावत तनपा दर्शन है जो एब्डोमिनल के लगती डोमिनल को जॉब होते हैं जो पुराने सिंह दे वह आसन करना चाहिए फिर प्राणायाम में शीतली प्राणायाम है चंद्र नाड़ी प्रणब है वह प्रणब शूटिंग करना चाहिए तो एचडी जो प्रॉब्लम है वह चला जाएगा

hyper acidity ke liye jo hamara digestive system hai ya ni vaat pitt aur cough nari se pura jo body mein dipi jata hai wahan se pura joint problem spine problem problem aata hai ki seminal yani pura body mein yani pressure blood pressure hai high blood pressure high high pulse rate hai vaah aata hai kab se pura bhukh nahi lagta hai pura din aisa hi jata hai without kuch khaya kuch piya kuch accha laga toh pura digestive system ko control mein rakhne ke liye hamein jo acidity haiparaesiditi hai toh uske liye pehle food mein thoda changing aana hota hai ya nahi hamein grma garam nahi khana hai ki raashan mein hai toh asal mein hamein canteen jaane ke liye jaise uttanapadasan hai padmavat tanapa darshan hai jo ebdominal ke lagti dominol ko job hote hain jo purane Singh de vaah aasan karna chahiye phir pranayaam mein shitli pranayaam hai chandra naadi pranab hai vaah pranab shooting karna chahiye toh hd jo problem hai vaah chala jaega

हाइपर एसिडिटी के लिए जो हमारा डाइजेस्टिव सिस्टम है या नी वात पित्त और कफ नारी से पूरा जो ब

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  277
WhatsApp_icon
user

Puneet Kumar

Yoga Instructor

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चंद्र जैसे कि उस व्यक्ति को पवनमुक्तासन हैं पार्टनर से राशन हैं वज्रासन के द्वारा हम उसको उसकी एबिलिटी क्या फास्टर फिल्म उसकी कोडिंग करेंगे कि वह चीज को इतनी देर करने में कंफर्टेबल फील अपने आपको करता या निकलता को कंफर्ट करेगा

chandra jaise ki us vyakti ko pavanamuktasan hain partner se raashan hain vajrasan ke dwara hum usko uski ability kya faster film uski coding karenge ki vaah cheez ko itni der karne mein Comfortable feel apne aapko karta ya nikalta ko comfort karega

चंद्र जैसे कि उस व्यक्ति को पवनमुक्तासन हैं पार्टनर से राशन हैं वज्रासन के द्वारा हम उसको

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  435
WhatsApp_icon
user

Sanjeev Kumar

Yoga | Naturopathy

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अशर्फी देवी ब्लॉक के सबसे बढ़िया नौकरी होता है कि जो इंजन करें गर्म पानी में डालकर करें कि शाम का खाना खा ली

asharfi devi block ke sabse badhiya naukri hota hai ki jo engine kare garam paani mein dalkar kare ki shaam ka khana kha li

अशर्फी देवी ब्लॉक के सबसे बढ़िया नौकरी होता है कि जो इंजन करें गर्म पानी में डालकर करें कि

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  349
WhatsApp_icon
user

Avisekh Kashyap

Yoga Instructor

2:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उसके लिए कितनी ऑफिस कारी प्राणायाम है बाकी फिल्म करने से भी हमारे शरीर को ठंडक मिलता है इसलिए और शीतकारी प्राणायाम से हमारे देश के अंदर योगिता के सहाबा जमा हो जाता है वह शीतकारी और तितली प्रणब के द्वारा बाहर उसको निकालते हैं जिससे कि हाइपर एसिडिटी में आपको बहुत ज्यादा आराम मिलेगा बाकी आप जैसे कोई सुबह सुबह उठता है किसी को आदत नहीं होता पानी पीने का तो उनको भी होटल एसिडिटी की समस्या हो जाती है पानी पीने की पानी पीने का भी जो सिस्टम है उसको भी अधिक अच्छा से फॉलो किया जाए तो उसे भी एसिडिटी और कब्ज दूर दूर किया जा सकता है ऐसी कोई बात नहीं जाने से पहले दो गिलास तीन गिलास गुनगुना पानी पीना चाहिए सुबह उठती एसिडिटी को कम किया जा सकता है बाकी खाना खाने के बाद कहा जाता है 1 से 1 घंटे के बाद कम से कम एक घंटा के बाद पानी पीना चाहिए और खाना खाने से आधा घंटा पहले पानी पीने की पानी पीने की जो प्रक्रिया होती है वह खाना खाते ही 1 लीटर खाना खाया और 1 लीटर पानी पी लिया क्या होता है हमारे शरीर में पेट में चर्चा नहीं होती है जैसे कि आप खाना खाया हुआ समाप्त रागिनी उत्पन्न हो जाती है तो किसी से नहीं देखा जा सकती थी अंदर से नहीं दे सकता हूं खाना पचाने के लिए खाना खाने के बाद पानी पी लेते हैं वह मैं अभी नहीं जो है बंद हो जाती है जैसे चल रहा है अग्नि जल रही है पानी उसमें दे दिए तो केवल दुआ निकलेगा वही समस्या हमारे पेट के साथ खाना खाने के बाद पानी पीते हैं कोई अग्नि हो जाती है पानी पीने से और पानी पीने का जो सही तरीका उत्तर और पिचकारी अनुलोम विलोम कपालभाति इससे आपका एसिडिटी का निराकरण हो सकता है

uske liye kitni office kaari pranayaam hai baki film karne se bhi hamare sharir ko thandak milta hai isliye aur shitkari pranayaam se hamare desh ke andar yogita ke sahaba jama ho jata hai vaah shitkari aur titli pranab ke dwara bahar usko nikalate hain jisse ki hyper acidity mein aapko bahut zyada aaram milega baki aap jaise koi subah subah uthata hai kisi ko aadat nahi hota paani peene ka toh unko bhi hotel acidity ki samasya ho jaati hai paani peene ki paani peene ka bhi jo system hai usko bhi adhik accha se follow kiya jaaye toh use bhi acidity aur kabz dur dur kiya ja sakta hai aisi koi baat nahi jaane se pehle do gilas teen gilas gunguna paani peena chahiye subah uthati acidity ko kam kiya ja sakta hai baki khana khane ke baad kaha jata hai 1 se 1 ghante ke baad kam se kam ek ghanta ke baad paani peena chahiye aur khana khane se aadha ghanta pehle paani peene ki paani peene ki jo prakriya hoti hai vaah khana khate hi 1 litre khana khaya aur 1 litre paani p liya kya hota hai hamare sharir mein pet mein charcha nahi hoti hai jaise ki aap khana khaya hua samapt ragini utpann ho jaati hai toh kisi se nahi dekha ja sakti thi andar se nahi de sakta hoon khana pachane ke liye khana khane ke baad paani p lete hain vaah main abhi nahi jo hai band ho jaati hai jaise chal raha hai agni jal rahi hai paani usme de diye toh keval dua niklega wahi samasya hamare pet ke saath khana khane ke baad paani peete hain koi agni ho jaati hai paani peene se aur paani peene ka jo sahi tarika uttar aur pichkari anulom vilom kapalbhati isse aapka acidity ka nirakaran ho sakta hai

उसके लिए कितनी ऑफिस कारी प्राणायाम है बाकी फिल्म करने से भी हमारे शरीर को ठंडक मिलता है इस

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  338
WhatsApp_icon
user

Mukesh Kumar

Yoga Instructor

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा है कि योगिक नेज मिनट में सबसे पहले तो अपना डेली रूटीन सुधारना पड़ेगा खानपान थोड़ा व्यवस्थित करना पड़ेगा शुभम उठकर दो-तीन गिलास पानी पीकर कुछ आसन सोते हैं ताड़ासन तिर्यक ताड़ासन कटिचक्रासन इन वाहनों को करना होता है कुछ लोग आज हैं आपको जैसे भुजंगासन उधर पवनमुक्तासन चक्रासन इस बार तुमसे जो आपके एसिडिटी को कंट्रोल कर सकता है

hyper acidity ke liye sabse accha hai ki yogic nej minute mein sabse pehle toh apna daily routine sudharna padega khanpan thoda vyavasthit karna padega subham uthakar do teen gilas paani peekar kuch aasan sote hain tadasan tiryak tadasan katichakrasan in vahanon ko karna hota hai kuch log aaj hain aapko jaise bhujangasan udhar pavanamuktasan chakrasan is baar tumse jo aapke acidity ko control kar sakta hai

हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा है कि योगिक नेज मिनट में सबसे पहले तो अपना डेली रूटीन सुधा

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  384
WhatsApp_icon
user

Dr. Rahul Das

International Yoga Trainer

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाइपर एसिडिटी लाइट की वजह से ऑनलाइन पेपर सीट अवेलेबिलिटी होता है अगर आपने टाइम पर खाना नहीं खाया या पिटाया जो खाने में मिर्च मसाला नमक की चीजें ज्यादा तो पहले तो आपको डाइट पर कंट्रोल की सबसे ज्यादा आपके शरीर को स्वस्थ रखने के लिए 60% हो आपका डाइट का होता है तो हाथरस बी का मतलब है कि कहीं ना कहीं आप का खाने का टाइमिंग सही है तो उसको पहले नियंत्रण करें कि आपका ब्रेकफास्ट लंच डिनर समय पर हो रहा है कि नहीं खाना खाई 26 का सिर्फ 50% खाना खाए पर्सेंट पानी के लिए जगह रखिए बाकी 20% जगह छोड़ दीजिए इस तरीके से आप अगर अपना भोजन अपना दिन चले करते हैं कि नियमित रूप से खाना खा रहे हैं समय पर इतनी मात्रा में सारे बहुत ज्यादा खा लेते हैं कि खाद आपूर्ति का लेटर इसमें पाचन क्रिया में दिक्कत होती है किस वजह से एसिडिटी होती है आयुर्वेद में जैसे कहा गया कि नाभि का सड़क जाना नाभि खिसकने की अपने सेंटर कोरियर सर्विस जाने से भी एसिडिटी कौशिक गैस की शिकायत होती है आपको चेक करने की आपकी अपनी जगह पर है कि नहीं उसके नीचे करके रखता है तो शादी तक दोनों तरफ अपनी राशि से नाम कर दी कि अगर किसी एक तरफ की रसीद छोटी है इसका मतलब है इस तरह की मांसपेशियां अपनी टाइट कर रखी है तो आप आधे चंद्रा संजत करते हैं या सच कहते हुए त्रिकोणासन कहते हैं उन दोनों वाहनों में आप इन मांसपेशियों को

hyper acidity light ki wajah se online paper seat avelebiliti hota hai agar aapne time par khana nahi khaya ya pitaya jo khane mein mirch masala namak ki cheezen zyada toh pehle toh aapko diet par control ki sabse zyada aapke sharir ko swasthya rakhne ke liye 60 ho aapka diet ka hota hai toh hathras be ka matlab hai ki kahin na kahin aap ka khane ka timing sahi hai toh usko pehle niyantran kare ki aapka Breakfast lunch dinner samay par ho raha hai ki nahi khana khai 26 ka sirf 50 khana khaye percent paani ke liye jagah rakhiye baki 20 jagah chod dijiye is tarike se aap agar apna bhojan apna din chale karte hain ki niyamit roop se khana kha rahe hain samay par itni matra mein saare bahut zyada kha lete hain ki khad aapurti ka letter isme pachan kriya mein dikkat hoti hai kis wajah se acidity hoti hai ayurveda mein jaise kaha gaya ki nabhi ka sadak jana nabhi khiskne ki apne center courier service jaane se bhi acidity kaushik gas ki shikayat hoti hai aapko check karne ki aapki apni jagah par hai ki nahi uske niche karke rakhta hai toh shadi tak dono taraf apni rashi se naam kar di ki agar kisi ek taraf ki rasid choti hai iska matlab hai is tarah ki manspeshiya apni tight kar rakhi hai toh aap aadhe chandra sanjat karte hain ya sach kehte hue trikonasan kehte hain un dono vahanon mein aap in mansapeshiyon ko

हाइपर एसिडिटी लाइट की वजह से ऑनलाइन पेपर सीट अवेलेबिलिटी होता है अगर आपने टाइम पर खाना नही

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  331
WhatsApp_icon
user

Ganesh Prakash

Yoga Instructor

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह एसिडिटी हो जो है पहले तो इसके दो रीजन है एक तो अपना खान-पान का जो टाइम टेबल है वह पूरी तरह से बिगड़ चुका होता है और साथ ही साथ हम बहुत ही इरिटेट और गुस्सा वाले स्वभाव के हो जाते हैं तो यह दोनों चीजों के लिए पहले तो डाइट को अच्छी तरह से मैनेज करना पड़ेगा और दूसरी चीज अपने इमोशंस को कंट्रोल में रखने के लिए माइंड मैनेजमेंट सीखना होगा यह दो चीजें भी बहुत ही गहरी चीजें हैं समझने के लिए पहले तो एक जैसे मैंने कहा कि खाने का जो है टाइम टेबल और जीवनशैली जो है सुबह उठने से लेकर रात को सोने तक के बाहर 4 घंटे के बाद जो है खाना खाना जरूरी है खाने में बहुत ज्यादा ज्ञात नहीं रखना है और खाने के 1 घंटे के बाद या 2 घंटे में पानी पीना है खाने के साथ तुरंत पानी नहीं पीना है यह दो चीजें आपको तीन चीजें ख्याल रखना है एक खाना जोक सुबह उठने के बाद और दोपहर को और शाम को यह सिर्फ तीन टाइम में खाना है रात को नहीं खाना है सुबह 9:00 बजे और दोपहर को 1:00 बजे और शाम को 6:00 बजे के अंदर खा लेना है और पानी खाने के साथ में नहीं पीना है खाने के 1 घंटे या 10 घंटे के बाद पानी पीना है और जो दूध है आजकल जो दूध पहले जैसा नहीं मिल रहा है तो वह दूध को जो है अगर मालूम पड़ता है तो उसको धीरे-धीरे अवैध कर लेना है यह 2233 है अगर इसको अप्लाई करेंगे और माइंड को एकदम काम रखेंगे खुश होकर के साथ हो करके काम करेंगे तो बहुत बढ़िया तरीके से इसको कंट्रोल पूरी तरह सिक्योर कर सकते हैं

yah acidity ho jo hai pehle toh iske do reason hai ek toh apna khan pan ka jo time table hai vaah puri tarah se bigad chuka hota hai aur saath hi saath hum bahut hi irritate aur gussa waale swabhav ke ho jaate hain toh yah dono chijon ke liye pehle toh diet ko achi tarah se manage karna padega aur dusri cheez apne emotional ko control mein rakhne ke liye mind management sikhna hoga yah do cheezen bhi bahut hi gehri cheezen hain samjhne ke liye pehle toh ek jaise maine kaha ki khane ka jo hai time table aur jeevan shaili jo hai subah uthane se lekar raat ko sone tak ke bahar 4 ghante ke baad jo hai khana khana zaroori hai khane mein bahut zyada gyaat nahi rakhna hai aur khane ke 1 ghante ke baad ya 2 ghante mein paani peena hai khane ke saath turant paani nahi peena hai yah do cheezen aapko teen cheezen khayal rakhna hai ek khana joke subah uthane ke baad aur dopahar ko aur shaam ko yah sirf teen time mein khana hai raat ko nahi khana hai subah 9 00 baje aur dopahar ko 1 00 baje aur shaam ko 6 00 baje ke andar kha lena hai aur paani khane ke saath mein nahi peena hai khane ke 1 ghante ya 10 ghante ke baad paani peena hai aur jo doodh hai aajkal jo doodh pehle jaisa nahi mil raha hai toh vaah doodh ko jo hai agar maloom padta hai toh usko dhire dhire awaidh kar lena hai yah 2233 hai agar isko apply karenge aur mind ko ekdam kaam rakhenge khush hokar ke saath ho karke kaam karenge toh bahut badhiya tarike se isko control puri tarah secure kar sakte hain

यह एसिडिटी हो जो है पहले तो इसके दो रीजन है एक तो अपना खान-पान का जो टाइम टेबल है वह पूरी

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  362
WhatsApp_icon
user

Sanmukh rao

Yoga Expert

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेस्ट योगिक मैनेजमेंट हम लोग प्राणायाम के थ्रू कर सकते हैं कुछ चीजें जैसे कि शीतली प्राणायाम शीतकारी प्राणायाम जो होता है जीभ से जो जीप का मोड़ के एक का नाम करते हैं दोस्ती इतनी प्रणाम खिलाते इससे शरीर में ठंडक आती है हमारा जो स्टमक के अंदर जो एसिड फॉरमेशन बहुत ज्यादा हो गया वह बहुत कंट्रोल कंट्रोल किया जा सकता और बिना रस के पानी पीता है जो सुबह उठने के बाद पानी पीने से भी एसिडिटी कंट्रोल होता है साथ ही जो है चमक प्लेन करवाते हैं लोग कुंजल क्रिया पानी पीकर वोमिटिंग कराना इससे भी वो उनको बहुत बेनिफिट मिलता है

best yogic management hum log pranayaam ke through kar sakte hain kuch cheezen jaise ki shitli pranayaam shitkari pranayaam jo hota hai jeebh se jo jeep ka mod ke ek ka naam karte hain dosti itni pranam khilaate isse sharir mein thandak aati hai hamara jo stomach ke andar jo acid formation bahut zyada ho gaya vaah bahut control control kiya ja sakta aur bina ras ke paani pita hai jo subah uthane ke baad paani peene se bhi acidity control hota hai saath hi jo hai chamak plane karwaate hain log kunjal kriya paani peekar vomiting krana isse bhi vo unko bahut benefit milta hai

बेस्ट योगिक मैनेजमेंट हम लोग प्राणायाम के थ्रू कर सकते हैं कुछ चीजें जैसे कि शीतली प्राणाय

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  341
WhatsApp_icon
user

positive patidaar

Celebrity & Tycoon's Trainer ,yoga Entrepreneur..aanando Parmo Dharm

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐश्वर्या एसिडिटी में आयुर्वेद लेना चाहिए और तीखा खाने वाले बहुत अलावा खाने वाले खाने में बहुत ज्यादा देने वाले प्रॉपर्दिन का स्लीपर है हां बहुत गुस्सैल व्यक्ति है यह सब लोगों को ज्यादा एसिडिटी और असनारे प्रणाम और ज्यादा पानी पीना चाहिए और बहुत चला हुआ या बहुत ठंडा एमेंडेशन वाला आगे वाला चाहिए

aishwarya acidity mein ayurveda lena chahiye aur teekha khane waale bahut alava khane waale khane mein bahut zyada dene waale prapardin ka sleeper hai haan bahut gussail vyakti hai yah sab logo ko zyada acidity aur asanare pranam aur zyada paani peena chahiye aur bahut chala hua ya bahut thanda emendeshan vala aage vala chahiye

ऐश्वर्या एसिडिटी में आयुर्वेद लेना चाहिए और तीखा खाने वाले बहुत अलावा खाने वाले खाने में ब

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  331
WhatsApp_icon
user

Dr Chandra Shekhar Jain

MBBS, Yoga Therapist Yoga Psychotherapist

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वर्तमान में हाइपर एसिडिटी एक सबसे ज्यादा पाई जाने वाली समस्या बन गई है इसका मुख्य कारण है खान-पान में परहेज ना करना तनाव और चाय कॉफी आदि का इस्तेमाल करना हाइपर एसिडिटी से बचने के लिए आप चाय कॉफी को अवॉइड करें और अगर करना संभव ना हो तो कम से कम सुबह खाली पेट नाले खाना खाने के बाद डेढ़ घंटे बाद तक पानी ना पिए खाने को खूब चबाकर खाएं और खाने के तुरंत बाद वज्रासन में बैठें तो आप इस रोग में बहुत लाभ मिलेगा अगर शाम को 6:00 बजे से लेकर सुबह 6:00 बजे तक कुछ भी ना खाया जाए फिर पानी का इस्तेमाल किया जाए तो इससे भी पाचन लोगों एसिडिटी गैस आर्यन लाभ मिलता है

vartmaan mein hyper acidity ek sabse zyada payi jaane wali samasya ban gayi hai iska mukhya karan hai khan pan mein parhej na karna tanaav aur chai coffee aadi ka istemal karna hyper acidity se bachne ke liye aap chai coffee ko avoid kare aur agar karna sambhav na ho toh kam se kam subah khaali pet naale khana khane ke baad dedh ghante baad tak paani na piye khane ko khoob chabaakar khayen aur khane ke turant baad vajrasan mein baithen toh aap is rog mein bahut labh milega agar shaam ko 6 00 baje se lekar subah 6 00 baje tak kuch bhi na khaya jaaye phir paani ka istemal kiya jaaye toh isse bhi pachan logo acidity gas aryan labh milta hai

वर्तमान में हाइपर एसिडिटी एक सबसे ज्यादा पाई जाने वाली समस्या बन गई है इसका मुख्य कारण है

Romanized Version
Likes  86  Dislikes    views  1230
WhatsApp_icon
user

Veena Gour

Yoga Instructor

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तुमको है ना बस में बैठना चाहिए उसके बाद उन्हें पढ़िए अपना कौन सा स्टेशन आज का दर्शन हुआ बसंती राशन हुआ यह चीज अब से उसके हाईटेक गुवाहाटी के लिए फायदेमंद

tumko hai na bus mein baithana chahiye uske baad unhe padhiye apna kaun sa station aaj ka darshan hua basanti raashan hua yah cheez ab se uske hitech guwahati ke liye faydemand

तुमको है ना बस में बैठना चाहिए उसके बाद उन्हें पढ़िए अपना कौन सा स्टेशन आज का दर्शन हुआ बस

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  340
WhatsApp_icon
user

Pritam Banik

Yoga Instructor

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उनका जैसे हाइपर एसिडिटी हो गया तो वह इज्जत हो जा रहा है तो जिस में भी कोल्ड तो उनका नाम को बहुत सारा है जो हम लोग के बॉडी में खोलने से लाता है कैसे सीख लिए हितकारी तो वह सब प्रेक्टिस करने से अच्छा रहेगा और बहुत अच्छा हो गया मैंने सेक्टर के अंतर्गत अनुबंध होती करते हैं पानी लेकर उसको फिटिंग करते हैं पूरा वह बहुत अच्छा इतनी रोलप्ले करता

unka jaise hyper acidity ho gaya toh vaah izzat ho ja raha hai toh jis mein bhi cold toh unka naam ko bahut saara hai jo hum log ke body mein kholne se lata hai kaise seekh liye hitkari toh vaah sab practice karne se accha rahega aur bahut accha ho gaya maine sector ke antargat anubandh hoti karte hain paani lekar usko fitting karte hain pura vaah bahut accha itni roleplay karta

उनका जैसे हाइपर एसिडिटी हो गया तो वह इज्जत हो जा रहा है तो जिस में भी कोल्ड तो उनका नाम को

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  474
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा योगिक प्रबंधन क्या हो सकता है तो मैं 1 शब्दों में आपको बताना चाहूंगा योग द्वारा प्रतिपादित सिद्धांत है जिसके बदौलत एसिडिटी को जड़ से खत्म किया जा सकता है जिसे योग की भाषा में हम लोग शंख प्रक्षालन की क्रिया कहते हैं तो शंख प्रक्षालन की क्रिया अगर की जाए जो कि योगिक है प्रबंधन के अंतर्गत आने वाले योगिक क्रियाओं में से एक है और तदुपरांत पवनमुक्तासन को उसके साथ अगर ऐड कर लिया जाए तो हमें उम्मीद है कि हाइपर एसिडिटी की समस्या से निजात पा सकते हैं धन्यवाद

aapka question hai hyper acidity ke liye sabse accha yogic prabandhan kya ho sakta hai toh main 1 shabdon mein aapko bataana chahunga yog dwara pratipadit siddhant hai jiske badaulat acidity ko jad se khatam kiya ja sakta hai jise yog ki bhasha mein hum log shankh prakshalan ki kriya kehte hain toh shankh prakshalan ki kriya agar ki jaaye jo ki yogic hai prabandhan ke antargat aane waale yogic kriyaon mein se ek hai aur taduprant pavanamuktasan ko uske saath agar aid kar liya jaaye toh hamein ummid hai ki hyper acidity ki samasya se nijat paa sakte hain dhanyavad

आपका क्वेश्चन है हाइपर एसिडिटी के लिए सबसे अच्छा योगिक प्रबंधन क्या हो सकता है तो मैं 1 शब

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  918
WhatsApp_icon
user

Pankaj Sharma

Yoga Instructor

2:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एप्पल ट्री के लिए पड़े तो आपको बाहर की चीजें को वाला रोकने वाली चीजें खा रहे हैं जिसमें एसिडिटी बनती है तो छोड़िए जो जिसकी जिससे गैस बनने का कारण होता है और सुबह उठकर क्या करें आंवला और एलोवेरा का जूस जिनको आप राइट इश्यू आंवला न लीजिए आज इनको अर्थराइटिस नहीं है वह ले सकते हैं क्योंकि छुट्टी होता है खट्टा होता है उसका तो आकर एलोवेरा ले सकते हैं और जिनको अर्थराइटिस और एसिडिटी को जड़ से मारता है और सौंफ का पानी उसे खाना खाते हैं उसके आधे घंटे बाद का पानी दीजिए और अजवाइन का पानी ले सकते हैं जिससे आखिरी टेस्ट के लिए जाती है और आपका ब्रज आसन खाना खाने के 10 मिनट बाद वज्रासन में बैठें तो आप खाना पड़ेगा तो एसिडिटी डाउन होने लगेगी और कई लोगों की चली गई आईसीडीटी भी खत्म हो जाती है जाती है आपके ही होती है घर पर ठीक है सब कुछ ठीक है और खाना खाते हैं पानी पीते तो खड़े होकर पी रहे हैं और अगला से ऊपर से पी रहे हैं जिससे कि वायु जाती है और हमारे जोड़ में दर्द गैस बनाती है तो बैठकर पानी पीना चाहिए जिससे कि आपके जोड़ों में दर्द ना हो गैस ना बने और धीमे-धीमे खाना खाएं टाइम लगा कर खाएं आधारित 32 बार एक दूसरे को खाना चाहिए चिल्ला चिल्ला कर सकता करना है ना जब आ जाएगी तो आपको खाना जो है मीठा मीठा लगता है चला रहा था आपका सारी और अंदर होता है एसीटेट के अंदर दो चार ऐसी डिलीट कर देता है जिससे कि आपकी गैस की प्रॉब्लम जड़ से खत्म कर देता है तो खाने की आप सही करेंगे तो आप ठीक हो जाएगा

apple tree ke liye pade toh aapko bahar ki cheezen ko vala rokne wali cheezen kha rahe hain jisme acidity banti hai toh chodiye jo jiski jisse gas banne ka karan hota hai aur subah uthakar kya kare aawla aur aloevera ka juice jinako aap right issue aawla na lijiye aaj inko arthritis nahi hai vaah le sakte hain kyonki chhutti hota hai khatta hota hai uska toh aakar aloevera le sakte hain aur jinako arthritis aur acidity ko jad se maarta hai aur sounf ka paani use khana khate hain uske aadhe ghante baad ka paani dijiye aur ajwain ka paani le sakte hain jisse aakhiri test ke liye jaati hai aur aapka braj aasan khana khane ke 10 minute baad vajrasan mein baithen toh aap khana padega toh acidity down hone lagegi aur kai logo ki chali gayi ICDT bhi khatam ho jaati hai jaati hai aapke hi hoti hai ghar par theek hai sab kuch theek hai aur khana khate hain paani peete toh khade hokar p rahe hain aur agla se upar se p rahe hain jisse ki vayu jaati hai aur hamare jod mein dard gas banati hai toh baithkar paani peena chahiye jisse ki aapke jodo mein dard na ho gas na bane aur dhime dhime khana khayen time laga kar khayen aadharit 32 baar ek dusre ko khana chahiye chilla chilla kar sakta karna hai na jab aa jayegi toh aapko khana jo hai meetha meetha lagta hai chala raha tha aapka saree aur andar hota hai esitet ke andar do char aisi delete kar deta hai jisse ki aapki gas ki problem jad se khatam kar deta hai toh khane ki aap sahi karenge toh aap theek ho jaega

एप्पल ट्री के लिए पड़े तो आपको बाहर की चीजें को वाला रोकने वाली चीजें खा रहे हैं जिसमें एस

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  1181
WhatsApp_icon
user

Yogacharya Aaditya

Yoga Instructor

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एसिडिटी ताजा खबर जिसको जिस में भोजन का रोल सबसे बड़ा होता है तो सबसे बड़ा होने सुधार करना होगा जितना भोजन हमारे होगा जितना भोजन मारा डायरेक्ट फूटी ने हमें दिया है कच्चा भोजन कितना हमारा बढ़ेगा उतनी ही हमारी यह समस्या कम होगी जितना पाचन तंत्र आपका स्ट्रांग होगा उतना ही दूर रहेंगे और पार्वती के साथ में आपको ब्लॉक कर देता है और जो है अग्निसार क्रिया कैसे हो रहा है तो अगर आप करते हैं आपके जो अग्नि उत्पन्न होती है जिसको हम जटाग नहीं कहते हैं एक लिक्विड जो बनता है जो डाइजेस्टिव फूड कहा जाता है उसका प्रॉपर मात्रा में भूख लग रही है या अधिक लग रही है दोनों ही अवस्थाओं में उसकी बहुत उपयोगिता है रजिस्ट्री फ्लोर अगर आप का प्रॉपर बन रहा है तो आप का भोजन किस तरीके से बचेगा और यदि भोजन किस तरीके से टकराए तो एसिडिटी गैस कब्ज इंडक्शन की प्रॉब्लम चाहिए नहीं आएंगे आपको

acidity taaza khabar jisko jis mein bhojan ka roll sabse bada hota hai toh sabse bada hone sudhaar karna hoga jitna bhojan hamare hoga jitna bhojan mara direct phooti ne hamein diya hai kaccha bhojan kitna hamara badhega utani hi hamari yah samasya kam hogi jitna pachan tantra aapka strong hoga utana hi dur rahenge aur parvati ke saath mein aapko block kar deta hai aur jo hai agnisar kriya kaise ho raha hai toh agar aap karte hain aapke jo agni utpann hoti hai jisko hum jatag nahi kehte hain ek liquid jo banta hai jo digestive food kaha jata hai uska proper matra mein bhukh lag rahi hai ya adhik lag rahi hai dono hi avasthaon mein uski bahut upayogita hai registry floor agar aap ka proper ban raha hai toh aap ka bhojan kis tarike se bachega aur yadi bhojan kis tarike se takraye toh acidity gas kabz induction ki problem chahiye nahi aayenge aapko

एसिडिटी ताजा खबर जिसको जिस में भोजन का रोल सबसे बड़ा होता है तो सबसे बड़ा होने सुधार करना

Romanized Version
Likes  76  Dislikes    views  1328
WhatsApp_icon
user

Ashutosh Mishra

Yoga Instructor

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाइपर एसिडिटी के लिए क्रिया है योगा योगिक क्रिया होती है और पौधे दोनों चीज ध्यान देते हैं प्रक्रिया में या पता होगा घमंड होती है जल नीति है एलएसपी है लघु शंख प्रक्षालन है बिना मिर्च मसाला के खाना खाने का आरोप वाइट वाइट किया जा सकता है मैं इनको इलाज किया जा सकता है उसके द्वारा हाइपरएसिडिटी पर कंट्रोल करते हैं

hyper acidity ke liye kriya hai yoga yogic kriya hoti hai aur paudhe dono cheez dhyan dete hain prakriya mein ya pata hoga ghamand hoti hai jal niti hai LSP hai laghu shankh prakshalan hai bina mirch masala ke khana khane ka aarop white white kiya ja sakta hai inko ilaj kiya ja sakta hai uske dwara haiparaesiditi par control karte hain

हाइपर एसिडिटी के लिए क्रिया है योगा योगिक क्रिया होती है और पौधे दोनों चीज ध्यान देते हैं

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  315
WhatsApp_icon
user

Mr. Omkar Nath Giri

Yoga Instructor

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक तिहाई पर होता है तो उसके लिए योग में है ना तुझे तो उसके पहले ज्यादा कर उसको दिक्कत हो रहा है या फिर अपना पहले तो सकते हैं कि सारा संसार के नाचे हो कि आपका ग्रुप में योगेश चंद्र नमस्कार भी देते हैं

ek tihai par hota hai toh uske liye yog mein hai na tujhe toh uske pehle zyada kar usko dikkat ho raha hai ya phir apna pehle toh sakte hain ki saara sansar ke nache ho ki aapka group mein Yogesh chandra namaskar bhi dete hain

एक तिहाई पर होता है तो उसके लिए योग में है ना तुझे तो उसके पहले ज्यादा कर उसको दिक्कत हो र

Romanized Version
Likes  52  Dislikes    views  613
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
10:00 बजे पानी ने चाली ; 1:00 बजे पानी ने चाली ; yg ajwain pani ne chali ; अजवाइन पानी न चाली ; अजवाइन पानी ने चाली ; गुनगुने पानी ने चाली ; भोजन पानी ने चाली ; योगासन पानी न चाली ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!