आयुर्वेद के अनुसार, क्या हमें केवल गर्म पानी पीना चाहिए?...


play
user

Dr. Rishi Mishra

Ayurvedic Doctor

0:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गरम पानी पीना स्वास्थ्य के लिए अच्छा है उसे हमारे सेठ जो है बॉडी चढ़ता नहीं है तो हमारा पाचन तंत्र को मजबूत करता है

garam paani peena swasthya ke liye accha hai use hamare seth jo hai body chadhta nahi hai toh hamara pachan tantra ko majboot karta hai

गरम पानी पीना स्वास्थ्य के लिए अच्छा है उसे हमारे सेठ जो है बॉडी चढ़ता नहीं है तो हमारा पा

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  239
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

4:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आयुर्वेद विज्ञान सृष्टि के प्रारंभ में जब मनुष्य की उत्पत्ति हुई और मनुष्य को ज्ञान देने के लिए परमात्मा ने चार वेदों का आदेश दिया और चार वेदों में ऋग्वेद का उपग्रह से आयुर्वेदिक नाम जो सृष्टि के अंदर पहली और संपूर्ण चिकित्सा पद्धति है उसके उसे दूर इतनी है बहुत दर्द है आयुर्वेदिक ज्ञान के अनुसार कि वह वह दशक के द्वारा आप भी इस 25 साल पुराने भयानक रोग हो या तो महीने 2 मिनट मर जाएंगे ऐसे कोई दोष हो तो उसे भी आप के बचपन के जीवन प्राप्ति कर सकते हैं आर्य समाज आयुर्वेद hospitals.com हमारे जो वीडियो है उसको आप लोग देखे सुने और आयुर्वेद आर्य समाज आयुर्वेद औषधि निर्माण प्रयोगशाला के अबोध है उसे फंसा दिया और का घातक रोगों की चिकित्सा पद्धति है उसको आप लोग जानिए समझिए और उसके अनुसार आप लोग फिटमेंट करेंगे और शोधों का सेवन करेंगे आयुषी भर आप कभी किसी प्रकार की बीमारी को नहीं पाल लेंगे और रोगों से मुक्त हो जाएंगे और ना भाई या तो और कोई भी भयंकर रोग हो जूलियन रोग हो उसे भी आप लोग हमारी औषध की सिस्टम से आपूर्ति के मुझसे दूर हो सकेंगे हम लोग बार-बार में भी चैनल पर यह मेरे से निकलो वीडियो है उसने मुझे बार-बार बताया है सैकड़ों बार बताया है कि पेट का मधु जो अवरुद्ध होता है वह सबसे भयंकर परी चित्र को जन्म देता है आज 27 का छवि सही आज 27 मार्च 2020 से आज सुबह से मोबाइल की इंटरनेट सिस्टम के अंदर अलग-अलग समाचार अपने आप बार-बार रिपीट होते हैं उसमें अमिताभ बच्चन का एक मैसेज आया है भाई आप लोग मानव चोपड़ा हो उस पाप श्लोक सफाई बघेली करिए वह मानव मल के अंदर कई सप्ताहों तक कोरोनावायरस के जीवाणु यारों वायरस रहता है मैं दिसंबर और जनवरी 2020 से बार-बार उसे कई बार कह चुका हूं कि शरीर के अंदर मर्दों से उधर नहीं रहना चाहिए आपके शरीर के अंदर कब जाएगी और कब्ज के कारण ही आपके शरीर में सारे रोग उत्पन्न होंगे और उसका वह मम्मी के सहायक बन जाएगा और इसे सभी का मुंह धोकर होने वाले को तुरंत ही लगता है अमिताभ बच्चन आज जो बात करता है और उनकी बात करने से लाखों-करोड़ों लोग पप्पू अलग-अलग भाषा में आगे सुन रहे हैं आप लोग उनसे भी दो-तीन महीने पहले से मैं सारी बात बता रहा हूं और उसका आप लोग समझ जी और हमारे आर्यसमाज आयुर्वेद हॉस्पिटल की पुलिस ट्रीटमेंट सिस्टम को और उसे जो को समझिए और आयुर्वेद विज्ञान की जो महत्वपूर्ण बातें हम लोग वैज्ञानिक ढंग की मूलभूत बातों को आपके सामने प्रकट करते हैं उसको भी आप लोग समझ जी और ज्ञान के अनुसार आप लोग रुकते मूवी को रोग मुक्त होइए और अच्छी तरह से अपना जीवन हमेशा अच्छा चलाइए ऑल नई अधिकारी आयुर्वेद विज्ञान है उसके अनुसार शरीर की परिस्थिति मौसम के अनुसार ठंडा और गर्म पानी पीना चाहिए उधर मई पिता किया करो और कोई ठंडाई पिया करो कोई जरूरी नहीं है और आप लोगों को फ्रीज बगैर का ठंडा पानी कभी नहीं पीना चाहिए यह सभी के सभी सिस्टम को बिगड़ता है आपको पंखे के नीचे बिल्कुल सोना नहीं चाहिए पंखे की हवा शरीर के तापमान को बिगाड़ करके आपके शरीर में मन को संचित करता है और भयंकर कब्ज कब्ज करवा देता है यह बातों से आप लोग बच्ची हमारी वेबसाइट को देखिए और अपने ज्ञान को बढ़ाइए और अपनी जीवन शक्ति को बढ़ाइए और वृत्ति के मुंह से बच्ची और आप हमारा संपर्क कीजिए धन्यवाद

ayurveda vigyan shrishti ke prarambh me jab manushya ki utpatti hui aur manushya ko gyaan dene ke liye paramatma ne char vedo ka aadesh diya aur char vedo me rigved ka upgrah se ayurvedic naam jo shrishti ke andar pehli aur sampurna chikitsa paddhatee hai uske use dur itni hai bahut dard hai ayurvedic gyaan ke anusaar ki vaah vaah dashak ke dwara aap bhi is 25 saal purane bhayanak rog ho ya toh mahine 2 minute mar jaenge aise koi dosh ho toh use bhi aap ke bachpan ke jeevan prapti kar sakte hain arya samaj ayurveda hospitals com hamare jo video hai usko aap log dekhe sune aur ayurveda arya samaj ayurveda aushadhi nirmaan prayogshala ke abodh hai use fansa diya aur ka ghatak rogo ki chikitsa paddhatee hai usko aap log janiye samjhiye aur uske anusaar aap log fitment karenge aur shodhon ka seven karenge ayushi bhar aap kabhi kisi prakar ki bimari ko nahi pal lenge aur rogo se mukt ho jaenge aur na bhai ya toh aur koi bhi bhayankar rog ho juliyan rog ho use bhi aap log hamari awasadhi ki system se aapurti ke mujhse dur ho sakenge hum log baar baar me bhi channel par yah mere se niklo video hai usne mujhe baar baar bataya hai saikadon baar bataya hai ki pet ka madhu jo avaruddh hota hai vaah sabse bhayankar pari chitra ko janam deta hai aaj 27 ka chhavi sahi aaj 27 march 2020 se aaj subah se mobile ki internet system ke andar alag alag samachar apne aap baar baar repeat hote hain usme amitabh bachchan ka ek massage aaya hai bhai aap log manav chopra ho us paap shlok safaai bagheli kariye vaah manav mal ke andar kai saptahon tak coronavirus ke jivanu yaaron virus rehta hai main december aur january 2020 se baar baar use kai baar keh chuka hoon ki sharir ke andar mardon se udhar nahi rehna chahiye aapke sharir ke andar kab jayegi aur kabz ke karan hi aapke sharir me saare rog utpann honge aur uska vaah mummy ke sahayak ban jaega aur ise sabhi ka mooh dhokar hone waale ko turant hi lagta hai amitabh bachchan aaj jo baat karta hai aur unki baat karne se laakhon karodo log pappu alag alag bhasha me aage sun rahe hain aap log unse bhi do teen mahine pehle se main saari baat bata raha hoon aur uska aap log samajh ji aur hamare aryasamaj ayurveda hospital ki police treatment system ko aur use jo ko samjhiye aur ayurveda vigyan ki jo mahatvapurna batein hum log vaigyanik dhang ki mulbhut baaton ko aapke saamne prakat karte hain usko bhi aap log samajh ji aur gyaan ke anusaar aap log rukte movie ko rog mukt hoiye aur achi tarah se apna jeevan hamesha accha chalaiye all nayi adhikari ayurveda vigyan hai uske anusaar sharir ki paristhiti mausam ke anusaar thanda aur garam paani peena chahiye udhar may pita kiya karo aur koi thandai piya karo koi zaroori nahi hai aur aap logo ko freeze bagair ka thanda paani kabhi nahi peena chahiye yah sabhi ke sabhi system ko bigadta hai aapko pankhe ke niche bilkul sona nahi chahiye pankhe ki hawa sharir ke taapman ko bigad karke aapke sharir me man ko sanchit karta hai aur bhayankar kabz kabz karva deta hai yah baaton se aap log bachi hamari website ko dekhiye aur apne gyaan ko badhaiye aur apni jeevan shakti ko badhaiye aur vriti ke mooh se bachi aur aap hamara sampark kijiye dhanyavad

आयुर्वेद विज्ञान सृष्टि के प्रारंभ में जब मनुष्य की उत्पत्ति हुई और मनुष्य को ज्ञान देने क

Romanized Version
Likes  147  Dislikes    views  1447
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!