user

POOJA ( Psychologist )

Education Counselor

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या ओसीडी वाचा कथा होता है मारी है यह कहा जाए वंशागति अमित जैन टेक भी होता है होती है क्योंकि कई बार क्या होता है जैसे आपने पहले ताकि यह वाली बीमारी होती हो 12 वर्ष के उम्र के बच्चों के देखने को मिलती थी बट आप भी कुछ टाइम पहले साल की बच्ची है यह बीमारी देखने में आई उसको बाद में एसिडिटी यानी कि बीयर बीयर थेरेपी उसको सही सॉन्ग डाउनलोड जिसे आप उस में कैंडी बदन पर बैठ कर सकते क्या होता है कहां जाना सपने में बार-बार परेशान होता रहता है उसको प्रस्तुत करेगा वह बैठे हो सकता है उसके मम्मी पापा मेरे बच्चे की संख्या में लोग डिस्टर्ब होते हैं ना तो यह इस तरह से प्रॉब्लम नहीं है कहा जा सकता है यह जेनेटिक प्रॉब्लम आ सकती है इसमें कोई बड़ी बात नहीं है ठीक है ना थैंक यू सो मच

kya OCD watchaa katha hota hai mari hai yah kaha jaaye vanshagati amit jain take bhi hota hai hoti hai kyonki kai baar kya hota hai jaise aapne pehle taki yah wali bimari hoti ho 12 varsh ke umar ke baccho ke dekhne ko milti thi but aap bhi kuch time pehle saal ki bachi hai yah bimari dekhne me I usko baad me acidity yani ki beer beer therapy usko sahi song download jise aap us me candy badan par baith kar sakte kya hota hai kaha jana sapne me baar baar pareshan hota rehta hai usko prastut karega vaah baithe ho sakta hai uske mummy papa mere bacche ki sankhya me log disturb hote hain na toh yah is tarah se problem nahi hai kaha ja sakta hai yah genetic problem aa sakti hai isme koi badi baat nahi hai theek hai na thank you so match

क्या ओसीडी वाचा कथा होता है मारी है यह कहा जाए वंशागति अमित जैन टेक भी होता है होती है क्

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  375
WhatsApp_icon
12 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Jeesur Charan Das

Psychologist & Psychotherapist

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं जानता हूं मैं तो ठीक बहुत परेशन मेरे ठीक हो कर चले गए यूट्यूब कंपलसरी अमिताभ जैसे आपको भी हो जाता है जैसे बार-बार एक काम करना बंद करने की साबुन खत्म हो जाता है सबसे गंदा है कोई जाता है उसकी कमर को यह लोग ऐसे से बोले कंपल्सिव अनऑफिशियल इज बेस्ट अंडर सिक्सटीन एंड रिडक्शन और एक्टिविटी और थैंक्यू बार-बार वही सोच बार बार आना

main jaanta hoon main toh theek bahut pareshan mere theek ho kar chale gaye youtube compulsory amitabh jaise aapko bhi ho jata hai jaise baar baar ek kaam karna band karne ki sabun khatam ho jata hai sabse ganda hai koi jata hai uski kamar ko yah log aise se bole kampalsiv anaafishiyal is best under siksatin and reduction aur activity aur thainkyu baar baar wahi soch baar baar aana

मैं जानता हूं मैं तो ठीक बहुत परेशन मेरे ठीक हो कर चले गए यूट्यूब कंपलसरी अमिताभ जैसे आपको

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  62
WhatsApp_icon
user

Dr Shakti

Child Psychologist

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दीदी वंशानुगत होता है ऐसा हर जगह पढ़ने में आता है कि यह माना जाता है कि ओसीडी वंशानुगत होता है लेकिन मैंने अपने अनुभव में पाया है कि यह बहुत ज्यादा जरूरी नहीं होता कि ओसीडी वंशानुगत ही होता है कई बार ऐसा होता है कि हमारे जो बहुत सारे ऐसे दमित इच्छाएं क्या लीजिए जो कि हमारी हॉट्स होते हैं जिनके लिए हम गिफ्ट होते हम किस से कह नहीं पा रहे होते हैं कई बार और वह धीरे धीरे धीरे धीरे एक प्रॉब्लम क्रिएट करते हैं वह सीधी का होता है ऐसे बहुत से एग्जांपल है जहां पर एक व्यक्ति से कोई गलती हो गई या वह गलती मानता है उसने गलत कर दिया है और गलती की वजह से वह किसी से भी नहीं पा रहा किसी से अपनी अपने द्वारा किए गए किसी भी कार्य को वह किसी के सामने बता नहीं पा रहा खुलकर और वह अपने अंदर दमित रखता है उस बात के लिए धीरे धीरे धीरे धीरे बॉडी में बहुत सारे ऐसे चेंज होने लगते हैं और वह एक ओसीडी का रूप रख लेते हैं और जब अगर हम लोगों ने साइकोथेरेपी या अगर टेक्निक्स यूज करते हैं और उसको रिवील आउट करने में हम कामयाब हो जाते हैं तो बहुत हद तक को सीधे पर भी कंट्रोल हो जाता है

namaskar didi vanshanugat hota hai aisa har jagah padhne me aata hai ki yah mana jata hai ki OCD vanshanugat hota hai lekin maine apne anubhav me paya hai ki yah bahut zyada zaroori nahi hota ki OCD vanshanugat hi hota hai kai baar aisa hota hai ki hamare jo bahut saare aise damit ichhaen kya lijiye jo ki hamari hats hote hain jinke liye hum gift hote hum kis se keh nahi paa rahe hote hain kai baar aur vaah dhire dhire dhire dhire ek problem create karte hain vaah seedhi ka hota hai aise bahut se example hai jaha par ek vyakti se koi galti ho gayi ya vaah galti maanta hai usne galat kar diya hai aur galti ki wajah se vaah kisi se bhi nahi paa raha kisi se apni apne dwara kiye gaye kisi bhi karya ko vaah kisi ke saamne bata nahi paa raha khulkar aur vaah apne andar damit rakhta hai us baat ke liye dhire dhire dhire dhire body me bahut saare aise change hone lagte hain aur vaah ek OCD ka roop rakh lete hain aur jab agar hum logo ne psychotherapy ya agar techniques use karte hain aur usko reveal out karne me hum kamyab ho jaate hain toh bahut had tak ko sidhe par bhi control ho jata hai

नमस्कार दीदी वंशानुगत होता है ऐसा हर जगह पढ़ने में आता है कि यह माना जाता है कि ओसीडी वंशा

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  83
WhatsApp_icon
play
user

Upasana Shownkeen

Psychologist

0:21

Likes  73  Dislikes    views  1927
WhatsApp_icon
user

Paridhi Jain

Clinical Psychologist

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप जैसे कंपल्सिव डिसऑर्डर इसके पीछे हम के लिए नहीं बोल सकते कि वंशानुगत कारण ही हो सकते हैं अगर किसी की भी फैमिली में उसे डे स्पेशल हेल्प करने के मतलब की मानसिक समस्या होने जरूरी नहीं है कि उनको उसी ने ही उसे भी होने के पीछे दूसरे ट्यूशंस भी हो सकते हैं न्यूरोट्रांसमीटर का एंबुलेंस भी हो सकता है कुछ साइक्लोजिकल कारण भी हो सकते हैं कि पशु के पर्सनल चीज के लिए रिस्पांसिबल हो सकती है उसको सोच लेना मुश्किल हो सकता है एक रीजन नहीं मान सकते हैं

aap jaise kampalsiv disorder iske peeche hum ke liye nahi bol sakte ki vanshanugat karan hi ho sakte hain agar kisi ki bhi family me use day special help karne ke matlab ki mansik samasya hone zaroori nahi hai ki unko usi ne hi use bhi hone ke peeche dusre tyushans bhi ho sakte hain nyurotransamitar ka ambulance bhi ho sakta hai kuch saiklojikal karan bhi ho sakte hain ki pashu ke personal cheez ke liye rispansibal ho sakti hai usko soch lena mushkil ho sakta hai ek reason nahi maan sakte hain

आप जैसे कंपल्सिव डिसऑर्डर इसके पीछे हम के लिए नहीं बोल सकते कि वंशानुगत कारण ही हो सकते है

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  378
WhatsApp_icon
user

Sumit Roy

Consultant Clinical Psychologist

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या उसे भी वंशानुगत होता है इसका एकदम सीधे से सीधा आंसर तो नहीं है मैं कोशिश करता हूं आंसर देने की अब से सिर्फ कंपल्सिव डिसऑर्डर में पाया गया है कि ए पैरंट से वंशानुगत वंशानुक्रम से कोई एक पॉलिटिकल एक जीन ओसीडी को पूरी तरह से तय नहीं करता है कि पापा मम्मी से एक पर्टिकुलर जिन अगर मुझ में आ गया तो मुझे ओसीडी हो जाएगा ऐसा नहीं है उसी जी के लिए कई सारे जींस रिस्पांसिबल होते हैं और यह कई सारे जींस जब किसी एक व्यक्ति में हो तो वह व्यक्ति प्रेडिस्पोज्ड होता है उसमें डेफिनेट नहीं है कि उसे ओसीडी हो ही जाएगा सिर्फ यह है कि इस व्यक्ति में ओसीडी होने की संभावना कुछ अधिक है और ओसीडी होगा या नहीं होगा यह तय करता है वह अपने अपने जीवन में समायोजन करने की क्षमता उसमें कितनी है किस तरह से वह समायोजन कर पाता है हम हम मनुष्य के जीवन में हर एक के जीवन में समस्याएं आती हैं उन समस्याओं से जूझने और उनको ओवर कम करने की क्षमता समायोजन करने की क्षमता हम लोग कहते हैं तो एक व्यक्ति अगर बहुत भली भांति अपने अपने वातावरण से अपनी समस्याओं से समायोजन कर पाता है तो उसमें ओसीडी कम होने की संभावना जींस के होने के बावजूद भी उसमें हो सीडी होने की संभावना बहुत कम हो जाती है और यदि उसकी समायोजन करने की क्षमता में कमी हो तो यह जींस के कारण से उसे ओसीडी होने की संभावना बढ़ जाती है

kya use bhi vanshanugat hota hai iska ekdam sidhe se seedha answer toh nahi hai main koshish karta hoon answer dene ki ab se sirf kampalsiv disorder me paya gaya hai ki a pairant se vanshanugat vanshanukram se koi ek political ek gene OCD ko puri tarah se tay nahi karta hai ki papa mummy se ek particular jin agar mujhse me aa gaya toh mujhe OCD ho jaega aisa nahi hai usi ji ke liye kai saare jeans rispansibal hote hain aur yah kai saare jeans jab kisi ek vyakti me ho toh vaah vyakti predispojd hota hai usme definet nahi hai ki use OCD ho hi jaega sirf yah hai ki is vyakti me OCD hone ki sambhavna kuch adhik hai aur OCD hoga ya nahi hoga yah tay karta hai vaah apne apne jeevan me samaayojan karne ki kshamta usme kitni hai kis tarah se vaah samaayojan kar pata hai hum hum manushya ke jeevan me har ek ke jeevan me samasyaen aati hain un samasyaon se jujhne aur unko over kam karne ki kshamta samaayojan karne ki kshamta hum log kehte hain toh ek vyakti agar bahut bhali bhanti apne apne vatavaran se apni samasyaon se samaayojan kar pata hai toh usme OCD kam hone ki sambhavna jeans ke hone ke bawajud bhi usme ho CD hone ki sambhavna bahut kam ho jaati hai aur yadi uski samaayojan karne ki kshamta me kami ho toh yah jeans ke karan se use OCD hone ki sambhavna badh jaati hai

क्या उसे भी वंशानुगत होता है इसका एकदम सीधे से सीधा आंसर तो नहीं है मैं कोशिश करता हूं आं

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  117
WhatsApp_icon
play
user

SHEEMA HAFEEZ

Senior Consultant Psychologist at Moolchand Healthcare

1:11

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओसीडी लकवा की बीमारी की तरह उत्तेजित किया जा सकता है पर अगर आपको इसमें उसके लिए भी एक आपको इन्वायरमेंट अपात्र चाहिए उसको एक जगह करता है आपका उसे भी दिन के अंदर होता है उसका जून को 8:00 तक वेट होना जरूरी होता है वह अलग अलग सिचुएशन में एक्टिवेट हो सकता है मुस्लिम एक्ट्रेस तो सिचुएशन आफ एसिड एंड वाइट सीमेंट के अंदर एक्टिवेट होता है जिसकी वजह से वह भी आसान तरीका होता है सीधी है तो हिंदी में भेज क्या है कि वह भी उसकी बीवी को पिक कर ले और सो जा और जॉइनिंग के साथ उसकी वह 1 इंच होते होते जो अब विधि फंक्शन जॉइनिंग है उसकी वजह से भी हो सकता है

OCD lakva ki bimari ki tarah uttejit kiya ja sakta hai par agar aapko isme uske liye bhi ek aapko environment apatra chahiye usko ek jagah karta hai aapka use bhi din ke andar hota hai uska june ko 8 00 tak wait hona zaroori hota hai vaah alag alag situation mein activate ho sakta hai muslim actress toh situation of acid and white cement ke andar activate hota hai jiski wajah se vaah bhi aasaan tarika hota hai seedhi hai toh hindi mein bhej kya hai ki vaah bhi uski biwi ko pic kar le aur so ja aur joining ke saath uski vaah 1 inch hote hote jo ab vidhi function joining hai uski wajah se bhi ho sakta hai

ओसीडी लकवा की बीमारी की तरह उत्तेजित किया जा सकता है पर अगर आपको इसमें उसके लिए भी एक आपको

Romanized Version
Likes  117  Dislikes    views  1533
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

3:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या उसी डी वंशा गत होता है जी हां उसे भी मंशा व्रत होता है ठीक है उसे भी के क्या करें मैं आपको नंबर बताओ सिटी ओसीडी कभी-कभी अनुवांशिक होता है इसके लिए कभी-कभी पीढ़ी दर पीढ़ी चल सकता है ठीक है दूसरा ही तनाव एक तिहाई लोगों में यह जीवन की तनावपूर्ण घटनाओं में हो सकता कि जीवन में बताओ जिस दौरान अचानक जिम्मेदारी आती है जैसे की योजना जो 1 बच्चे को जन्म देना या नहीं नौकरी अभी यह हो सकता है ठीक है हम को निश्चित तौर पर नहीं पता लेकिन अगर आपको थोड़ी से ज्यादा समय तक ओसीडी रहता है तो अनुसंधानकर्ताओं का सोचना है कि मस्तिक में सौरभ सोनी एचडी का अनु और संतुलन हो जाता है ठीक है व्यक्तित्व आप सूत्र अत्यधिक ध्यान से या व्यवस्थित तरीके से काम करने वाले और उनके नैतिक सिद्धांतों वाले व्यक्तित्व है तो आपको उसी भी होने की ज्यादा संभावना है यह गुण पर अधिकार होते हैं मगर बहुत ज्यादा बढ़ जाने पर उसे भी हो सकते हैं लगभग सभी को कभी ना कभी अजीब या कष्टकारी विचार या चित्र आते हैं जैसे कि क्या होगा अगर मैं कार में सामने आ जाओ या मैं अपने को नुकसान पहुंचा दूंगा हमने से ज्यादातर लुक्स चित्र हेलो हां मम्मी से ज्यादातर लोग चित्र ही यह विचार क्या करूं अपनी जिंदगी जीते हैं लेकिन अगर आप ज्यादा सिद्धांत वादी है जिम्मेदार व्यक्ति है तो आप महसूस कर सकते हैं कि इस तरह के विचार आना ही भयानक है इसलिए उसके उन्हें आने पर ज्यादा ध्यान देते हैं जिससे उनको ऐसा होने की संभावना होती है यह मैंने सिर्फ आपको बताया लेकिन अपनी सहायता खुद कर सकते हो हेल्पिंग परेशान करने वाले विचारों का सामना ठीक है सुनने में अजीब लगता है लेकिन इन पर काबू पाने का यह भी तरीका है कि आप इन्हें रिकॉर्ड करिए और फिर से सुनिए ना लिखिए और फिर से उन्हें पढ़िए आप ऐसा प्रत्येक दिन लगातार लगभग आधे घंटे तक करिए जब तक कि आपकी घबराहट कम ना हो ओके कंपल्सिव आदतों का विरोध करिए ना कि ऑप्शनल विचारों का घबराहट को कम कर चलिए शराब का प्रयोग ना करें अगर आपके विचार आपसे आपके विश्वास या धर्म संबंधी विच इनता है तो आप किसी धार्मिक नेता की मदद से जानने की कोशिश करिए कि यह सीडी तो नहीं है ठीक है किसी से भी पूछ सकते हो और आप इसके बारे में कोई भी पुस्तिका या अंत में वेबसाइट या सहायता समूह में संपर्क कीजिए मैसेज आपने किया है हमें पूछा है और हमने आपको बताया जनरल ठीक है तो उसमें भी आप जान सकते हो कोई भी बता सकता है जैसे मैं बता रहे हो ओके लेकिन आपने बहुत विप में नहीं बताया सिर्फ आठ में पूछा है कि सिडीबर्न ताकत है होता है तो मैंने आपको उसके बारे में बता दिया कि जी हां होता है ठीक है लेकिन आपको अगर रियल में होती है कुछ ऐसा लगता है सब किसी साइक्लो इसका सहारा लीजिए उनको रूबरू जाकर मिली है ठीक है और शायद वह आपकी हेल्प करें आपको थेरेपी दे सकते कॉग्निटिव बिहेवियर थेरेपी बेटे अगर उसकी काउंसलिंग से भी काम चल सकता है वह जो भी काम बोले वह आप काम पर ही उससे आपको फायदा मिलेगा धीरे-धीरे करके ठीक है

aapka sawaal hai kya usi d vansha gat hota hai ji haan use bhi mansha vrat hota hai theek hai use bhi ke kya kare main aapko number batao city OCD kabhi kabhi anuvanshik hota hai iske liye kabhi kabhi peedhi dar peedhi chal sakta hai theek hai doosra hi tanaav ek tihai logo mein yah jeevan ki tanavapurn ghatnaon mein ho sakta ki jeevan mein batao jis dauran achanak jimmedari aati hai jaise ki yojana jo 1 bacche ko janam dena ya nahi naukri abhi yah ho sakta hai theek hai hum ko nishchit taur par nahi pata lekin agar aapko thodi se zyada samay tak OCD rehta hai toh anusandhanakartaon ka sochna hai ki mastisk mein saurabh sony hd ka anu aur santulan ho jata hai theek hai vyaktitva aap sutra atyadhik dhyan se ya vyavasthit tarike se kaam karne waale aur unke naitik siddhanto waale vyaktitva hai toh aapko usi bhi hone ki zyada sambhavna hai yah gun par adhikaar hote hain magar bahut zyada badh jaane par use bhi ho sakte hain lagbhag sabhi ko kabhi na kabhi ajib ya kashtakari vichar ya chitra aate hain jaise ki kya hoga agar main car mein saamne aa jao ya main apne ko nuksan pohcha dunga humne se jyadatar looks chitra hello haan mummy se jyadatar log chitra hi yah vichar kya karu apni zindagi jeete hain lekin agar aap zyada siddhant wadi hai zimmedar vyakti hai toh aap mehsus kar sakte hain ki is tarah ke vichar aana hi bhayanak hai isliye uske unhe aane par zyada dhyan dete hain jisse unko aisa hone ki sambhavna hoti hai yah maine sirf aapko bataya lekin apni sahayta khud kar sakte ho helping pareshan karne waale vicharon ka samana theek hai sunne mein ajib lagta hai lekin in par kabu paane ka yah bhi tarika hai ki aap inhen record kariye aur phir se suniye na likhiye aur phir se unhe padhiye aap aisa pratyek din lagatar lagbhag aadhe ghante tak kariye jab tak ki aapki ghabarahat kam na ho ok kampalsiv aadaton ka virodh kariye na ki optional vicharon ka ghabarahat ko kam kar chaliye sharab ka prayog na kare agar aapke vichar aapse aapke vishwas ya dharm sambandhi which inata hai toh aap kisi dharmik neta ki madad se jaanne ki koshish kariye ki yah CD toh nahi hai theek hai kisi se bhi puch sakte ho aur aap iske bare mein koi bhi pustika ya ant mein website ya sahayta samuh mein sampark kijiye massage aapne kiya hai hamein poocha hai aur humne aapko bataya general theek hai toh usme bhi aap jaan sakte ho koi bhi bata sakta hai jaise main bata rahe ho ok lekin aapne bahut weep mein nahi bataya sirf aath mein poocha hai ki sidibarn takat hai hota hai toh maine aapko uske bare mein bata diya ki ji haan hota hai theek hai lekin aapko agar real mein hoti hai kuch aisa lagta hai sab kisi cyclo iska sahara lijiye unko rubaru jaakar mili hai theek hai aur shayad vaah aapki help kare aapko therapy de sakte kagnitiv behaviour therapy bete agar uski kaunsaling se bhi kaam chal sakta hai vaah jo bhi kaam bole vaah aap kaam par hi usse aapko fayda milega dhire dhire karke theek hai

आपका सवाल है क्या उसी डी वंशा गत होता है जी हां उसे भी मंशा व्रत होता है ठीक है उसे भी के

Romanized Version
Likes  447  Dislikes    views  4317
WhatsApp_icon
user

Dr. Alpana Rastogi

Psychologist

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं उसी की ज्यादातर वंशानुगत नहीं होता यह कई बार स्टडीज है जो मानी जाती है कि शायद ही वंशानुगत लेकिन इसकी कोई प्रमाण नहीं है उसी डी रात एक लैंड बिहेवियर हो जाता है इसको हम ऐसे मानेंगे कि अगर आपने किसी आपका कोई बेहद करीबी व्यक्ति है जैसे आपके माता-पिता हो या आपका भाई बहन घर में कोई ऐसा व्यक्ति जो जिसको उसी डिपेंडेंसी हो उसी डी रोग अलग होता है और ओसीडी टेंडेंसी या पर्सनैलिटी ऑफ ही पर्सनैलिटी अलग होती है अगर उस तरीके का फिरोज़ दिखाएं तो आपको आपको उस तरीके से काम करने का एक सभा बन जाता है आदत बन जाती है आपकी और धीरे-धीरे जब यह बात किसी तनाव चिंता इस अब उसमें अपना संरक्षण होने लगते उस पर भी सेफ्टी ढूंढने लगते तो यह उसी डी हो जाता है इसका वंशानुगत या जेनेटिक समस्याओं से लेना-देना नहीं धन्यवाद

nahi usi ki jyadatar vanshanugat nahi hota yah kai baar studies hai jo maani jaati hai ki shayad hi vanshanugat lekin iski koi pramaan nahi hai usi d raat ek land behaviour ho jata hai isko hum aise manenge ki agar aapne kisi aapka koi behad karibi vyakti hai jaise aapke mata pita ho ya aapka bhai behen ghar me koi aisa vyakti jo jisko usi dipendensi ho usi d rog alag hota hai aur OCD tendency ya personality of hi personality alag hoti hai agar us tarike ka firoz dikhaen toh aapko aapko us tarike se kaam karne ka ek sabha ban jata hai aadat ban jaati hai aapki aur dhire dhire jab yah baat kisi tanaav chinta is ab usme apna sanrakshan hone lagte us par bhi safety dhundhne lagte toh yah usi d ho jata hai iska vanshanugat ya genetic samasyaon se lena dena nahi dhanyavad

नहीं उसी की ज्यादातर वंशानुगत नहीं होता यह कई बार स्टडीज है जो मानी जाती है कि शायद ही वंश

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  228
WhatsApp_icon
user

Dr. REETI RASTOGI

CLINICAL PSYCHOLOGIST

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फैमिली में भी पाया जाता है जिसकी फैमिली में एक माता पिता के परिवार में किसी का होता है तो बहुत ज्यादा संभावना होती है उनके बच्चों में आती है

family mein bhi paya jata hai jiski family mein ek mata pita ke parivar mein kisi ka hota hai toh bahut zyada sambhavna hoti hai unke baccho mein aati hai

फैमिली में भी पाया जाता है जिसकी फैमिली में एक माता पिता के परिवार में किसी का होता है तो

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  443
WhatsApp_icon
user

Prof (Dr) S. S. Prasad.

Psychiatrist ,Medical Practice & Teaching Faculty.

3:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार जी मैं डॉ एसएस प्रसाद मनोरोग विशेषज्ञ आपके प्रश्न किया है क्या ओसीडी बसानगर होता है उसी डी ऑफ से शिव कंपल्सिव डिसऑर्डर ऑब्सेसिव मींस होता है भूत कंपल्सिवली कंप्लीट करना डिसऑर्डर में आपका डिसऑर्डर होना तो आपको लगता है कि कोई मुझे कंफ्यूज कर रहा है कंधे कर रहा है कि यह काम करना है शारीरिक संबंध नेटवर्क प्रवृत्ति बढ़ने से इसमें दो बातें होती है ऐसे लोग जिन्हें टिक ओर से भी अफेक्टेड होते हैं काफी संवेदनशील होते हैं काफी भावुक होते हैं काफी इमोशनल होते हैं ऐसे लोग इस बीमारी से ज्यादा ग्रसित होते हैं मोस्ट ऑफ द लेडी ज्यादा सफरिंग फ्रॉम द ओसीडी उसी दिन के अंदर में आदमी को लगता है कि मैं यह काम नहीं करूंगा तू ईश्वर गुस्सा हो जाएगा भगवान मुझे सजा देगा मैं इस जन्म में नहीं दूसरे जन्म में मुझे पाप की प्राचीर करनी पड़ेगी भारती भारती की बातें दिमाग में आने लगती है और अपने आप से करना शुरू कर देता है समाज से करना शुरू करता है बार-बार हाथ धोना बार-बार अपने सामान को क्लीन करना अभी हस्बैंड को पर हमला करके रूम में आने देना अपने समाज को बार-बार झाड़ना आयोजित करना मेल टू डू रहना क्वेश्चन इतना अच्छे से हो जाता है इससे लगता है कि मुझे कोई कह रहा है कि तुम ऐसा रहो नहीं तो तुझे दिक्कत हो जाएगी एक मानसिक उतरना है उसे महसूस होता है मुझे यह करना है कोई कंप्लेन कर रहा है कोई कह रहा है इमोशनल रिकॉर्डर के अंदर में आता है और ऐसे करते-करते वह इंसान सारी रोग से ग्रसित हो जाता है क्योंकि बार-बार जो आदमी 10 वाला बिना मतलब का बिना किसी कारण का कोई शरीर में टच कर दिया तो कपड़ा चेंज करना उसके पेट में कोई टच कर जाए तो बेसिक बदलना कपड़ा नहीं समान कहीं गंदगी लगी हुई है तो उसको हटा देना बच्चा कोई गलत काम कर लिया तो उसको पिटाई कर देना उसको बहुत बुरा सजा बहुत भारी सजा देना यह सारा चीज उसके अंदर में डेवलप करने लगता है और अंत में या इंसान इतना इमोशनल हो जाता है इतना हाई एटीट्यूड में चला जाता है कि संभालना मुश्किल हो जाता है अपने आप को लगता है कि मैं ऐसा नहीं करूंगा तो मुझे बहुत नुकसान होगा या बन सागर जेनेटिक भी है और शारीरिक दोनों है क्योंकि जेनेटिक का सीन से आग्रह है कि जोशी खानदान में कोई इस बीमारी से ग्रसित अगर है तुझे नैतिक और सेवा कर ही करेगा ही बिजी नैतिक कोर्ट को भी चेंज किया जा सकता है अच्छे डॉक्टर अच्छे दबा के द्वारा धन्यवाद

namaskar ji main Dr. SS prasad manorog visheshagya aapke prashna kiya hai kya OCD basanagar hota hai usi d of se shiv kampalsiv disorder obsessive means hota hai bhoot kampalsivali complete karna disorder me aapka disorder hona toh aapko lagta hai ki koi mujhe confuse kar raha hai kandhe kar raha hai ki yah kaam karna hai sharirik sambandh network pravritti badhne se isme do batein hoti hai aise log jinhen tick aur se bhi affected hote hain kaafi samvedansheel hote hain kaafi bhavuk hote hain kaafi emotional hote hain aise log is bimari se zyada grasit hote hain most of the lady zyada suffering from the OCD usi din ke andar me aadmi ko lagta hai ki main yah kaam nahi karunga tu ishwar gussa ho jaega bhagwan mujhe saza dega main is janam me nahi dusre janam me mujhe paap ki prachir karni padegi bharati bharati ki batein dimag me aane lagti hai aur apne aap se karna shuru kar deta hai samaj se karna shuru karta hai baar baar hath dhona baar baar apne saamaan ko clean karna abhi husband ko par hamla karke room me aane dena apne samaj ko baar baar jhadna ayojit karna male to do rehna question itna acche se ho jata hai isse lagta hai ki mujhe koi keh raha hai ki tum aisa raho nahi toh tujhe dikkat ho jayegi ek mansik utarna hai use mehsus hota hai mujhe yah karna hai koi complain kar raha hai koi keh raha hai emotional recorder ke andar me aata hai aur aise karte karte vaah insaan saari rog se grasit ho jata hai kyonki baar baar jo aadmi 10 vala bina matlab ka bina kisi karan ka koi sharir me touch kar diya toh kapda change karna uske pet me koi touch kar jaaye toh basic badalna kapda nahi saman kahin gandagi lagi hui hai toh usko hata dena baccha koi galat kaam kar liya toh usko pitai kar dena usko bahut bura saza bahut bhari saza dena yah saara cheez uske andar me develop karne lagta hai aur ant me ya insaan itna emotional ho jata hai itna high attitude me chala jata hai ki sambhaalna mushkil ho jata hai apne aap ko lagta hai ki main aisa nahi karunga toh mujhe bahut nuksan hoga ya ban sagar genetic bhi hai aur sharirik dono hai kyonki genetic ka seen se agrah hai ki joshi khandan me koi is bimari se grasit agar hai tujhe naitik aur seva kar hi karega hi busy naitik court ko bhi change kiya ja sakta hai acche doctor acche daba ke dwara dhanyavad

नमस्कार जी मैं डॉ एसएस प्रसाद मनोरोग विशेषज्ञ आपके प्रश्न किया है क्या ओसीडी बसानगर होता ह

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kumar Soni

Psychiatric Nursing (Tutor)

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या वह सीडी या ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर जो बीमारी है यह वंशा गत है मींस एलिवेटेड चीज है कि नहीं तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि यह सीडी जो है ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर मोस्ट ऑफ़ टाइम यह हेरेडिटरी होता है बट बहुत सारे ऐसे कैसे जाएं जरूरी नहीं है कि जिन पेरेंट्स को ओसीडी हो उन बच्चों को हो यह अनिवार्य है यह होगा ही ऐसा ऐसा देखा जाता है कि ओसीडी जो होता है रिलीज होता बट जरूरी नहीं है कई बार क्या होता है यह ऐसे जो इंट्रो गेटेड पर्सनालिटी वाले पर्सन सोते हैं कि किसी भी चीजों के बारे में ज्यादा एक ही चीज को बार बार सोचते रहते हैं बार-बार वही चीज़ आता है ज्यादा इंट्रो गेटेड टाइप के लोग होते हैं ऐसे लोगों में ओसीडी होने की भी बहुत ज्यादा चांसेस होता है और यह हो सकता है कोई आपकी इस ब्रेन की एक्टिविटीज होती है उसके कारण भी या आज हार्मोन अल्ट्रायते हार्मोन सोते ब्रेन के उसमें चेंज होने के कारण भी हो सकता है तो इसके लिए बहुत सारे अलग-अलग कारण हो सकते हैं ऐसा जरूरी नहीं है कि ओसीडी हुआ है तो हो सकता है कि उनके पेरेंट्स करा होगा तभी वह हम देखते बहुत सारे ऐसे भी कैसे देखते हैं जिनमें पेरेंट्स ओसीडी नहीं है बच्चों में होता है तो इसका कारण क्या है कई बार ऐसे ज्यादातर जो लोग होते इंट्रो गेटेड पर्सनालिटी वाले होंगे आप देखेंगे उनका जोर बिहेवियर होगा या जो भी उनका नेचर होगा तो वह थोड़ा सा नॉरमल पर्सन से डिफरेंट होता है तो ऐसे भी लोगों में बहुत ज्यादा होता है धन्यवाद

aapka sawaal hai kya vaah CD ya obsessive kampalsiv disorder jo bimari hai yah vansha gat hai means eliveted cheez hai ki nahi toh main aapko batana chahunga ki yah CD jo hai obsessive kampalsiv disorder most of time yah hereditri hota hai but bahut saare aise kaise jayen zaroori nahi hai ki jin parents ko OCD ho un baccho ko ho yah anivarya hai yah hoga hi aisa aisa dekha jata hai ki OCD jo hota hai release hota but zaroori nahi hai kai baar kya hota hai yah aise jo intro gated personality waale person sote hain ki kisi bhi chijon ke bare me zyada ek hi cheez ko baar baar sochte rehte hain baar baar wahi cheez aata hai zyada intro gated type ke log hote hain aise logo me OCD hone ki bhi bahut zyada chances hota hai aur yah ho sakta hai koi aapki is brain ki activities hoti hai uske karan bhi ya aaj hormone altrayate hormone sote brain ke usme change hone ke karan bhi ho sakta hai toh iske liye bahut saare alag alag karan ho sakte hain aisa zaroori nahi hai ki OCD hua hai toh ho sakta hai ki unke parents kara hoga tabhi vaah hum dekhte bahut saare aise bhi kaise dekhte hain jinmein parents OCD nahi hai baccho me hota hai toh iska karan kya hai kai baar aise jyadatar jo log hote intro gated personality waale honge aap dekhenge unka jor behaviour hoga ya jo bhi unka nature hoga toh vaah thoda sa normal person se different hota hai toh aise bhi logo me bahut zyada hota hai dhanyavad

आपका सवाल है क्या वह सीडी या ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर जो बीमारी है यह वंशा गत है मींस एल

Romanized Version
Likes  52  Dislikes    views  889
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!