भारत ग़ुलाम नहीं होता तो आज हमारा देश कैसा होता?...


user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर इंडिया अंग्रेजों के अंदर गुलाम नहीं होता तो शायद इंडिया इस रूप में होता भी यह सोचना बड़ा मुश्किल है l क्योंकि अगर आप उससे पहले वाला इंडिया देखें तो कभी भी इतने इतने पूरे इंडिया में जिसका में आज इंडिया बोलते हैं एक राजा का शासन तो रहा ही नहीं l कभी वह ज्यादा था कभी वह कभी वह कबूल तक फैला हुआ था और बाद में तो जिसमें अंग्रेज भारत में आए हैं उसके बाद तो भारत बहुत छोटे छोटे राज्य में बटा हुआ था l तो अंग्रेज अगर नहीं होते तो हो सकता है कि जिसको आज हम इंडिया बोलते हैं उसमें 3-4-5-6 कंट्री होते l और और हो सकता है कि वह कोई एक फेडरल स्ट्रक्चर बनता के छोटे छोटे राज्य मिलकर कुछ यूएसऐ टाइप फेडरेशन बनके काम करते हैं या वह यूऐइ टाइप फेडरेशन में आके काम करते हैं या वह यूरोपियन यूनियन जैसे कुछ काम करते l तो थोड़ा कहना मुश्किल है l लेकिन भारत एक देश, एक इतना स्ट्रांग दे तो शायद नहीं होता क्योंकि आज भारत एक देश है, भारत का एक संविधान है, भारत की एक सरकार है और केंद्र की सरकार स्ट्रांग है l हमारी राज्य की सरकारी इंडिपेंडेंट नहीं है l मैनली भारत में केंद्र सरकार स्ट्रांग है और भारत एक मजबूत देश है l

agar india angrejo ke andar gulam nahi hota toh shayad india is roop mein hota bhi yah sochna BA da mushkil hai l kyonki agar aap usse pehle vala india dekhen toh kabhi bhi itne itne poore india mein jiska mein aaj india bolte hai ek raja ka shasan toh raha hi nahi l kabhi vaah zyada tha kabhi vaah kabhi vaah kabool tak faila hua tha aur BA ad mein toh jisme angrej bharat mein aaye hai uske BA ad toh bharat BA hut chote chote rajya mein BA taa hua tha l toh angrej agar nahi hote toh ho sakta hai ki jisko aaj hum india bolte hai usme 3 4 5 6 country hote l aur aur ho sakta hai ki vaah koi ek federal structure BA nta ke chote chote rajya milkar kuch yuesaai type federation BA nke kaam karte hai ya vaah yuaii type federation mein aake kaam karte hai ya vaah european union jaise kuch kaam karte l toh thoda kehna mushkil hai l lekin bharat ek desh ek itna strong de toh shayad nahi hota kyonki aaj bharat ek desh hai bharat ka ek samvidhan hai bharat ki ek sarkar hai aur kendra ki sarkar strong hai l hamari rajya ki sarkari independent nahi hai l mainli bharat mein kendra sarkar strong hai aur bharat ek majboot desh hai l

अगर इंडिया अंग्रेजों के अंदर गुलाम नहीं होता तो शायद इंडिया इस रूप में होता भी यह सोचना बड

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  394
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Girish Soni

Indian Politician

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज भारत गुलाम नहीं होता तो मैं समझता हूं कि नहीं विश्व के उस देशों की कतार में खड़ा होता जो टॉप में गिनती है क्योंकि गुलाम हुआ और गुलाम होने के बाद फिर वो ऐसा शासन या छोड़ कर चले गए कि फिर गुलाम के बाद को एक तरह से हिला के लोगों ने गुलाम बना के रखे हम उनको स्वतंत्र नहीं हम यह बना कर गए हम किसी न किसी रूप में आपको कुछ लूट करेंगे आज भी विदेशी कंपनियों के हाथों में क्यों खेलते हैं हम जाते हैं किसका राज है यूं जी का राज है हमसे क्यों कैसे कह सकते सरकार का राज है इस देश की पूंजी का राजा का महत्व बहुत ज्यादा है नेट का

aaj bharat gulam nahi hota toh main samajhata hoon ki nahi vishwa ke us deshon ki katar mein khada hota jo top mein ginti hai kyonki gulam hua aur gulam hone ke BA ad phir vo aisa shasan ya chod kar chale gaye ki phir gulam ke BA ad ko ek tarah se hila ke logo ne gulam BA na ke rakhe hum unko swatantra nahi hum yah BA na kar gaye hum kisi na kisi roop mein aapko kuch loot karenge aaj bhi videshi companion ke hathon mein kyon khelte hai hum jaate hai kiska raj hai yun ji ka raj hai humse kyon kaise keh sakte sarkar ka raj hai is desh ki punji ka raja ka mahatva BA hut zyada hai net ka

आज भारत गुलाम नहीं होता तो मैं समझता हूं कि नहीं विश्व के उस देशों की कतार में खड़ा होता ज

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  502
WhatsApp_icon
play
user

Aamir Saleem Khan

Chief Reporter/News editor

0:16

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत नहीं होता तो शायद मैं आ जाऊं क्या कहते हैं जो 3 टन की चाहिए

bharat nahi hota toh shayad main aa jaaun kya kehte hai jo 3 ton ki chahiye

भारत नहीं होता तो शायद मैं आ जाऊं क्या कहते हैं जो 3 टन की चाहिए

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  431
WhatsApp_icon
user

Mehmood Alum

Law Student

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेशक अगर हमारा देश गुलाम ना होता तो यह शायद दुनिया का सबसे शक्तिशाली और सबसे विकसित देश होता क्योंकि मुगलों के जमाने में हमारे देश की अर्थव्यवस्था विश्व अर्थव्यवस्था का 24 व्यक्ति जो कि विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था थी लेकिन आज के समय में हमारे देश की अर्थव्यवस्था व्यवस्था की मात्र 2% है इससे पता चलता है कि अंग्रेजों के हमारे देश में आने के बाद हमारे देश में कितना भारी नुकसान उठाया है

beshak agar hamara desh gulam na hota toh yah shayad duniya ka sabse shaktishali aur sabse viksit desh hota kyonki mugalon ke jamane mein hamare desh ki arthavyavastha vishwa arthavyavastha ka 24 vyakti jo ki vishwa ki sabse BA di arthavyavastha thi lekin aaj ke samay mein hamare desh ki arthavyavastha vyavastha ki matra 2 hai isse pata chalta hai ki angrejo ke hamare desh mein aane ke BA ad hamare desh mein kitna bhari nuksan uthaya hai

बेशक अगर हमारा देश गुलाम ना होता तो यह शायद दुनिया का सबसे शक्तिशाली और सबसे विकसित देश हो

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  425
WhatsApp_icon
user

MonuTiwari

Little Businessman And Motivational Teacher

2:33
Play

Likes  49  Dislikes    views  988
WhatsApp_icon
user

Ekta

Researcher and Writer

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर चीज का उत्तर दे पाना बहुत मुश्किल है कि इंडिया गुलाम नहीं होता तो कैसा होता है इसका उत्तर दो थोड़ा सा सा आसान है अगर यह बता दी कि 9 साल तक गुलाम रहने के बाद भी आज भी हमारा इंडिया वैसा नहीं है जैसा आप चाहते हैं वैसा या तो आप अकेली के लोगों की वजह से या तो सरकार की वजह से किसी को भी अप्रूव करिए यह तेरी के साथ किसी को ब्लेम कर भी नहीं सकते और कहा जाए तो गलतियां सब कि तू कैसा होता यह तो हम नहीं बता सकते हो सकता है जो चीज हमें भी जानने को मिली है वह में ना जाने को मिलती है अगर हमारा देश कभी गुलाम नहीं हुआ था यह भी हो सकता क्योंकि हमारे देश गुलाम नहीं होता तो और तरक्की कर रहा होता और विकसित हो रहा होता भी क्योंकि फ्यूचर कोई नहीं जानता कि इसका कैसे होता एक इमैजिनेशन लोग कर सकते हैं तू मेरे हिसाब से अभी यह जानना कि अगर गुलाम नहीं होता तो कैसा होता यह प्रेस करने से अच्छा है कि हम भी ज्यादा फोकस करें कि अभी हमारा देश कैसा बन सकता और इसे हमें बनाना है तो ज्यादा बेहतर होगा कंट्री का डेवलपमेंट और यहां पर लोगों को रोजगार बाकी सारी चीजें हमारे द्वारा चीजों को करने से ही होंगी ना कि ऐसे बोलने से तो इससे बेहतर है कि इन चीजों को करें और ऐसे दिन पूछने से कि कि नहीं गुलाम नहीं हुआ होता तो कैसा होता

har cheez ka uttar de paana BA hut mushkil hai ki india gulam nahi hota toh kaisa hota hai iska uttar do thoda sa sa aasaan hai agar yah BA ta di ki 9 saal tak gulam rehne ke BA ad bhi aaj bhi hamara india waisa nahi hai jaisa aap chahte hai waisa ya toh aap akeli ke logo ki wajah se ya toh sarkar ki wajah se kisi ko bhi apoorav kariye yah teri ke saath kisi ko blame kar bhi nahi sakte aur kaha jaaye toh galtiya sab ki tu kaisa hota yah toh hum nahi BA ta sakte ho sakta hai jo cheez hamein bhi jaanne ko mili hai vaah mein na jaane ko milti hai agar hamara desh kabhi gulam nahi hua tha yah bhi ho sakta kyonki hamare desh gulam nahi hota toh aur tarakki kar raha hota aur viksit ho raha hota bhi kyonki future koi nahi jaanta ki iska kaise hota ek imaijineshan log kar sakte hai tu mere hisab se abhi yah janana ki agar gulam nahi hota toh kaisa hota yah press karne se accha hai ki hum bhi zyada focus kare ki abhi hamara desh kaisa BA n sakta aur ise hamein BA nana hai toh zyada behtar hoga country ka development aur yahan par logo ko rojgar BA ki saree cheezen hamare dwara chijon ko karne se hi hongi na ki aise bolne se toh isse behtar hai ki in chijon ko kare aur aise din poochne se ki ki nahi gulam nahi hua hota toh kaisa hota

हर चीज का उत्तर दे पाना बहुत मुश्किल है कि इंडिया गुलाम नहीं होता तो कैसा होता है इसका उत्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर इंडिया जितने साल ब्रिटीशेर्स का गुलाम रहा उतना नहीं होता और आप हमारे इंडिया उसी समय से एक आजाद देश की तरह बना रहता तो मेरे हिसाब से आज हमारा इंडिया और ज्यादा डेवलप्ड ना किए लोगों के हिसाब से बल्कि एक इकोनॉमिकली बहुत ही स्ट्रांग इंडिया बन पाता l क्योंकि जैसा कि हम सभी जानते कि पहले हमारे देश को एक सोने की चिड़िया कहा जाता था और जब से देश में ब्रिटीशेर्स आए उन्होंने हमारे देश का सारा सोना सारा जितनी भी नेचुरल चीजें थी वह सब काफी हद तक खत्म कर दी और जितना हो सका वह अपने साथ लेकर चले गए l तो यही कारण है कि हमारे देश में जो एकोनोमिकली स्ट्रांग हो सकता था वह सब नहीं हो पाया और देश की जितनी भी इकोनोमी थी वह बहुत ही नीचे जा कर चली गई और जो हमारे देश आजाद हुआ तब भी इकोनोमी को एक लेवल तक लाने के लिए और देशों से कम्पित करने के लिए आज तक हम लोग इस इकॉनमी को स्ट्रांग कर रहे हैं l उसके अलावा और हमारे देश में जो डेवलपमेंट था ब्रिटीशेर्स के आने के बाद काफी है तक रुक गया था क्योंकि हमारे देश के सारे लोग मजदूर बन गए थे और ब्रिटिश के गुलाम बनकर रह गए थे l और ब्रिटीशेर्स किसी भी तरह से हम लोग हमारे लोगों को ऊपर आने नहीं देना चाहते थे और यही कारण था कि जो हमारे देश में लोग थे वह गुलामी की जंजीरों में बंध गए थे और कुछ आगे नहीं कर पा रहे थे l और इसी वजह से हमारे देश का कोई भी डेवलपमेंट नहीं हुआ l और इसी वजह से आज भी देश के आजाद होने के 70 साल बाद भी हम लोग और देश को एक डेवलप्ड नेशन नहीं कर पाते हैं सिर्फ एक डेवलपिंग नेशन कह पाते हैं और अगर ऐसा नहीं होता तो शायद हम भी आज अमेरिका या फिर यूनाइटेड किंगडम की तरह एक स्ट्रांग और बहुत ही कैपेबल इंडिया बन पाते हैं l

agar india jitne saal britishers ka gulam raha utana nahi hota aur aap hamare india usi samay se ek azad desh ki tarah BA na rehta toh mere hisab se aaj hamara india aur zyada developed na kiye logo ke hisab se BA lki ek economically BA hut hi strong india BA n pata l kyonki jaisa ki hum sabhi jante ki pehle hamare desh ko ek sone ki chidiya kaha jata tha aur jab se desh mein britishers aaye unhone hamare desh ka saara sona saara jitni bhi natural cheezen thi vaah sab kaafi had tak khatam kar di aur jitna ho saka vaah apne saath lekar chale gaye l toh yahi karan hai ki hamare desh mein jo ekonomikli strong ho sakta tha vaah sab nahi ho paya aur desh ki jitni bhi ikonomi thi vaah BA hut hi niche ja kar chali gayi aur jo hamare desh azad hua tab bhi ikonomi ko ek level tak lane ke liye aur deshon se kampit karne ke liye aaj tak hum log is economy ko strong kar rahe hai l uske alava aur hamare desh mein jo development tha britishers ke aane ke BA ad kaafi hai tak ruk gaya tha kyonki hamare desh ke saare log majdur BA n gaye the aur british ke gulam BA nkar reh gaye the l aur britishers kisi bhi tarah se hum log hamare logo ko upar aane nahi dena chahte the aur yahi karan tha ki jo hamare desh mein log the vaah gulaami ki janjiron mein BA ndh gaye the aur kuch aage nahi kar paa rahe the l aur isi wajah se hamare desh ka koi bhi development nahi hua l aur isi wajah se aaj bhi desh ke azad hone ke 70 saal BA ad bhi hum log aur desh ko ek developed nation nahi kar paate hai sirf ek developing nation keh paate hai aur agar aisa nahi hota toh shayad hum bhi aaj america ya phir united kingdom ki tarah ek strong aur BA hut hi capable india BA n paate hai l

अगर इंडिया जितने साल ब्रिटीशेर्स का गुलाम रहा उतना नहीं होता और आप हमारे इंडिया उसी समय से

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!