क्या कुछ लोग वास्तव में दबाव में बेहतर प्रदर्शन करते हैं?...


play
user

Lalit Maheshwari

Social Worker

1:13

Likes  15  Dislikes    views  299
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Minnie Chopra

Rehabilitation Psychologist

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

या वह भी अभी वही बात है कि कितना पैसा होना चाहिए बाल मनोविज्ञान की भी सोचनी साइकोलॉजिकल शादी हो रखी है देखने की दिखाया गया है की ऑपरेशन अगर ऑप्टिमम लेवल का हो ऑप्टिमल मतलब नाकाम ना जादा अभिमान के लिए हमारी जानकारी है और हम बिल्कुल ही मस्त रहे बिल्कुल भी कोई पैसे नहीं है हम पर और रोगी के लिए जा रहे हैं और किताब खोल कर भी नहीं देखे तो हम सब को बताएं कि हमारे कैसे मार्क्स आएंगे एंड सब कुछ बिल्कुल कमरे में दबे हुए बैठे हुए हैं किसी से बातचीत नहीं कर रहे हैं और एक्सट्रीम टेंशन में आ गई है जिसकी वजह से हम अगेन हम बिल्कुल मेमोरी हमारा साथ नहीं देती तो हम पर शक होता है कि आप बिल्कुल बीच का पैसा जहां पर थोड़ा सा पैसा होता है उतना नहीं होता कि हमें वो इन केबल बना दे तू तू हम ऑप्टिमम प्रेशर कहते हैं एंड डेकोरेट लिए तभी तो उसमें भी देखा गया कि ऐसी पर्सनालिटी होती है बात होती है तो बिल्कुल बिल्कुल भी ऑपरेशन नहीं देती और फिर भी काम कर लेती हैं बच्चे ही होते हैं जिनको 11 मोटिवेशन सही होता है ड्राइव चाहिए होती है और एक लेवल होता है नाकाम ना ज्यादा का तो क्योंकि आज परफॉर्मेंटे बहुत ही बेहतरीन और निकल कर आती है

ya wah bhi abhi wahi baat hai ki kitna paisa hona chahiye baal manovigyan ki bhi sochani psychological shadi ho rakhi hai dekhne ki dikhaya gaya hai ki operation agar optimum level ka ho optimal matlab nakam na jyaada abhimaan ke liye hamari jankari hai aur hum bilkul hi mast rahe bilkul bhi koi paise nahi hai hum par aur rogi ke liye ja rahe hain aur kitab khol kar bhi nahi dekhe toh hum sab ko bataye ki hamare kaise marks aayenge end sab kuch bilkul kamre mein dabe hue baithe hue hain kisi se batchit nahi kar rahe hain aur extreme tension mein aa gayi hai jiski wajah se hum again hum bilkul memory hamara saath nahi deti toh hum par shak hota hai ki aap bilkul beech ka paisa jahan par thoda sa paisa hota hai utana nahi hota ki humein vo in kebal bana de tu tu hum optimum pressure kehte hain end decorate liye tabhi toh usmein bhi dekha gaya ki aisi personality hoti hai baat hoti hai toh bilkul bilkul bhi operation nahi deti aur phir bhi kaam kar leti hain bacche hi hote hain jinako 11 motivation sahi hota hai drive chahiye hoti hai aur ek level hota hai nakam na zyada ka toh kyonki aaj parafarmente bahut hi behtareen aur nikal kar aati hai

या वह भी अभी वही बात है कि कितना पैसा होना चाहिए बाल मनोविज्ञान की भी सोचनी साइकोलॉजिकल शा

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  436
WhatsApp_icon
play
user

Shweta Dharamdasani

Rehabilitation Psychologist

1:06

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ लोग का दबाव में ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करते हैं किसी को जब तक कुछ करना का एक्साइटमेंट नहीं मिलता तो उनको लगता है कि यह काम बहुत आसान है उसे कुछ मजा नहीं आएगा जब उनको एक हाय डिफिकल्ट किया जाता है तो उनको ऐसा लगता है कि आप कर सकते हो क्योंकि पर्सनैलिटी ही ऐसी होती है जो आसान चीजों से वह संतुष्ट नहीं होती जब तक उनको कुछ ऐसा नहीं मिलेगा जहां वह अपने आप को चैलेंज करता है अपनी बाउंड्री कुछ कर पाए तो उनको अच्छा नहीं लगता तो कुछ लोग हैं जिनको हम देखते हैं कि कुछ जो लोग हैं जो स्टंट करना पसंद करते हैं या जो हाइब्रिड डांस करना पसंद करते हैं तो इनको कुछ चीजों में जहां भी है यह दबाव ज्यादा हो तो बेहतर परफॉर्म

kuch log ka dabaav mein zyada behtar pradarshan karte hain kisi ko jab tak kuch karna ka exitement nahi milta toh unko lagta hai ki yeh kaam bahut aasaan hai use kuch maza nahi aaega jab unko ek hi difficult kiya jata hai toh unko aisa lagta hai ki aap kar sakte ho kyonki personality hi aisi hoti hai jo aasaan chijon se wah santusht nahi hoti jab tak unko kuch aisa nahi milega jahan wah apne aap ko challenge karta hai apni boundary kuch kar paye toh unko accha nahi lagta toh kuch log hain jinako hum dekhte hain ki kuch jo log hain jo stunt karna pasand karte hain ya jo hybrid dance karna pasand karte hain toh inko kuch chijon mein jahan bhi hai yeh dabaav zyada ho toh behtar perform

कुछ लोग का दबाव में ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करते हैं किसी को जब तक कुछ करना का एक्साइटमेंट न

Romanized Version
Likes  40  Dislikes    views  542
WhatsApp_icon
user

Dr Sanjana Seth

Psychologist & Psychotherapist

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल बन जा तू कुछ थोड़ा बहुत तो चाहिए होता है थोड़ा सा तो उसके जिसको हम कहते नहीं तो भी उसके बाद कैसे उसके जैसे कि बस हम बहुत ही टेस्टी आउटस्टेशन लेकिन अब पॉजिटिव स्टेशन किलोमीटर स्ट्रेंजर 8 चैनल मोटिवेशन वह जहां पर हम अपनी परफॉर्म जैसे से पहले मेरे पास 2 दिन के बाद कोई मैंने कहीं प्रोटीन इन चौक में उसको पिछले 20 साल से 25 साल से काम करें कितनी बार दे चुके आंख बंद करके दे सकते उसको छोड़ो तुम मुझे मोटिवेट करते कि नहीं लगना टमाटर डाले द पास्ट मुझे अभी भी उतना ही अच्छा करना जितना मैं करती आज भी मैं उसको दोबारा देखो प्रेजेंटेशन को उसको दोबारा आपको डेट करूं उसको किस ऑडियंस को देने जा रही हूं उसकी तरह उसके हिसाब से उसको सेट करो छोटे को बहुत पॉजिटिव मोटिवेशन

bilkul ban ja tu kuch thoda bahut toh chahiye hota hai thoda sa toh uske jisko hum kehte nahi toh bhi uske baad kaise uske jaise ki bus hum bahut hi tasty Outstation lekin ab positive station kilometre Stranger 8 channel motivation wah jahan par hum apni perform jaise se pehle mere paas 2 din ke baad koi maine kahin protein in chauk mein usko pichhle 20 saal se 25 saal se kaam karein kitni baar de chuke aankh band karke de sakte usko chhodo tum mujhe motivate karte ki nahi lagna tamatar dale the past mujhe abhi bhi utana hi accha karna jitna main karti aaj bhi main usko dobara dekho presentation ko usko dobara aapko date karu usko kis odience ko dene ja rahi hoon uski tarah uske hisab se usko set karo chhote ko bahut positive motivation

बिल्कुल बन जा तू कुछ थोड़ा बहुत तो चाहिए होता है थोड़ा सा तो उसके जिसको हम कहते नहीं तो भी

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  425
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!