खाने के विकार के सामान्य लक्षण क्या हैं?...


play
user

Shweta Dharamdasani

Rehabilitation Psychologist

2:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

218 ईटिंग डिसऑर्डर में कुछ हम कम से कम तीन पेग मार के चलते सामने वाले व्यक्ति को प्रभावित एनरिक का नशा कैसे कहां पर लगता है जबकि असलियत में वह मोटर नहीं है पर उनका खुद का एक बॉडी इमेज है वह हमको यह बार-बार इंसान को लगता है कि वह बहुत मोटे हैं जिसकी वजह से वो खाना छोड़ देते हैं और इतना हावी हो जाते हैं उनसे कि अगर आप तो कुछ तस्वीरें अगर आप तो करेंगे ऑनलाइन तो आप देखेंगे कि आप उनकी हड्डियां देख सकते हैं आप उनके पूरे बॉडी देख पाते हैं ईटिंग डिसऑर्डर होता है जहां पर इंसान खाना खाता है और खाता रहता है कैसे हम कभी कभी देखते हैं की तस्वीर जब हम बहुत ज्यादा उदास होते हैं तो कुछ लोग की प्रेगनेंसी होती है कि आज मीटिंग करते हैं इन पलों की कुछ भी खा लेते फिर उनको बहुत कुछ खा लिया तो हम जीत आम इंसान खाना खा लेते हैं उनको अच्छा लगता है क्योंकि खाना तो अच्छा लगता है पर इसके बाद इसके बाद इन को जेल होने लगती है कि उन्होंने बहुत खाना खा लिया तो कैसा होता तो फिर अलग-अलग तरीकों से जो खाना खाया उसको वापस बाहर निकालने की कोशिश करते थे कुछ लोग जबरदस्ती उल्टी करते हैं कुछ लोग अदरक सेटिंग का इस्तेमाल करके बात करना शुरू करते हैं लोग खाते हैं फिल्म को बहुत ज्यादा गैस महसूस होती है और फिर वह इसी तरह से उसको अपनी बॉडी से वापस निकालना चाहते यह तीन प्रकार के इंसान पिक

218 eating disorder mein kuch hum kam se kam teen peg maar ke chalte saamne wale vyakti ko prabhavit enrique ka nasha kaise kahaan par lagta hai jabki asliyat mein wah motor nahi hai par unka khud ka ek body image hai wah hamko yeh baar baar insaan ko lagta hai ki wah bahut mote hain jiski wajah se vo khana chod dete hain aur itna havi ho jaate hain unse ki agar aap toh kuch tasveeren agar aap toh karenge online toh aap dekhenge ki aap unki haddiyan dekh sakte hain aap unke poore body dekh paate hain eating disorder hota hai jaha par insaan khana khaata hai aur khaata rehta hai kaise hum kabhi kabhi dekhte hain ki tasveer jab hum bahut zyada udaas hote hain toh kuch log ki pregnancy hoti hai ki aaj meeting karte hain in palon ki kuch bhi kha lete phir unko bahut kuch kha liya toh hum jeet aam insaan khana kha lete hain unko accha lagta hai kyonki khana toh accha lagta hai par iske baad iske baad in ko jail hone lagti hai ki unhone bahut khana kha liya toh kaisa hota toh phir alag alag trikon se jo khana khaya usko wapas bahar nikalne ki koshish karte the kuch log jabardasti ulti karte hain kuch log adrak setting ka istemal karke baat karna shuru karte hain log khate hain film ko bahut zyada gas mehsus hoti hai aur phir wah isi tarah se usko apni body se wapas nikalna chahte yeh teen prakar ke insaan pic

218 ईटिंग डिसऑर्डर में कुछ हम कम से कम तीन पेग मार के चलते सामने वाले व्यक्ति को प्रभावित

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  459
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!