मैंने अपनी चिंता से छुटकारा पाने के लिए हरसंभव कोशिश की लेकिन कुछ भी काम नहीं आया। मुझे क्या करना चाहिए?...


user

🇮🇳 jitendra shukla🇮🇳

🦚Birth kundli Specialist🌹Jyotishi Kendra🇮🇳भारत भाग्य विधाता 🇮🇳 social Work Associate Professionals🌹 jitendra Shukla🇮🇳🚩 9517287000🚩

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने अपने चिंता को छुटकारा दिलाने के लिए हर संभव कोशिश किए ध्यान दें आपको हर संभव कोशिश नहीं करनी है सिर्फ एक संभावित कोशिश करनी है जिससे यह संभावना बन सके कि आपके जीवन की चिंता हट जाए ऐसी पूर्ण संभावना ही ना बने आपके जीवन की जो चिंता है वह समाप्त हो जाए और यह कब संभव हो जाएगा आपके अंदर का काम पीड़ित यानी कि आत्मविश्वास बढ़ेगा दूसरी चीजें आपके अंदर का आंतरिक उर्जा अगर पूर्ण रूप से आपको प्राप्त होती है तभी आपकी चिंता है और यदि आपकी चिंता काम क्रोध मद और लोभ से हैं इन चारों कि आप आशा करते हैं कि इससे आपको ज्यादा फायदा हो या आप यह चाहते हो और अगर आप इसको प्राप्त करने की चाहत में है तो आपकी चिंता कभी समाप्त नहीं होगी और उसके दुर्गुणों के प्रभाव से आपका स्वास्थ से लेकर हर प्रकार से आपको चिंता भी रहेगी और उसमें जीवन में समस्याएं भी होंगी इस कारण से आप स्वयं को आत्मविश्वास से भरे स्वयं को आत्मविश्वास चौधरी के नए कर सकता हूं और मेरे मेरे अलावा कोई दूसरा व्यक्ति से कर ही नहीं सकता जय श्री राम

aapne apne chinta ko chhutkara dilaane ke liye har sambhav koshish kiye dhyan de aapko har sambhav koshish nahi karni hai sirf ek sambhavit koshish karni hai jisse yah sambhavna ban sake ki aapke jeevan ki chinta hut jaaye aisi purn sambhavna hi na bane aapke jeevan ki jo chinta hai vaah samapt ho jaaye aur yah kab sambhav ho jaega aapke andar ka kaam peedit yani ki aatmvishvaas badhega dusri cheezen aapke andar ka aantarik urja agar purn roop se aapko prapt hoti hai tabhi aapki chinta hai aur yadi aapki chinta kaam krodh mad aur lobh se hain in charo ki aap asha karte hain ki isse aapko zyada fayda ho ya aap yah chahte ho aur agar aap isko prapt karne ki chahat me hai toh aapki chinta kabhi samapt nahi hogi aur uske durgunon ke prabhav se aapka swaasth se lekar har prakar se aapko chinta bhi rahegi aur usme jeevan me samasyaen bhi hongi is karan se aap swayam ko aatmvishvaas se bhare swayam ko aatmvishvaas choudhary ke naye kar sakta hoon aur mere mere alava koi doosra vyakti se kar hi nahi sakta jai shri ram

आपने अपने चिंता को छुटकारा दिलाने के लिए हर संभव कोशिश किए ध्यान दें आपको हर संभव कोशिश नह

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  167
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!