कुमारी / एलोवेरा क्या है यह जड़ी बूटी मानव शरीर और मन को कैसे प्रभावित करती है?...


user

Arjun Vaidya

CEO of Dr Vaidya’s

1:07
Play

Likes  43  Dislikes    views  376
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Alok Sharma

Ayurvedic Doctor

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुमारिया एलोवेरा खूब मिलता है आप घर में गमलों में लगा सकते हैं लगा कर लेना चाहिए इसका प्रकट रूप से अगर आप अंदर का एलोवेरा का जूस निकाल कर खा सकते पर को चेक करेगा आप अपनी स्क्रीन पर लगाए की सफाई भी करेगा

kumaria aloevera khoob milta hai aap ghar mein gamlon mein laga sakte hain laga kar lena chahiye iska prakat roop se agar aap andar ka aloevera ka juice nikaal kar kha sakte par ko check karega aap apni screen par lagaye ki safaai bhi karega

कुमारिया एलोवेरा खूब मिलता है आप घर में गमलों में लगा सकते हैं लगा कर लेना चाहिए इसका प्रक

Romanized Version
Likes  185  Dislikes    views  1805
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुंवारी एलोवेरा क्या है यह जड़ी-बूटी बनर्जी को मन को कैसे होती है तब जो होता है वह 2 दिन तक होता हो जाता है उसकी जड़ से अलग-अलग पदों के रूप में से निकलती है जो मात्र जाने कोटेदार होती है हरिद्वार की ग्रीन कलर की होती है और इसका जो पूछा है वह वाइट सफेद रंग का होता है और इसमें से इस सलीमा निकलती है जिसका स्वाद कसैला होता है यह बहुत पुरानी दोस्ती है आयुर्वेद में बहुत महत्वपूर्ण स्टार्ट करके रहता है उदर रोगों की रामबाण औषधि है उनकी कव्वाली अनीस को अलग-अलग नाम है तुम्हारी इसको कहते हैं ग्वारपाठा इसे कहते हैं यह बहुत महत्वपूर्ण है स्टार उत्सव मनाया जाता है कुमार यादव के नाम से प्रचलित है और आजकल तो इसका संजय प्रसाद में भी काफी कंपनियां अपने प्रोडक्ट बनाकर के बाजार में सही है बनती है समंदर के पदार्थ हमारी सही में संचित है उनको बाहर निकालती है जो शरीर की रोग जुड़े हैं उनका सम्मान करती है मन में प्रभुता लाती है इसका उपयोग अन्य विवाद में क्या जाता है यह आयुर्वेद के महान दोस्ती है अलग-अलग धन्यवाद

kuwaari aloevera kya hai yah jadi buti banerjee ko man ko kaise hoti hai tab jo hota hai vaah 2 din tak hota ho jata hai uski jad se alag alag padon ke roop mein se nikalti hai jo matra jaane kotedar hoti hai haridwar ki green color ki hoti hai aur iska jo poocha hai vaah white safed rang ka hota hai aur isme se is salima nikalti hai jiska swaad kasaila hota hai yah bahut purani dosti hai ayurveda mein bahut mahatvapurna start karke rehta hai udar rogo ki rambaan aushadhi hai unki qawwali anis ko alag alag naam hai tumhari isko kehte hain gwarapatha ise kehte hain yah bahut mahatvapurna hai star utsav manaya jata hai kumar yadav ke naam se prachalit hai aur aajkal toh iska sanjay prasad mein bhi kaafi companiya apne product banakar ke bazaar mein sahi hai banti hai samundar ke padarth hamari sahi mein sanchit hai unko bahar nikalati hai jo sharir ki rog jude hain unka sammaan karti hai man mein prabhuta lati hai iska upyog anya vivaad mein kya jata hai yah ayurveda ke mahaan dosti hai alag alag dhanyavad

कुंवारी एलोवेरा क्या है यह जड़ी-बूटी बनर्जी को मन को कैसे होती है तब जो होता है वह 2 दिन

Romanized Version
Likes  60  Dislikes    views  597
WhatsApp_icon
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

2:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एलोवेरा का यूरोपियन अमेरिकन कंट्रीज ने जबरदस्त उसका प्रसारण किया और पूरे विश्व के अंदर उसकी बहुत प्रशंसा हुई और उसका जबरदस्त रूप से उपयोग किया गया और उसको बनाने वाली कंपनियां करोड़ों करोड़ों अरबों डॉलर कमा गई और भारत के आयुर्वेद वाले कुछ नहीं कमाता है और यहां के हुई थी वे लोग भी कुछ कमा नहीं पड़े अभी 10:00 15 साल पहले मतलब 1901 और 1995 के बाद भारत के अंदर हिंदुस्तान लीवर कंपनी और दूसरे लोगों ने मिलकर के भारत की सभी भाषाओं के वर्तमान पत्रों के अंदर आयुर्वेदिक जो निश्चय आते हैं और उसको का संग्रह किया अलग-अलग नुस्खे वाले पुस्तकों का भी संग्रह किया करोड़ों करोड़ों मुझसे उन लोगों ने कट और अलग-अलग रोगों के लिए लोग उसका प्रयोग करके उसकी मेडिसिन बना करके और भी यह हजारों रुपए कमाने की कोशिश करते हैं लेकिन हमारे परंतु हमारे जो आयुर्वेदाचार्य लोग थे उन लोगों की इस बारे में कोई फैसला नहीं होता है और लोग अच्छी तरह से कम आ नहीं सकते हैं हम लोग आर्य समाज आयुर्वेदिक हॉस्पिटल डॉट कॉम जो हमारी वेबसाइट है उसको आपके वह मारे वीडियोस का आप लोग सही करिए और हमारी फार्म सुशील कंपनी है आर्य समाज आयुर्वेद औषधि निर्माण पल्सर 150 के मेडिसिन बढ़ाते हैं और मात्र क्लीनिकल और हॉस्पिटल बीच पर उसका उपयोग करते हैं सृष्टि के अंदर किसी भी प्रकार का रोग हो या तो जो म्हारो गेरो ना मेरे जैसा बताया है उसकी अच्छी तरह सब लोग चिकित्सा करके हमारे औषध के द्वारा मिट्टी को पूर्ण रूप से स्वस्थ कर नया जीवन देने कि हम लोग कोशिश करते हैं आप लोग भी हमारा लाभ उठाइए और हमारा संपर्क कीजिए

aloevera ka european american countries ne jabardast uska prasaran kiya aur poore vishwa ke andar uski bahut prashansa hui aur uska jabardast roop se upyog kiya gaya aur usko banane wali companiya karodo karodo araboon dollar kama gayi aur bharat ke ayurveda waale kuch nahi kamata hai aur yahan ke hui thi ve log bhi kuch kama nahi pade abhi 10 00 15 saal pehle matlab 1901 aur 1995 ke baad bharat ke andar Hindustan liver company aur dusre logo ne milkar ke bharat ki sabhi bhashaon ke vartaman patron ke andar ayurvedic jo nishchay aate hain aur usko ka sangrah kiya alag alag nuskhe waale pustakon ka bhi sangrah kiya karodo karodo mujhse un logo ne cut aur alag alag rogo ke liye log uska prayog karke uski medicine bana karke aur bhi yah hazaro rupaye kamane ki koshish karte hain lekin hamare parantu hamare jo ayurvedacharya log the un logo ki is bare me koi faisla nahi hota hai aur log achi tarah se kam aa nahi sakte hain hum log arya samaj ayurvedic hospital dot com jo hamari website hai usko aapke vaah maare videos ka aap log sahi kariye aur hamari form sushil company hai arya samaj ayurveda aushadhi nirmaan pulsar 150 ke medicine badhate hain aur matra clinical aur hospital beech par uska upyog karte hain shrishti ke andar kisi bhi prakar ka rog ho ya toh jo mharo gero na mere jaisa bataya hai uski achi tarah sab log chikitsa karke hamare awasadhi ke dwara mitti ko purn roop se swasth kar naya jeevan dene ki hum log koshish karte hain aap log bhi hamara labh uthaiye aur hamara sampark kijiye

एलोवेरा का यूरोपियन अमेरिकन कंट्रीज ने जबरदस्त उसका प्रसारण किया और पूरे विश्व के अंदर उसक

Romanized Version
Likes  134  Dislikes    views  741
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!