गुडूची क्या है यह जड़ी बूटी मानव शरीर और मन को कैसे प्रभावित करती है?...


play
user

Dr. Mani Bhushan Kumar

Ayurveda Specialist, Patna

0:48

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहले कहा गया था कि से उसको जो हमारे आयुष डिपार्टमेंट हुआ है अभी उसको राष्ट्रीय प्लांट घोषित किए हैं क्योंकि पहले कहा जाता था उत्तर प्रदेश टैक्स कितना मखदूम का चित्र सामक है गिलोय का रस तो अब तो भाषा में आ गया है कि औलाद गिलोय एलोवेरा और गिलोय का रस बना रही है अमन के लिए उसका प्रयोग करते हैं बहुत बड़ा

pehle kaha gaya tha ki se usko jo hamare ayush department hua hai abhi usko rashtriya plant ghoshit kiye hai kyonki pehle kaha jata tha uttar pradesh tax kitna makhdoom ka chitra samak hai giloy ka ras toh ab toh bhasha mein aa gaya hai ki aulad giloy aloevera aur giloy ka ras bana rahi hai aman ke liye uska prayog karte hai bahut bada

पहले कहा गया था कि से उसको जो हमारे आयुष डिपार्टमेंट हुआ है अभी उसको राष्ट्रीय प्लांट घोषि

Romanized Version
Likes  122  Dislikes    views  1499
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Arvind Kumar Mishra

Ayurvedic Doctor

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुरु जी इसको अमृता भी बोला जाता है ठीक है जो दिन है उसकी क्लासिकल इंडिकेशन में बहुत सारी जगह पर यूज किया गया ब्लड चले करके जो है को पीठ पर काम करता है बॉडी किए जो बनी चीजें हैं जिन पर उसका बेसिकली प्रभाव है ठीक है कैंसर को ऑटोइम्यून डिसऑर्डर पर सभी चीजों पर उसका जो है वह कुछ और कि जिस पर हम उसको देख सकता है उसी का है जो कि ब्रॉड लेवल पर यूज करने वाली मेडिसिन से रिंगटोन बहुत सारी बीमारियों में दे सकते हैं

guru ji isko amrita bhi bola jata hai theek hai jo din hai uski classical indication mein bahut saree jagah par use kiya gaya blood chale karke jo hai ko peeth par kaam karta hai body kiye jo bani cheezen hain jin par uska basically prabhav hai theek hai cancer ko autoimmune disorder par sabhi chijon par uska jo hai vaah kuch aur ki jis par hum usko dekh sakta hai usi ka hai jo ki broad level par use karne wali medicine se ringtone bahut saree bimariyon mein de sakte hain

गुरु जी इसको अमृता भी बोला जाता है ठीक है जो दिन है उसकी क्लासिकल इंडिकेशन में बहुत सारी ज

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  294
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुरु जी क्या है यह जड़ी मानव जीवन को कैसे प्रभावित करती है लेकिन गुरु जी जाति की एक औषधि है जो लता के ऊपर सोते ही चल जाती है दिल के आकार का इसका पता होता है और यह इसके अलग-अलग जान है प्यारी बच्ची है अब इसको कहते हैं गिरोह इसको कहते हैं इस पर छोटे-छोटे हल्के हल्के हल्के होते हैं इस लता का प्रयोग दोस्त आशा है लेकिन यह पिक है जो प्रगति जो होते हैं उनको यह शांत करती है जो नाटक है अगर जो अंदर उसके बाद वायरस है चाहे वह कैसा विजुअल है उसको साथ होती है तीनों दोषों को शांत करती है इसका असर भी निकालते बैकलॉग युवक ने हम लोग इसके साथ में प्रयोग करते हैं और जैसे शहद से मिला करके इसके साथ को देखते हैं तो फिर सामग्री है कि जोरदार साक्षी ने 200 पसंद करती है आवाज बढ़ा दी है इसका विरोध का ताजा 10वी जून के महीने में जो क्यों करता है तो उसको जो नीम का पेड़ हमारा नीम का वृक्ष है उसके ऊपर यह है तो उसका सही है इसमें इसका लाभ ज्यादा देती है क्योंकि नीम की गिलोय एक कहावत है एक तो थोड़ी कड़वी और चढ़ी नीम की नीम का अक्स इस बार होता है और यह इसकी 2 किलो मन को प्रफुल्लित करने वाली होती है दोषों को शांत करने वाली होती है कि नेट तो है जो है ऑफिस चमक है अमृता कहते हैं यह अपने आप सोते ही इज वेल की डाल दो तो यह बहुत ही नहीं अपने आप जवाब मतलब जाटों के और व्यस्त हो जाती है तो गिलोय का अनेक फायदे हैं आप जो इस टाइप करता है उसको उसकी एवं पावर है उसकी ऑग 22 सकती है वह बढ़ जाती है और वह भी जल्दी से बीमार नहीं हो पाता

guru ji kya hai yah jadi manav jeevan ko kaise prabhavit karti hai lekin guru ji jati ki ek aushadhi hai jo lata ke upar sote hi chal jaati hai dil ke aakaar ka iska pata hota hai aur yah iske alag alag jaan hai pyaari bachi hai ab isko kehte hain giroh isko kehte hain is par chote chhote halke halke halke hote hain is lata ka prayog dost asha hai lekin yah pic hai jo pragati jo hote hain unko yah shaant karti hai jo natak hai agar jo andar uske baad virus hai chahen vaah kaisa visual hai usko saath hoti hai tatvo doshon ko shaant karti hai iska asar bhi nikalate Backlog yuvak ne hum log iske saath mein prayog karte hain aur jaise shehed se mila karke iske saath ko dekhte hain toh phir samagri hai ki jordaar sakshi ne 200 pasand karti hai awaaz badha di hai iska virodh ka taaza va june ke mahine mein jo kyon karta hai toh usko jo neem ka ped hamara neem ka vriksh hai uske upar yah hai toh uska sahi hai isme iska labh zyada deti hai kyonki neem ki giloy ek kahaavat hai ek toh thodi kadavi aur chadhi neem ki neem ka acc is baar hota hai aur yah iski 2 kilo man ko prafullit karne wali hoti hai doshon ko shaant karne wali hoti hai ki net toh hai jo hai office chamak hai amrita kehte hain yah apne aap sote hi is well ki daal do toh yah bahut hi nahi apne aap jawab matlab jaaton ke aur vyast ho jaati hai toh giloy ka anek fayde aap jo is type karta hai usko uski evam power hai uski ag 22 sakti hai vaah badh jaati hai aur vaah bhi jaldi se bimar nahi ho pata

गुरु जी क्या है यह जड़ी मानव जीवन को कैसे प्रभावित करती है लेकिन गुरु जी जाति की एक औषधि ह

Romanized Version
Likes  82  Dislikes    views  928
WhatsApp_icon
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

4:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप लोग गुरु जी या तो ऐसे जो हजारों औषध है जो हजारों से अनेक प्रकार के रोगों में उपयोगी है तरीके अलग-अलग अंगों के लिए भी कई प्रकार के अवसर दे प्रयुक्त है उसका उपयोग जानने के लिए आप गुजराती भाषा में मराठी भाषा में आर्यभिषक के अष्टांग हृदय हे चरक संहिता है दूसरा आयुर्वेद के सैकड़ों सैनिक लोग पूछते हैं उसके अनुवाद या तो मूल संस्कृति आप जो भी आप की व्यवस्था हो उसका किसी भी भाषा में अनुवाद करके भी आप पढ़ सकते हैं और उसके उपयोग काम आप लोग जानकारी दे सकते हैं तो राजनीति जो हमसे थे गुरुजी या अन्य कोई भी हुसैन के अवसर शरीर के अंदर अलग-अलग प्रकार से आप उसका पाउडर बनाकर के लेंगे उस काजल बना कर लेंगे उसकी टेबलेट बनाकर चलेंगे या इनके घर से रसायन है जो भी है उसे दे मुस्कान मिलावट करके भी मिलावट मतलब की अनेक अवसरों को मिला करके उसका योग बना करके उसका एक ग्रुप बना करके आप उसको शरीर के अंदर प्रयोग करेंगे तो जैसे हर्बल आयुर्वेदिक औषधि जिसको हर्बल बोलते हैं अंग्रेजी में वह हर्बल एक नेचुरल है और अपना मनुष्य का शरीर देख नीचे से प्राणियों के शरीर देख नीचे से आ पाएंगे कि के हुसैन इसको हर्बल मानेंगे हर्बल कहेंगे वह सारी मनुष्य और सारी विश्व की शोध जीवन से सृष्टि को पानी देता ही है और सारी जो रास्ता ही नहीं किया तो जलसृष्टि है और जद एस एस सी का शुद्धिकरण भी करती है जो पृथ्वी तत्व और पृथ्वी अग्नि वायु आकाश का प्रभाव ले करके उसे जो का जन्म होता है और उसे जो का प्रादुर्भाव होता है औषधि का विकास होता है और विकसित अंग से जुड़ा हम लोग अनेक प्रकार के ऊपर करके सृष्टि को भी अच्छी लगती सकते हैं और मनुष्य जाति को स्वस्थ रख सकते हैं प्रत्येक टीम वनस्पति को जला कर के उसके हवन यज्ञ से भी हम लोग के वातावरण को सुगंधित प्राण रक्षक बना करके उसका भी उपयोग और लाभ ले सकते हैं आप लोग इसके लिए जानकारी के लिए सत्यार्थ प्रकाश स्तरीय ऋग्वेद ओं की चारों वेदों की जो भूमिका है स्वामी दयानंद की रिग वेद आदि भाष्य भूमिका उसको पढ़िए आप लोगों की स्वामी दयानंद का एक पुस्तक के संस्कार विधि व पढ़िए आप लोगों को जो अद्भुत जानकारी मिलेगी और जानवर की जानकारी के द्वारा अपलोड मनुष्य सृष्टि का विकास कर सकते हैं मनुष्य सृष्टि की रक्षा कर सकते हैं आपके शरीर मन और आत्मा को ही शुद्ध पवित्र और शक्तिशाली बना करके आपकी एक कुत्ता आपके परिवार को आपके बेटे बेटी का आपकी पत्नी का आपके परिवार का आपकी सोसाइटी का और समस्त राज्य समझते देश और मनुष्य जाति का विश्व का विकास कर सकते हैं और उसकी रक्षा भी कर सकते हैं और आप लोग यह सारे प्रभाव को जानिए अभी कोरोना वायुमंडल आया पहले गांव का चित्र चला था जो बच्चों को खा चेपी रोग चला था दूसरा टी-शर्ट की रोक चला था और पूरी दुनिया में के अंदर मनुष्य सृष्टि में हाहाकार मच गया था लोग भयंकर रूप से डर गए थे मोटा डर और भय सताने लगा था आज और आने के कारण 3 महीने से यह भाई लोग एक्टिव इंग्लिश व को सता सता रहा है पूरे भारत के 18 20 वर्षों में स्कूल-कॉलेज बंद कर लिया जिन बंद कर दिया थिएटर बंद कर दिए बाहर आना-जाना के लिए लोगों को चेतावनी दी गई है हाथ पैर साफ करो तो हम लोग जो बोलते हैं कि आप लोग सुबह में उठने से रात्रि को सोने तक खान-पान से लेकर समाज के घर में पति पत्नी के व्यवहार से सृष्टि और समाज व्यवस्था के अंदर उपयोगी होने के लिए यह सारे उपायों को जिम आएंगे सारी सिस्टम का कोर्स चेंज करेंगे और आपकी लाइफ को चेंज करेंगे तभी आप लोगे यह सारी महामारी ओके सामने लड़ सकते हैं आप हमारी विचारधारा से हमारे साइंस से जानकारी लेने के लिए हमारे प्रयत्न भी कर सकते हैं इसमें हमारा एड्रेस मेरे संपर्क का और हमारा मोबाइल नंबर भी लिखा है आप हमारे पास जरूर आइए और अधिक जानकारी भी लीजिए और आपका कोटेशन करिए धन्यवाद

aap log guru ji ya toh aise jo hazaro awasadhi hai jo hazaro se anek prakar ke rogo me upyogi hai tarike alag alag angon ke liye bhi kai prakar ke avsar de prayukt hai uska upyog jaanne ke liye aap gujarati bhasha me marathi bhasha me aryabhishak ke ashtanga hriday hai charak sanhita hai doosra ayurveda ke saikadon sainik log poochhte hain uske anuvad ya toh mul sanskriti aap jo bhi aap ki vyavastha ho uska kisi bhi bhasha me anuvad karke bhi aap padh sakte hain aur uske upyog kaam aap log jaankari de sakte hain toh raajneeti jo humse the guruji ya anya koi bhi hussain ke avsar sharir ke andar alag alag prakar se aap uska powder banakar ke lenge us kajal bana kar lenge uski tablet banakar chalenge ya inke ghar se rasayan hai jo bhi hai use de muskaan milavat karke bhi milavat matlab ki anek avasaron ko mila karke uska yog bana karke uska ek group bana karke aap usko sharir ke andar prayog karenge toh jaise herbal ayurvedic aushadhi jisko herbal bolte hain angrezi me vaah herbal ek natural hai aur apna manushya ka sharir dekh niche se praniyo ke sharir dekh niche se aa payenge ki ke hussain isko herbal manenge herbal kahenge vaah saari manushya aur saari vishwa ki shodh jeevan se shrishti ko paani deta hi hai aur saari jo rasta hi nahi kiya toh jalsrishti hai aur jad S S si ka shuddhikaran bhi karti hai jo prithvi tatva aur prithvi agni vayu akash ka prabhav le karke use jo ka janam hota hai aur use jo ka pradurbhav hota hai aushadhi ka vikas hota hai aur viksit ang se juda hum log anek prakar ke upar karke shrishti ko bhi achi lagti sakte hain aur manushya jati ko swasth rakh sakte hain pratyek team vanaspati ko jala kar ke uske hawan yagya se bhi hum log ke vatavaran ko sugandhit praan rakshak bana karke uska bhi upyog aur labh le sakte hain aap log iske liye jaankari ke liye satyarth prakash stariy rigved on ki charo vedo ki jo bhumika hai swami dayanand ki rig ved aadi bhashya bhumika usko padhiye aap logo ki swami dayanand ka ek pustak ke sanskar vidhi va padhiye aap logo ko jo adbhut jaankari milegi aur janwar ki jaankari ke dwara upload manushya shrishti ka vikas kar sakte hain manushya shrishti ki raksha kar sakte hain aapke sharir man aur aatma ko hi shudh pavitra aur shaktishali bana karke aapki ek kutta aapke parivar ko aapke bete beti ka aapki patni ka aapke parivar ka aapki society ka aur samast rajya samajhte desh aur manushya jati ka vishwa ka vikas kar sakte hain aur uski raksha bhi kar sakte hain aur aap log yah saare prabhav ko janiye abhi corona vayumandal aaya pehle gaon ka chitra chala tha jo baccho ko kha chepi rog chala tha doosra T shirt ki rok chala tha aur puri duniya me ke andar manushya shrishti me hahakar match gaya tha log bhayankar roop se dar gaye the mota dar aur bhay satane laga tha aaj aur aane ke karan 3 mahine se yah bhai log active english va ko sata sata raha hai poore bharat ke 18 20 varshon me school college band kar liya jin band kar diya theater band kar diye bahar aana jana ke liye logo ko chetavani di gayi hai hath pair saaf karo toh hum log jo bolte hain ki aap log subah me uthane se ratri ko sone tak khan pan se lekar samaj ke ghar me pati patni ke vyavhar se shrishti aur samaj vyavastha ke andar upyogi hone ke liye yah saare upayo ko gym aayenge saari system ka course change karenge aur aapki life ko change karenge tabhi aap loge yah saari mahamari ok saamne lad sakte hain aap hamari vichardhara se hamare science se jaankari lene ke liye hamare prayatn bhi kar sakte hain isme hamara address mere sampark ka aur hamara mobile number bhi likha hai aap hamare paas zaroor aaiye aur adhik jaankari bhi lijiye aur aapka quotation kariye dhanyavad

आप लोग गुरु जी या तो ऐसे जो हजारों औषध है जो हजारों से अनेक प्रकार के रोगों में उपयोगी है

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  470
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!