हरिताकी जड़ी बूटी का उपयोग किसे करना चाहिए?...


play
user

Dr. Reena Arora

Ayurvedic Doctor

0:24

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक रसायन है और स्कूल 6 तारीख से मेंशंड है आयुर्वेद में किस ऋतु में अच्छे से लेना चाहिए तो यह रसायन का काम करता है जैसे शॉट के साथ हरिपुर का खरीद खरीद की रिकॉर्डिंग टू सीजन है आप किसी डॉक्टर से यह जान सकते हैं कि मैं किस सीजन में और कैसे कैसे देनी है

ek rasayan hai aur school 6 tarikh se menshand hai ayurveda mein kis ritu mein acche se lena chahiye toh yeh rasayan ka kaam karta hai jaise shot ke saath haripur ka kharid kharid ki recording to season hai aap kisi doctor se yeh jaan sakte hain ki main kis season mein aur kaise kaise deni hai

एक रसायन है और स्कूल 6 तारीख से मेंशंड है आयुर्वेद में किस ऋतु में अच्छे से लेना चाहिए तो

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  476
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हल्की को माता की तरह ना हो बड़ा अच्छा माना गया है कि हरीतकी का नित्य से बना कर सकते हैं और जैसे कि माता कभी कुमाता नहीं हो सकती तो खरीद की भी आपके पेट के लिए हमेशा कभी भी गलत नहीं आ सकती तो वह बहुत सारे रूप में प्रयोग में ली जाती है अगर किसी को दस्त की लग जाता है तब भी हम हरीतकी उसको देते हैं क्योंकि जो आपस में मिलना बहुत जरूरी होता है कि उसको हरीतकी का सेवन कराया जाता है जो है रात में सोते समय भी ले सकते हैं उनकी पानी के साथ ले सकते हैं पानी की दाल का सेवन कर सकते हैं लेकिन खाने का सेवन किया जाए औषधि को औषधि के रूप में रखा जाए तो ज्यादा बैटर है इसके सेवन से ज्यादा बेटर है 15 दिन किसी भी औषधि का सेवन किया जाए फिर उसे थोड़ा रोका जाए और खाने की प्रक्रिया को सुधारा जाए जीवन शैली को सुधारा जाए खाना कब से श्रेष्ठ माना है खाद्य भोजन को सबसे श्रेष्ठ माना है वेद में मैं उनसे ज्यादा श्रेष्ठ माना है

halki ko mata ki tarah na ho bada accha mana gaya hai ki haritaki ka nitya se bana kar sakte hain aur jaise ki mata kabhi Kumata nahi ho sakti toh kharid ki bhi aapke pet ke liye hamesha kabhi bhi galat nahi aa sakti toh wah bahut saare roop mein prayog mein li jati hai agar kisi ko dast ki lag jata hai tab bhi hum haritaki usko dete hain kyonki jo aapas mein milna bahut zaroori hota hai ki usko haritaki ka seven karaya jata hai jo hai raat mein sote samay bhi le sakte hain unki pani ke saath le sakte hain pani ki dal ka seven kar sakte hain lekin khane ka seven kiya jaye aushadhi ko aushadhi ke roop mein rakha jaye toh zyada better hai iske seven se zyada better hai 15 din kisi bhi aushadhi ka seven kiya jaye phir use thoda roka jaye aur khane ki prakriya ko sudhara jaye jeevan shaili ko sudhara jaye khana kab se shreshtha mana hai khadya bhojan ko sabse shreshtha mana hai ved mein main unse zyada shreshtha mana hai

हल्की को माता की तरह ना हो बड़ा अच्छा माना गया है कि हरीतकी का नित्य से बना कर सकते हैं और

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  419
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!