पित्त को किन खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए?...


play
user

Dr. Amit Hardia

Panchkarma Specialist

0:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक दोस्त भी जो है जो उसे विदा ही अन्य पान होते हैं जैसे की उल्टी भोजन जो रहता है ज्यादा लवण युक्त भोजन जो है वह पित्त को बढ़ाता है इसके अलावा और भी कुछ इसमें चीजें होती हैं उसी की गरम मसाला हो गया या खट्टे पदार्थों गए यह जो है वह शरीर में उत्पन्न करते हैं करते हैं बढ़ जाता है और कितने जनित रोग उत्पन्न हो जाते हैं या अभिशाप आदि रोग उत्पन्न होते हैं इस तरीके की कल्पना आयुर्वेद में की गई

ek dost bhi jo hai jo use vida hi anya pan hote hain jaise ki ulti bhojan jo rehta hai zyada lavan yukt bhojan jo hai vaah pitt ko badhata hai iske alava aur bhi kuch isme cheezen hoti hain usi ki garam masala ho gaya ya khatte padarthon gaye yah jo hai vaah sharir mein utpann karte hain karte hain badh jata hai aur kitne janit rog utpann ho jaate hain ya abhishap aadi rog utpann hote hain is tarike ki kalpana ayurveda mein ki gayi

एक दोस्त भी जो है जो उसे विदा ही अन्य पान होते हैं जैसे की उल्टी भोजन जो रहता है ज्यादा लव

Romanized Version
Likes  123  Dislikes    views  1516
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Anuj Dupta

Director and chief ayurvedic consultant and founder of Mantra Ayurveda.

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रघु दीक्षित का मतलब उसकी प्रकृति स्थित है और बात है उसको शिक्षण खाना वर्जित है अभी तक खाना बहुत ज्यादा गर्म गर्म चीज खाना यह वर्जित होना चाहिए तभी ठीक हो ऐसे शख्स को खाना नहीं खाना चाहिए ऐसा खाना नहीं खाना

raghu dixit ka matlab uski prakriti sthit hai aur baat hai usko shikshan khana varjit hai abhi tak khana bahut zyada garam garam cheez khana yah varjit hona chahiye tabhi theek ho aise sakhs ko khana nahi khana chahiye aisa khana nahi khana

रघु दीक्षित का मतलब उसकी प्रकृति स्थित है और बात है उसको शिक्षण खाना वर्जित है अभी तक खाना

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  307
WhatsApp_icon
user

Dr. Mitramahesh

Ayurvedic Doctors

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्वामी रामदेव और पतंजलि का उनके आयुर्वेदिक साबुन के बारे में जो अभी प्रदर्शित करते हैं वह पूर्ण रूप से सत्य है आपकी कि $10000 लेकर के 1975 के आसपास हिंदुस्तान लीवर लिमिटेड कंपनी इंडिया माहिती मल्टीनेशनल कंपनी और $10000 के बराबर आज हजारों करोड़ दल्ले करके वह इंडिया से भर जाती है और उनके साबुन को उस समय सर्वश्रेष्ठ साबुन बोलते थे और उन्होंने इस प्रकार से देश के ऊपर भयंकर झूठ का सूट का अत्याचार किया और आज की तारीख में जो प्रश्न खड़े होते हैं कि पतंजलि का आयुर्वेदिक साबुन ठीक है या नहीं पतंजलि का साबुन बहुत कम मूल्य में मिलता है और उसमें जो दावा किया गया है वह बिल्कुल सही है और उसके अनुसार और शरीर को फायदा पहुंचाता है और ऐसी बातें की मात्रा फॉरेन की कंपनियों का साबुन अच्छा बनेगा और वह लोग ही अच्छे हैं बहुत अच्छे हैं कोलगेट वाले बहुत अच्छे हैं और भारत में कुछ नहीं है लेकिन भारत में जो भारतीय कंपनियां कि वह भी उनसे कमरू तेरी नहीं है उन लोगों ने भी कॉल रिंग से साबुन और दूसरी चीजों में भयानक रूप से खरसोद चलाइए परंतु स्वामी रामदेव जी ने जो आईरिस के अनुसार की जो अवसरों का निर्माण किया और ए जो साबुन नगरी दे रहे हैं और बिल्कुल ठीक है और उसे पूरा फायदा होता है और इसमें कोई भय बिन देखनी है आपको उसका प्रयोग करना चाहिए उसमें कोई एसिड नहीं है या तो कोई ऐसा कोई खराब तक चलेगी और इस प्रकार के प्रश्न खड़े होने भी नहीं चाहिए धन्यवाद

swami ramdev aur patanjali ka unke ayurvedic sabun ke bare me jo abhi pradarshit karte hain vaah purn roop se satya hai aapki ki 10000 lekar ke 1975 ke aaspass Hindustan liver limited company india mahiti multinational company aur 10000 ke barabar aaj hazaro crore dalle karke vaah india se bhar jaati hai aur unke sabun ko us samay sarvashreshtha sabun bolte the aur unhone is prakar se desh ke upar bhayankar jhuth ka suit ka atyachar kiya aur aaj ki tarikh me jo prashna khade hote hain ki patanjali ka ayurvedic sabun theek hai ya nahi patanjali ka sabun bahut kam mulya me milta hai aur usme jo daawa kiya gaya hai vaah bilkul sahi hai aur uske anusaar aur sharir ko fayda pohchta hai aur aisi batein ki matra foreign ki companion ka sabun accha banega aur vaah log hi acche hain bahut acche hain colgate waale bahut acche hain aur bharat me kuch nahi hai lekin bharat me jo bharatiya companiya ki vaah bhi unse kamaru teri nahi hai un logo ne bhi call ring se sabun aur dusri chijon me bhayanak roop se kharasod chalaiye parantu swami ramdev ji ne jo iris ke anusaar ki jo avasaron ka nirmaan kiya aur a jo sabun nagari de rahe hain aur bilkul theek hai aur use pura fayda hota hai aur isme koi bhay bin dekhni hai aapko uska prayog karna chahiye usme koi acid nahi hai ya toh koi aisa koi kharab tak chalegi aur is prakar ke prashna khade hone bhi nahi chahiye dhanyavad

स्वामी रामदेव और पतंजलि का उनके आयुर्वेदिक साबुन के बारे में जो अभी प्रदर्शित करते हैं वह

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  264
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!