user

अनुपम श्रीवास्तव

केमिकल इंजीनियर । ब्लॉगर । फ़ोटोग्राफ़र

3:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां तक मैं समझ रहा हूं आपने जो एक प्रश्न पूछा है ऐसा यार क्या होता है यह फोटोग्राफी सही संबंधित है इसके लिए मैं इसका जवाब देना चाहता हूं लेकिन ऐसा लार का मतलब होता है सिंगल लेंस रिफ्लेक्स एंगल लेंस रिफ्लेक्स एंगल लेंस रिफ्लेक्स का मतलब क्या होता है और फोटोग्राफी में इसकी क्या जरूरत है आप पहले कोई भी कैमरा मतलब मैं यह नहीं कह रहा कि आज का डिस्को कैमरा क्योंकि अगर डिस्ट्रिक्ट कैमरा होगा तो वह डिजिटल सिंगल लेंस रिफ्लेक्शन इन डीएसएलआर हो जाएगा तो ऐसी हो रही है इसलिए हमें जनरल कैमरा उठाते हैं और देखते हैं कैसे काम करता है और कहां से यह एसएलआर की व्याख्या इसके लिए फिट बैठती है तो देखिए जो कैमरा होता है उसके आगे जाहिर सी बात है एक लंच होगा जिसके भीतर रोशनी अंदर जाएगी अब यह जो रोशनी जाती है इसके पीछे एक मिरर होता है मेरा यानी जिस को बोल सकते हैं कि शीशा होता है इसको लक्ष्मण बोलते हैं रिफ्लेक्स मेरा मतलब परावर्ती परवर्ती शीशा परावर्तक से समझ लीजिए वह क्या करता है इसके बाद और शक्ल से पहले यानी सबसे पहले लाइंस आया फिर ऊपर आवर्ती मिरर यानी ए सिंगल लेंस रिफ्लेक्शनल जो मेरिट लिस्ट मिरर है वह आएगा उसके बाद शटर आएगा और सबसे बाद में अगर पुराना फिल्म कैमरा है तो उसमें फिल्म आएगी नहीं तो नया डिस्को कैमरा है तो उसमें सेंसर आएगा तो आप समझे लाइट आई लाइट आकर कमरे के भीतर घुसे उसके बाद में एक 45 डिग्री पर लगा हुआ विच मिरर रिफ्लेक्शन परावर्ती मेरा परावर्तित शीशा वह क्या करेगा उसमें रोशनी आएगी और सीधा 90 डिग्री ऊपर बिल्कुल ऊपर जाएगी और ऊपर लगा होता है लाइट एरिया जो रोशनी की जो क्लासेज है जो फिजिक्स की होती है उसमें रवाना हो गए ऑपरेशन कैसा होता है पर लगा होता है ऊपर और उससे टकराकर गए आपके व्यूहफाइंडर पर उसकी इमेज आती है मतलब वही रोशनी आई रिफ्लेक्स मेरा रेनी सिंगल रिलायंस रिफ्लेक्शन रिफ्लेक्स मेरे पर टकराई और ऊपर फिर से गई पूना के बाद से टकराकर के वह डिफेंडर पर जाएगी व्यूहफाइंडर पैसे आप देखेंगे कि कैमरे के पीछे एक फूल बना होता है जहां से हम अंदर झांक कर के कुछ भी फोकस लेना हो यादव शॉट को कंपोज करना हो देखते हैं उसे ही हम विफंडर बोलते हैं तो उस भी फंड में जाएगी और वहां से सिम का जायजा ले सकते हैं कि हमारा सीन कैसा है तब यही सी का मतलब है सिंगल लेंस रिफ्लेक्स का वह सिंगल लेंस है और एक रिफ्लेक्स मैदान है इसी कारण से कैमरे को सिंगल एक्स एक्स कहां गया और इसी रिफ्लक्स मेरे पीछे एक कटर होता है जब भी आप सैटरडे दबाते हैं तो इससे ऊपर उठता है और रिफ्लेक्शन होता है ऊपर उठ जाता है और इसके लाइट होती हो सीधा सेंसर से या फिर कैमरे के सेंसर टकराती है और आपकी फोटो की जाती है तो कुल मिलाकर यही पूरी कर डाली है जिससे एसएलआर एनी सिंगल लेंस रिक्वेस्ट कैमरा रेट

jaha tak main samajh raha hoon aapne jo ek prashna poocha hai aisa yaar kya hota hai yah photography sahi sambandhit hai iske liye main iska jawab dena chahta hoon lekin aisa laar ka matlab hota hai singles lens reflex Angle lens reflex Angle lens reflex ka matlab kya hota hai aur photography me iski kya zarurat hai aap pehle koi bhi camera matlab main yah nahi keh raha ki aaj ka disco camera kyonki agar district camera hoga toh vaah digital singles lens reflection in DSLR ho jaega toh aisi ho rahi hai isliye hamein general camera uthate hain aur dekhte hain kaise kaam karta hai aur kaha se yah SLR ki vyakhya iske liye fit baithati hai toh dekhiye jo camera hota hai uske aage jaahir si baat hai ek lunch hoga jiske bheetar roshni andar jayegi ab yah jo roshni jaati hai iske peeche ek mirror hota hai mera yani jis ko bol sakte hain ki shisha hota hai isko lakshman bolte hain reflex mera matlab parawarti parvarti shisha paravartak se samajh lijiye vaah kya karta hai iske baad aur shakl se pehle yani sabse pehle lines aaya phir upar aawarti mirror yani a singles lens riflekshanal jo merit list mirror hai vaah aayega uske baad shutter aayega aur sabse baad me agar purana film camera hai toh usme film aayegi nahi toh naya disco camera hai toh usme censor aayega toh aap samjhe light I light aakar kamre ke bheetar ghuse uske baad me ek 45 degree par laga hua which mirror reflection parawarti mera paravartit shisha vaah kya karega usme roshni aayegi aur seedha 90 degree upar bilkul upar jayegi aur upar laga hota hai light area jo roshni ki jo classes hai jo physics ki hoti hai usme rawana ho gaye operation kaisa hota hai par laga hota hai upar aur usse takraakar gaye aapke vyuhafaindar par uski image aati hai matlab wahi roshni I reflex mera rainy singles reliance reflection reflex mere par takrai aur upar phir se gayi puna ke baad se takraakar ke vaah defender par jayegi vyuhafaindar paise aap dekhenge ki camera ke peeche ek fool bana hota hai jaha se hum andar jhank kar ke kuch bhi focus lena ho yadav shot ko compose karna ho dekhte hain use hi hum vifandar bolte hain toh us bhi fund me jayegi aur wahan se sim ka jayja le sakte hain ki hamara seen kaisa hai tab yahi si ka matlab hai singles lens reflex ka vaah singles lens hai aur ek reflex maidan hai isi karan se camera ko singles x x kaha gaya aur isi riflaks mere peeche ek Cutter hota hai jab bhi aap saturday dabate hain toh isse upar uthata hai aur reflection hota hai upar uth jata hai aur iske light hoti ho seedha censor se ya phir camera ke censor takarati hai aur aapki photo ki jaati hai toh kul milakar yahi puri kar dali hai jisse SLR any singles lens request camera rate

जहां तक मैं समझ रहा हूं आपने जो एक प्रश्न पूछा है ऐसा यार क्या होता है यह फोटोग्राफी सही स

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:18

जमा राशि मुख्य रूप से बंद गोल में अनुमोदित किया जाता है इसका मतलब बैंक...

Likes  1  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कर्मशील बैंकों के लिए अपने हर दिन के कारोबार के अंत में नकद सोना और सरकारी सिक्योरिटी में निवेश के रूप में एक खास रकम रिजर्व बैंक के पास रखना जरूरी होता है जो वह किसी पर आपात देनदारी को पूरा करने में इस्तेमाल कर सके जिस रेट पर बैंक अपना पैसा सरकार के पास रखते हैं उसे एसएलआर कहते हैं इसका प्रयोग भी लिक्विडिटी कंट्रोल के लिए भी किया जाता है इस पर रिजर्व बैंक नजर रखता है ताकि बैंकों की उधार देने पर नियंत्रण रखा जा सकता है ऐसे लाल बैंकों की कुल मांग और देनदारी द्वारा निर्धारित किया जाता है

karmashil bankon ke liye apne har din ke karobaar ke ant mein nakad sona aur sarkari Security mein nivesh ke roop mein ek khaas rakam reserve bank ke paas rakhna zaroori hota hai jo vaah kisi par aapaat dendari ko pura karne mein istemal kar sake jis rate par bank apna paisa sarkar ke paas rakhte hain use SLR kehte hain iska prayog bhi liquidity control ke liye bhi kiya jata hai is par reserve bank nazar rakhta hai taki bankon ki udhaar dene par niyantran rakha ja sakta hai aise laal bankon ki kul maang aur dendari dwara nirdharit kiya jata hai

कर्मशील बैंकों के लिए अपने हर दिन के कारोबार के अंत में नकद सोना और सरकारी सिक्योरिटी में

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  9
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!