आज़ादी के बाद राष्ट्र निर्माण की किन चुनौतियों को सफलतापूर्वक निपटाया गया?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न आजादी के बाद आठ पदमाराम निर्माण की किन चुनौतियों को सफलतापूर्वक हिंदुस्तान को आजादी मिली थी उस समय जो हमारा एक घंटा का हमारे जो ख्वाजा कोई अन्यथा जॉब का था नौकरी का था वो एकदम से नहीं था उसको धीरे-धीरे मजबूत किया गया एजुकेशन एजुकेशन एजुकेशन के क्षेत्र में काफी सुधार किया गया जिसके कारण देश में बड़ी-बड़ी कंपनियां आईटी कॉलेज कॉलेज मेडिकल कॉलेज खुले आजादी के बाद में और जो 5 वर्षीय योजना ऐसे कई आई थी उसके कारण जगदीश प्रकाश की थी पर लाया गया न्यू लांच किया गया था उसमें काफी सुधार किए गए थे जिसके तहत आज हर एरिया में सरकारी सिविल हॉस्पिटल है लेकिन आपकी वजह है कि उस समय की कमी है उसके बाद हमारे देश में काफी इंडस्ट्रियल लगे थे उस समय हम उसी से लेकर जहाज तक बाहर से खरीदते थे लेकिन आज की तरीक़ में जो 70 साल की 14 साल के बाद आज हमारा देश इन इन जहाज से लेकर सुनीता को हम खुद जहां पर उसका पालन कर रहे हैं और फिर हमारे जो अनाज था उसके उस क्षेत्र में हम काफी सफल हुए हैं हम हम अपनी जो हमें जरूरत है उसका नाश जहां केयू जिमीदार है किसान है वह पहला करें और फिर अगर आप जाओगे तो फर्क है सड़क परिवहन के लिए लड़की चाहिए बहुत बेहतर हुई है तो कंट्री की या किसी राजकीय कृषि क्षेत्र की जीवन रेखा होती है उसके बाद जो काफी बड़ी संख्या में लोग आए हैं तो उसके वजह से काफी जो चुनौतियां थी गरीबी थी फिर भूखा भुखमरी थी लोगों ने बस में अप्लाई मेंट थी तो ऐसे देश की सुरक्षा के लिए फौज की कमी थी ऐसी बहुत सी चुनौतियां थी जिसे जो अब तक जितना भी शासन किया है चाहे किसी भी पार्टी ने किया है या काम रस है जो जंक्शन के बीच में आई थी और उसके बाद जो भी शुभ छोटी पार्टियों की सरकारें बनी है काफी हद तक जो देश की जो यह देश के सामने जो चुनौतियां था उसको काफी हद तक उसका निपटारा यह उसको अपने देश की जो एक ताकत के रूप में बाढ़ में दुनिया में एक ताकत के रूप में देश की जो है सभी बनी है धन्यवाद

aapka prashna azadi ke baad aath padamaram nirmaan ki kin chunautiyon ko safaltaapurvak Hindustan ko azadi mili thi us samay jo hamara ek ghanta ka hamare jo khwaja koi anyatha job ka tha naukri ka tha vo ekdam se nahi tha usko dhire dhire majboot kiya gaya education education education ke kshetra me kaafi sudhaar kiya gaya jiske karan desh me badi badi companiya it college college medical college khule azadi ke baad me aur jo 5 varshiye yojana aise kai I thi uske karan jagdish prakash ki thi par laya gaya new launch kiya gaya tha usme kaafi sudhaar kiye gaye the jiske tahat aaj har area me sarkari civil hospital hai lekin aapki wajah hai ki us samay ki kami hai uske baad hamare desh me kaafi Industrial lage the us samay hum usi se lekar jahaj tak bahar se kharidte the lekin aaj ki tariq me jo 70 saal ki 14 saal ke baad aaj hamara desh in in jahaj se lekar sunita ko hum khud jaha par uska palan kar rahe hain aur phir hamare jo anaaj tha uske us kshetra me hum kaafi safal hue hain hum hum apni jo hamein zarurat hai uska naash jaha KU jimidar hai kisan hai vaah pehla kare aur phir agar aap jaoge toh fark hai sadak parivahan ke liye ladki chahiye bahut behtar hui hai toh country ki ya kisi rajkiya krishi kshetra ki jeevan rekha hoti hai uske baad jo kaafi badi sankhya me log aaye hain toh uske wajah se kaafi jo chunautiyaan thi garibi thi phir bhukha bhukhmari thi logo ne bus me apply ment thi toh aise desh ki suraksha ke liye fauj ki kami thi aisi bahut si chunautiyaan thi jise jo ab tak jitna bhi shasan kiya hai chahen kisi bhi party ne kiya hai ya kaam ras hai jo junction ke beech me I thi aur uske baad jo bhi shubha choti partiyon ki sarkaren bani hai kaafi had tak jo desh ki jo yah desh ke saamne jo chunautiyaan tha usko kaafi had tak uska niptara yah usko apne desh ki jo ek takat ke roop me baadh me duniya me ek takat ke roop me desh ki jo hai sabhi bani hai dhanyavad

आपका प्रश्न आजादी के बाद आठ पदमाराम निर्माण की किन चुनौतियों को सफलतापूर्वक हिंदुस्तान को

Romanized Version
Likes  59  Dislikes    views  1954
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!