कश्मीर में युवा क्यों मजबूर हो कर बंदूक़ उठा र है है क्या इतनी बुरी तरह से असर हुआ है कश्मीर के युवाओं पर पुलवामा हमले का?...


play
user

Govind Saraf

Entrepreneur

1:06

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कश्मीर में आज जो युवा बंदूक उठा रहे हैं तो वह मजबूर होकर उठा नहीं रहे परवाना हमले का वह जो सर है यह उनका ऐसा नहीं है बल्कि इन जिहादियों का असर है जो उन्हें प्रेरित करते हैं कि नौजवानों पत्थर उठाओ और हमारे सेना के जवानों को घायल करते हैं तो आज के बच्चे हैं जो पक्ष हमले पास होते हैं पत्थर खाते हैं और इन्हें ब्रेनवाश किया जाता है यह आदत धर्म के नाम पर तो यह सबसे बड़ी गंदी राजनीति है राज कहीं न कहीं राजनीति में उनका साथ दे रही है बात आरोप और वहां के लोग होते हैं हमारे जो कुछ आपको खुद पता है अभी हरदम सर्जिकल स्ट्राइक टू आज पाकिस्तान है हमने पाकिस्तान ने 1 आतंकवादियों के जगह को उड़ा दिया अपने तो वह लोग जो होते हैं यह लोग इसको हां बैठ कर कहां है वहां से यहां पर कंट्रोल करते हैं फूलों की एक नौजवान लोको ब्रेनवाश करके ज्यादा दर्दनाक पत्थर से खाते हैं और बंदूक उठाते हैं

kashmir mein aaj jo yuva bandook utha rahe hain toh vaah majboor hokar utha nahi rahe Paravana hamle ka vaah jo sir hai yah unka aisa nahi hai balki in jihadiyon ka asar hai jo unhe prerit karte hain ki naujavanon patthar uthao aur hamare sena ke jawano ko ghayal karte hain toh aaj ke bacche hain jo paksh hamle paas hote hain patthar khate hain aur inhen brainwash kiya jata hai yah aadat dharm ke naam par toh yah sabse badi gandi raajneeti hai raj kahin na kahin raajneeti mein unka saath de rahi hai baat aarop aur wahan ke log hote hain hamare jo kuch aapko khud pata hai abhi hardum surgical strike to aaj pakistan hai humne pakistan ne 1 aatankwadion ke jagah ko uda diya apne toh vaah log jo hote hain yah log isko haan baith kar kahaan hai wahan se yahan par control karte hain fulo ki ek naujawan loco brainwash karke zyada dardanak patthar se khate hain aur bandook uthate hain

कश्मीर में आज जो युवा बंदूक उठा रहे हैं तो वह मजबूर होकर उठा नहीं रहे परवाना हमले का वह जो

Romanized Version
Likes  84  Dislikes    views  1454
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Hemlata Gupta

Psychologist

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्योंकि हम उनके करियर के ऊपर कोई बात नहीं कर रही है ना कि उनके टैलेंट को डेवलप कर रहे हैं और ना ही हाउ टू लीव रियल लाइफ यह सब उनको सिखा रहे हैं इसलिए यह मजबूरी है की देहाती किंग एल्बम बंदूक

kyonki hum unke career ke upar koi baat nahi kar rahi hai na ki unke talent ko develop kar rahe hain aur na hi how to leave real life yah sab unko sikha rahe hain isliye yah majburi hai ki dehati king album bandook

क्योंकि हम उनके करियर के ऊपर कोई बात नहीं कर रही है ना कि उनके टैलेंट को डेवलप कर रहे हैं

Romanized Version
Likes  74  Dislikes    views  1280
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!