मोदी को उत्तर भारत में क्यों पसंद किया जाता है लेकिन दक्षिण भारत में ऐसा क्यों नहीं है?...


play
user

Dr. Ashwani Kumar Singh

Chairman & Director at VEMS

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सोचना गलत है कि प्रधानमंत्री केवल उत्तर भारत में लोकप्रिय हैं और दक्षिण में नहीं यहां पर संगठन की दृष्टि से संगठनात्मक कितना बेहतर और खुल रही है जिसका परिणाम तुरंत देखने को मिल रहा है या ज्यादा दिख रहा है उधर प्रारंभिक इसी स्थिति आ रही है वहां पर संगठन बीजेपी संगठन के तेजी से बढ़ रहा है जिसका जिसका परिणाम इस चुनाव में 20 से 19 के चुनाव में लोकसभा चुनाव में देखने को मिलेगा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पूरा आध्यात्मिक राजनीतिक जीवन संघर्षों का रहा है हंस जनों का रहा है संगठन के गठन करते वक्ता के रूप में अधिकांश शायद भारत के सभी जिलों में उनको प्रवास करने का मौका मिला है जो किसी भी राजनेता के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है और यही कारण है क्या कर रहा है कोई भी राजनीतिक विश्लेषण करता है इस विषय पर या राजनीति विद्यार्थी देखेगा तो जो मांस कांटेक्ट उनका होता है मांस एड्रेस होता है और जितनी जल्दी और आसानी से मार के साथ उनका संबंध स्थापित होता है आज के वर्तमान वर्तमान राजनीति में कोई नेता उस स्तर का नहीं है और मीडिया या और कोई भी तरह के जो शक्तियां हैं जो लगातार राहुल गांधी को प्रमोट करने में या उस को आगे ले जाने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाए उसे कोई राजनाथ है जिस चीज पर नहीं जा सकता अगर उसमें अपनी योग्यता नहीं अगर मीडिया ही नेता बना देता प्रधानमंत्री बना लो तो बहुत सारे पैसे वाले गीत को प्रधानमंत्री बना के आगे ले जा सकता और आज के समय में मोदी से बेहतर कोई प्रधानमंत्री बीजेपी में भी कोई नहीं है जम से पिता

yeh sochna galat hai ki Pradhanmantri keval uttar bharat mein lokpriya hain aur dakshin mein nahi yahan par sangathan ki drishti se sangathanaatmak kitna behtar aur khul rahi hai jiska parinam turant dekhne ko mil raha hai ya zyada dikh raha hai udhar prarambhik isi sthiti aa rahi hai wahan par sangathan bjp sangathan ke teji se badh raha hai jiska jiska parinam is chunav mein 20 se 19 ke chunav mein lok sabha chunav mein dekhne ko milega Pradhanmantri narendra modi ka pura aadhyatmik raajnitik jeevan sangharshon ka raha hai hans jano ka raha hai sangathan ke gathan karte vakta ke roop mein adhikaansh shayad bharat ke sabhi jilon mein unko pravas karne ka mauka mila hai jo kisi bhi raajneta ke liye bahut badi upalabdhi hai aur yahi kaaran hai kya kar raha hai koi bhi raajnitik vishleshan karta hai is vishay par ya rajneeti vidyarthi dekhega toh jo maas Contact unka hota hai maas address hota hai aur jitni jaldi aur aasani se maar ke saath unka sambandh sthapit hota hai aaj ke vartaman vartaman rajneeti mein koi neta us sthar ka nahi hai aur media ya aur koi bhi tarah ke jo shaktiyan hain jo lagatar rahul gandhi ko promote karne mein ya us ko aage le jaane ke liye tarah tarah ke hathkande apnaye use koi rajnath hai jis cheez par nahi ja sakta agar usme apni yogyata nahi agar media hi neta bana deta Pradhanmantri bana lo toh bahut saare paise wale geet ko Pradhanmantri bana ke aage le ja sakta aur aaj ke samay mein modi se behtar koi Pradhanmantri bjp mein bhi koi nahi hai jam se pita

यह सोचना गलत है कि प्रधानमंत्री केवल उत्तर भारत में लोकप्रिय हैं और दक्षिण में नहीं यहां प

Romanized Version
Likes  92  Dislikes    views  2958
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!