किस फिल्म के दृश्य ने आपको सबसे ज़्यादा भावुक किया? क्या आपने उससे कुछ सीखा?...


play
user

Nidi Sharma

Beauty Blogger|Reviewer|GK

1:38

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दामिनी मूवी देख उस दिन पहले वह मुझे बहुत बुरा फील हुआ तुमने मुझे पहले क्यों नहीं जगा जासूस कैसे लगेगा खोजने की फोटो और पिक्चर का क्लेश रहता है जो कि बाप और बेटी का रहता है वह मुझे देखकर मेरी आंख में आंसू आ गए कि यह पता चला कि हमारे पापा जोहर कब तक भाई लिखित चीज करते हो कि नहीं कुछ देखने के लिए हम सिर्फ खाने के लिए हमारे लिए लेकिन कुछ सीख देते मैं कुछ भी करने के लिए रेडी हो जाते हैं जो प्यार में पागल बेटे का बाप है जो भी कुछ सिखाता है यह किसके लिए एक लाइक नुकसान होता है उसके लिए फंड के हर काम आता है

damini movie dekh us din pehle wah mujhe bahut bura feel hua tumne mujhe pehle kyon nahi jagah jaasoos kaise lagega khojne ki photo aur picture ka kalesh rehta hai jo ki baap aur beti ka rehta hai wah mujhe dekhkar meri aankh mein aasu aa gaye ki yeh pata chala ki hamare papa johar kab tak bhai likhit cheez karte ho ki nahi kuch dekhne ke liye hum sirf khane ke liye hamare liye lekin kuch seekh dete main kuch bhi karne ke liye ready ho jaate hain jo pyar mein Pagal bete ka baap hai jo bhi kuch sikhata hai yeh kiske liye ek like nuksan hota hai uske liye fund ke har kaam aata hai

दामिनी मूवी देख उस दिन पहले वह मुझे बहुत बुरा फील हुआ तुमने मुझे पहले क्यों नहीं जगा जासूस

Romanized Version
Likes  162  Dislikes    views  1524
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सूर्यवंशम हमारे जीवन की सबसे बेस्ट मूवी है और सूर्यवंशम अपने समय की फ्लॉप पिक्चर है अगर मुझे जनता से पूछना होगा बॉलीवुड के मूवी के ऊपर तुम्हें जनता से सवाल पूछूंगा कि सूर्यवंशम जैसी मूवी फ्रॉक क्यों हो गई आप लोगों ने उस टाइम इसको देखा क्यों नहीं सूर्यवंशम हमें लगता है अमिताभ बच्चन की सबसे सर्वश्रेष्ठ मूवी है जो टीवी पर 7 8 बार जरूर देता है एक हफ्ते में और उसे लोग देखते हैं चाय हजार बार आपके पीछे लेकिन आपका मन नहीं भरता है सूर्यवंशम में बहुत कुछ सिखाया गया है एक पिता की पूजा कैसे की जाती है एक पिता के प्रेरणा पर चला कैसे जाता है माता पिता के आदर्शों को कैसे जीवन में उतारा जाता है सारी चीजें दिखाई गई है किसी भी स्थिति में किसी भी परिस्थिति में अपने माता पिता की सेवा करिए उनके दिल को कभी ठेस मत पहुंच आइए आप कुछ ऐसा करिए जिससे उनका सम्मान ऊंचा हो धन्यवाद

suryavansham hamare jeevan ki sabse best movie hai aur suryavansham apne samay ki flop picture hai agar mujhe janta se poochna hoga bollywood ke movie ke upar tumhe janta se sawal poochhoonga ki suryavansham jaisi movie frock kyon ho gayi aap logo ne us time isko dekha kyon nahi suryavansham humein lagta hai amitabh bachchan ki sabse sarvashreshtha movie hai jo TV par 7 8 baar zaroor deta hai ek hafte mein aur use log dekhte hain chai hazaar baar aapke peeche lekin aapka man nahi bharta hai suryavansham mein bahut kuch sikhaya gaya hai ek pita ki puja kaise ki jati hai ek pita ke prerna par chala kaise jata hai mata pita ke aadarshon ko kaise jeevan mein utara jata hai saree cheezen dikhai gayi hai kisi bhi sthiti mein kisi bhi paristithi mein apne mata pita ki seva kariye unke dil ko kabhi thes mat pohch aaiye aap kuch aisa kariye jisse unka sammaan uncha ho dhanyavad

सूर्यवंशम हमारे जीवन की सबसे बेस्ट मूवी है और सूर्यवंशम अपने समय की फ्लॉप पिक्चर है अगर मु

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  439
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे आज तक की लिखी हुई सब पिक्चरों में अक्षय कुमार की पिक्चर है कि कम पर दिख रहे हो सबसे नाइस पिक्चर लगी उसका एक मशीन है कि वह किस प्रकार से नायक भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए एक सोशल जन क्षमता है और इस प्रकार से भ्रष्टाचारियों को चुन चुन कर के रास्ते से हट आता है और उसने एक बहुत अच्छा संदेश दिया भारत की जनता के लिए आज भारतीय जनता अनुसूची का उत्पादन हमारा दुर्भाग्य है कि भारत की जनता अधिकतम गंदी पिक्चरों को देखना पसंद करती है भारत की जो है वह उल्टी-सीधी पिक्चरों को देखना पसंद करती है लेकिन ऐसी जो संदेश सुदाम पिक्चर होती है हमको देखना पसंद करती है सभी देवासी गांव का चमकता 4 को कैसे रोके अचार कैसे मिटाए जाए आचार्यों को किस प्रकार से पुलिस के अनुरोध किया जाए कम 2 लोगों को गंदगी करने से रोका जाए तो चार युग मुक्त भारत बने ऐसा संदेश था उसके पास हम सब ने शिक्षा भी होते हैं और हमारा भारत भ्रष्टाचार मुक्त जाता हम सब लोग सच्चाई के साथ जीना सीख जाते अक्षय कुमार की पिक्चर भाग गई थोड़ा संदेश देती है दिल में उतर गया है उसी दिल में उतर गई पिक्चर पिक्चर

mujhe aaj tak ki likhi hui sab pikcharon mein akshay kumar ki picture hai ki kam par dikh rahe ho sabse nice picture lagi uska ek machine hai ki vaah kis prakar se nayak bhrashtachar ko mitne ke liye ek social jan kshamta hai aur is prakar se bharashtachariyo ko chun chun kar ke raste se hut aata hai aur usne ek bahut accha sandesh diya bharat ki janta ke liye aaj bharatiya janta anusuchi ka utpadan hamara durbhagya hai ki bharat ki janta adhiktam gandi pikcharon ko dekhna pasand karti hai bharat ki jo hai vaah ulti seedhi pikcharon ko dekhna pasand karti hai lekin aisi jo sandesh sudam picture hoti hai hamko dekhna pasand karti hai sabhi devasi gaon ka chamakta 4 ko kaise roke achaar kaise mitae jaaye acharyon ko kis prakar se police ke anurodh kiya jaaye kam 2 logo ko gandagi karne se roka jaaye toh char yug mukt bharat bane aisa sandesh tha uske paas hum sab ne shiksha bhi hote hain aur hamara bharat bhrashtachar mukt jata hum sab log sacchai ke saath jeena seekh jaate akshay kumar ki picture bhag gayi thoda sandesh deti hai dil mein utar gaya hai usi dil mein utar gayi picture picture

मुझे आज तक की लिखी हुई सब पिक्चरों में अक्षय कुमार की पिक्चर है कि कम पर दिख रहे हो सबसे न

Romanized Version
Likes  87  Dislikes    views  891
WhatsApp_icon
user

Divya

Digital media journalist

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तारे जमीन पर मूवी में जब आमिर खान और डॉक्टर दर्शील सफारी के लिए सॉन्ग एंड मी A1 कैसे बनाते हैं उनके लिए खोलो खोलो दरवाजे के सॉन्ग था और जब दर्शील सफारी आकर उसके देखती हैं और उनकी आंखों में आंसू आ जाते हैं और वह हमें खान को गले लगाते हैं मेरे लिए वह एक बहुत ही इमोशनल सीन था और यूज ली में से पिक्चर देखते व त्रुटि नहीं लेकिन इससे मुझे बहुत भावुक कर दिया था क्योंकि इसमें उन्होंने जो चाइल्ड एक्टर हैं उनको दिखाया गया है कि उनको डिस्लेक्सिया है जो कि बहुत से बच्चों को भारत में होता है लेकिन ज्यादातर लोग इसको बस यही कहकर डिसमिस कर देते हैं कि अरे इंटरनेशनली में एक प्रॉब्लम है और अगर अच्छी से थेरेपी दी जाए तो इससे बच्चे ठीक भी हो सकते हैं तो उस सीन में जब फर्स्ट टाइम दर्शील सफारी को खुद ऐसा लगता है कि वह भी कुछ स्पेशल है जिंदगी भर उनको बस गई थाने या कोई डांट खाने को मिली है कि मैं अच्छा नहीं लगता आया मैं इंटरव्यू नहीं हूं पर फर्स्ट टाइम खाने से उनको इस बात को देख कर अपना कैसे चेक करें से रोना आता है तो वह काफी इमोशनल सीन था और मुझे लगता है कि विगत पिक्चर वही अच्छा मैसेज भी देता है कि हमें और सभी बच्चों को यह फिर कराना चाहिए कि वह अपनी तरीके से किसी भी एक हुनर में स्पेशल है और उनको डिसकैरेज करने की बजाय हमें उन्हें कार्य करना चाहिए तो वही सीन मेरे हिसाब से मेरे लिए काफी इमोशनल था और इस समय दिखा

taare jameen par movie mein jab aamir khan aur doctor darshil safaari ke liye song end me A1 kaise banate hai unke liye kholo kholo darwaze ke song tha aur jab darshil safaari aakar uske dekhti hai aur unki aankho mein aasu aa jaate hai aur wah humein khan ko gale lagate hai mere liye wah ek bahut hi emotional seen tha aur use li mein se picture dekhte va truti nahi lekin isse mujhe bahut bhavuk kar diya tha kyonki ismein unhone jo child actor hai unko dikhaya gaya hai ki unko dyslexia hai jo ki bahut se baccho ko bharat mein hota hai lekin jyadatar log isko bus yahi kehkar dismiss kar dete hai ki are intaraneshanali mein ek problem hai aur agar acchi se therepy di jaye toh isse bacche theek bhi ho sakte hai toh us seen mein jab first time darshil safaari ko khud aisa lagta hai ki wah bhi kuch special hai zindagi bhar unko bus gayi thane ya koi dant khane ko mili hai ki main accha nahi lagta aaya main interview nahi hoon par first time khane se unko is baat ko dekh kar apna kaise check karein se rona aata hai toh wah kaafi emotional seen tha aur mujhe lagta hai ki vigat picture wahi accha massage bhi deta hai ki humein aur sabhi baccho ko yeh phir karana chahiye ki wah apni tarike se kisi bhi ek hunar mein special hai aur unko diskairej karne ki bajay humein unhein karya karna chahiye toh wahi seen mere hisab se mere liye kaafi emotional tha aur is samay dikha

तारे जमीन पर मूवी में जब आमिर खान और डॉक्टर दर्शील सफारी के लिए सॉन्ग एंड मी A1 कैसे बनाते

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  1139
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!