UPSC में कट ऑफ़ मार्क्स कैसे कैल्क्युलेट करें जाते हैं?...


play
user

Tapendra Singh

Director, DEV CLASSES, BAREILY

1:16

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यूपीएससी में जो है वह फ्री में जो पेपर होते हैं उसमें जो है पार्किंग नेचर का होता है उसमें उसमें सिर्फ आपको पास होना होता है जो मिनिमम जो है 40 परसेंट के करीब जो है वह आपको लाने होते हैं और जो मेरिट बनती है तो जनरल स्टडीज के प्रकार क्यों कहलाता है उसकी भैंस पर बनती है उसके उसका कोडिंग उन्हें जितने लोग चाहिए उसके बारे में आप आ रहे तो वह सिलेक्ट कर लेंगे उसके बाद जो है वह 9 पेपर होते हैं और मैरिट के डिसीजन के लिए बीएफ के चारों पेपर ऑप्शनल के दोनों पेपर पर ऐसे का पेपर 34 और दो छे और एक साथ पैसों से डिसाइड होता है आप भी मैरिड की लैंग्वेज और इंग्लिश का पेपर बताइए यूपी में आई उसने वह सीट स्कोरिंग है उसमें सिर्फ पास होने की आवश्यकता है वापिस नंबर नहीं होते नंबर जोड़ने के लिए ऐसा काम ना तो उसके बाद जो है उसके पेपर प्लस इंटरव्यू के पेपर को नहीं जोड़ा जाता और इंटरव्यू के नंबर मिला करके फाइनल मेरिट बनाई जाती

upsc mein jo hai wah free mein jo paper hote hain usme jo hai parking nature ka hota hai usme usmein sirf aapko paas hona hota hai jo minimum jo hai 40 percent ke kareeb jo hai wah aapko lane hote hain aur jo merit banti hai toh general studies ke prakar kyon kehlata hai uski bhains par banti hai uske uska coding unhein jitne log chahiye uske bare mein aap aa rahe toh wah select kar lenge uske baad jo hai wah 9 paper hote hain aur merit ke decision ke liye bf ke charo paper optional ke dono paper par aise ka paper 34 aur do chhe aur ek saath paison se decide hota hai aap bhi married ki language aur english ka paper bataye up mein I usne wah seat scoring hai usme sirf paas hone ki avashyakta hai vaapas number nahi hote number jodne ke liye aisa kaam na toh uske baad jo hai uske paper plus interview ke paper ko nahi joda jata aur interview ke number mila karke final merit banai jati

यूपीएससी में जो है वह फ्री में जो पेपर होते हैं उसमें जो है पार्किंग नेचर का होता है उसमें

Romanized Version
Likes  68  Dislikes    views  1163
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Jagannath Reddy R

Indian Forest Services

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कट ऑफ मार्क देखो बीच का है तो जो भी मतलब पाइथन है उसका कांटा फोड़ देंगे उन्होंने सोचा होता है पूरा ईपीसी इसके अंदर कुछ बात करेंगे तो मार खाएगा नहीं होगा तो रहेगी यह खुशी के लिए सब कुछ दिया रहता है कितना टर्न ऑफ एग्जामिनेशन तो यह हर साल बदल सकती है 30000 नहीं बदल सकती है जो भी साल लड़का यह अटेंड करने वालों की नोटिफिकेशन देख लेंगे और देंगे तो उसके लिए दिया रहता है कि मार्क आफ डिडक्शन कैसा होता यह तो बिल्कुल भी दे दूंगा उसको फॉलो करना चाहिए ब्लॉक कट ऑफ मार्क अब वही होगा ब्लिट्यू अब कुछ ज्यादा बोला तो मैंने सोचा रहेगा जो भी उनको मतलब जो साथ नहीं है दर्दे जूता का खेल

cut of mark dekho beech ka hai toh jo bhi matlab python hai uska kanta phod denge unhone socha hota hai pura epc iske andar kuch baat karenge toh maar khaega nahi hoga toh rahegi yeh khushi ke liye sab kuch diya rehta hai kitna turn of examination toh yeh har saal badal sakti hai 30000 nahi badal sakti hai jo bhi saal ladka yeh attend karne walon ki notification dekh lenge aur denge toh uske liye diya rehta hai ki mark of deduction kaisa hota yeh toh bilkul bhi de dunga usko follow karna chahiye block cut of mark ab wahi hoga blityu ab kuch zyada bola toh maine socha rahega jo bhi unko matlab jo saath nahi hai darde juta ka khel

कट ऑफ मार्क देखो बीच का है तो जो भी मतलब पाइथन है उसका कांटा फोड़ देंगे उन्होंने सोचा होता

Romanized Version
Likes  138  Dislikes    views  1630
WhatsApp_icon
user
0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पैसे तो यूपीएससी में जो कट ऑफ मार्क्स होते थे ऑफ कोर्स ए नेगेटिव मार्किंग आकृति अगर आपका एक क्वेश्चन गलत है उसके साथ ही दूसरा भी गलत माना जाता था वैसे कुछ का सेवा प्रदाता फीचर राइटिंग आजकल ऑब्जेक्टिव एमसीक्यू समय बदल गया है तो आप लोग अपने आप ही नेगेटिव मार्किंग में आ जाते हो क्या परसेंट मार्क्स की जो बिल्कुल लाखो रेट है एक्सीडेंट होकर आप जो कर रहे हैं क्वेश्चन वही आपको मार्केट करने में सहायता करता है

paise toh upsc me jo cut of marks hote the of course a Negative marking akriti agar aapka ek question galat hai uske saath hi doosra bhi galat mana jata tha waise kuch ka seva pradaata feature writing aajkal objective MCQ samay badal gaya hai toh aap log apne aap hi Negative marking me aa jaate ho kya percent marks ki jo bilkul lakho rate hai accident hokar aap jo kar rahe hain question wahi aapko market karne me sahayta karta hai

पैसे तो यूपीएससी में जो कट ऑफ मार्क्स होते थे ऑफ कोर्स ए नेगेटिव मार्किंग आकृति अगर आपका ए

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!