UPSC मेन्स के पेपर कैसे चेक होते हैं और उनमें इवैल्यूएशन कैसे होती है?...


user

Mausam Babbar and, Dr. Rishu Singh

Managing Directors - Risham IAS Academy

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन जो यूपीएससी मैंस का एग्जाम है उसके जो आंसर है वैल्यूएशन का क्राइटेरिया है वह देखिए सबसे पहला तो जो वर्ड लिमिट है आप उसको क्रॉस ना करें और यूपीएससी मेंस के पेपर में देखिए वर्ड्स क्यों पर ज्यादा ध्यान नहीं होता है कंटेंट के ऊपर ज्यादा जो है वह होकर रहता है कि आपने कंटेंट कैसा लिखा है बाकी इवैल्यूएशन का क्राइटेरिया देखिए हम इसको 566 में डिवाइड कर सकते हैं सबसे पहले तो देखिए जो आपका इंट्रोडक्टरी सीक्वेंस है वह कैसा है फिर आपका जो एंडिंग सीक्वेंस है ईडी वह कैसा है उसके बाद देखिए कंडक्ट कैसा है यानी कि क्वेश्चन की डिमांड क्या है और आपने कितने पर्सेंट जो है वह डिमांड को मिस किया है एनी किया ऑफ ट्रैक तो नहीं गए हैं तो कांटेक्ट देखा जाता है चौथा देखिए कंटेंट देखा जाता है मतलब जो अगर आप कांटेक्ट उम्मीद कर रहे हैं तो आपने लिखा कहता है अगर आपने कुछ अच्छा लिखा है गवर्नेंस मैं उसको इंक्लूड किया है तो वह आपका आंसर बेहतरीन हो सकता है एलाइनमेंट देखा जाता है देखिए पांचवें नंबर पर आपका जो आंसर है वह कंप्लीट लग रहा है हमें ऐसा तो नहीं है देखिए की कटिंग बहुत ज्यादा है या गलत लेकर जा रहे हैं आप और एलाइनमेंट के बाद लास्ट में लिखिए जो खबर होता है पेट्रोल कैसे फॉर एग्जांपल देखिए अगर उन्होंने कोई आंसर मैटिक स्टेटमेंट कहीं और उसके बाद कमेंट करने को कहा है और अगर आप है ना लाइक कर रहे हैं तो जैसे मैंने कहा कि देखिए एंड नों एलाइनमेंट यह भी बहुत मैटर करते हैं तो यह थे क्राइटेरिया है जिस के अकॉर्डिंग देखिए जो मेन के पेपर है वही वैल्युएट होते हैं आई डी ई डी कंटेंट टेक्स्ट एलाइनमेंट और

lekin jo upsc mains ka exam hai uske jo answer hai vailyueshan ka criteria hai vaah dekhiye sabse pehla toh jo word limit hai aap usko cross na kare aur upsc mains ke paper me dekhiye words kyon par zyada dhyan nahi hota hai content ke upar zyada jo hai vaah hokar rehta hai ki aapne content kaisa likha hai baki evaluation ka criteria dekhiye hum isko 566 me divide kar sakte hain sabse pehle toh dekhiye jo aapka introductory sequence hai vaah kaisa hai phir aapka jo ending sequence hai ED vaah kaisa hai uske baad dekhiye conduct kaisa hai yani ki question ki demand kya hai aur aapne kitne percent jo hai vaah demand ko miss kiya hai any kiya of track toh nahi gaye hain toh Contact dekha jata hai chautha dekhiye content dekha jata hai matlab jo agar aap Contact ummid kar rahe hain toh aapne likha kahata hai agar aapne kuch accha likha hai Governance main usko include kiya hai toh vaah aapka answer behtareen ho sakta hai alignment dekha jata hai dekhiye panchwe number par aapka jo answer hai vaah complete lag raha hai hamein aisa toh nahi hai dekhiye ki cutting bahut zyada hai ya galat lekar ja rahe hain aap aur alignment ke baad last me likhiye jo khabar hota hai petrol kaise for example dekhiye agar unhone koi answer matic statement kahin aur uske baad comment karne ko kaha hai aur agar aap hai na like kar rahe hain toh jaise maine kaha ki dekhiye and non alignment yah bhi bahut matter karte hain toh yah the criteria hai jis ke according dekhiye jo main ke paper hai wahi vailyuet hote hain I d E d content text alignment aur

लेकिन जो यूपीएससी मैंस का एग्जाम है उसके जो आंसर है वैल्यूएशन का क्राइटेरिया है वह देखिए स

Romanized Version
Likes  555  Dislikes    views  6285
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user
2:29

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सूरज जमीन का पेपर होते हैं आपको पता होगा उसमें कुल 9 पेपर होते हैं धर्म के 2 पेपर होते हैं भाषा के पेड़ पर होते हैं पहला है कंपलसरी इंग्लिश कार इन सबको देना होता है और दूसरा कोई सी भाषा चलती है जो हमारी अनुसूचित भाषाओं में से एक होती है आप लोग बहुत अच्छी हो सकती है यानी कि लिखने का तरीका बहुत अच्छा हो सकता किसी के लिखने का तरीका उतना अच्छा नहीं हो सकता तो सामान्य सी बात है कि आप कैसा लिखा है उसका नंबर मिलेगा जो यूपीएससी कमेंट्स के पेपर होते हैं कुछ करते समय यह बात ध्यान रखी जाती है कि जो पूछा गया है क्या विद्यार्थी या जो एक्सीडेंट है उसने वही उत्तर दिया है कि नहीं दिया है एक बात उसने शब्दों का चयन कैसा किया है यानी कि आप बहुत भारी भरकम एकेडमिक व्हाट्सएप क्यों नहीं कर रहे हैं क्योंकि वह सामान्य परीक्षा है इसमें आपको जनरलिस्ट बनने की बात की जाती है कि सामान की मरने की बात की जाती है तो आपके शब्दों का चयन किस तरीके जो जो आपने बिल्लू दी है उन बिंदुओं की अप्रोच किया है क्या आपने सकारात्मक सकारात्मकता को अपनाया है या अपनी बेटी को ज्यादा महत्व दिया है अगर आप का विश्लेषण कर रही है तू दिल की बात का भी ध्यान रखा जाता है एग्जामिनर होता है उनको कुछ बिंदु कैसे दिए जाते हैं हर प्रश्न पर प्रश्न पत्र के जरिए आप के उत्तर में उसको बिल्लू मिलते हैं तो आवश्यक रूप से आपको नंबर जरूर देगा और इसमें एक अंतिम बात ध्यान रखने की जरूरत है कि जो आपका उत्तर है वह सीमित शब्दों में सामान्य से सरल शब्दों में और बहुत श्रद्धा हुआ होना चाहिए उसकी मृत्यु होना चाहिए

suraj jameen ka paper hote hain aapko pata hoga usme kul 9 paper hote hain dharm ke 2 paper hote hain bhasha ke pedh par hote hain pehla hai compulsory english car in sabko dena hota hai aur doosra koi si bhasha chalti hai jo hamari anusuchit bhashaon mein se ek hoti hai aap log bahut acchi ho sakti hai yani ki likhne ka tarika bahut accha ho sakta kisi ke likhne ka tarika utana accha nahi ho sakta toh samanya si baat hai ki aap kaisa likha hai uska number milega jo upsc comments ke paper hote hain kuch karte samay yeh baat dhyan rakhi jati hai ki jo puchha gaya hai kya vidyarthi ya jo accident hai usne wahi uttar diya hai ki nahi diya hai ek baat usne shabdo ka chayan kaisa kiya hai yani ki aap bahut bhari bharkam academic whatsapp kyon nahi kar rahe hain kyonki wah samanya pariksha hai ismein aapko journalist banne ki baat ki jati hai ki saamaan ki marne ki baat ki jati hai toh aapke shabdo ka chayan kis tarike jo jo aapne billu di hai un binduon ki approach kiya hai kya aapne sakaratmak sakaraatmakata ko apnaya hai ya apni beti ko zyada mahatva diya hai agar aap ka vishleshan kar rahi hai tu dil ki baat ka bhi dhyan rakha jata hai examiner hota hai unko kuch bindu kaise diye jaate hain har prashna par prashna patra ke jariye aap ke uttar mein usko billu milte hain toh aavashyak roop se aapko number zaroor dega aur ismein ek antim baat dhyan rakhne ki zarurat hai ki jo aapka uttar hai wah simith shabdo mein samanya se saral shabdo mein aur bahut shraddha hua hona chahiye uski mrityu hona chahiye

सूरज जमीन का पेपर होते हैं आपको पता होगा उसमें कुल 9 पेपर होते हैं धर्म के 2 पेपर होते हैं

Romanized Version
Likes  84  Dislikes    views  1322
WhatsApp_icon
user

Pdf4Exams

Career Counselor

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोटा हूं मैं को रिसेट इन लास्ट 4 दिनों से कुछ पॉइंट करना पड़ेगा जो सोशल वेलफेयर से सोशल सर्विसेज पर मिले हो और वह चीजें टाइप करें एग्जाम कॉपी चेक करने वाला लोकाश देसी से क्या हुआ है इसमें सबसे अलग ने आपको यह कहना पड़ेगा किसी एक पार्टी पर निकाल कर उसे आगे बढ़ना होगा

quota hoon main ko reset in last 4 dino se kuch point karna padega jo social welfare se social services par mile ho aur vaah cheezen type kare exam copy check karne vala lokash desi se kya hua hai isme sabse alag ne aapko yah kehna padega kisi ek party par nikaal kar use aage badhana hoga

कोटा हूं मैं को रिसेट इन लास्ट 4 दिनों से कुछ पॉइंट करना पड़ेगा जो सोशल वेलफेयर से सोशल सर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  5
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!