भारत में सबसे ज़्यादा भ्रष्टाचार किस चीज़ की है?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

4:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रीति भारत में चारों स्टार्च आप उनको किस वर्ष को खोलो जनता से खोलता हूं जनता करने पिक्चर कितना गिर चुका है राष्ट्रीय चेतना कर चुका है कि उन्हें देश की उससे कोई हानि देश को कितने मियानी हो जाए लेकिन जनता जो है इसी प्रकार की अपनी स्वार्थ को हानि नहीं पहुंचाना चाहते हैं कि आप सड़क बनाने के लिए कितनी डाली जाती है सरकार जुटी डलवाती है सीमेंट डलवाती है लोहा अधिभार लेकिन लोगों का चोरा चोर चोरी करके ले जाते हैं बिजली के लड़के लगाए जाते हैं गांव में लोगों तारों की चोरी कर ले जाते हैं को चोर ले जाते हैं अच्छा देसी देख लीजिए आप ट्रेन में चलाएंगे जनता की सुविधा के लिए चलाइए लेकिन लोग बागची से उखाड़ ले जाते हैं सीटर फाड़ देते हैं उनके जो कुछ भी आप पड़ जाता है ट्रेन में जो चले जाते हैं बसों में देख लीजिए मैं कोई बात हो जाती है लोगवा रास्ता जाम कर देते हैं बसों में आग लगा दी ट्रेनों में आग लगा देते हैं इसी बात से विरोध है तुम्हारा भी एक बस को आग लगा दी कितने देश को आधी हुई जनता का पैसा है कि राजनीतिक लोगों से टैक्स वसूल किया जाएगा सभी गंदे गंदे यदि आप एक दर्पण जोर कर ले जा रहे हैं आपने देश का एक पेड़ भी जोर कर ले जा रहे हैं आप यह देश का कुछ भी हानि कर रहे हैं तबला काम कर भ्रष्टाचार में दूसरा राजनीतिक पार्टी और नेता तो नंबर 13 की तो दिल्ली रोज-रोज का प्रबंध घोटाले में हर राजनीतिक घोटाले में लगा हुआ है किसी राजनीति की या किसी राजनीतिक पार्टी की कोई सिद्धांत नहीं कोई विचार नहीं कहते कुछ हैं करते कुछ हैं चुनावों के समय क्या फायदे करते हैं लेकिन एक बार जब पूरा नहीं करते हैं देश की रक्षा के विकास के मुद्दे हैं उन पर कभी चर्चा ही नहीं करते हैं यहां तक कि कई बार तो विधानसभा और लोकसभा में इनके ऐसे असामाजिक तथ्य सामने आते हैं कि दूसरे पर कौन सी बैंक में एक दूसरे से अवध जो बोलना है दूसरों को गाली देना यह सरेआम आप सुन सकते हैं टीवी पर आते हैं अखबारों में तो यह सब क्या है सब भ्रष्टाचार रिश्वतखोरी का गंदे की तो गवर्नमेंट कंप्लेंट नंबर 1 काम नहीं करना चाहता काम करना चाहता है तो भी तुम तो मानता यह मेरा है लेकिन सुविधा शुल्क लेना चाहता है अच्छा व्यापारियों का देखिए तो व्यापारी नंबर 1 का पैसा लेता है और नंबर दो मार देता है कंपनियों के यही हाल है दिखाती कुछ खट्टी कुछ और है तो कहने का तात्पर्य है हमारे top-to-bottom भ्रष्टाचार फैला हुआ है जब भी है इसलिए हमें एक राष्ट्रीय चरित्र की और प्रिया सकता है कि हम लोग राष्ट्रीय चरित्र को समझें अपने देश के प्रति कर्तव्यों को संदेश के विकास के मर्तबा सहयोग दें देश की उन्नति के लिए प्रयास चल रहे हैं देश को किसी प्रकार की आर्थिक हानि नहीं पहुंचाई देश के विकास के कार्य आगामी बने जो पौधा बनने वाले लोग हैं उनको भी रोके जातिवाद क्षेत्रवाद धर्म बाद की राजनीति ना करें नाक राजनीतिक करने दे इस सबसे यदि हम मुक्त हो जाते हैं यदि भ्रष्टाचार हमारे बंद हो जाता है रिश्वतखोरी बंद हो जाती है तो निश्चित मान के चलिए भारत हमारा भारत महान बन जाएगा

preeti bharat mein charo starch aap unko kis varsh ko kholo janta se kholta hoon janta karne picture kitna gir chuka hai rashtriya chetna kar chuka hai ki unhein desh ki usse koi hani desh ko kitne miyani ho jaye lekin janta jo hai isi prakar ki apni swarth ko hani nahi pahunchana chahte hain ki aap sadak banne liye kitni dali jati hai sarkar juti dalvati hai cement dalvati hai loha adhibhar lekin logo ka chora chor chori karke le jaate hain bijli ke ladke lagaye jaate hain gaon mein logo taaron ki chori kar le jaate hain ko chor le jaate hain accha desi dekh lijiye aap train mein chalaenge janta ki suvidha ke liye chalaiye lekin log bagchi se ukhad le jaate hain seater faad dete hain unke jo kuch bhi aap pad jata hai train mein jo chale jaate hain bason mein dekh lijiye main koi baat ho jati hai logva rasta jam kar dete hain bason mein aag laga di traino mein aag laga dete hain isi baat se virodh hai tumhara bhi ek bus ko aag laga di kitne desh ko aadhi hui janta ka paisa hai ki raajnitik logo se tax vasool kiya jayega sabhi gande gande yadi aap ek darpan jor kar le ja rahe hain aapne desh ka ek pedh bhi jor kar le ja rahe hain aap yeh desh ka kuch bhi hani kar rahe hain tabla kaam kar bhrashtachar mein doosra raajnitik party aur neta toh number 13 ki toh delhi roj roj ka prabandh ghotale mein har raajnitik ghotale mein laga hua hai kisi rajneeti ki ya kisi raajnitik party ki koi siddhant nahi koi vichar nahi kehte kuch hain karte kuch hain chunavon ke samay kya fayde karte hain lekin ek baar jab pura nahi karte hain desh ki raksha ke vikas ke mudde hain un par kabhi charcha hi nahi karte hain yahan tak ki kai baar toh vidhan sabha aur lok sabha mein inke aise asamajik tathya saamne aate hain ki dusre par kaun si bank mein ek dusre se awadh jo bolna hai dusro ko gaali dena yeh sareaam aap sun sakte hain TV par aate hain akhbaro mein toh yeh sab kya hai sab bhrashtachar rishvatkhori ka gande ki toh government complaint number 1 kaam nahi karna chahta kaam karna chahta hai toh bhi tum toh manata yeh mera hai lekin suvidha shulk lena chahta hai accha vyapariyon ka dekhie toh vyapaari number 1 ka paisa leta hai aur number do maar deta hai companiyo ke yahi haal hai dikhati kuch khatti kuch aur hai toh kehne ka tatparya hai hamare top-to-bottom bhrashtachar faila hua hai jab bhi hai isliye humein ek rashtriya charitra ki aur priya sakta hai ki hum log rashtriya charitra ko samajhe apne desh ke prati kartavyon ko sandesh ke vikas ke martabaa sahyog de desh ki unnati ke liye prayas chal rahe hain desh ko kisi prakar ki aarthik hani nahi pahunchai desh ke vikas ke karya aagaami bane jo paudha banne wale log hain unko bhi roke jaatiwad kshetravad dharm baad ki rajneeti na karein nak raajnitik karne de is sabse yadi hum mukt ho jaate hain yadi bhrashtachar hamare band ho jata hai rishvatkhori band ho jati hai toh nishchit maan ke chaliye bharat hamara bharat mahaan ban jayega

प्रीति भारत में चारों स्टार्च आप उनको किस वर्ष को खोलो जनता से खोलता हूं जनता करने पिक्चर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  16
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!