हमारे देश का सुधार करने के लिए क्या नेताओं के लिए भी कोई क्वालिफिकेशन की ज़रूरत होनी चाहिए?...


user

साकेत कुमार

Senior Software Developer

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सबसे बड़ी बात तो यह है कि एक बहुत गलत धारणा है कि एक पढ़ा-लिखा नेता बहुत अच्छा नेता होगा अगर आप यह सोच रहे हैं कि कोई व्यक्ति ऑक्सफोर्ड से कैमरे से तेल से पढ़ कर आता है तू बहुत अच्छी तरीके से या योजनाओं का निर्माण करेगा निर्भर करेगा भूल है शिक्षक शिक्षा जो आपको देती है और एक दो नेता बनने के लिए जो चाहिए होता है दोनों में आसमान जमीन का फर्क होता है मैं आपको उदाहरण देता हूं जो सातवीं आठवीं तक पढ़े थे अच्छे से कहने के लिए तो उन्होंने दसवीं दिखा रखा है काम राज की बात करता हूं जो मद्रास के पुराने मुख्यमंत्री रह चुके हैं कामराज कितना पढ़े थे साथ में आठवीं तक पढ़े होंगे और सुनाओ क्या काम राज अच्छे नेता नहीं थे क्या जॉब फर्नांडिस एक अच्छे नेता नहीं थे और दूसरी तरफ से देखूं तो क्या कपिल सिब्बल बहुत अच्छे नेता है चिदंबरम बहुत अच्छे नेता है सलमान खुर्शीद का बहुत अच्छे नेता है इन सब के पास बाहर की डिग्री है ऑक्सफोर्ड कैमरे की डिग्री है तु डिग्री आप आने से आप एक अच्छा नेता बन जाएंगे जो जनता को समझता हो या जरूरी नहीं है भारत एक गरीब देश है और गरीबों को समझने के लिए जमीनी हकीकत जानना बहुत जरूरी है तो अगर आप प्रधानमंत्री मोदी हैं तो आपकी शिक्षा भले ही पेपर पर खराब हो लेकिन व्यावहारिक शिक्षा बहुत अच्छी होती है तू नेता बनने के लिए व्यवहारिक शिक्षा की जरूरत है कार्य शिक्षा की जरूरत नहीं है काल की शिक्षा ब्यूरोक्रेट्स के लिए अधिकारियों के लिए चाहिए क्योंकि

dekhie sabse badi baat toh yeh hai ki ek bahut galat dharana hai ki ek padha likha neta bahut accha neta hoga agar aap yeh soch rahe hain ki koi vyakti oxford se camera se tel se padh kar aata hai tu bahut acchi tarike se ya yojnao ka nirmaan karega nirbhar karega bhul hai shikshak shiksha jo aapko deti hai aur ek do neta banne ke liye jo chahiye hota hai dono mein aasman jameen ka fark hota hai aapko udaharan deta hoon jo satvi aatthvi tak padhe the acche se kehne ke liye toh unhone dasavi dikha rakha hai kaam raaj ki baat karta hoon jo madras ke purane mukhyamantri reh chuke hain kaamraj kitna padhe the saath mein aatthvi tak padhe honge aur sunao kya kaam raaj acche neta nahi the kya job Fernandis ek acche neta nahi the aur dusri taraf se dekhu toh kya kapil sibbal bahut acche neta hai chidambaram bahut acche neta hai salman khurshid ka bahut acche neta hai in sab ke paas bahar ki degree hai oxford camera ki degree hai tu degree aap aane se aap ek accha neta ban jaenge jo janta ko samajhata ho ya zaroori nahi hai bharat ek garib desh hai aur garibon ko samjhne ke liye zameeni haqiqat janana bahut zaroori hai toh agar aap Pradhanmantri modi hain toh aapki shiksha bhale hi paper par kharab ho lekin vyavaharik shiksha bahut acchi hoti hai tu neta banne ke liye vyavaharik shiksha ki zarurat hai karya shiksha ki zarurat nahi hai kaal ki shiksha bureaucrats ke liye adhikaariyo ke liye chahiye kyonki

देखिए सबसे बड़ी बात तो यह है कि एक बहुत गलत धारणा है कि एक पढ़ा-लिखा नेता बहुत अच्छा नेता

Romanized Version
Likes  488  Dislikes    views  7468
KooApp_icon
WhatsApp_icon
8 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!